PM Modi के संबोधन से पहले कोरोना संकट पर सोनिया गांधी का राष्ट्र को संदेश | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

राजनीति

PM Modi के संबोधन से पहले कोरोना संकट पर सोनिया गांधी का राष्ट्र को संदेश

Published

on

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन से ठीक तीन घंटे पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने देश के नाम अपना एक वीडियो संदेश दिया है। कांग्रेस के ट्विटर हैंडल से शेयर किए गए वीडियो में सोनिया ने कहा कि सबसे पहले मैं इस संकट के समय में भी शांति, धैर्य और संयम बनाए रखने के लिए सभी देशवासियों को दिल से धन्यवाद करती हूं।

उन्होंने कहा, ‘आशा करती हूं कि आप सभी दूरी बनाए रखने का पालन करेंगे। अपने-अपने घरों में रहें। समय-समय पर अपने हाथ धोते रहें। बहुत ज्यादा जरूरी होने पर ही घर के बाहर कदम रखें और वो भी मास्क, चुनरी या गमछा लगाकर आप सभी इस लड़ाई में सहयोग करें।’

उन्होंने कहा, मुझे उम्मीद है कि इस कोरोना महामारी संकट के दौरान आप सब अपने-अपने घरों में सुरक्षित होंगे। सबसे पहले मैं इस संकट के समय में भी शांति, धैर्य और संयम बनाए रखने के लिए सभी देशवासियों को दिल से धन्यवाद करती हूँ।आशा करती हूँ कि आप सभी लॉकडाउन का पूरी तरह पालन कर रहे होंगे। आप सभी दूरी बनाए रखने का पूरी तरह पालन करें। अपने-अपने घरों में रहें। समय-समय पर अपने हाथ धोते रहें। बहुत ज्यादा जरूरी होने पर ही घर के बाहर कदम रखें और वो भी मास्क, चुन्नी या गमछा लगाकर।आप सभी इस लड़ाई में सहयोग करें।

आज कोरोना के इस संकट से निपटने में आप सभी का इस लड़ाई में खड़े रहने से बड़ी देशभक्ति और क्या हो सकती है। हम इस मुश्किल समय में आपके परिवार जनो; पति-पत्नी-बच्चों; माता-पिता के त्याग और बलिदान को कभी नहीं भूल सकते।जोखिम होने के बावजूद भी आपके सहयोग और समर्थन से ही आप इस लड़ाई को लड़ पा रहे हैं। इनको धन्यवाद देने के लिए मेरे पास शब्द नहीं है।

मेरे प्यारे देशवासियों, हमारे ये योध्दा व्यक्तिगत सुरक्षा की अभाव होने के बावजुद भी इस लड़ाई को जीतने में दिन-रात एक किए हुए हैं। हमारे डॉक्टर्स, स्वास्थ्य कर्मचारी और समाज सेवी संगठन व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरणों की कमी होने के बावजूद इलाज कर रहे हैं। पुलिस और जवान पहरा देकर लॉकडाउन के नियमों का पालन करवा रहे हैं; सफाई कर्मचारी इस मुश्किल समय में भी संसाधनों की कमी के बाद भी संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लगातार सफाई बनाए हुए हैं; सरकारी अफसर भी चौबीसों धंटे इस वायरस पर नियंत्रण पाने और लोगों तक सुविधाएं पहुंचाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं; लेकिन आपके-हमारे सहयोग के बिना इनकी लड़ाई कमजोर पड़ सकती है और हमें ऐसा नहीं होने देना है। हमें इन सभी को सम्मान देना है। कई जगहों पर डॉक्टर्स के साथ गलत व्यवहार की खबरें आ रही है, ये काफी गलत है। क्योंकि, हमारी सभ्यता और संस्कृति ऐसी नहीं है। हमें इन सबका सहयोग और समर्थन करना चाहिए।

इस संकट में आप ही में से कई लोग अपने स्तर पर व्यक्तिगत प्रयास कर रहे हैं। कोई लोगों को खाना खिला रहा हैं; कोई मास्क बॉंट रहा है; कोई सेनेटाइजर बांट रहा है; कोई गरीबों तक सूखा राशन पहुॅंचा रहा है। मतलब हर हिंदुस्तानी कोरोना से इस लड़ाई को जीतने में एकजुट होकर अपनी जिम्मेदारी निभा रहा है। आप सभी लोग धन्यवाद के पात्र हैं।

आज जब देश इतनी बड़ी लड़ाई लड़ रहा है, तो कांग्रेस पार्टी का हर एक कार्यकर्ता अपनी जिम्मेदारी समझते हुए आप सभी योध्दाओं की मदद करने के लिए हमेशा तैयार है। आप किसी भी मदद या जरूरत के लिए राज्यों या हमारे सेंट्रल कण्ट्रोल रूम से सम्पर्क कर सकते हैं। कांग्रेस का सिपाही आपकी हर संभव मदद करेगा। मैं आपको भरोसा दिलाती हूॅं कि कांग्रेस चाहे सरकार में हो या फिर विपक्ष में, हम हर जगह इस लड़ाई में आपके साथ खड़े हैं। मुझे विश्वास है कि हम मजबूत मनोबल से इस संकट से जल्दी ही बाहर निकल जाएंगे। आप सभी अपने घरों में रहें….सुरक्षित रहें…. धन्यवाद।

राजनीति

यूपी के हर गांव में बनेगा दलित कार्यकर्ताओं का समूह: प्रियंका

Published

on

priyanka gandhi

कांग्रेस की उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा है कि प्रदेश में अनुसूचित जाति के लोगों पर होने वाले अत्याचार को रोकने के लिए प्रत्येक गांव में पार्टी कार्यकर्ताओं का दलित संगठन तैयार किया जाएगा।

प्रियंका वाड्रा ने यह घोषणा उत्तर प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के कार्यकर्ता सम्मेलन को वर्चुअल माध्यम से संबोधित करते हुए की। उनका कहना था कि दलितों के साथ राज्य में होने वाले भेदभाव का करारा जवाब दिया जाएगा और हर स्थिति में उनके सम्मान की रक्षा की जाएगी।

यह सम्मेलन प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष आलोक प्रसाद की रिहाई के बाद आयोजित किया गया था। इस सम्मेलन का मक़सद दलितों को अपने अधिकारों की रक्षा के करने और उनकी आवाज को बुलंद करना है।

उन्होंने कहा, “आने वाले समय में सामाजिक न्याय, संविधान और दलित छात्रों की छात्रवृत्ति बचाने तथा दलितों पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ लड़ाई लड़ते हुए प्रत्येक गांव में अनुसूचित जाति विभाग के कार्यकर्ताओं को एकत्र कर ग्राम संगठन बनाना है।”

Continue Reading

राजनीति

कृषि कानून किसान विरोधी, राजद गांधी मैदान में देगी धरना : तेजस्वी

बिहार में जहां मंडियों का सवाल है वह 2006 में ही बंद कर दिया गया। हालत ये हो गई है कि बिहार के किसान खेती छोड़ मजदूरी करने लगे हैं। जब मंडी खत्म हो गई तो किसान कमजोर होते गए।

Published

on

By

Tejashwi Yadav

पटना, 4 दिसंबर । बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने नए कृषि कानूनों को किसान विरोधी बताते हुए बिहार के किसानों को भी आंदोलन में शामिल होने की अपील की है।

राजद के नेता तेजस्वी यादव ने शुक्रवार को कहा कि उनकी पार्टी के नेता और कार्यकर्ता शनिवार को पटना के गांधी मैदान में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने कृषि कानून के विरोध में धरने पर बैठेंगे।

बिहार विधनसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि कृषि कानून काला कानून है और ये देश के खिलाफ है। उन्होंने बिहार के किसानों और किसान संगठनों से अपील करते हुए कहा कि वर्तमान, आने वाली पीढ़ियों और भविष्य को देखते हुए वे इस कानून के विरोध में सड़कों पर आएं और आंदोलन को मजबूत करें।

उन्होंने कहा, पंजाब और हरियाणा समेत कई राज्यों के किसानों में आक्रोश है। यह वही सरकार है जो किसानों की आय 2022 तक दोगुनी करनी की बात करती है। लेकिन एमएसपी को खत्म कर रही है। कृषि को भी प्राइवेट हाथ को सौंप रही है, जिससे प्राइवेट कंपनियों से किसान खरीद बिक्री करेंगे।

उन्होंने कृषि कानूनों को किसान विरोधी कानून बताते हुए कहा कि किसानों को सही मूल्य मिलना चाहिए। कई जगहों पर कर्ज में डूबने से किसान आत्महत्या कर रहे हैं। जो अन्नदाता हैं उनके लिए इस तरह का कानून बनाना देश के खिलाफ है।

उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि इतनी बड़ी समस्या सामने है, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौन हैंै। कोई भी फैसला जनता का होना चाहिए ना कि किसी व्यक्ति का। उन्होंने कहा कि कृषि कानून बनाने के पहले किसानों से राय नहीं ली गई और अब उन्हें गुमराह किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अगर एमएसपी समाप्त नहीं होना है, तो सरकार लिखकर क्यों नहीं दे रही है।

उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि अगर कृषि कानून के इतने ही फायदे हैं तो देश भर में किसान इसके खिलाफ क्यों है, भाजपा की सबसे पुरानी सहयोगी पार्टी अकाली दल ने किनारा क्यों किया। उन्होंने कहा कि खिलाड़ी और अभिनेता भी किसान के समर्थन में आगे आएं हैं।

उन्होंने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री कृषि रोड मैप की बात करते हैं लेकिन धान के एमएसपी की बात नहीं करते। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि बिहार में अब तक किसी जिले में धान की खरीदी प्रारंभ नहीं की गई है।

बिहार में जहां मंडियों का सवाल है वह 2006 में ही बंद कर दिया गया। हालत ये हो गई है कि बिहार के किसान खेती छोड़ मजदूरी करने लगे हैं। जब मंडी खत्म हो गई तो किसान कमजोर होते गए।

Continue Reading

राजनीति

किसानों के मुद्दे पर भाजपा, जेजेपी में राजनीतिक दरार बढ़ी

जेजेपी के 10 विधायकों के अलावा, सात निर्दलीय विधायकों ने भी भाजपा को समर्थन दिया था, जिससे वह 90 सदस्यीय विधानसभा में 57 सीटों पर पहुंच गई थी।

Published

on

JJP and BJP

चंडीगढ़, 4 दिसम्बर । केंद्र सरकार और किसानों के बीच चौथे दौर की वार्ता बेनतीजा रही और इसके साथ ही हरियाणा में भाजपा और जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के बीच राजनीतिक खाई चौड़ी होती जा रही है।

अब, मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व वाली सिर्फ एक साल की पुरानी सरकार में विवाद का मुद्दा किसानों के खिलाफ हिंसा, बैरिकेड्स तोड़ने और सरकारी कर्मचारियों के कर्तव्य निर्वहन में व्यवधान पैदा करने के सैकड़ों मामले दर्ज करने को लेकर है।

जेजेपी अध्यक्ष और उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला इस मुद्दे पर सार्वजनिक रूप से चुप्पी बनाए हुए हैं, उनके फायरब्रांड छोटे भाई दिग्विजय चौटाला सरकार को लगभग हर दिन आड़े हाथों ले रहे हैं।

उन्होंने मांग की है कि किसानों के खिलाफ दर्ज मामलों को वापस लिया जाना चाहिए।

दिग्विजय चौटाला ने गुरुवार को मीडिया से कहा, हम मुख्यमंत्री और गृह मंत्री से बात करेंगे कि वे किसानों के खिलाफ मामलों को वापस लेने के लिए कहें ताकि स्थिति खराब न हो और किसी भी तरह का अविश्वास पैदा न हो।

उन्होंने कहा, शांतिपूर्वक विरोध करना किसानों का मौलिक अधिकार है।

जेजेपी की युवा शाखा के प्रमुख दिग्विजय ने कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेता सरकार के साथ किसानों की बैठक के नतीजों का इंतजार कर रहे हैं।

उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि पार्टी बैठक के बाद अपने भविष्य के कदम पर चर्चा करेगी।

जेजेपी मुख्य रूप से एक ग्रामीण जाट केंद्रित पार्टी है, जिसके किसान वोटबैंक हैं। जाट, जो एक प्रमुख कृषक समुदाय है, राज्य में इसकी आबादी 28 प्रतिशत है।

प्रदर्शनकारी किसानों के साथ पहली बार खुलकर सामने आते हुए, जेजेपी के राष्ट्रीय प्रमुख और पूर्व सांसद अजय सिंह चौटाला ने 2 दिसंबर को कहा कि केंद्र को लिखित रूप में, प्रदर्शनकारी किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर एक आश्वासन देना चाहिए।

अजय चौटाला ने मीडिया से कहा, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय कृषि मंत्री बार-बार कह रहे हैं कि एमएसपी जारी रहेगा, तो उस लाइन को जोड़ने में क्या हर्ज है।

राजनीतिक प्रेक्षकों का मानना है कि राज्य सरकार से अपना समर्थन वापस लेने के लिए पार्टी के भीतर जेजेपी पर दबाव बढ़ रहा है, क्योंकि भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व किसानों के साथ अब तक चार दौर की वार्ता के बाद भी तीन नए कृषि कानूनों को लेकर कड़ा रुख दिखा रहा है।

किसान काले कृषि कानूनों को पूरी तरह से खत्म करने पर जोर दे रहे हैं, लेकिन केंद्र सरकार कानूनों के कुछ प्रावधानों में संशोधन करने को तैयार है।

जेजेपी के एक पदाधिकारी ने शुक्रवार को आईएएनएस से कहा, पिछले नौ दिनों से राष्ट्रीय राजधानी की सीमाओं पर जमा हुए किसानों को बड़ी संख्या में किसान और कर्मचारी संगठनों और यहां तक कि स्थानीय लोगों का समर्थन मिलने के बीच सरकार छोड़ने की मांग जोरशोर से उठ रही है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए 130 खाप पंचायतों (सामुदायिक न्यायालयों) का निर्णय पार्टी के लिए चिंता का विषय है।

अजय चौटाला चार बार के मुख्यमंत्री और इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के अध्यक्ष ओम प्रकाश चौटाला के बड़े बेटे हैं।

पार्टी के एक प्रवक्ता ने कहा कि जब तक पार्टी के प्रमुख दुष्यंत चौटाला उपमुख्यमंत्री हैं, वे एमएसपी को बंद नहीं होने देंगे।

पार्ची ने कहा कि अगर किसानों को एमएसपी के कारण नुकसान उठाना पड़ा, तो चौटाला अपने पद से इस्तीफा दे देंगे।

जेजेपी के 10 विधायकों के अलावा, सात निर्दलीय विधायकों ने भी भाजपा को समर्थन दिया था, जिससे वह 90 सदस्यीय विधानसभा में 57 सीटों पर पहुंच गई थी।

हालांकि, निर्दलीय विधायक सोमबीर सांगवान पहले ही किसानों के आंदोलन के कारण राज्य सरकार से अपना समर्थन वापस ले चुके हैं।

Continue Reading
Advertisement
Farmers Protest Ghazipur Border
राष्ट्रीय11 hours ago

किसान आंदोलनः 8 दिसंबर को भारत बंद का ऐलान, कल देशभर में पीएम मोदी का फूंकेंगे पुतला

priyanka gandhi
राजनीति12 hours ago

यूपी के हर गांव में बनेगा दलित कार्यकर्ताओं का समूह: प्रियंका

Farmers and Traffic
राष्ट्रीय12 hours ago

मांगें पूरी न होने पर दिल्ली-गाजीपुर बॉर्डर पर प्रदर्शन तेज करेंगे किसान

Farmers on Protest
राष्ट्रीय12 hours ago

बिहार: कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर भाकपा (माले) का शनिवार को चक्का जाम

Farmers Protest Ghazipur Border
राष्ट्रीय12 hours ago

दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे किसानों को हटाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर

narendra modi Black
राष्ट्रीय12 hours ago

Corona Vaccine: कुछ ही हफ्तों में कोरोना वैक्सीन तैयार होगी – PM Modi

Anti Corona Vaccine
लाइफस्टाइल12 hours ago

Corona Vaccine: इंग्लैंड जाकर कोरोना वैक्सीन लगवाने की तैयारी में हैं कोलकाता के लोग

airindia-
राष्ट्रीय12 hours ago

209 कर्मचारियों का समूह Air India के लिए लगाएगा बोली

Tejashwi Yadav
राजनीति14 hours ago

कृषि कानून किसान विरोधी, राजद गांधी मैदान में देगी धरना : तेजस्वी

JJP and BJP
राजनीति14 hours ago

किसानों के मुद्दे पर भाजपा, जेजेपी में राजनीतिक दरार बढ़ी

Bihar Election Results
चुनाव4 weeks ago

“अबकी बार किसका बिहार?”, ये 12 सीटें जिन पर होंगी सबकी नजर

shivraj-scindia-kamal-Nath
चुनाव4 weeks ago

मध्य प्रदेश उपचुनाव: सिंधिया की बगावत बचाएगी शिवराज सरकार या फिर कमलनाथ की खुलेगी किस्मत, फैसला आज

Hacker
अंतरराष्ट्रीय3 weeks ago

रूसी, उ. कोरियाई हैकर्स ने भारत में कोविड वैक्सीन निर्माता को बनाया निशाना

मनोरंजन4 weeks ago

ड्रग्स मामले: NCB के दफ्तर पहुंचीं दीपिका पादुकोण की मैनेजर करिश्मा

Corona Vaccine
राष्ट्रीय4 weeks ago

आम लोगों को 2022 तक करना होगा कोरोना वैक्सीन का इंतजार: एम्स डायरेक्टर डॉ गुलेरिया

खेल4 weeks ago

आईपीएल-13 : दिल्ली ने टॉस जीतकर गेंदबाजी चुनी

मनोरंजन4 weeks ago

ड्रग्स केस में NCB ने अभिनेता अर्जुन रामपाल को भेजा समन

Kamal Haasan-
मनोरंजन4 weeks ago

2021 में विधानसभा चुनाव लड़ूंगा : कमल हासन

Poonam Pandey
मनोरंजन4 weeks ago

गोवा में पूनम पांडेय को फोटोशूट की अनुमति देने वाला पुलिसकर्मी निलंबित

व्यापार4 weeks ago

फेस्टिव सीजन में ऑटो कंपनियों को झटका, अक्टूबर में वाहनों की बिक्री 24% गिरी

Viral Video Tere Ishq Me
Viral सच4 days ago

प्यार में युवती को मिला धोखा तो प्रेमी के घर के सामने डीजे लगाकर ‘तेरे इश्क में नाचेंगे’ पर जमकर किया डांस, देखें Viral Video

Faisal Patel
राजनीति1 week ago

फैसल पटेल ने पिता Ahmed Patel की याद में भावनात्मक वीडियो शेयर कर जताया शोक

8 suspended Rajya Sabha MPs
राजनीति2 months ago

रात में भी संसद परिसर में डटे सस्पेंड किए गए विपक्षी सांसद, गाते रहे गाना

Ahmed Patel Rajya Sabha Online Education
राष्ट्रीय3 months ago

ऑनलाइन कक्षाओं के लिए गरीब छात्रों को सरकार दे वित्तीय मदद : अहमद पटेल

Sukhwinder-Singh-
मनोरंजन4 months ago

सुखविंदर की नई गीत, स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर देश को समर्पित

Modi Independence Speech
राष्ट्रीय4 months ago

Protected: 74वें स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी का भाषण, कहा अगले साल मनाएंगे महापर्व

राष्ट्रीय4 months ago

उत्तराखंड में ITBP कैम्‍प के पास भूस्‍खलन, देखें वीडियो

Kapil Sibal
राजनीति6 months ago

तेल से मिले लाभ को जनता में बांटे सरकार: कपिल सिब्बल

Vizag chemical unit
राष्ट्रीय7 months ago

आंध्र प्रदेश: पॉलिमर्स इंडस्ट्री में केमिकल गैस लीक, 8 की मौत

Delhi Police ASI
शहर8 months ago

दिल्ली पुलिस के कोरोना पॉजिटिव एएसआई के ठीक होकर लौटने पर भव्य स्वागत

Most Popular