खेल

फाइनल में फिर दिख सकता है पुणे के वॉशिंगटन का ‘अति सुन्दर’ प्रदर्शन

washington-sundar-rps-min
वाशिंगटन सुंदर (फाइल फोटो)

आईपीएल के सीज़न-10 में कई युवा खिलाड़ियों की धूम रही है. इसी फेहरिश्त में अब वॉशिंगटन सुंदर का भी नाम जुड़ गया है. पुणे सुपरजाएंट को फाइनल में पहुंचाने में सुंदर का रोल बेहद ही अहम रहा है. इस ऑफ स्पिनर के सामने इस सीज़न बड़े-बड़े बल्लेबाज़ भी हैरान-परेशान नजर आए है. ऐसे में फाइनल में वॉशिंगटन सुंदर की फिरकी कितनी कामयाब रहती है, इस पर अब सबकी निगाहें रहेगी.

सिर्फ 17 साल की उम्र में वॉशिंगटन सुंदर भारतीय क्रिकेट के उभरते हुए सितारे बन गए हैं. इसमें कोई दो राय नहीं की आईपीएल सीज़न-10 के फाइनल में पुणे सुपरजाएंट के इस ऑफ स्पिनर पर अब सबकी निगाह रहेगी. पहले क्वालिफायर मैच में वाशिंगटन सुंदर ने मुंबई इंडियंस को हराने में सबसे अहम रोल निभाया था. पुणे के फाइनल में पहुंचने में सुंदर का रोल बेहद ही खास रहा था.

पहले क्वॉलिफायर में जंग मुंबई के होमग्राउंड पर थी. जब मैच शुरू हुआ तो मुंबई इंडियंस के समर्थकों को उम्मीद थी की उनकी टीम पुणे को हरा देगी लेकिन वाशिंगटन सुंदर की शानदार गेंदबाजी के सामने मुंबई के बल्लेबाजों ने घुटने टेक दिए. टी20 क्रिकेट में 163 रनों का टारगेट कोई बड़ा लक्ष्य नहीं होता है. ऐसे में मुंबई के जीत की आस सभी को थी लेकिन सिर्फ 17 साल के वॉशिंगटन सुंदर कुछ अलग ही इरादों से मैदान पर उतरे थे.

पुणे के कप्तान स्टीव स्मिथ ने वाशिंगटन सुंदर को दूसरे ही ओवर में गेंद थमा दी. इस ओवर में सुंदर कुछ खास नहीं कर पाए लेकिन सुंदर ने हार ना मानी. जब स्मिथ ने दोबारा उन पर भरोसा जताया तो सुंदर ने भी शानदार प्रदर्शन कर मुंबई की कमर तोड़ दी. सबसे पहले मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा को आउट किया. यह तो बस शुरुआत थी. इसके बाद अम्बाती रायडू भी खाता खोलने से पहले ही वाशिंगटन सुंदर के शिकार बन गए. इस ओवर में वाशिंगटन सुंदर ने सिर्फ एक रन देकर मुंबई इंडियंस के दो विकेट चटका दिए. इसके बाद तो वाशिंगटन सुंदर की गेंदों पर आगे मुंबई के गेंदबाज नचाने लगे.

अपने तीसरे ओवर में सुंदर ने पोलार्ड को भी आउट कर दिया. वाशिंगटन सुंदर ने चार ओवरों में 16 देकर तीन विकेट चटकाए. यह उनके आईपीएल करियर का सबसे बेहतरीन प्रदर्शन था जो मुंबई इंडियंस की हार का कारण बना. वाशिंगटन सुंदर मैन ऑफ़ द मैच भी चुने गए. 2016 में तमिलनाडु रणजी टीम में वाशिंगटन सुंदर ने डेब्यू किया था. वाशिंगटन सुंदर 2016 अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम का हिस्सा थे. अगर बात आईपीएल की हो तो सुंदर को पुणे सुपरजाएंट टीम में मौक़ा रविचंद्रन अश्विन की जगह मिला है. एक ऑल राउंडर के तौर पर वाशिंगटन सुंदर कुछ खास कमाल तो नहीं कर पाए लेकिन उनकी गेंदबाज़ी अब चर्चाओं का केंद्र बन गई है। 10 मैचों में सुंदर अब तक 6.61 की इकॉनमी से 8 विकेट झटक चुके हैं.

अब ये देखना दिलचस्प रहेगा की आईपीएल के फाइनल मैच में वॉशिंगटन सुंदर किस रणनीति के साथ उतरते हैं. उनकी फिरकी ने इस सीज़न पुणे की किस्मत बदलने में महत्वपूर्ण रोल निभाया है. अब उनके छोटे से क्रिकेट करियर का सबसे बड़ा मौका है. सुंदर भी ये जानते हैं की ऐसे मौके किसी भी खिलाड़ी के करियर में कम ही आते हैं. अब ये देखना दिलचस्प रहेगा की वे इस भुना पाने में कामयाब हो पाते हैं या नहीं.

wefornews bureau

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top