Connect with us

व्यापार

सेंसेक्स में 0.84 फीसदी और निफ्टी में 0.91 फीसदी की तेजी

Published

on

sensex-min (1)
File Photo

बीते सप्ताह भारतीय शेयर बाजारों में हल्की तेजी दर्ज की गई, जिसमें कच्चे तेल के दाम में हाल में आई कमी की मुख्य भूमिका रही।

साप्ताहिक आधार पर, सेंसेक्स 298.61 अंकों या 0.84 फीसदी की तेजी के साथ 35,457.16 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 97 अंकों या 0.91 फीसदी की तेजी के साथ 10,682.20 पर बंद हुआ। बीएसई के मिडकैप सूचकांक में 53.61 अंकों या 0.35 फीसदी की तेजी आई और यह 14,997.81 पर बंद हुआ। वहीं, बीएसई का स्मॉलकैप सूचकांक 185.97 अंकों या 1.26 फीसदी की गिरावट के साथ 14,485.88 पर बंद हुआ।

सोमवार को बाजार में तेज गिरावट दर्ज की गई और सेंसेक्स 345.56 अंकों या 0.98 फीसदी की गिरावट के साथ 34,812.99 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 103 अंकों या 0.97 फीसदी की गिरावट के साथ 10,482.20 पर बंद हुआ। मंगलवार को बाजार में अच्छी तेजी रही और सेंसेक्स 331.50 अंकों या 0.95 फीसदी की तेजी के साथ 35,144.49 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 100.30 अंकों या 0.96 फीसदी की तेजी के साथ 10,582.50 पर बंद हुआ।

बुधवार को बाजार में मामूली गिरावट दर्ज की गई और सेंसेक्स 2.50 अंकों या 0.01 फीसदी की गिरावट के साथ 35,141.99 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 6.20 अंकों या 0.06 फीसदी की गिरावट के साथ 10,576.30 पर बंद हुआ।

गुरुवार को एक बार फिर शेयर बाजारों में तेजी लौटी और सेंसेक्स 118.55 अंकों या 0.34 फीसदी की तेजी के साथ 35,260.54 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 40.40 अंकों या 0.38 फीसदी की तेजी के साथ 10,616.70 पर बंद हुआ।

शुक्रवार को सेंसेक्स 196.62 अंकों या 0.56 फीसदी की तेजी के साथ 35,457.16 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 65.50 अंकों या 0.62 फीसदी की गिरावट के साथ 10,682.20 पर बंद हुआ। बीते सप्ताह सेंसेक्स के तेजी वाले शेयरों में प्रमुख रहे- रिलायंस इंडस्ट्रीज (3.12 फीसदी) और आइशर मोटर्स (9.85 फीसदी)।

सेंसेक्स के गिरावट वाले शेयरों में – टाटा मोटर्स (8.18 फीसदी), कोल इंडिया (1.77 फीसदी), महिंद्रा एंड महिंद्रा (3.68 फीसदी) और सन फार्मा (12.8 फीसदी) प्रमुख रहे।आर्थिक मोर्चे पर, खाद्य पदार्थो की कीमतें गिरने से अक्टूबर में देश की खुदरा मुद्रास्फीति गिरकर 3.31 फीसदी रही, जबकि सितंबर में यह बढ़कर 3.70 फीसदी थी।

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) के आंकड़ों के मुताबिक, उपभोक्ता खाद्य मूल्य सूचकांक (सीएफपीआई) अक्टूबर में नकारात्मक 0.86 फीसदी रही, जोकि सितंबर से 0.51 फीसदी अधिक है। वहीं, औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर सितंबर में गिरकर 4.5 फीसदी रही है।

सांख्यिकी और कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय के आंकड़ों से पता चलता है कि औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर सितंबर में घटकर 4.5 फीसदी रही है, जबकि अगस्त में यह 4.66 फीसदी पर थी। थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) पर आधारित देश की सालाना मुद्रास्फीति दर अक्टूबर में बढ़कर 5.28 फीसदी रही है, जबकि सितंबर में यह 5.13 फीसदी थी।

–आईएएनएस

व्यापार

हरे निशान में खुले शेयर बाजार

Published

on

sensex-min (1)
File Photo

देश के शेयर बाजारों के शुरुआती कारोबार में मजबूती का रुख है।

प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.45 बजे 89.78 अंकों की बढ़त के साथ 36,411.07 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 23.65 अंकों की मजबूती के साथ 10,913.95 पर कारोबार करते देखे गए।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 92.31 अंकों की मजबूती के साथ 36,413.60 पर जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 30.55 अंकों की बढ़त के साथ 10,920.85 पर खुला।

–आईएएनएस

Continue Reading

व्यापार

मंत्रिमंडल ने दी एक्जिम बैंक में 6000 करोड़ रुपये डालने की मंजूरी

Published

on

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भारतीय निर्यात-आयात बैंक (एक्जिम बैंक) में पुनर्पूंजीकरण द्वारा 6,000 करोड़ रुपये की पूंजी डालने को मंजूरी दे दी है, जिससे निर्यात को वित्त प्रदान करने की बैंक की क्षमता में बढ़ोतरी होगी।

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, “एक्जिम बैंक में मार्च से पहले 4,500 करोड़ रुपये डाले जाएंगे और 1,500 करोड़ रुपये अगले वित्त वर्ष में डाले जाएंगे।”

गोयल ने कहा कि मंत्रिमंडल ने एक्जिम बैंक की अधिकृत पूंजी को 10,000 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 20,000 करोड़ रुपये करने को मंजूरी दे दी है। 

भारतीय निर्यात-आयात बैंक में नई पूंजी लगाने के लिए भारत सरकार 6,000 करोड़ रुपये के पुनर्पूंजीकरण बांड जारी करेगी।

उन्होंने कहा, “एक्जिम बैंक में पूंजी लगाने से यह पूंजी पर्याप्तता अनुपात बढ़ाने और इसके साथ ही ज्यादा क्षमता के साथ भारतीय निर्यात के लिए आवश्यक सहायता देने में समर्थ हो जाएगा।”

मंत्री ने कहा कि मंत्री ने कहा कि भारत के कपड़ा उद्योग में निर्यात की बहुत बड़ी संभावना है और इस कदम से सरकार एक्जिम बैंक को पर्याप्त ऋण मिलेगा, जिससे वह कपड़ा निर्यातकों को बेहतर मदद करने में सक्षम होगा। 

गोयल ने यह भी कहा कि एक्जिम बैंक को मजबूती प्रदान करने से देश के रणनीतिक हितों को हासिल करने में मदद मिलेगी। 

–आईएएनएस

Continue Reading

व्यापार

शेयर बाजारों में तेजी, सेंसेक्स 3 अंक ऊपर

Published

on

sensex-min
File Photo

देश के शेयर बाजारों में तेजी रही। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 2.96 अंकों की तेजी के साथ 36,321.29 पर और निफ्टी 3.50 अंकों की तेजी के साथ 10,890.30 पर बंद हुआ।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 52.41 अंकों की तेजी के साथ 36,370.74 पर खुला और 2.96 अंकों या 0.01 फीसदी तेजी के साथ 36,321.29 पर बंद हुआ।

दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 36,462.03 के ऊपरी और 36,278.61 के निचले स्तर को छुआ। सेंसेक्स के 30 में से 12 शेयरों में तेजी रही। यस बैंक (2.66 फीसदी), इंडसइंड बैंक (2.02 फीसदी), इंफोसिस (1.38 फीसदी), आईसीआईसीआई बैंक (0.68 फीसदी) और ओएनजीसी (0.62 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही।

सेंसेक्स के गिरावट वाले शेयरों में प्रमुख रहे – वेदांत (1.33 फीसदी), भारती एयरटेल (1.27 फीसदी), एशियन पेंट्स (1.21 फीसदी), हीरो मोटोकॉर्प (1.07 फीसदी) और बजाज फाइनेंस (1.01 फीसदी)।

बीएसई के मिडकैप सूचकांक में गिरावट और स्मॉलकैप सूचकांक में तेजी रही। बीएसई का मिडकैप सूचकांक 3.03 अंकों की गिरावट के साथ 15,187.14 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 21.19 अंकों की तेजी के साथ 14,659.61 पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 12.85 अंकों की तेजी के साथ 10,899.65 पर खुला और 3.50 अंकों या 0.03 फीसदी तेजी के साथ 10,890.30 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 10,928.15 के ऊपरी और 10,876.90 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के 19 में से 11 सेक्टरों में तेजी रही। तेल और गैस (0.66 फीसदी), सूचना प्रौद्योगिकी (0.65 फीसदी), उपभोक्ता सेवाएं (0.52 फीसदी), ऊर्जा (0.45 फीसदी) और स्वास्थ्य सेवाएं (0.44 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही।

बीएसई के गिरावट वाले सेक्टरों में प्रमुख रहे -दूरसंचार (0.82 फीसदी), तेज खपत उपभोक्ता वस्तुएं (0.74 फीसदी), वाहन (0.38 फीसदी), उपभोक्ता गैर-अनिवार्य वस्तु एवं सेवाएं (0.33 फीसदी) और उपभोक्ता टिकाऊं वस्तुएं (0.13 फीसदी)।

बीएसई में कारोबार का रुझान नकारात्मक रहा। कुल 1,209 शेयरों में तेजी और 1,375 में गिरावट रही, जबकि 141 शेयरों के भाव में कोई बदलाव नहीं हुआ।

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular