सर्दियों में धूप सेंकिए, हड्डियां रहेंगी तंदुरुस्त | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

लाइफस्टाइल

सर्दियों में धूप सेंकिए, हड्डियां रहेंगी तंदुरुस्त

Published

on

sun
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

स्वस्थ जीवन के लिए हड्डियों को मजबूत बनाए रखना सबसे अधिक महत्वपूर्ण है। सर्द मौसम में दिल्ली जैसे महानगर में प्रदूषण के कारण लोगों तक सूर्य की किरणों से मिलने वाले प्राकृतिक विटामिन-डी कम ही पहुंच पाती है।

ऐसे में लोगों के शरीर में विटामिन-डी की कमी होना लाजमी है। इस बारे में फोर्टिस राजन ढल हॉस्पिटल के ऑर्थोपेडिक्स विभाग के ऑर्थोस्कॉपी एंड स्पॉर्ट्स इंजुरी के वरिष्ठ सलाहकार डॉ. विश्वदीप शर्मा ने कुछ प्रमुख बिंदुओं पर प्रकाश डाला है।

दिन में धूप सेंकने के उचित समय और विटामिन-डी के पर्याप्त स्तर को बनाए रखने को लेकर कई शोध किए गए हैं।

आमतौर पर कहा जाता है कि शरीर का 20 प्रतिशत हिस्सा यानी बिना ढका हाथ और पैरों से प्रतिदिन 15 मिनट धूप का सेवन करने से विटामिन-डी अच्छी मात्रा में लिया जा सकता है। अगला प्रश्न यह है कि दिन का कौन सा पहर सूर्य की रोशनी के संपर्क में आने का सबसे उपयुक्त होता है। आम धारणा के अनुसार, सुबह का धूप और देर शाम का धूप सेवन के लिए उपयुक्त होता है, जबकि सच्चाई यह है कि सुबह 10 से दोपहर 3 बजे के बीच के दौरान धूप का सेवन मानव शरीर की त्वचा को विटामिन-डी प्रदान करता है। हालांकि धूप के सेवन के दौरान त्वचा पर सन-ब्लॉक क्रीम या लोशन नहीं लगे होने चाहिए।

दिल्ली जैसे शहर, जहां प्रदूषण के कारण लोगों तक धूप नहीं पहुंच पाती है, वहां लोग दुग्ध उत्पादों व आहार के जरिए विटामिन डी का सेवन कर सकते हैं। महिलाओं में विशेष रूप से प्री-मेनोपॉजल और पोस्ट-मेनोपॉजल की श्रेणी की महिलाओं में ऑस्टियोपोरोसिस और ऑस्टियोमलेशिया होने की संभावना होती है। वहीं खुद को पूरी तरह से ढकने वाली महिलाओं व सनक्रीम लगाने वाली महिलाओं में भी विटामिन-डी की मात्रा काफी कम होती है, क्योंकि उनकी त्वचा के अंदर धूप प्रवेश नहीं कर पाता है। वहीं बच्चों में विटामिन डी की कमी से रिकेट्स की समस्या होने लगती है।

बच्चों को शुरुआत में ही पर्याप्त आहार के साथ-साथ अच्छी धूप का सेवन कराना आवश्यक होता है। बच्चों को खास कर उन बच्चों को जिन्होंने मां का दूध पीना छोड़ दिया है, उन्हें विटामिन डी से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन कराना आवश्यक है।

वहीं सर्दियों में हड्डियों को स्वस्थ रखने में अच्छी मात्रा में कसरत करने से भी फायदा मिलता है। कसरत से हड्डियों का घनत्व बना रहता है, जिससे ऑस्टियोपोरोसिस जैसी समस्याओं से बचा जा सकता है।

–आईएएनएस

लाइफस्टाइल

आयुर्वेदिक दवाओं से बढ़ाएं रोग प्रतिरोधक क्षमता

Published

on

नई दिल्ली: आयुर्वेदिक विशेषज्ञों ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए आयुर्वेद की दवाओं और नुस्खे का सेवन किया जा सकता है और इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाई जा सकती है।

आयुष इंटीग्रेटेड मेडिकल एसोसिएशन की मानें तो आयुर्वेद में तमाम ऐसी दवाइयां मौजूद हैं जिनसे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है। वायरस या बैक्टीरिया के शरीर में प्रवेश होने के बावजूद शरीर में रोग का संक्रमण नहीं हो पाता है।

उत्तरी दिल्ली नगर निगम के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. आरपी पाराशर ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के लिहाज से लोगों को रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत करने पर ध्यान देना चाहिए। इसके लिए आयुर्वेद में दवाएं भी हैं और कुछ ऐसे नुस्खे भी, जिनका घर पर इस्तेमाल किया जा सकता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने से संक्रमण ही नहीं, अन्य तरह की बीमारियों से भी बचा जा सकता है।

इसी तरह की दवा फीफाट्रोल पर भोपाल स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के डॉक्टरों ने अध्ययन में पाया कि फीफाट्रोल एक मल्टी ड्रग कॉम्बिनेशन है, जिसमें मृत्युंजय रासा, संजीवनी वटी, तुलसी और गिलोई का इस्तेमाल किया गया है। ये औषधियां वायरल संक्रमण से बचाव के लिए शरीर की रक्षात्मक शक्ति को बढ़ावा देती है।

केंद्रीय आयुष मंत्रालय के अनुसार, कोविड-19 महामारी के इस वक्त में आयुर्वेद के जरिये रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाकर संक्रमण से बचाव किया जा सकता है। वहीं विशेषज्ञों के अनुसार, कोरोना वायरस एक इन्फ्लुएंजा है, जिसके लक्षण एक फ्लू की भांति ही हैं। आमतौर पर बुखार, सर्दी, जुकाम, नजला, सूखी खांसी जैसी परेशानी से निपटने में आयुर्वेद के नुस्खे काफी मददगार साबित होते हैं।

ऐसे कर सकते हैं अपना बचाव

-प्रतिदिन गर्म पानी का सेवन करें।

-हल्दी, जीरा, लहसुन और धनिए का खाने में इस्तेमाल करें।

-10 ग्राम च्वयनप्राश सुबह और शाम लें। मधुमेह होने पर शुगर फ्री च्वयनप्राश ले सकते हैं।

-दिन में एक या दो बार 150 एमएल गर्म दूध में आधी चम्मच हल्दी डालकर लें।

-नारियल का तेल या देशी घी सुबह और शाम नाक में डालें।

-एक चम्मच नारियल तेल मुंह में रखें, इसे पीना नहीं है। 2 से 3 मिनट बाद इसे गर्म पानी के साथ बाहर निकाल देना है।

-कफ या गले में खराश होने पर लौंग पाउडर के साथ शहद मिलाकर दिन में दो से तीन बार ले सकते हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading

राष्ट्रीय

आयुर्वेद के ये तरीके कोरोना को आपसे दूर रखेंगे…

Published

on

ayurved medicine
प्रतीकात्मक तस्वीर

कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया में देखा जा रहा है। बढ़ते मामलों को रोकने के लिए लगातार कोशिशें जारी हैं। सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर पूरी दुनिया इससे जंग लड़ रही है। ज्यादातर देशों में लॉकडाउन है। अब इसे लेकर भारत के आयुष मंत्रालय की तरफ से भी सेल्फ केयर गाइडलाइन्स में कोरोना को कमजोर करने के लिए तरीके बताए गए हैं।

इसके जरिए ये बताने की कोशिश की गई है घरों में रहते हुए भी आप आयुर्वेदिक तरीके से अपनी इम्यूनिटी को कैसे बढ़ा सकते हैं। आयुर्वेद का ज्ञान दिनचर्या और मौसम पर आधारित है जो स्वस्थ जीवन जीने में मदद करती है।

शरीर में संक्रमण को रोकने के लिए स्वच्छता बनाए रखना सबसे अच्छा तरीका है। साबुन और पानी से हाथ धोते रहें और छींकते समय नाक को ढंकें। यज्ञ या हवन करने से घर और पर्यावरण कीटाणुमुक्त होता है क्योंकि हवन सामग्री में जड़ी-बूटियों का मिश्रण होता है।

आयुष मंत्रायल द्वारा कुछ ऐसे ही सामान्य तरीके बताए गए हैं जिन्हें दैनिक जीवन में अपनाकर इम्यूनिटी बढ़ाई जा सकती है और शरीर को स्वस्थ रखा जा सकता हैं।

पूरे दिन गर्म पानी पीते रहें। गर्म पानी पीने से शरीर के रोगाणु मरते हैं। इसके अलावा हर रोज कम से कम 30 मिनट तक योग, प्राणायाम और मेडिटेशन (ध्यान) करने की सलाह दी गई है। खाना बनाते समय कुछ मसालों का उपयोग जरूर करें जैसे कि हल्दी, जीरा, धनिया, और लहसुन।

दिन की शुरूआत एक चम्मच च्यवनप्राश के साथ करें। डायबीटीज के मरीजों को शुगर फ्री च्यवनप्राश खाना चाहिए। डॉक्टर्स का कहना है कि किसी भी तरह की बीमारी से लड़ने के लिए शरीर की प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होनी चाहिए। हर दिन एक चम्मच च्यवनप्राश खाने से शरीर की इम्यूनिटी बढ़ती है।

आंवला, गिलोय, नीम, तुलसी भी कुछ ऐसी आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां हैं जो इम्यूनिटी को बढ़ाने और संक्रमण को रोकने में मदद करती हैं। हर्बल टी या तुलसी, दालचीनी, काली मिर्च, अदरक और मुनक्का से बना काढ़ा दिन में दो बार पिएं. स्वाद बढ़ाने के लिए आप इसमें गुड़ और नींबू मिला सकते हैं।

हल्दी दूध को इम्यूनिटी को बढ़ाने में बहुत कारगर माना जाता है। 150 एमएल दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर दिन में दो बार पिएं। सुबह-शाम अपनी नाक में तिल/नारियल का तेल या घी डालें। आयुर्वेद में इसे प्रतिमर्श नस्य कहा जाता है।

एक बड़ी चम्मच तिल या नारियल का तेल मुंह में 2-3 मिनट रख कर कुल्ला करें, इसके बाद गर्म पानी से भी कुल्ला करें। इसे दिन में एक या दो बार करें। ध्यान रखें यह तेल मुंह के अंदर ना जाए। सूखी खांसी और गले में दर्द के लिए पुदीने की पत्तियां या अजवाइन को पानी में उबाल लें और इस पानी से भाप लें। इससे आपको लाभ होगा।

गले में खराश या कफ हो तो लौंग पाउडर, शहद या चीनी के साथ मिलाएं और दिन में दो से तीन बार इस मिश्रण का सेवन करें। ये सारे उपाय आम सर्दी खांसी या गले में दर्द में अपनाएं। अगर इसके बाद भी आपके शरीर में ये लक्षण बने रहते हैं तो आपको तुरंत डॉक्टर की सलाह लें।

Continue Reading

राष्ट्रीय

राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ने उत्कल दिवस पर ओडिशा के लोगों को शुभकामनाएं दीं

उत्कल दिवस हर साल 1 अप्रैल, 1936 को भाषाई आधार पर राज्य के गठन की स्मृति में मनाया जाता है।

Published

on

By

modi -kovind-

भुवनेश्वर, 1 अप्रैल : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को उत्कल दिवस के अवसर पर ओडिशा के लोगों को शुभकामनाएं दीं। राष्ट्रपति ने ओडिशा के उज्‍जवल भविष्य और समृद्धि की कामना की।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, “ओडिशा के मेरे भाइयों और बहनों को उत्कल दिवस की ढेरों शुभकामनाएं। आने वाले समय में ओडिशा की निरंतर प्रगति और समृद्धि के लिए प्रार्थना करता हूं।”

इसके अलावा, ओडिशा के राज्यपाल प्रोफेसर गणेशी लाल, मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने इस अवसर पर लोगों को शुभकामनाएं दीं।

मुख्यमंत्री ने उन दिग्गज नेताओं को याद किया जिन्होंने अलग ओडिशा राज्य के गठन के सपने को पूरा किया।

पटनायक ने कहा, “मुझे विश्वास है कि आपके समर्थन से हम कोरोनोवायरस के खिलाफ चल रही लड़ाई में विजयी होंगे।”

उत्कल दिवस हर साल 1 अप्रैल, 1936 को भाषाई आधार पर राज्य के गठन की स्मृति में मनाया जाता है।

राज्य सरकार ने कोरोनोवायरस महामारी के प्रसार को रोकने के लिए किए गए लॉकडाउन के कारण इस अवसर पर कोई आधिकारिक समारोह आयोजित नहीं करने का निर्णय लिया है।

Continue Reading
Advertisement
मनोरंजन2 hours ago

कनिका कपूर ने कोरोना को हराया: पांचवां Covid -19 टेस्ट निगेटिव

sad nitish kumar
राजनीति3 hours ago

बिहार: नीतीश ने चिकित्सकों को दी सरकार के कार्यो की जानकारी

Coronavirus
राष्ट्रीय3 hours ago

भोपाल में एक और आईएएस अफसर को कोरोना

tihar jail
राष्ट्रीय3 hours ago

कैदियों का कमाल: तिहाड़ जेल में ही बना डाले 75000 मास्क, सेनेटाइजर

Coronavirus
राष्ट्रीय4 hours ago

लॉकडाउन: गाजियाबाद के ट्रॉनिका सिटी में 37 लोग हिरासत में लिए गए

Coronavirus
राष्ट्रीय4 hours ago

उप्र: बांदा में 7 और जमाती आइसोलेशन वार्ड में भर्ती

bhupesh baghel
राजनीति4 hours ago

छग की व्यापारिक गतिविधियों को दुरुस्त करने की पहल

Coronavirus
राजनीति4 hours ago

मोमबत्ती जलाने से चिकित्सकों को उपकरण नहीं मिल जाएंगे: जविपा

India Lockdown
राष्ट्रीय4 hours ago

लॉकडाउन तोड़ने में दिल्ली अव्वल, 1 दिन में 3747 पर कार्रवाई

BJP-logo
राजनीति4 hours ago

लॉकडाउन: भाजपा के स्थापना दिवस पर नहीं होगा कोई कार्यक्रम

मनोरंजन1 week ago

शिवानी कश्यप का नया गाना : ‘कोरोना को है हराना’

Honey Singh-
मनोरंजन1 month ago

हनी सिंह का नया सॉन्ग ‘लोका’ हुआ रिलीज

Akshay Kumar
मनोरंजन1 month ago

धमाकेदार एक्शन के साथ रिलीज हुआ ‘सूर्यवंशी’ का ट्रेलर

Kapil Mishra in Jaffrabad
राजनीति1 month ago

3 दिन में सड़कें खाली हों, वरना हम किसी की नहीं सुनेंगे: कपिल मिश्रा का अल्टीमेटम

मनोरंजन1 month ago

शान का नया गाना ‘मैं तुझको याद करता हूं’ लॉन्च

मनोरंजन2 months ago

सलमान का ‘स्वैग से सोलो’ एंथम लॉन्च

Shaheen Bagh Jashn e Ekta
राजनीति2 months ago

Jashn e Ekta: शाहीनबाग में सभी धर्मो के लोगों ने की प्रार्थना

Tiger Shroff-
मनोरंजन2 months ago

टाइगर की फिल्म ‘बागी 3’ का ट्रेलर रिलीज

Human chain Bihar against CAA NRC
शहर2 months ago

बिहार : सीएए, एनआरसी के खिलाफ वामदलों ने बनाई मानव श्रंखला

Sara Ali Khan
मनोरंजन2 months ago

“लव आज कल “में Deepika संग अपनी तुलना पर बोली सारा

Most Popular