Connect with us

व्यापार

सेंसेक्स में 26 अंकों की तेजी

Published

on

sensex
File Photo

देश के शेयर बाजारों में बुधवार को तेजी रही। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 26.31 अंकों की तेजी के साथ 36,265.93 पर और निफ्टी 1.05 अंकों की तेजी के साथ 10,948.30 पर बंद हुआ।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 59.64 अंकों की तेजी के साथ 36,299.26 पर खुला और 26.31 अंकों या 0.07 फीसदी की तेजी के साथ 36,265.93 पर बंद हुआ। दिन भर के कारोबार में सेंसेक्स ने 36,362.30 के ऊपरी स्तर और 36,169.70 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांक में गिरावट रही। बीएसई का मिडकैप सूचकांक 105.22 अंकों की गिरावट के साथ 15,632.55 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 54.21 अंकों की गिरावट के साथ 16,429.37 पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 9.15 अंकों की तेजी के साथ 10,956.40 पर खुला और 1.05 अंकों या 0.01 फीसदी की तेजी के साथ 10,948.30 पर बंद हुआ। दिन भर के कारोबार में निफ्टी ने 10,976.65 के ऊपरी और 10,923.00 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के 19 सेक्टरों में से 5 सेक्टरों में तेजी रही, जिसमें – सूचना प्रौद्योगिकी (2.38 फीसदी), प्रौद्योगिकी (1.94 फीसदी), रियल्टी (0.55 फीसदी), तेज खपत उपभोक्ता वस्तु (0.43 फीसदी) और ऊर्जा (0.12 फीसदी) शामिल रहे। बीएसई के गिरावट वाले सेक्टरों में प्रमुख रहे – धातु (3.10 फीसदी), आधारभूत सामग्री (1.69 फीसदी), वाहन (0.99 फीसदी), औद्योगिक (0.83 फीसदी) और दूरसंचार (0.66 फीसदी)।

–आईएएनएस

व्यापार

फ्यूचर्स एंड ऑप्शंस, फेड के फैसले का शेयर बाजार पर रहेगा असर

Published

on

sensex-min (1)
File Photo

बीते हफ्ते भारतीय शेयर बाजार में भारी गिरावट दर्ज करने के बाद इस हफ्ते उतार-चढ़ाव बने रहने की संभावना है, क्योंकि कारोबारी चालू महीने के अनुबंध की समाप्ति के बाद फ्यूचर्स एंड ऑप्शंस यानी एफ एंड ओ सेगमेंट में अगले महीने की सीरीज में पोजीशन बनाएंगे।

इसके अलावा डॉलर के मुकाबले रुपये में उतार-चढ़ाव, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का दाम और विदेशी संकेतों से भी घरेलू शेयर बाजार की चाल तय होगी। जानकारों की माने तो भारतीय शेयर सूचकांकों के पिछले सप्ताह गोता खाने के बाद इस सप्ताह उनमें सुधार की संभावना है, मगर देसी-विदेशी संकेतों से बाजार में उतार-चढ़ाव का दौर देखने को मिल सकता है।

बाजार पर अगले सप्ताह विदेशों में जारी होने वाले आर्थिक आंकड़ों का भी असर देखने को मिलेगा। साथ ही बाजार की नजर हालिया राजनीतिक घटनाक्रम पर भी होगी, जिनमें राफेल विमान सौदे को लेकर सरकार और विपक्ष के बीच जारी आरोप-प्रत्यारोप अहम है।

एफ एंड ओ के सिंतबर महीने के अनुबंध की समाप्ति अगले हफ्ते गुरुवार को हो रही है, जिससे कारोबारी अगले महीने की सीरीज में अपने पोजीशन बनाएंगे। इससे एक दिन पहले बुधवार को अमेरिकी केंद्रीय बैंक, फेडरल रिजर्व ब्याज दर को लेकर अपने फैसले की घोषणा कर सकता है।

फेड ने अगस्त की अपनी बैठक में फेडरल फंड रेट 1.75 फीसदी से लेकर दो फीसदी के बीच रखने का लक्ष्य तय किया था। इस सप्ताह अमेरिका में दूसरी तिमाही के जीडीपी आंकड़े भी आने वाले हैं।

विदेशी शेयर बाजार से मिलने वाले संकेत, डॉलर के मुकाबले रुपये की चाल, कच्चे तेल के दाम में उतार-चढ़ाव और विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों और घरेलू संस्थागत निवेशकों के निवेश के प्रति रुझान का भी घरेलू शेयर बाजार पर असर देखने को मिलेगा।

बैंक ऑफ जापान की मौद्रिक नीति की अंतिम बैठक मंगलवार को शुरू होने जा रही है।पिछली बैठक में 19 सितंबर को बैंक ऑफ जापान अल्पकालिक ब्याज दर नकारात्मक 0.1 फीसदी पर स्थिर रखा था। अमेरिका में अगस्त महीने के लिए नए घरों की बिक्री के आंकड़े बुधवार को जारी हो सकते हैं।

जापान में अगस्त महीने के लिफ्यूचर्स एंड ऑप्शंस, फेड के फैसले का शेयर बाजार पर रहेगा असरए बेरोजगारी के आंकड़े शुक्रवार को जारी होंगे। जापान में जुलाई में बेरोजगारी दर 2.4 फीसदी से बढ़कर 2.5 फीसदी हो गई थी। वहीं, चीन में सितंबर महीने के लिए कैक्सिन चाइना जनरल मैन्युैक्च रिंग पीएमआई के आंकड़े शुक्रवार को जारी होने वाले हैं।

अगस्त में कैक्सिन चाइना जनरल मैन्युैक्च रिंग पीएमआई 50.8 फीसदी से फिसलकर 50.6 फीसदी पर आ गया था। इस बीच चीन और अमेरिका के बीच व्यापारिक हितों को लेकर टकराव से वैश्विक बाजार में उत्पन्न अनिश्चितता का दौर कायम है।

–आईएएनएस

Continue Reading

व्यापार

नई ऊंचाई पर तेल के दाम, मुंबई में पेट्रोल 90 के पास

Published

on

Petrol
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

तेल की कीमतों में होने वाली बढ़ोत्तरी थमने का नाम नहीं ले रही है। रविवार को पेट्रोल और डीजल की कीमतों ने नई ऊंचाई छू ली। दिल्ली में पेट्रोल के दामों में 17 पैसों बढ़े हैं जबकि डीजल के दाम 10 पैसे प्रति लीटर बढ़े हैं।

इस बढ़ोतरी के बाद दिल्ली में पेट्रोल 82.61 रुपए और डीजल 73.97 रुपए पहुंच गया है। वहीं मुंबई में पेट्रोल के दाम 90 रुपए छूने ही वाले हैं। मुंबई में पेट्रोल 89.97 रुपए और डीजल 78.53 रुपए प्रति लीटर हो गया है।

बता दें है कि इससे पहले शनिवार को दिल्ली में पेट्रोल की कीमत में 12 पैसे की बढ़ोतरी हुई थी। हालांकि डीजल के दामों में कोई इजाफा नहीं हुआ था। मुंबई में पेट्रोल खरीदने के लिए लोगों को 89.97 रुपये प्रति लीटर और डीजल के लिए 78.53 रुपये प्रति लीटर कीमत चुकानी पड़ेगी।

WeForNews

Continue Reading

व्यापार

वालमार्ट इंडिया ने भारत में 22वां स्टोर खोला

Published

on

Walmart Ludhiana

लुधियाना, 22 सितम्बर | वालमार्ट इंडिया ने शनिवार को भारत में अपने 22वें बी2बी कैश एंड कैरी स्टोर खोलने की घोषणा की। यह लुधियाना में दूसरा और पंजाब में छठा बेस्ट प्राइस मॉडर्न होलसेल स्टोर है। यह नया स्टोर खुलने के साथ ही बी2बी ईकॉमर्स प्लेटफॉर्म के साथ एकीकृत हो गया है, और ऑनलाइन जाने वाला यह कंपनी का 22वां बेस्ट प्राइस स्टोर बन गया है।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि वालमार्ट इंडिया इस स्टोर से ‘प्रति दिन कम कीमतों पर’ उत्तम मर्चेडाइज व स्थानीय उत्पादों की विस्तृत रेंज मुहैया कराएगी, खरीदारी के खास विकल्प, डोर स्टैप डिलिवरी और सुविधाजनक भुगतान समाधान प्रस्तुत किए जाएंगे, जिनका लाभ लुधियान एवं आसपास के 100 किलोमीटर के दायरे में मौजूद व्यापारियों को मिलेगा।

बयान के अनुसार, यह स्टोर स्थानीय व प्रदेश की अर्थव्यवस्था में अहम योगदान देगा, क्योंकि इसकी स्थापना से 2000 के लगभग प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष नौकरियां उत्पन्न हुई हैं। यह स्टोर अपने सदस्यों की जरूरतों को पूरा करने के लिए स्थानीय आपूर्तिकर्ताओं से माल की खरीदेगा, जिससे लघु/क्षेत्रीय आपूर्तिकर्ता ईको-सिस्टम को बढ़ावा मिलेगा।

स्टोर लांच की घोषणा करते हुए वालमार्ट इंडिया के अध्यक्ष व सीईओ कृष अय्यर ने कहा, “भारत में 22वें कैश एंड कैरी स्टोर के खुलने से मैं बहुत उत्साहित हूं। लुधियाना में दूसरा और पंजाब का यह छठा स्टोर है। हमने अपना पहला स्टोर अमृतसर में 2009 में खोला था। हमारा प्रत्येक स्टोर लगभग 2000 प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष नौकरियां पैदा करता है।”

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular