Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

मिसाइल बटन दबने की अफवाह से अमेरिका में हड़कंप

Published

on

Hawaii
मिसाइल बटन दबने की अफवाह से अमेरिका में हड़कंप

अमेरिका के हवाई में मिसाइल हमले के अलर्ट से स्थानीय नागरिकों में हड़कंप मच गया लेकिन जल्द ही यह चेतावनी झूठी साबित हुई। हवाई के नागरिकों को शनिवार को एक मोबाइल संदेश मिला, जिसमें लिखा था, हवाई में बैलिस्टिक मिसाइल हमला होने वाला है। तुरंत कहीं भी शरण लें। यह ड्रिल नहीं है।

The missile-strike message Hawaiians saw on their phones was a false alarm

बीबीसी के मुताबिक, स्टेट गवर्नर डेविड इगे ने माफी मांगते हुए कहा कि एक कर्मचारी द्वारा गलत बटन दबाने की वजह से ऐसा हुआ।

अमेरिकी सरकार ने इस मामले की पूर्ण जांच कराने की घोषणा की है। उत्तर कोरिया की ओर से हवाई पर संभावित मिसाइल हमले की वजह से अलर्ट प्रणाली मुस्तैद की गई है।

शीतयुद्ध खत्म होने के बाद से पहली बार दिसंबर में हवाई में परमाणु चेतावनी सायरन को परखा गया था। हमले का गलत चेतावनी संदेश लोगों के मोबाइल पर भेजा गया और यह टेलीविजन और रेडियो स्टेशनों पर भी प्रसारित हुआ।

होनोलुलु स्टार-एडवर्टाइजर के मुताबिक, हालांकि, इस गलती को ईमेल भेजकर सुधारा गया। गवर्नर इगे ने कहा कि आपात प्रबंधन एजेंसी (ईएमए) में शिफ्ट में बदलाव के दौरान यह मानवीय गलती हुई और यही इस झूठे अलर्ट का कारण है।

उन्होंने बताया, “यह एक प्रक्रिया थी जो शिफ्ट में बदलाव के दौरान होती है, जब वे जांचते हैं कि प्रणाली ठीक से काम कर रही है या नहीं और इस बीच एक कर्मचारी ने गलत बटन दबा दिया।”

ईएमए प्रशासक वर्न मियागी ने कहा, “यह गलती थी। तीन लोगों के बीच शिफ्ट में बदलाव हुआ। ऐसा नहीं होना चाहिए था।” राज्य के टेलीविजन और रेडियो प्रसारकों ने आपात संदेश देते हुए लोगों को बाहर नहीं निकलने की हिदायत दी।

संदेश के मुताबिक, “यदि आप बाहर हैं तो तुरंत किसी इमारत में शरण ले लें। अंदर ही रहें और खिड़कियों से दूर रहें। यदि आप गाड़ी चला रहे हैं तो सावधानी से उसे सड़क किनारे पार्क कर दें और किसी इमारत में शरण ले लें या जमीन पर लेट जाएं। खतरा टलने पर हम इसकी घोषणा कर देंगे। यह ड्रिल नहीं है।”

इस बीच संदेश मिलने के बाद अमेरिका के लोग अपने सगे संबंधियों से इस पल की कहानियां साझा करने लगे। सोशल मीडिया पर पोस्ट वीडियो में हवाई विश्वविद्यालय के छात्रों को देखा जा सकता है, जो मिसाइल अलर्ट मिलने के बाद शरण लेने के इधर-उधर भाग रहे हैं। हवाई प्रतिनिधि सभा के सदस्य मैट्ट लोप्रेस्टी ने कहा कि जब उन्हें मोबाइल फोन पर हमले का अलर्ट मिला तो वह घर पर थे।

–आईएएनएस

अंतरराष्ट्रीय

मालदीव में राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान जारी

Published

on

फाइल फोटो

मालदीव में विवादास्पद राष्ट्रपति चुनाव के लिए रविवार को मतदान जारी है। देश के निर्वाचन आयोग (ईसी) ने कहा कि देश के राजनीतिक केंद्रों में हजारों मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने के लिए सुबह आठ बजे से कतारों में खड़े दिखे।

ईसी के अनुसार, इस दौरान 2,62,135 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करें। मतदान की प्रक्रिया शाम 4.30 बजे समाप्त होगी। चुनाव के शुरुआती नतीजे सोमवार तड़के तक आने की उम्मीद है और अंतिम नतीजे 30 सितंबर तक आ सकते हैं।

बीबीसी के मुताबिक, इस विवादित चुनाव पर भारत और चीन की करीबी नजर रहेगी। राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन का चीन की ओर झुकाव है जबकि उनके विरोधी इब्राहिम मोहम्मद सोलिह का भारत और पश्चिम की ओर झुकाव देका जा सकता है।

यूरोपीय संघ और अमेरिका ने भी चुनावों को लेकर चिंता जताते हुए चेताया कि यदि मालदीव की लोकतांत्रिक स्थिति नहीं सुधरती है तो उस पर प्रतिबंध लगाए जाएंगे।

वहीं, शनिवार को पुलिस अधिकारियों ने बिना वारंट के विपक्षी मालदीवियन डेमोक्रेटिक पार्टी के माले स्थित कार्यालय पर छापा मारा था। एक पुलिस प्रवक्ता ने ‘बीबीसी’ को इस छापे की पुष्टि की लेकिन कोई जानकारी नहीं दी।

विपक्षी गठबंधन का कहना है कि मालदीव निर्वाचन आयोग यामीन की ओर से काम कर रही है और पर्यवेक्षकों को अलग-अलग मतपत्रों की पुष्टि करने की अनुमति नहीं दे रही जिससे वोट गिनती में धोखाधड़ी हो सकती है।

–आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

ईरान के साथ आतंकवाद रोधी सहयोग के लिए तैयार : पुतिन

Published

on

Vladimir Putin
Representative Image

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने आतंकवादी हमले को लेकर ईरान के अपने समकक्ष हसन रूहानी के प्रति सहानुभूति जताते हुए आतंकवाद रोधी सहयोग की प्रतिबद्धता जताई। पुतिन ने रूहानी को लिखे पत्र में कहा, “हम इस अपराध से गुस्से में हैं। उम्मीद है कि इसके लिए जिम्मेदार लोगों को कठघरे में लाया जाएगा।”

समाचार एजेंसी आईआरएनए के मुताबिक, ईरान के आहवाज शहर में शनिवार को सैन्य परेड पर हुए आतंकवादी हमले में 24 लोगों की मौत हो गई थी।

पुतिन ने कहा, “यह घटना इस बात की पुष्टि की है कि हमें आतंकवाद के खिलाफ मिलकर मोर्चा खोलना पड़ेगा। मैं आतंकवाद के खिलाफ इस लड़ाई में ईरान ेक साथ अपने सहयोग को बढ़ाने की पुष्टि करना चाहता हूं।”

–आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

आतंकवादी हमले के लिए अमेरिका, क्षेत्रीय सहयोगी जिम्मेदार : ईरान

Published

on

iran
Representative Image

ईरान के शीर्ष अधिकारियों का कहना है कि ईरान के अहवाज शहर में शनिवार को हुए आतंकवादी हमले के लिए अमेरिका और उनके क्षेत्रीय सहयोगी जिम्मेदार हैं। आईआरएनए समाचार एजेंसी ने खुजेस्तान प्रांत के राजनीतिक डिप्टी अली हुसैन जेदाह के हवाले से बताया कि ईरान के अहवाज में सैन्य परेड पर हुए हमले में 25 लोगों की मौत हो गई जबकि 60 घायल हो गए।

रिपोर्ट के मुताबिक, मृतकों में परेड देखने के लिए इकट्ठा हुए लोग और सैन्यकर्मी भी हैं। ईरान के सर्वोच्च नेता आयतुल्लाह अली खामेनई ने जारी बयान में कहा, “यह अमेरिका और क्षेत्र में उसके सहयोगियों की साजिश है, जो ईरान में अस्थिरता पैदा करना चाहते हैं।”

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा कि जिन्होंने आतंकवादियों को मदद पहुंचाई है, वे भी इस हमले के लिए जिम्मेदरा हैं। रूहानी ने ईरान की खुफिया एजेंसियों को इस हमले के गुनहगारों को पकड़ने के आदेश दिए हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular