तेजस्वी ने सुशील मोदी से पूछा, 'क्या आप डॉक्टर हैं' | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

राजनीति

तेजस्वी ने सुशील मोदी से पूछा, ‘क्या आप डॉक्टर हैं’

Published

on

फाइल फोटो

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता और पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी (सुमो) द्वारा राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद से तेलुगू देशम पार्टी के सांसदों की मुलाकात पर लालू की जमानत अर्जी रद्द करने की मांग को लेकर जमकर निशाना साधा।

तेजस्वी ने सुशील मोदी से पूछा है कि क्या आप डॉक्टर हैं? उन्होंने यहां पत्रकारों से चर्चा करते हुए सुशील मोदी पर नकारात्मक राजनीति करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों का काम ही लालू यादव और उनके परिवार का नाम लेना रह गया है।

तेजस्वी ने कहा, “टीडीपी के सांसद लालू जी का स्वास्थ्य पूछने आए थे। चंद्रबाबू नायडू को लालू जी के स्वास्थ्य की चिंता है और वो जब खुद नहीं आ पाए तो अपने सांसदों को भेजा।” उन्होंने सुशील मोदी को निमंत्रण देते हुए कहा कि घर आएं और लालू जी की पूरी रिपोर्ट देख लें।

उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बुधवार को चारा घोटाले के चार मामलों में सजायाफ्ता लालू प्रसाद को रांची उच्च न्यायालय से मिली औपबंधिक जमानत को रद्द करने की मांग की। मोदी ने कहा कि लालू को राजनीतिक कायरें से अलग रहने की शर्त पर केवल इलाज के लिए जमानत मिली थी लेकिन वे लगातार शर्तो का उल्लंघन कर रहे हैं।

राजद प्रमुख ने पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत से बात की और उसके बाद तेलुगू देशम पार्टी के तीन सांसदों ने उनसे मुलाकात कर राजनीतिक चर्चाएं कीं। इस आधार पर सीबीआई को लालू प्रसाद की जमानत तत्काल रद्द करानी चाहिए।

–आईएएनएस

राजनीति

कर्नाटक के मंत्री शिवाली का निधन

Published

on

Shivalli,
File Photo

कर्नाटक के नगर प्रशासन मंत्री और कांग्रेस नेता सी.एस. शिवाली का यहां एक अस्पताल में दिल का दौड़ा पड़ने से निधन हो गया। वह 57 साल के थे।

निजी अस्पताल के एक डॉकटर ने कहा, “उन्हें शुक्रवार को अस्पताल लाया गया और दिल का दौड़ा पड़ने की वजह से उनका निधन हो गया।”

शिवाली धारवाड़ जिले के कुनडगोल विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व करते थे। उनके परिवार में पत्नी, दो बेटियां और एक बेटा है।मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी ने शिवाली के निधन पर दुख प्रकट किया है।

–आईएएनएस

Continue Reading

राजनीति

सशस्त्र बलों के बलिदान पर सवाल उठाना ठीक नहीं : अखिलेश

Published

on

akhilesh yadav
File Photo

समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को कहा कि सशस्त्र बलों के बलिदान पर सवाल उठाना ठीक नहीं है, मगर नेताओं से सवाल पूछना हमारा मौलिक अधिकार है।

उन्होंने ट्विटर के माध्यम से कहा, “हमारे सशस्त्र बलों के बलिदान पर कभी सवाल नहीं उठाया जाना चाहिए। लोकतंत्र में राजनेताओं से प्रश्न पूछना हमारा मौलिक अधिकार है।

इस सरकार को ‘भारतीय सेना होने’ का नाटक करने से रोकने की आवश्यकता है। जो राजनेता कहते हैं कि उनसे पूछताछ नहीं की जा सकती, वे खतरनाक हैं।”

गौरतलब है कि हाल में सपा के वरिष्ठ नेता रामगोपाल यादव ने एक कार्यक्रम के दौरान पुलवामा हमले के संदर्भ में कहा कि अर्धसैनिक बल सरकार से दुखी हैं। वोट के लिए 45 जवान मार दिए गए। जम्मू-श्रीनगर के बीच में चेकिंग नहीं थी और साधारण बसों से जवानों को भेज दिया गया।

यह साजिश थी। जब सरकार बदलेगी तो इसकी जांच होगी और बड़े-बड़े लोग फंसेंगे। रामगोपाल के इस बयान पर सत्तारूढ़ दल में तिलमिलाहट है, वह लगातार रामगोपाल पर हमलावर है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रामगोपाल की टिप्पणी पर ट्वीट कर कहा कि “रामगोपाल जैसे वरिष्ठ नेता का यह निंदनीय बयान उन सभी का अपमान है, जिन्होंने कश्मीर की सुरक्षा करते हुए अपनी कुर्बानी दी। यह हमारे शहीदों के परिवारवालों का अपमान है।” इसके बाद अखिलेश का यह बयान काफी मायने रखता है।

–आईएएनएस

Continue Reading

राजनीति

येदियुरप्पा सरकार ने बीजेपी को दिए थे 1800 करोड़ रुपये, डायरी से हुआ खुलासा- कांग्रेस

कांग्रेस पार्टी ने कहा है कि कर्नाटक की तत्कालीन येदियुरप्पा सरकार ने बीजेपी को 1800 करोड़ रुपये दिए थे। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि एक मैगजीन में छपी रिपोर्ट से यह बात सामने आई है। डायरी में येदियुरप्पा के साइन हैं।

Published

on

Yeddyurappa-min
File Photo

कांग्रेस पार्टी ने बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाया है। दिल्ली के कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस से बात करते हुए पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कर्नाटक की तत्कालीन येदियुरप्पा सरकार ने बीजेपी को 1800 करोड़ रुपये दिए थे। उन्होंने आरोप लगाया कि ये रिश्वत बीजेपी की केंद्रीय कमेटी को दी गई थी, जिसमें पीएम मोदी, राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी जैसे बड़े नेता शामिल हैं।

सुरजेवाला ने कहा कि पीएम को इस बात का सच सबके सामने आकर बताना चाहिए, इससे पता चल जाएगा कि चौकीदार चोर है या फिर चौकीदार जांच के लिए तैयार है।

निशाना साधते हुए सुरजेवाला ने कहा कि क्या प्रधानमंत्री सामने आकर मानेंगे कि इसकी जांच करनी चाहिए। उन्होंने ये भी कहा की सरकार आगे बढ़कर खुद क्यों नहीं कहते कि डायरी की जांच कराई जाएगी। सवाल बहुत तीखे हैं इन सवालों का जवाब चोर चौकीदार को देना पड़ेगा।

कांग्रेस प्रवक्ता सुरजेवाला ने इस दौरान एक न्यूज़ मैग्जीन की रिपोर्ट का हवाला दिया। साथ ही उन्होंने पूर्व केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार और बीएस येदियुरप्पा के बीच बातचीत की ट्रांस्क्रिप्ट भी पढ़ी। उन्होंने कहा कि इस डायरी में बीएस येदियुरप्पा के सिग्नेचर हैं, साथ ही इनकम टैक्स के भी इसमें साइन हैं। ऐसे में अभी तक केंद्र सरकार ने इस पर कोई कार्रवाई क्यों नहीं की।

कांग्रेस ने इस दौरान BJP से पुछे ये सवाल…..

  • क्या ये आरोप सही है या नहीं ?
  • डायरी की जांच क्यों नहीं करवाई गई ?
  • क्या इनकम टैक्स विभाग ने 1800 करोड़ के लेनदेन की जांच की इजाजत सरकार मांगी और मोदी सरकार ने डायरी की जांच करवाने से इनकार कर दिया ?
  • क्या नरेंद्र मोदी इसकी जांच करवाएंगे? पैसा कहां गया? किसने लूटा?

WeForNews

Continue Reading

Most Popular