राजकुमार-नुसरत की फिल्म का नया शीर्षक 'छलांग' | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

राजकुमार-नुसरत की फिल्म का नया शीर्षक ‘छलांग’

Published

on

Rajkummar Rao-min
फोटो-सोशल मीडिया

बॉलीवुड अभिनेता राजकुमार राव अभिनीत फिल्म ‘तुर्रम खान’ के नाम को बदलकर ‘छलांग’ कर दिया गया है। फिल्म की अभिनेत्री नुसरत भरूचा ने अपने इंस्टाग्राम पर इस खबर को साझा किया है।

नुसरत ने लिखा, “वही टीम, वही फिल्म, वही रिलीज डेट..सिर्फ एक नया नाम-छलांग! 31 जनवरी 2020 को थिएटर पर मिलते हैं।”हंसल मेहता द्वारा निर्देशित और अजय देवगन, लव रंजन और अंकुर गर्ग द्वारा निर्मित ‘छलांग’ अगले साल 31 जनवरी को रिलीज हो रही है। फिल्म में मोहम्मद जीशान अयूब खान भी मुख्य भूमिका में हैं।

यह हंसल के साथ राजकुमार की छठी फिल्म है। इन दोनों की जोड़ी इससे पहले ‘शहीद’, ‘सिटी लाइट्स’, ‘अलीगढ़’, ‘ओमेर्ता’ और वेब सीरीज ‘बोस : डेड/अलाइव’ जैसी परियोजनाओं में साथ काम कर चुकी है।

–आईएएनएस

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × four =

चालू सीजन में पिछले साल से 26 फीसदी घटा चीनी उत्पादन

Published

on

sugar
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली। चालू गन्ना पेराई सीजन 2019-20 (अक्टूबर-सितंबर) में 15 जनवरी तक देश में तकरीबन 109 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ जोकि पिछले साल की इसी अवधि के मुकाबले 26 फीसदी कम है। उद्योग संगठन इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन (इस्मा) द्वारा जारी एक रिपोर्ट के अनुसार, चालू सीजन के शुरुआती साढ़े तीन महीने में देश की चीनी मिलों ने 108.85 लाख टन चीनी का उत्पादन किया जबकि पिछले साल इसी अवधि में चीनी का उत्पादन 147.40 लाख टन हुआ था। इस प्रकार पिछले साल के मुकाबले चीनी का उत्पादन 38.55 लाख टन यानी 26.15 फीसदी घट गया है।

इस्मा ने बताया कि 15 जनवरी तक देशभर में 440 चीनी मिलें चालू थीं जबकि पिछले सीजन में 15 जनवरी 2019 तक देशभर में 511 चीनी मिलें चालू थीं।

हालांकि देश के सबसे बड़े चीनी उत्पादक राज्य उत्तर प्रदेश में पिछले साल के मुकाबले इस साल चीनी का उत्पादन बढ़ा है। उत्तर प्रदेश की 119 मिलों में इस साल 15 जनवरी तक 43.78 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ जबकि पिछले साल इसी अवधि के दौरान प्रदेश की 117 मिलों ने 41.93 लाख टन चीनी का उत्पादन किया था।

वहीं, दूसरे सबसे बड़े चीनी उत्पादक राज्य महाराष्ट्र की 139 मिलों ने इस साल 15 जनवरी तक 25.51 लाख टन चीनी का उत्पादन किया जबकि पिछले साल इसी अवधि में प्रदेश की 189 मिलों में चीनी का उत्पादन 57.25 लाख टन हुआ था।

कर्नाटक में भी चीनी का उत्पादन पिछले साल के मुकाबले घटा है। प्रदेश की 63 मिलों ने इस साल 15 जनवरी तक 21.90 लाख टन चीनी का उत्पादन किया जबकि पिछले साल प्रदेश में 65 मिलें चालू थीं जिनमें चीनी का उत्पादन इस अवधि के दौरान 26.76 लाख टन हुआ था।

इस्मा के आंकड़ों के अनुसार, चालू गन्ना पेराई सत्र में गुजरात में चीनी का उत्पादन 3.72 लाख टन, आंध्रप्रदेश और तेलंगाना में 1.85 लाख टन, तमिलनाडु में 1.50 लाख टन, बिहार में 3.30 लाख टन, उत्तराखंड में 1.52 लाख टन और मध्यप्रदेश व छत्तीसगढ़ में 1.63 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ है।

–आईएएनएस

Continue Reading

एमपी पीएससी परीक्षा में विवादित सवाल पूछने वाले पर होगी कार्रवाई: कमलनाथ

Published

on

Kamal-Nath
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ (फाइल फोटो)

भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्य लोकसेवा आयोग की प्रारंभिक परीक्षा में भील समाज को लेकर विवादित सवाल पूछने वालों के खिलाफ कार्रवाई का भरोसा दिलाया है। विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान कांग्रेस विधायक कांतिलाल भूरिया द्वारा उठाए गए मामले का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा, “मध्यप्रदेश लोकसेवा आयोग द्वारा भील जाति को लेकर किए गए आपत्तिजनक प्रश्न के संबंध में जांच की जा रही है। जांच रिपोर्ट आने के बाद दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्हें बख्शा नहीं जाएगा।”

कमलनाथ ने कहा, “पूरी घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। इस पूरे मामले को राज्य सरकार ने गंभीरता से लिया है। किसी विद्यार्थी का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।”

ज्ञात हो कि एमपीपीएससी प्रारंभिक परीक्षा में भील समाज की निर्धनता को लेकर एक गद्यांश दिया गया और सवाल पूछे गए। सवाल में कहा गया, “आय से अधिक खर्च होने पर वे आर्थिक तौर पर विपन्न होते हैं।” निर्धनता का कारण आपराधिक प्रवृत्ति को भी बताया गया था, साथ ही कहा गया था कि इसके चलते वे अपनी सामान्य आय से देनदारियां पूरी नहीं कर पाते।

परीक्षा के प्रश्न पत्र में भील समाज को अपराधी बताए जाने पर सियासत गरमा गई थी, जिसके बाद सरकार ने जांच के आदेश दिए थे।

— आईएएनएस

Continue Reading

एनपीआर जनगणना बैठक में बंगाल से कोई नहीं होगा शामिल: बंगाल सरकार

Published

on

mamata banerjee
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्रा ममता बनर्जीं (फाइल फोटो)

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल सरकार ने गृह मंत्रालय को सूचित करते हुए लिखा कि आगामी जनगणना और राज्यों के साथ राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) पर चर्चा और सहयोग के लिए बुलाई गई बैठक में वह भाग नहीं लेगी। मंत्रालय के सूत्रों ने इसकी जानकारी दी। 1 अप्रैल से शुरू होने वाली जनगणना और एनपीआर के तौर-तरीकों पर चर्चा के लिए सभी राज्यों ने राज्य के मुख्य सचिवों और निदेशकों के सम्मेलन में भाग लेने पर सहमति व्यक्त की है।

सभी मुख्य सचिव और जनगणना अधिकारी अंबेडकर भवन में गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय, गृह सचिव अजय कुमार भल्ला और रजिस्ट्रार जनरल ऑफ इंडिया (आरजीआई) विवेक जोशी सहित सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के अन्य मुख्य सचिवों और जनगणना निदेशकों व अन्य के साथ बैठक करेंगे।

मंत्रालय के सूत्र ने बताया, “पश्चिम बंगाल को छोड़कर सभी राज्यों के मुख्य सचिव और जनगणना निदेशक जनगणना और एनपीआर पर चर्चा करने के लिए बैठक में शामिल होंगे। पश्चिम बंगाल ने लिखित में बताया कि वह इसमें शामिल नहीं होगा।”

–आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
sugar
11 hours ago

चालू सीजन में पिछले साल से 26 फीसदी घटा चीनी उत्पादन

Kamal-Nath
11 hours ago

एमपी पीएससी परीक्षा में विवादित सवाल पूछने वाले पर होगी कार्रवाई: कमलनाथ

mamata banerjee
11 hours ago

एनपीआर जनगणना बैठक में बंगाल से कोई नहीं होगा शामिल: बंगाल सरकार

Kathak Dancer Manjari Chaturvedi
11 hours ago

नृत्यांगना मंजरी को कव्वाली पर कथक करने से रोका गया

Ali Khamenei
11 hours ago

सुलेमानी की हत्या अमेरिका के लिए शर्म की बात : खामेनी

sensex-min (1)
12 hours ago

सेंसेक्स में 13 अंकों की तेजी, निफ्टी में 3 अंकों की गिरावट

12 hours ago

‘थलाइवी’ में एमजीआर के रूप में अरविंद स्वामी का पहला लुक जारी

Chipta Chipta nahi
12 hours ago

टीवी धारावाहिक ‘विद्या’ के 100 एपिसोड पूरे

Supreme_Court_of_India
13 hours ago

संविधान को पाठ्यक्रम में शामिल करने पर 3 महीने में फैसला ले केंद्र : सुप्रीम कोर्ट

lalu-min
13 hours ago

लालू ने मानव श्रंखला को लेकर नीतीश पर साधा निशाना

Most Popular