सेंसेक्स में 0.88 फीसदी, निफ्टी में 0.63 फीसदी की तेजी | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

व्यापार

सेंसेक्स में 0.88 फीसदी, निफ्टी में 0.63 फीसदी की तेजी

Published

on

File Photo

बीते सप्ताह शेयर बाजारों में अच्छी तेजी दर्ज की गई और सेंसेक्स 36,000 अंकों के स्तर तथा निफ्टी 10,800 अंकों के स्तर को पार कर बंद हुआ।

साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स 314.74 अंकों या 0.88 फीसदी की तेजी के साथ 36,009.84 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 67.60 अंकों या 0.63 फीसदी की तेजी के साथ 10,794.95 पर बंद हुआ।

बीएसई के मिडकैप सूचकांक में 29.43 अंकों या 0.19 फीसदी की तेजी आई और यह 15,177.03 पर बंद हुआ, जबकि स्मॉलकैप सूचकांक 7.96 अंकों या 0.05 फीसदी की तेजी के साथ 14,600.37 पर बंद हुआ।

सोमवार को शेयर बाजारों में तेजी का रुख रहा और सेंसेक्स 155.06 अंकों या 0.43 फीसदी की तेजी के साथ 35,850.16 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 49.25 अंकों या 0.46 फीसदी की तेजी के साथ 10,776.60 पर बंद हुआ।

मंगलवार को भी बाजार में तेजी रही और सेंसेक्स 130.77 अंकों या 0.36 फीसदी की तेजी के साथ 35,980.93 पर बंद हुआ। निफ्टी 30.35 अंकों या 0.28 फीसदी के साथ 10,802.15 पर बंद हुआ।

बुधवार को लगातार चौथे सत्र में तेजी दर्ज की गई और सेंसेक्स 231.98 अंकों या 0.63 फीसदी की तेजी के साथ 36,212.91 पर तथा निफ्टी 53 अंकों या 0.49 फीसदी की तेजी के साथ 10,855.15 पर बंद हुआ।

गुरुवार को नकारात्मक वैश्विक संकेतों और पिछली रात कच्चे तेल के दाम में हुई वृद्धि के कारण भारतीय शेयर बाजारों में गिरावट रही। सेंसेक्स 106.41 अंकों या 0.29 फीसदी की गिरावट के साथ 36,106.50 पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी 33.55 अंकों या 0.31 फीसदी की गिरावट के साथ 10,821.60 पर बंद हुआ।

शुक्रवार को सेंसेक्स 96.66 अंकों या 0.27 फीसदी की गिरावट के साथ 36,009.84 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 26.65 अंकों या 0.25 फीसदी की गिरावट के साथ 10,794.95 पर बंद हुआ।

बीते सप्ताह सेंसेक्स के तेजी वाले शेयरों में प्रमुख रहे -टाटा मोटर्स (5.59 फीसदी), आईटीसी (5.22 फीसदी), टाटा मोटर्स डीवीआर (4.64 फीसदी), आईसीआईसीआई बैंक (3.56 फीसदी) और भारती एयरटेल (3.55 फीसदी)।

सेंसेक्स के गिरावट वाले शेयरों में प्रमुख रहे -हीरो मोटोकॉर्प (3.08 फीसदी), यस बैंक (2.93 फीसदी), टाटा स्टील (2.67 फीसदी), बजाज फाइनेंस (2.65 फीसदी) और इंडसइंड बैंक (2.10 फीसदी)।

विदेशी मुद्रा बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपये में गिरावट आई और पिछले कारोबारी सत्र में रुपया 70.41 रुपये प्रति डॉलर के स्तर पर बंद हुआ।

विदेशी वस्तु बाजार में, कच्चे तेल का जनवरी 2019 का सौदा 23 सेंट्स बढ़कर 61.91 डॉलर प्रति बैरल (एक बैरल करीब 159 लीटर के बराबर होता है) की दर से तय हुआ है।

आर्थिक मोर्चे पर, विनिर्माण क्षेत्र में उत्पादन घटने से देश के औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर में 2018 के नवंबर में तेज गिरावट दर्ज की गई है, जो केवल 0.5 फीसदी रही। जबकि एक महीने पहले यह 8.4 फीसदी थी। वहीं, एक साल पहले की इसी अवधि में यह 8.5 फीसदी थी।

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) की ओर से शुक्रवार को जारी आंकड़े के मुताबिक, विनिर्माण क्षेत्र के उत्पादन की वृद्धि दर नवंबर में घटकर 0.4 फीसदी रही, जबकि साल-दर-साल आधार पर इसमें 10.4 फीसदी वृद्धि दर्ज की गई थी।

सीएसओ ने एक बयान में कहा, “आधार वर्ष 2011-12 के आधार पर 2018 के नवंबर का ‘औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) सूचकांक का त्वरित अनुमान’ 126.4 पर रहा, जो कि 2017 के नवंबर की तुलना में 0.5 फीसदी अधिक है। साल 2018 के अप्रैल-नवंबर की अवधि में पिछले साल की समान अवधि की तुलना में संचयी विकास दर 5.0 फीसदी रही।”

वहीं, एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्यम) क्षेत्र को बड़ी राहत देते हुए जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) परिषद ने गुरुवार को छोटे व्यापारों को छूट सीमा 20 लाख रुपये से बढ़ाकर 40 लाख रुपये कर दिया तथा कंपोजिशन स्कीम में शामिल होने की सीमा को 1 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 1.5 करोड़ रुपये कर दिया।

साथ ही केरल को दो साल के लिए जीएसटी के ऊपर एक फीसदी आपदा उपकर लगाने की अनुमति दे दी। अब तक 20 लाख रुपये से कम के कारोबार को जीएसटी में पंजीकरण कराने की जरूरत नहीं थी।

जीएसटी परिषद की बैठक के बाद यहां फैसलों की घोषणा करते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आगे किसी प्रकार की कर छूट की संभावना से इनकार किया और कहा कि ‘छूट तभी दी जाएगी, जब राजस्व में इजाफा होगा।’

उन्होंने कहा कि जीएसटी की मूल संरचना के तहत पूरे भारत में 20 लाख रुपये तक के कारोबार को तथा उत्तर पूर्व के कुछ राज्यों और पहाड़ी इलाकों में 10 रुपये से कम के कारोबार को जीएसटी से छूट दी गई थी।

जेटली ने कहा, “हमने दो स्लैब के साथ दो संरचना को बरकरार रखा है। इसके तहत 20 लाख रुपये की सीमा को दोगुना बढ़ाकर 40 लाख कर दिया गया, जबकि छोटे राज्यों के लिए 10 लाख रुपये की सीमा को बढ़ाकर 20 लाख रुपये कर दिया गया।”

वहीं, विश्व बैंक के ताजा अनुमान के अनुसार, वित्त वर्ष 2019-20 में भारत की आर्थिक विकास दर 7.5 फीसदी रह सकती है और भारत की अर्थव्यवस्था दुनिया की सबसे तेजी से विकास करने वाली अर्थव्यवस्था के रूप में अपने दर्जे को बरकरार रखेगी।

विश्व बैंक द्वारा मंगलवार को जारी वैश्विक आर्थिक अनुमान (जीईपी) रपट में भारत के लिए पिछले साल जून में किए गए अनुमानों को बरकरार रखा गया है। रपट में चालू वित्त वर्ष में भारत की आर्थिक विकास दर 7.3 फीसदी रहने का अनुमान लगाया गया था, जोकि पिछले साल 2017-18 के 6.3 फीसदी के अनुमान से अधिक है।

वहीं, केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) ने चालू वित्त वर्ष में आर्थिक विकास दर 7.2 फीसदी रहने का अनुमान लगाया है, जबकि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) का अनुमान है कि चालू वित्त वर्ष में आर्थिक विकास दर 7.4 फीसदी रह सकती है।

विश्व बैंक ने हालांकि चेतावनी दी है कि दक्षिण एशिया में आगामी चुनावों को लेकर राजनीतिक अस्थिरता बढ़ जाएगी।

–आईएएनएस

व्यापार

एलएंडटी ने माइंडट्री में सिद्धार्थ की 20.4 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी

Published

on

L&T
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

नई दिल्ली। लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) ने माइंडट्री में अधिग्रहण करने के लिए पहला कदम उठाया और करीब 3,300 करोड़ रुपये में मध्यम श्रेणी की आईटी सर्विस कंपनी में वी.जी. सिद्धार्थ की 20.4 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी। सिद्धार्थ माइंडट्री में सबसे बड़े शेयरधारक हैं।

सूत्रों के अनुसार, एलएंडटी का अगला कदम कंपनी में नियंत्रण की हिस्सेदारी के लिए 8,000 करोड़ रुपये खर्च करके सार्वजनिक शेयरधारकों को खरीदने की पेशकश करना हो सकता है। माइंडट्री के सह-संस्थापक व पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुब्रतो बागची ने ओडिशा कौशल विकास प्राधिकरण के प्रमुख पद से यह कहते हुए इस्तीफा दे दिया कि वह कंपनी में वापस लौट रहे हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading

व्यापार

सेंसेक्स 268 अंक ऊपर

Published

on

Sensex
File Photo

देश के शेयर बाजारों में मंगलवार को तेजी रही। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 268.40 अंकों की तेजी के साथ 38,363.47 पर और निफ्टी 70.20 अंकों की तेजी के साथ 11,532.40 पर बंद हुआ।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 123.52 अंकों की तेजी के साथ 38,218.59 पर खुला और 268.40 अंकों या 0.70 फीसदी तेजी के साथ 38,363.47 पर बंद हुआ।

दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 38,396.06 के ऊपरी स्तर और 38,078.23 के निचले स्तर को छुआ। बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में तेजी रही। बीएसई का मिडकैप सूचकांक 79.01 अंकों की तेजी के साथ 15,220.06 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 55.17 अंकों की तेजी के साथ 14,873.36 पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 38.10 अंकों की तेजी के साथ 11,500.30 पर खुला और 70.20 अंकों या 0.61 फीसदी की तेजी के साथ 11,532.40 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 11,543.85 के ऊपरी और 11,451.25 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के 19 में से 14 सेक्टरों में तेजी रही। दूरसंचार (1.75 फीसदी), ऊर्जा (1.53 फीसदी), यूटीलिटी (1.20 फीसदी), तेज खपत उपभोक्ता वस्तुएं (1.14 फीसदी) और तेल एवं गैस (1.06 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही।

बीएसई के गिरावट वाले सेक्टरों में ऑटो (0.61 फीसदी), पूंजीगत वस्तुएं (0.61 फीसदी), औद्योगिक (0.20 फीसदी), धातु (0.11 फीसदी) और उपभोक्ता गैर अनिवार्य वस्तुएं एवं सेवाएं (0.11 फीसदी) प्रमुख रहे।

–आईएएनएस

Continue Reading

व्यापार

सेंसेक्स 71 अंक ऊपर

Published

on

File Photo

देश के शेयर बाजारों में तेजी रही। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 70.75 अंकों की तेजी के साथ 38,095.07 पर और निफ्टी 35.35 अंकों की तेजी के साथ 11,462.20 पर बंद हुआ।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 108.64 अंकों की तेजी के साथ 38,132.96 पर खुला और 70.75 अंकों या 0.19 फीसदी तेजी के साथ 38,095.07 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 38,369.59 के ऊपरी स्तर और 37,952.10 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में गिरावट रही। बीएसई का मिडकैप सूचकांक 30.47 अंकों की गिरावट के साथ 15,141.05 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 18.99 अंकों की गिरावट के साथ 14,818.19 पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 47.00 अंकों की तेजी के साथ 11,473.85 पर खुला और 35.35 अंकों या 0.31 फीसदी की तेजी के साथ 11,462.20 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 11,530.15 के ऊपरी और 11,412.50 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के 19 में से 11 सेक्टरों में तेजी रही। रियल्टी (2.46 फीसदी), ऊर्जा (1.70 फीसदी), तेल एवं गैस (1.55 फीसदी), बैंकिंग (0.88 फीसदी) और वित्त (0.79 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही।

बीएसई के गिरावट वाले सेक्टरों में ऑटो (1.36 फीसदी), दूरसंचार (1.28 फीसदी), सूचना प्रौद्योगिकी (1.15 फीसदी), प्रौद्योगिकी (1.06 फीसदी) और पूंजीगत वस्तुएं (0.79 फीसदी) प्रमुख रहे।

–आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
Manohar Parrikar
मनोरंजन1 hour ago

Goa के CM Manohar Parrikar की मृत्यु पर बॉलीवुड सितारों ने जताया शोक

ali baht--salman-
मनोरंजन1 hour ago

Bhansali की ‘इंशाल्लाह’ में काम करेंगे Salman, Alia

ipl
खेल3 hours ago

आईपीएल-12 : बीसीसीआई ने जारी किया पूरा कार्यक्रम

L&T
व्यापार3 hours ago

एलएंडटी ने माइंडट्री में सिद्धार्थ की 20.4 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी

Sensex
व्यापार4 hours ago

सेंसेक्स 268 अंक ऊपर

Building-Collapse
राष्ट्रीय4 hours ago

कर्नाटक के धारवाड़ में ढही इमारत, 1 की मौत, कई दबे

Redmi Go-
टेक4 hours ago

Redmi Go स्मार्टफोन भारत में लॉन्च, जानें कीमत

Varun Dhawan,
मनोरंजन4 hours ago

वरुण-नोरा के बीच हुआ डांस मुकाबला, वीडियो वायरल

ashok gehlot
चुनाव4 hours ago

दोबारा पीएम बने मोदी तो हो सकता है फिर न हों चुनाव : गहलोत

beetroot juice
लाइफस्टाइल5 hours ago

इन बीमारियों को दूर करता है चुकंदर का जूस

green coconut
स्वास्थ्य3 weeks ago

गर्मियों में नारियल पानी पीने से होते हैं ये फायदे

chili-
स्वास्थ्य4 weeks ago

हरी मिर्च खाने के 7 फायदे

indus water treaty
ब्लॉग4 weeks ago

सिन्धु का पानी तो भारत सिर के बल खड़े होकर भी नहीं रोक सकता!

sugarcanejuice
लाइफस्टाइल3 weeks ago

गर्मियों में गन्ने का रस पीने से होते है ये 5 फायदे…

Rafale deal scam
ब्लॉग4 weeks ago

दिग्गज मिसाइल निर्माता कंपनी ईडी के घेरे में

Rafale
ब्लॉग4 weeks ago

विदेशी कंपनियां उठा रही हैं गलाकाट घरेलू रक्षा स्पर्धा का फायदा – तहकीकात

pulwama terror attack
ब्लॉग4 weeks ago

जवानों के लिए खूनी साबित हुआ फरवरी 2019

ILFS and Postal Insurance Bond
ब्लॉग3 weeks ago

IL&FS बांड से 47 लाख डाक जीवन बीमा प्रभावित

Bharatiya Tribal Party
ब्लॉग3 weeks ago

अलग भील प्रदेश की मांग को लेकर राजस्थान में मुहिम तेज

Momo
लाइफस्टाइल4 weeks ago

मोमोज खाने से आपकी सेहत को होते है ये नुकसान

Most Popular