मोदी सरकार को झटका, 7 साल के उच्चतम स्तर पर राजकोषीय घाटा | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

व्यापार

मोदी सरकार को झटका, 7 साल के उच्चतम स्तर पर राजकोषीय घाटा

Published

on

cropped-fiscal-deficit
प्रतीकात्मक तस्वीर

भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर मोदी सरकार को लगातार झटके लग रहे हैं। स्थिति को सम्भालने के लिए सरकार के सामने बड़ी चुनौतियां है और की जा रही कोशिशों का नतीजा फीका नजर आ रहा है। इस साल की जीडीपी ग्रोथ रेट की बात करें तो ये 11 साल के निम्नतम स्‍तर पर है। वहीं, राजकोषीय घाटे का आंकड़ा भी 7 साल के उच्‍चतम स्‍तर पर है। मतलब ये कि वित्त वर्ष 2019-20 में सरकारी खजाने का घाटा सात साल में सबसे ज्‍यादा रहा। अहम बात ये है कि यह सरकार जितना सोच रही थी, उससे कहीं ज्‍यादा घाटा हुआ है।

देश का राजकोषीय घाटा 2019-20 में बढ़कर जीडीपी का 4.6 प्रतिशत रहा जो सात साल का उच्च स्तर है। इससे पहले 2012-13 में राजकोषीय घाटा 4.9 प्रतिशत था। आपको बता दें कि सरकार ने 3.8 प्रतिशत घाटे का अनुमान लगाया था। जाहिर सी बात है कि ये आंकड़े सरकार के अनुमान से कहीं ज्‍यादा है। इससे एक साल पहले यानी वित्त वर्ष 2018-19 में राजकोषीय घाटा जीडीपी का 3.4 प्रतिशत रहा।

बढ़ते राजकोषीय घाटे का असर वही है, जो आपकी कमाई के मुकाबले खर्च बढ़ने पर होता है. खर्च बढ़ने की स्थिति में हम अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए कर्ज लेते हैं. इसी तरह सरकारें भी कर्ज लेती हैं. कहने का मतलब ये हुआ कि राजकोषीय घाटे को पूरा करने के लिए सरकार कर्ज लेने को मजबूर होती है और फिर ब्याज समेत चुकाती है.

इस घाटे को पूरा करने के लिए सरकार की ओर से तरह-तरह के उपाय किए जाते हैं. मसलन, पेट्रोल-डीजल पर अतिरिक्‍त टैक्‍स लगाने का फैसला भी राजकोषीय घाटे को कम करने के लिए लिया जाता है. यानी इसकी आंच आपकी जेब तक पहुंचती है.

मुख्य रूप से राजस्व संग्रह कम होने से राजकोषीय घाटा बढ़ा है. ये आंकड़े बताते हैं कि टैक्‍स कलेक्‍शन कम रहने के कारण सरकार की उधारी बढ़ी है.

WeForNews

व्यापार

यस बैंक एफपीओ से 15 हजार करोड़ रुपये जुटाएगा, 15 जुलाई को खुलेगा ऑफर

Published

on

Yes Bank Crisis

यस बैंक ने 15,000 करोड़ रुपये जुटाने के लिए अपनी अनुवर्ती सार्वजनिक पेशकश (एफपीओ) के लिए एक रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (एचआरपी) दायर किया है।यस बैंक ने 15,000 करोड़ रुपये जुटाने के लिए अपनी अनुवर्ती सार्वजनिक पेशकश (एफपीओ) के लिए एक रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (एचआरपी) दायर किया है।

इस सप्ताह की शुरुआत में यस बैंक को अपने निदेशक मंडल की पूंजी जुटाने वाली समिति (सीआरसी) से पेशकश के जरिए धन जुटाने की मंजूरी मिली थी। यस बैंक ने शेयर बाजार को बताया कि बैंक ने महाराष्ट्र में कंपनी पंजीयक के समक्ष सात जुलाई 2020 को रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (आरआरपी) दाखिल किया।

यस बैंक ने कहा कि एफपीओ पेशकश 15,000 करोड़ रुपये की है। इसके तहत ताजा शेयर जारी किए जाएंगे और इसमें कर्मचारियों के लिए 200 करोड़ रुपये के शेयर आरक्षित होंगे।

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने एक बयान में कहा कि उसके केंद्रीय बोर्ड की कार्यकारी समिति ने बुधवार को यस बैंक के एफपीओ में अधिकतम 1,760 करोड़ रुपये तक निवेश को मंजूरी दे दी है। सरकार ने 13 मार्च को यस बैंक के लिए एक बेलआउट योजना को मंजूरी दी थी। योजना के तहत यस बैंक को आठ वित्तीय संस्थानों से लगभग 10,000 करोड़ रुपये मिले थे। इसमें एसबीआई से मिले 6,050 करोड़ रुपये शामिल थे।

एशियाई विकास बैंक (एडीबी) ने बुधवार को कहा कि उसने 2020 में पूंजी बाजार से 30 से 35 अरब डॉलर जुटाने की योजना बनाई है। बैंक ने पूंजीगत संसाधनों को बढ़ावा देने के लिए तीन साल के चार अरब डॉलर के बांड की बिक्री की है। एडीबी ने एक विज्ञप्ति में कहा कि चार अरब डॉलर के तीन साल के जो बांड बेचे गए हैं, उनके लिए 0.25 प्रतिशत की दर से ब्याज देय है। इसे साल में दो बार में भुगतान करना है।

ये बांड 14 जुलाई 2023 को परिपक्व होंगे। एडीबी के कोषाध्यक्ष पियरे वान पेटेघेम ने कहा कि पूंजी जुटाने से एडीबी को एशिया-प्रशांत के क्षेत्रों की विशेषकर महामारी के मौजूदा दौर में मदद करने का संसाधन मिलेगा। एडीबी की बांड बिक्री का प्रबंधन बैंक ऑफ मॉन्ट्रियल, ड्यूश बैंक, गोल्डमैन सैश और मॉर्गन स्टेनली द्वारा किया गया था।

Continue Reading

व्यापार

औद्योगिक धातुओं में जोरदार तेजी, 6 महीने के ऊंचे स्तर पर तांबा

Published

on

फाइल फोटो

कोरोना के गहराते कहर के बीच औद्योगिक गतिविधियां तेज होने से औद्योगिक धातुओं के दाम में जबरदस्त तेजी देखी जा रही है। घरेलू एवं अंतर्राष्ट्रीय बाजार में तांबा यानी कॉपर का दाम तकरीबन छह महीने के उंचे स्तर पर चला गया है और तमाम बेस मेटल्स के भाव में उछाल आया है।

कमोडिटी बाजार के जानकार बताते हैं कि चिली के खदानों में काम करने वाले मजदूरों में कोरोनावायरस संक्रमण के मामले पाए जाने के बाद खनन कार्य प्रभावित होने से औद्योगिक धातुओं के दाम में तेजी आई है।

अंतर्राष्ट्रीय बाजार लंदन मेटल एक्सचेंज (एलएमई) पर गुरुवार को कॉपर का भाव 6,314.75 डॉलर प्रति टन चल रहा था जबकि इससे पहले भाव 6330.50 डॉलर प्रति टन तक उछला जोकि 16 जनवरी के बाद का सबसे उंचा स्तर है जब कॉपर का भाव एलएमई 6,342.25 डॉलर प्रति टन तक उछला। कोरोना काल में आर्थिक गतिविधियां चरमराने के कारण कॉपर का भाव 19 मार्च को 4,371 डॉलर प्रति टन तक टूटा था, जिसके बाद करीब 45 फीसदी की उछाल आई है।

इसी प्रकार, जिंक, लेड, निकल और अल्युमीनियम में भी जबदरस्त तेजी आई है। एलएमई पर अल्युमीनियम का भाव पिछले सत्र से 0.57 फीसदी की तेजी के साथ 1,676.75 डॉलर प्रति टन पर कारोबार चल रहा था। जिंक में पिछले सत्र से 0.63 फीसदी की तेजी के साथ 2,142 डॉलर प्रति टन पर, लेड में 0.44 फीसदी की बढ़त के साथ 1,824.25 डॉलर प्रति टन पर और निकल में 0.19 फीसदी की तेजी के साथ 13,505 डॉलर प्रति टन पर कारोबार चल रहा था।

केडिया एडवायजरी के डायरेक्टर अजय केडिया ने बताया कि चिली के खदानों में काम करने वाले मजदूरों में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ जाने के बाद खनन कार्य पर प्रभावित होने से तमाम बेस मेटल्स में तेजी आई है।

केडिया ने बताया कि दुनिया में कॉपर के सबसे बड़े उत्पादक चिली की कोडेल्को में करीब 3000 कामगारों के कोरोना से संक्रमण होने की रिपोर्ट आने के बाद कंपनी में सुरक्षा के उपाय बढ़ाने की मांग हो रही है।

उन्होंने कहा कि बेस मेटल्स में तेजी की वजह औद्योगिक गतिविधियां बढ़ने के संकेत मिलने से भी आई है। उन्होंने कहा कि अमेरिका और चीन में जिस प्रकार से मैन्युुैक्च रिंग पीएमआई के आंकड़े अच्छे आए हैं, जिससे औद्योगिक गतिविधियों में रिकवरी के संकेत मिल रहे हैं।

घरेलू वायदा बाजार मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (एमसीएक्स) पर कॉपर के जुलाई अनुबंध में गुरुवार को पिछले सत्र से 5.60 रुपये यानी 1.17 फीसदी की तेजी के साथ 483.10 रुपये प्रति किलो पर बना हुआ था जबकि कारोबार के दौरान तांबे का भाव 485.80 रुपये प्रति किलो तक उछला जोकि 16 जनवरी के बाद का सबसे उंचा स्तर है।

एमसीएक्स पर निकल के जुलाई अनुबंध में पिछले सत्र से 0.24 फीसदी की तेजी के साथ 1017.20 रुपये प्रति किलो पर कारोबार चल रहा था। वहीं, जिंक का जुलाई अनुबंध पिछले सत्र से 0.45 फीसदी की तेजी के साथ 169.70 रुपये प्रति किलो पर बना हुआ था। लेड के जुलाई अनुबंध में 0.48 फीसदी की तेजी के साथ 145.85 रुपये प्रति किलो पर कारोबार चल रहा था। अल्युमीनियम का जुलाई अनुबंध भी पिछले सत्र से 0.65 फीसदी की तेजी के साथ 140.30 रुपये प्रति किलो पर बना हुआ था।

कमोडिटी के जानकार और एंजेल ब्रोकिंग के डिप्टी वाइस प्रेसीडेंट अनुज गुप्ता ने बताया कि दुनियाभर में लॉकडाउन के बाद आर्थिक गतिविधियां पटरी पर लौट रही हंै और धीरे-धीरे औद्योगिक कारोबार में भी सुधार आ रहा है जिसका संकेत अमेरिका और चीन के मजबूत आर्थिक आंकड़ों से देखने को मिला है। उन्होंने कहा कि औद्योगिक गतिविधियां तेज रहेंगी तो औद्योगिक धातुओं में तेजी बनी रहेगी। उन्होंने कहा कि तमाम बेस मेटल्स की कीमतें इस साल जनवरी के बाद के सबसे उंचे स्तर पर हैं।

Continue Reading

व्यापार

घरेलू शेयर बाजार की मजबूत शुरुआत, सेंसेक्स 200 अंक उछला

Published

on

sensex-min

घरेलू शेयर बाजार की शुरुआत गुरुवार को फिर तेजी के साथ हुई। सेंसेक्स बढ़त के साथ खुलने के बाद 200 अंकों से ज्यादा उछला और निफ्टी में भी 50 अंकों से ज्यादा की बढ़त रही। विदेशी बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों से घरेलू शेयर बाजार को सपोर्ट मिला।

सुबह 9.21 बजे सेंसेक्स पिछले सत्र से 188.42 अंक यानी 0.52 फीसदी की बढ़त के साथ 36,517.43 पर बना हुआ था जबकि निफ्टी पिछले सत्र से 47.30 अंकों यानी 0.44 फीसदी चढ़कर 10,753.05 पर कारोबार कर रहा था।

एशिया के अन्य बाजारों में भी रिकवरी आने से भारतीय शेयर बाजार में एक दिन की गिरावट के बाद फिर तेजी लौटी है। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले 121.68 अंकों की तेजी के साथ 36,450.69 पर खुला और 36,541.53 तक उछला।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी भी पिछले सत्र के मुकाबले 49.80 अंकों की बढ़त के साथ 10,755.55 पर खुला और 10763.75 तक चढ़ा

लगातार पांच सत्रों की तेजी के बाद बुधवार को घरेलू शेयर बाजार में गिरावट दर्ज की गई थी।अमेरिकी शेयर बाजार में बीते सत्र में आई रिकवरी के बाद गुरुवार को एशियाई शेयर बाजारों में भी तेजी का रुख बना हुआ था।

–आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
Coronavirus Lockdown India Delhi
राष्ट्रीय38 mins ago

उप्र में फिर 3 दिन पूर्णबंदी लागू

Coronavirus
स्वास्थ्य1 hour ago

मप्र में कोरोना के 305 मरीज बढ़े, कुल आंकड़ा 16341

SKY-LIGHTNING
राष्ट्रीय2 hours ago

बिहार में वज्रपात से फिर 7 मौतें, परिजनों को 4-4 लाख रुपये

Ram Vilas Paswan
राजनीति3 hours ago

चिराग जो फैसला लेंगे, हम उनके साथ: रामविलास पासवान

coronavirus
राष्ट्रीय3 hours ago

कोविड: दिल्ली में 563 कंटेनमेंट जोन, 24 घंटे में 105 इलाके सील

राष्ट्रीय3 hours ago

उज्जैन में पकड़े गए विकास को यूपी पुलिस को सौंपा

Corona India Tablighi Jamaat
राष्ट्रीय4 hours ago

तबलीगी जमात मामला : 76 और विदेशियों को मिली जमानत

Coronavirus-Infections
राष्ट्रीय4 hours ago

महाराष्ट्र में कोरोना के 6875 नए केस, 219 की मौत

राष्ट्रीय4 hours ago

दिल्ली में कोरोना के 2187 नए मामले

Coronavirus
राष्ट्रीय4 hours ago

जम्मू-कश्मीर में कोरोना के 240 नए केस

Stock Market Down
ब्लॉग4 weeks ago

शेयर बाजार में पूरे सप्ताह रहा उतार-चढ़ाव, 1.5 फीसदी टूटे सेंसेक्स, निफ्टी

अंतरराष्ट्रीय4 weeks ago

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री यूसुफ रजा कोरोना पॉजिटिव

गरीब-कल्याण-रोजगार-योजना
ब्लॉग2 weeks ago

‘ग़रीब कल्याण रोज़गार’ के तमाशे के पीछे अभी तो बस बिहार चुनाव ही है

coronavirus
अंतरराष्ट्रीय3 weeks ago

बांग्लादेश में बढ़ रहा कोरोना का प्रकोप, ‘रेड जोन’ में तैनात की जाएगी सेना

टेक4 weeks ago

भारत में गुगल सर्च, असिस्टेंट एंड मैप्स पर कोरोना परीक्षण केंद्र खोजें

Coronavirus Robot
अंतरराष्ट्रीय4 weeks ago

चीन में कोरोना वायरस संक्रमण के 15 नए मामले

लाइफस्टाइल4 weeks ago

जेजीयू क्यूएस रैंकिंग 2021 में भारत का शीर्ष निजी विश्वविद्यालय बना

disney
अंतरराष्ट्रीय4 weeks ago

डिज्नीलैंड ने 17 जुलाई से थीम पार्क खोलने की घोषणा की

अंतरराष्ट्रीय3 weeks ago

पुरी दुनिया में हर 100 लोगों में से एक व्यक्ति विस्थापित : यूएनएचसीआर

congress logo
राजनीति3 weeks ago

मप्र के मंत्री के झूठ बोलना बंद करें वरना दर्ज होगा मामला: कांग्रेस

Kapil Sibal
राजनीति4 weeks ago

तेल से मिले लाभ को जनता में बांटे सरकार: कपिल सिब्बल

Vizag chemical unit
राष्ट्रीय2 months ago

आंध्र प्रदेश: पॉलिमर्स इंडस्ट्री में केमिकल गैस लीक, 8 की मौत

Delhi Police ASI
शहर3 months ago

दिल्ली पुलिस के कोरोना पॉजिटिव एएसआई के ठीक होकर लौटने पर भव्य स्वागत

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
स्वास्थ्य3 months ago

WHO को दिए जाने वाले अनुदान पर रोक को लेकर टेडरोस ने अफसोस जताया

Sonia Gandhi Congress Prez
राजनीति3 months ago

PM Modi के संबोधन से पहले कोरोना संकट पर सोनिया गांधी का राष्ट्र को संदेश

मनोरंजन3 months ago

रफ्तार का नया गाना ‘मिस्टर नैर’ लॅान्च

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
अंतरराष्ट्रीय3 months ago

चीन ने महामारी के फैलाव को कारगर रूप से नियंत्रित किया : डब्ल्यूएचओ

मनोरंजन3 months ago

शिवानी कश्यप का नया गाना : ‘कोरोना को है हराना’

Honey Singh-
मनोरंजन4 months ago

हनी सिंह का नया सॉन्ग ‘लोका’ हुआ रिलीज

Akshay Kumar
मनोरंजन4 months ago

धमाकेदार एक्शन के साथ रिलीज हुआ ‘सूर्यवंशी’ का ट्रेलर

Most Popular