टेक

स्मार्टफोन से दुनिया में फैल रही है 40 फीसदी भारतीयों की जानकारी

iPhones
File photo

केंन्द्रीय गृह सचिव के रूप में सेवानिवृत्त राजीव महर्षि ने कहा की स्मार्टफोन के जरिए 40 प्रतिशत भारतीय अपनी निजी जानकारी सीआईए (अमेरिका की खुफिया एजेंसी)समेत पूरी दुनिया तक पहुंचा रहे हैं।

उनसे पूछा गया था कि क्या आधार कार्ड को विभिन्न सेवाओं से जोड़ने का कोई खतरा होगा? उसके जवाब में राजीव  महर्षि ने यह बात कही कि ऐसे खतरे पहले से हैं। इंडियन एक्सप्रेस को मिली जानकारी के मुताबिक, राजीव महर्षि ने यह बात 21 जुलाई को संसदीय कमेटी (पीएसी) के सामने कहीं।

जिसकी अध्यक्षता कांग्रेस के सीनियर नेता पी चिदंबरम कर रहे थे। राजीव महर्षि ने बताया कि 40 प्रतिशत भारतीय जो कि स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं वे जाने-अनजाने अपनी निजी जानकारी दुनिया के साथ शेयर कर देते हैं।

राजीव ने उन एप्लिकेशन पर भी चिंता जाहिर की जो लोगों की जानकारी चुराती हैं और दूसरों को दे देती हैं। राजीव ने कहा कि निजी जानकारी के जरिए लोगों की
हर हरकत पर नजर रखी जा सकती है।

इसपर चिदंबरम ने भी चिंता जताते हुए कहा कि अगर दो लोगों की लोकेशन एक ही इलाके में दिखाई दे रही है तो इसका मतलब लगाया जाएगा कि वे एक ही कमरे में हैं।राजीव को बुधवार को भारत के नए नियंत्रक और महालेखा परीक्षक (सीएजी) के रूप में नियुक्त किया गया है। वरिष्ठ आईएएस अधिकारी राजीव गौबा ने गुरुवार
को केंद्रीय गृह सचिव के रूप में कार्यभार संभाला। महर्षि 1978 बैच के राजस्थान कैडर के आईएएस अधिकारी हैं।

 

Wefornews Bureau

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top