Connect with us

शहर

तमिलनाडु में उल्लास के साथ मनाया जा रहा पोंगल

Published

on

pongal-

तमिलनाडु के लोग रविवार को फसल के त्योहार पोंगल को उल्लास के साथ मना रहे हैं और वर्षा, सूर्य व मवेशियों के प्रति आभार जता रहे हैं। लोग सुबह जल्दी उठ गए और नए कपड़े पहनकर मंदिरों में गए।

घरों में घी में तले काजू, बादाम और इलायची की खूशबू आ रही थी क्योंकि पारंपरिक पकवान चावल, गुड़ और चने की दाल बनाई जा रही है। चकराई पोंगल की सामग्री दूध में उबल कर लोग ‘पोंगलो पोंगल’, ‘पोंगलो पोंगल’ बोल रहे हैं।

Image result for पोंगल

भगवान सूर्य के प्रति आभार जताने के लिए उन्हें पोंगल का पकवान का भोग लगाया जाता है, जिसके बाद उसे प्रसाद के रूप में ग्रहण किया जाता है। लोग एक दूसरे को पोंगल की बधाई देते हैं और चकराई पोंगल का आदान-प्रदान करते हैं। पोंगल का त्योहार चार दिनों तक मनाया जाता है।

Image result for पोंगल

पहला दिन भोगी होता है, जो शनिवार के दिन मनाया गया। इस दिन लोग पुराने कपड़ों, दरी आदि चीजों के जलाते हैं और घरों का रंग-रोगन करते हैं। दूसरे दिन पोंगल का मुख्य त्योहार होता है, जो तमिल महीने थाई के पहले दिन मनाया जाता है।

Image result for पोंगल

तीसरा दिन मट्टू पोंगल होता है, जब गाय, बैलों को नहलाकर उनके सींगों को रंगा जाता है और उनकी पूजा की जाती है। महिलाएं पक्षियों को रंगे हुए चावल खिलाती हैं और अपने भाईयों के कल्याण के लिए प्रार्थना करती हैं। राज्य के कुछ हिस्सों में सांड को पकड़ने के खेल – जलीकट्टू का भी आयोजन किया जाता है।

Image result for पोंगल

चौथे दिन कन्नम पोंगल मनाया जाता है। इस दिन लोग अपने मित्रों और रिश्तेदारों के घर जाकर उनसे मुलाकात करते हैं और घूमने-फिरने जाते हैं।

Image result for पोंगल

 

–आईएएनएस

शहर

NSUI का आरोप- डूसू अध्यक्ष अंकिव ने फर्जी दस्तावेज से लिया दाखिला

Published

on

ankit bosaya
डीयू छात्रसंघ अध्यक्ष अंकिव बैसोया (फाइल फोटो)

दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्रसंघ चुनाव में ईवीएम विवाद के बाद अब नवनिर्वाचित अध्यक्ष अंकिव बैसोया के शैक्षणिक दस्तावेजों को लेकर तकरार शुरू हो गई है।

कांग्रेस के छात्र संगठन नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) ने आरोप लगाया है कि एबीवीपी नेता अंकिव बैसोया ने एडमिशन के लिए फर्जी दस्तावेजों का इस्तेमाल किया। हालांकि, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् (एबीवीपी) ने इन आरोपों को एनएसयूआई का दुष्प्रचार करार दिया है।

एनएसयूआई ने तिरुवल्लुवर यूनिवर्सिटी की ओर से भेजा गया एक पत्र जारी किया। एनएसयूआई की ओर से मांगी गई जानकारी पर तिरुवल्लुवर यूनिवर्सिटी ने यह पत्र भेजा था। कांग्रेस के छात्र संगठन ने कहा कि बसोया की ओर से सौंपा गया बी.ए का प्रमाण-पत्र ‘फर्जी’ है।

 

एनएसयूआई ने कहा कि एमए (बौद्ध अध्ययन) में दाखिले के लिए बसोया की ओर से एक मार्कशीट पेश की गई थी, लेकिन तिरुवल्लुवर यूनिवर्सिटी ने ऐसे किसी नाम के छात्र को दाखिला देने की बात से इनकार कर दिया और कहा कि उस सीरियल नंबर की मार्कशीट उनके रिकॉर्ड में नहीं है।

बता दें कि हाल ही में संपन्न हुए डूसू चुनाव में अध्यक्ष पद पर एबीवीपी के अंकिव बैसोया ने जीत दर्ज की है। अध्यक्ष पद के अलावा उपाध्यक्ष और संयुक्त सचिव पद भी एबीवीपी के खाते में गया है। जबकि एनएसयूआई सिर्फ सचिव के पद पर जीत दर्ज कर पाया।

(इनपुट – भाषा)

WeForNews 

Continue Reading

शहर

उत्तर प्रदेश: 8 साल की बच्ची से दुष्कर्म

Published

on

rape
प्रतीकात्मक तस्वीर

उत्तर प्रदेश में गोंडा जिले की नगर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में सोमवार रात किसी अज्ञात व्यक्ति ने आठ साल की बच्ची को सोते समय घर से उठा ले गया और उसके साथ कथित तौर पर दुष्कर्म कर उसे फेंक दिया।

पुलिस अधीक्षक लल्लन सिंह ने मंगलवार को बताया, “गांव की आठ साल की एक बच्ची अपने घर में सोमवार रात सो रही थी। कोई अज्ञात व्यक्ति उसे उठा ले गया और उसके साथ कथित रूप से दुष्कर्म किया। बच्ची के रोने की आवाज सुनकर ग्रामीण घटनास्थल पर पहुंचे तो आरोपी भाग गया।”

उन्होंने बताया, “अज्ञात आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म और पॉक्सो अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। घटना के बाद बच्ची की हालत बेहद गंभीर है, उसे इलाज के लिए लखनऊ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है।” एसपी ने बताया कि आरोपी की पहचान और उसकी गिरफ्तारी के लिए कोतवाली निरीक्षक को सख्त निर्देश दिए गए हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading

शहर

मुंबई में थाने के बाहर ‘वर्दी वाले गणपति’, देखें तस्वीरें

Published

on

PHOTO CREDIT (AAJ TAK)

इन दिनों देश भर में गणेशोत्सव की धूम है। वहीं मुंबई में एक ऐसे गणपति बाप्पा भी विराजमान है जो लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं। हम बात कर रहे हैं मुंबई पुलिस के इंस्पेक्टर राजेन्द्र काने के घर आने वाले गणपति बाप्पा की।

राजेन्द्र काने के घर हर साल बाप्पा विराजमान होते हैं और उन्हीं की स्टाइल में यानी खाकी वर्दी में। गणपति की ये मूर्ति इसलिए खास है क्योंकि यहां बाप्पा मुंबई पुलिस की वर्दी के साथ साथ मुंबई पुलिस की कुर्सी पर भी विराजमान हैं।

इंस्पेक्टर राजेन्द्र काने के अंधेरी स्थित घर पर पुलिस स्टेशन जैसा पंडाल बनाया जाता है। इस पंडाल में मुम्बई पुलिस की वर्दी वाले बाप्पा की स्थापना की जाती है। मुम्बई पुलिस कर्मी यहां बाप्पा के दर्शन के लिए आते है।

बता दें कि राजेन्द्र काने अभिनेता सलमान खान के 2002 में हुए हिट एंड रन केस की जांच पड़ताल करने के लिए जाने जाते हैं और इसके अलावा वो समाज कल्याण के अन्य कामों में भी जुड़े रहते हैं। काने इन दिनों मुम्बई के विले पारले पुलिस स्टेशन में तैनात हैं। फिलहाल पुलिस कर्मियों के अलावा ये सिंघम गणपति बाप्पा स्थानीय लोगों के आकर्षण का भी केंद्र बने हुए हैं।

 

WeForNews

Continue Reading

Most Popular