दिल्ली में 24 घंटे के लिए बंद सभी पेट्रोल पंप | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

व्यापार

दिल्ली में 24 घंटे के लिए बंद सभी पेट्रोल पंप

Published

on

देश की राजधानी में आज छह बजे से अगले 24 घंटे तक पेट्रोल पंप बंद रहेंगे। दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन ने बंद का आह्वान किया है। एसोसिएशन ने दिल्ली सरकार से पेट्रोल और डीजल पर मूल्यवर्धित कर (वैट) कम करने की मांग की है।

दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन (डीपीडीए) ने कहा कि केंद्र सरकार और कई राज्यों की सरकारों ने तेल के दाम में कटौती की है, लेकिन दिल्ली सरकार ने तेल पर वैट में कटौती करने से मना कर दिया है जिससे देश की राजधानी में तेल महंगा हो गया है।

एसोसिएशन ने कहा कि दिल्ली में तेल महंगा होने से वाहन चालक पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश और हरियाणा में तेल लेने लगे हैं क्योंकि इन राज्यों ने भी तेल के दाम में कटौती की है। लिहाजा, उन्हें 20 से 30 फीसदी का नुकसान पहुंचा है।

केंद्र सरकार ने इसी महीने पेट्रोल और डीजल के दाम में 2.50 रुपये प्रति लीटर की कटौती की जिसके बाद कई राज्यों ने भी तेल पर वैट में कटौती की।

डीपीडीए ने एक बयान में कहा कि दिल्ली के 400 पेट्रोल पंप जो सीएनजी पंप से भी जुड़े हुए हैं, 22 अक्टूबर को सुबह छह बजे से अगले दिन 23 अक्टूबर को सुबह पांच बजे तक बंद रहेंगे।

टैक्सी-ऑटो की हड़ताल

पेट्रोल और सीएनजी पंप की हड़ताल के बीच आज दिल्ली में टैक्सी-ऑटो की भी हड़ताल रहेगी। टैक्सी एसोसिएशन ने यह हड़ताल सरकार की प्राइवेट कैब को लेकर पॉलिसी के खिलाफ बुलाई है, जबकि ऑटो वाले सीएनजी कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ आज स्ट्राइक कर रहे हैं। यानी एक तरफ जहां पेट्रोल-डीजल और सीएनजी न मिलने से प्राइवेट वाहन वालों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा, वहीं टैक्सी और ऑटो का इस्तेमाल करने वालों को भी आज दिनभर जूझना पड़ेगा।

–आईएएनएस

व्यापार

2 महीने में खुदरा कारोबार को 9 लाख करोड़ रुपये का नुकसान: सीएआईटी

Published

on

retail inflation
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली। कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स(सीएआईटी) ने कहा है कि पिछले 60 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान भारत के खुदरा कारोबार को लगभग 9 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

कारोबारियों की इस संस्था ने एक बयान में यह भी कहा कि पिछले सप्ताह सोमवार को प्रतिबंधों में ढील दिए जाने के बाद से मात्र लगभग पांच प्रतिशत कारोबार ही शुरू हो सका और आठ प्रतिशत श्रमशक्ति ही काम पर लौैट पाया।

बयान में आगे कहा गया है कि व्यापार में नुकसान के कारण केंद्र और राज्य सरकारों को भी जीएसटी के रूप में लगभग 1.5 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

बयान में कहा गया है, “देश भर के कारोबारी गंभीर वित्तीय संकट का सामना कर रहे हैं और सरकार की तरफ से किसी नीतिगत समर्थन के बगैर वे अपने कारोबार के भविष्य को लेकर चिंतित हैं।”

बयान में आगे कहा गया है कि लगभग पांच लाख बाहर के कारोबारी दिल्ली के थोक बाजारों में सामान खरीदने आते थे, लेकिन परिवहन का साधन बंद होने के कारण दिल्ली के थोक बाजार बीरान हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading

व्यापार

देश में 25 मई से शुरू हो रही घरेलू उड़ानों को महाराष्ट्र की लाल झंडी

Published

on

Airline-

मुंबई: महाराष्ट्र सरकार ने रविवार को घरेलू उड़ानों के संचालन को फिर से शुरू करने के लिए केंद्र के प्रस्ताव को लाल झंडी दिखाते हुए इसे बहुत बुरी सलाह करार दिया। गृह मंत्री अनिल देशमुख ने रविवार तड़के यहां कहा कि “रेड जोन में हवाई अड्डों को फिर से खोलने की बहुत बुरी सलाह दी गई है।”

देशमुख ने कहा, “यात्रियों की बिना स्वैब लिए केवल तापमान की स्कैनिंग करना अपर्याप्त है। वर्तमान परिस्थितियों में ऑटो / टैक्सी / बसें लेना असंभव है।”

उन्होंने कहा कि ऐसे में पॉजिटिव यात्री रेड जोन में कोविड-19 के तनाव को और बढाएंगे।

अधिकारियों ने कहा कि महाराष्ट्र में तीन मुख्य और अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे – मुंबई, पुणे और नागपुर रेड जोन में आते हैं। विशेषकर महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मौतें और संक्रामक रोग के मामले भी हैं।

इसके अलावा, नासिक, शिरडी, नांदेड़ जैसे अन्य छोटे हवाई अड्डे भी रेड जोन में हैं, जो अधिकारियों के लिए परेशान करने वाला मुद्दा है।

हालांकि, लॉकडाउन के कारण देश भर के विभिन्न स्थानों पर कई लोग हताश और फंसे हुए हैं, उन्होंने राज्य सरकार से अपील की है कि चूंकि उन्होंने पहले ही टिकट बुक कराए हैं, इसलिए उन्हें जाने की अनुमति दी जानी चाहिए।

–आईएएनएस

Continue Reading

व्यापार

विशबोन एप के 40 मिलियन यूजर्स का पर्सनल डेटा हैक

Published

on

Hacker
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली, लोकप्रिय वोटिंग एप विशबोन के लगभग 40 मिलियन उपयोगकर्ताओं के व्यक्तिगत डेटा को हैक कर लिया गया है जो हैकिंग फोरम पर मुफ्त डाउनलोड के लिए उपलब्ध है।

जेडडीनेट के एक रिपोर्ट के अनुसार, विशबोन यूजर डेटाबेस पूरी तरह से लीक हो गया है, और शीनी हंटर्स के रूप में जाना जाने वाला हैकर ने हैकिंग का श्रेय लिया है।

इससे पहले, डार्क वेब पर डेटा 0.85 बिटकॉइन यानी 8,000 डॉलर में बेचा जा रहा था।

डेटा में उपयोगकर्ता के नाम, ईमेल, फोन नंबर, शहर/राज्य /देश और हैशेड पासवर्ड शामिल हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है, “डेटा में विशबोन प्रोफाइल पिक्चर्स के लिंक भी शामिल थे। यूआरएल डाटा लोड की गई तस्वीरों में नाबालिगों का वर्णन था। विशबोन एप हमेशा से ही ऐतिहासिक रूप से लोकप्रिय रहा है।

पासवर्ड सादे टेक्स्ट में स्टोर नहीं किया गया था, लेकिन एमडी 5 एल्गोरिथ्म का उपयोग करके इसमें घपला किया गया।

एमडी 5 को 2010 में विशेषज्ञों द्वारा ‘क्रिप्टोग्राफिक्लि ब्रोकन’ घोषित किया गया था।

एमडी5 के माध्यम से मामूली जटिल पासवर्ड हैश्ड को 30 मिनट या उससे कम समय में क्रैक किया जा सकता है।हैक किए गए डेटा को 13.6 लाख में कई बड़ी कंपनियों को बेचा जा रहा है।

आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular