पाकिस्तान : गुरुद्वारा ननकाना साहिब के बाहर विरोध प्रदर्शन | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

पाकिस्तान : गुरुद्वारा ननकाना साहिब के बाहर विरोध प्रदर्शन

Published

on

Nankana Sahib
File Photo

इस्लामाबाद, पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में गुरुद्वारा ननकाना साहिब को सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने चारों ओर से घेर लिया। प्रदर्शनकारियों ने कथित जबरन धर्म परिवर्तन मामले में संदिग्धों की रिहाई की मांग को लेकर ऐसा किया।

डॉन न्यूज के मुताबिक, हालांकि प्रदर्शनकारियों ने सरकारी प्रतिनिधियों के साथ सफल वार्ता के बाद शुक्रवार कई घंटों के बाद शाम को वहां से हट गए और गिरफ्तार लोगों को रिहा कर दिया गया।

इस प्रदर्शन की अगुवाई एक व्यक्ति एहसान के परिवार ने किया था, जिस पर इस साल के शुरू में एक सिख लड़की, जगजीत कौर का जबरन धर्म परिवर्तन कराने का आरोप लगाया गया था।

28 अगस्त, 2019 को ननकाना पुलिस स्टेशन में छह लोगों के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी, जिन पर 19 वर्षीय लड़की का अपहरण करने और जबरन धर्मांतरण कराने का आरोप लगाया गया था।

पुलिस ने बाद में संदिग्धों को लाहौर में खोजा और उनमें से एक को हिरासत में लिया। बाद में, महिला ने अदालत में एक लिखित बयान प्रस्तुत किया था, जिसमें कहा गया था कि उसने इस्लाम धर्म अपनाया है और अपनी मर्जी से एहसान से शादी की है। उसने अपने परिवार पर आरोप लगाया कि वे उसे मार डालना चाहते हैं।

एहसान के परिवार ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि पुलिस ने उसके घर पर छापा मारा और 9 जनवरी को होने वाली अगली अदालत की सुनवाई से पहले एहसान सहित कई परिवार के सदस्यों को हिरासत में ले लिया।

डॉन न्यूज ने एहसान की बहन के हवाले से कहा, “आज पुलिस कर्मियों ने हमारे घर पर छापा मारा और मेरे भाई और रिश्तेदारों को यातनाएं देने के बाद गिरफ्तार कर लिया।” गुरुद्वारा के बाहर मीडिया को संबोधित करते हुए एहसान की बहन ने दावा किया कि पुलिस ने घर में मौजूद महिलाओं और बच्चों को भी प्रताड़ित किया।

ननकाना साहिब के जिला पुलिस अधिकारी, इस्माइल खरक ने कहा कि एक नागरिक द्वारा एक विवाद के बारे में दायर की गई शिकायत के आधार पर संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया।हालांकि, उन्होंने परिवार के आरोपों पर टिप्पणी नहीं की।

–आईएएनएस

अंतरराष्ट्रीय

पाकिस्तान सरकार से ‘इमरान की गुमशुदगी’ का विज्ञापन प्रकाशित कराने की मांग

Published

on

imran khan

लाहौर: पाकिस्तान में मध्यावधि चुनाव कराने की मांग के एक दिन बाद विपक्षी दल पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) ने संघीय सरकार से ‘प्रधानमंत्री इमरान खान की गुमशुदगी’ का विज्ञापन प्रकाशित करने की मांग की।

पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के मुकाबिक, पीएमएल-एन की प्रवक्ता मरियम औरंगजेब ने कहा कि ‘लोगों से लंबे चौड़े वायदे करने के बाद प्रधानमंत्री इमरान खान गायब हो गए हैं। उन्होंने एक करोड़ रोजगार, पचास लाख मकान का वादा किया था लेकिन वादा करने के बाद से वह लापता हैं। पीआईए के (कराची) विमान हादसे में मारे गए लोगों के परिजन जानना चाहते हैं कि प्रधानमंत्री कहां चले गए हैं।’

मरियम ने कहा कि टिड्डियों के हमले में फसलें तबाह हो रही हैं, कोरोना के कारण मौतें बढ़ रही हैं लेकिन सरकार के पास इस सबसे निपटने के लिए कोई रणनीति नहीं है।

इससे पहले पीएमएल-एन के महासचिव अहसन इकबाल ने देश में मध्यावधि चुनाव की मांग की थी और इमरान खान की तरफ संकेत करते हुए कहा था कि ‘अनाड़ी ड्राइवर ने देश को बर्बाद कर दिया है।’

उन्होंने कहा, “देश में बदतरीन आर्थिक अव्यवस्था है और यह कोरोना के आने से पहले से है। पाकिस्तानी रुपया इस क्षेत्र की सबसे कमजोर करेंसी है। कृषि-उद्योग का बुरा हाल है और जवाबदेही ब्यूरो के नाम पर ऐसा आतंक फैलाया गया है कि अफसर कह रहे हैं कि उनसे उनकी मौत के दस्तावेज पर भले दस्तखत करवा लो लेकिन वे किसी फाइल पर दस्तखत नहीं करेंगे।”

पीएमएल-एन के इन बयानों पर इमराननीत पाकिस्तान तहरीके इंसाफ ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। पार्टी नेता व पंजाब सरकार में मंत्री फय्याज उल हसन चौहान ने कहा कि ‘पीएमएल-एन द्वारा प्रधानमंत्री इमरान खान की आलोचना करना आसमान पर थूके जाने के समान है। इनके एक नेता (नवाज शरीफ) लंदन में हैं जिन्हें कानून तलाश रहा है और दूसरे नेता (शहबाज शरीफ) अपने ड्राइंग रूम में कैद हैं।’

–आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

भारत में अटके 176 और पाकिस्तानियों की स्वदेश वापसी

Published

on

india-pakistan-

लाहौर: कोरोना वायरस महामारी के प्रसार को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के कारण भारत में फंसे 176 और पाकिस्तानी बुधवार को स्वदेश लौटे। पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, इनकी वापसी अटारी-वाघा सीमा के रास्ते से हुई।

यह सीमा कोरोना वायरस के प्रकोप के सामने आने के बाद से बंद है। पाकिस्तान के नागरिकों की स्वदेश वापसी के लिए सीमा को बुधवार को कुछ देर के लिए खोला गया। यह सभी लोग बीते दो महीने से भारत में फंसे हुए थे। इनमें से अधिकांश तीर्थ यात्रा वीजा पर भारत गए थे।

कराची निवासी सैयद सरवर हुसैन इस 176 लोगों के जत्थे में शामिल थे। उन्होंने स्वदेश वापसी के लिए पाकिस्तान व भारत सरकार का शुक्रिया अदा किया।

हुसैन के साथ स्वदेश लौटे महेश कुमार ने फंसे पाकिस्तानी नागरिकों की मदद करने के लिए नई दिल्ली स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग को धन्यवाद दिया। उन्होंने बताया कि वह तीर्थ यात्रा पर मार्च के शुरू में भारत गए थे और अब वह अपने सिंध स्थित गृहनगर पहुंचकर सुकून महसूस कर रहे हैं।

कोरोना महामारी के सामने आने के बाद अब तक भारत में फंसे करीब 400 पाकिस्तानी स्वदेश लौट चुके हैं। बुधवार को स्वदेश लौटने वालों से पहले दो और जत्था वापस पाकिस्तान लौट चुका है।

अधिकारियों ने बताया कि वापसी पर इन सभी लोगों की कोरोना प्रोटोकाल के तहत जांच की गई। इनके सामानों को भी डिसइंफेक्ट किया गया। कुछ संदिग्ध मरीजों को क्वारंटाइन सेंटर भेजा गया है।

उधर, पाकिस्तान में फंसे भारतीय भी स्वदेश वापसी की प्रतीक्षा कर रहे हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि कम से कम 208 भारतीय नागरिक इस वक्त कोरोना वायरस महामारी के कारण पाकिस्तान में फंसे हुए हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

नेपाल ने भारत के हिस्सों को नक्शे में दिखाने का प्रस्ताव लिया वापस

Published

on

KP Sharma Oli
नेपाल के प्रधानमंत्री केपी ओली (फाइल फोटो)

नेपाल ने जारी किए उस विवादित नक्शे का प्रस्ताव वापस ले लिया है, जिसमें उसने भारत के हिस्से को नेपाल की सीमा के अंदर दर्शाया था। इससे माना जा रहा है कि भारत की कूटनीतिक जीत हुई है। अब नेपाल ने अपने इस विवादित नक्‍शे पर रोक लगा दी है। कहा जा रहा है कि नेपाल कांग्रेस के दबाव में वहां की सरकार ने अपने कदम वापस खींचे हैं।

बताया जा रहा है कि नेपाल की मुख्‍य विपक्षी पार्टी नेपाल कांग्रेस ने सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली को इस बात से अवगत कराया था कि इस मामले में उसे कुछ और समय चाहिए। इसके बाद संविधान संशोधन बिल को संसद की कार्यसूची से हटा लिया गया। इसे संसद में दो तिहाई समर्थन चाहिए था।

दोनों देशों के बीच रिश्तों में तब तनाव आ गया था जब रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आठ मई को उत्तराखंड में लिपुलेख दर्रे को धारचुला से जोड़ने वाली रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण 80 किलोमीटर लंबी सड़क का उद्घाटन किया था। नेपाल ने इस सड़क के उद्घाटन पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए दावा किया था कि यह नेपाली सीमा से होकर जाती है। भारत ने उसके दावे को खारिज करते हुए कहा था कि सड़क पूरी तरह से उसकी सीमा में है।

बता दें कि नेपाल सरकार ने पिछले हफ्ते नेपाल का संशोधित राजनीतिक और प्रशासनिक नक्शा जारी किया था जिसमें लिंपियाधुरा, लिपुलेख और कालापानी को उसके भू-भाग में दर्शाया गया था, जिसपर नाराजगी जताते हुए भारत ने नेपाल से स्पष्ट रूप से कहा था कि वह अपने भूभाग के दावों को अनावश्यक हवा न दे और मानचित्र के जरिये गैरन्यायोचित दावे करने से बचे।

वहीं नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप कुमार ग्यावली ने कहा था कि उनके देश का भारत के साथ विशिष्ट व करीबी रिश्ता है और उन्हें विश्वास है कि दोनों पड़ोसियों के बीच कालापानी का मुद्दा बातचीत के जरिये सुलझा लिया जाएगा। ग्यावली ने कहा था कि सीमा विवाद नया नहीं है। यह इतिहास का अनसुलझा, लंबित और बकाया मुद्दा है जो हमें विरासत में मिला है। यह एक बोझ है और जितनी जल्दी हम इसे सुलझा लेंगे उतनी जल्दी हम अपनी निगाहें भविष्य पर जमा पाएंगे।

Continue Reading
Advertisement
Locusts
राष्ट्रीय6 hours ago

टिड्डी दल से निपटने के लिए यूपी सरकार ने जारी किए निर्देश

Coronavirus
स्वास्थ्य6 hours ago

बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3000 के पार, अब तक 15 मौतें

Coronavirus
राष्ट्रीय6 hours ago

उत्तर रेलवे का कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव, एन-आर मुख्यालय सील

Coronavirus
स्वास्थ्य6 hours ago

मप्र में कोरोना के 237 नए मामले, अब तक 313 मौतें

Supreme Court
राष्ट्रीय7 hours ago

SC ने एयर इंडिया को बीच की सीटों के साथ उड़ान भरने वाले आदेश में संशोधन से किया इनकार

Locusts
राष्ट्रीय7 hours ago

पौधों का प्लेग: 60 साल बाद टिड्डियों की दिल्ली पर चढ़ाई का खतरा

summer
राष्ट्रीय7 hours ago

राजस्थान के चुरू में तापमान 49.6 डिग्री

Olympic Committee-min
खेल8 hours ago

बीडब्ल्यूएफ ने ओलिम्पक क्लीफिकेशन को अगले साल तक के लिए बढ़ाया

Coronavirus
राष्ट्रीय9 hours ago

पश्चिम बंगाल में कोरोना के 183 नए मामले आए सामने

coronavirus
राष्ट्रीय9 hours ago

जम्मू-कश्मीर में कोरोना के 162 नए केस

Multani Mitti-
लाइफस्टाइल3 weeks ago

चेहरे के लिए इतनी फायदेमंद होती है मुल्तानी मिट्टी…

pm modi cm meeting
ओपिनियन4 weeks ago

धन्य है गोदी मीडिया जिसने प्रधानमंत्री के बयान को भी ‘अंडरप्ले’ कर दिया!

Modi Trump
ओपिनियन4 weeks ago

ट्रम्प को अपना सिंहासन डोलता दिख रहा है, भारत भी अछूता नहीं रहने वाला

Narendra Modi
ब्लॉग4 weeks ago

अद्भुत है मोदीजी की ‘कष्ट-थिरैपी’!

Migrant Workers in Train
ब्लॉग3 weeks ago

सम्पन्न तबके की दूरदर्शिता के बग़ैर पटरी पर नहीं लौटेगी अर्थव्यवस्था

Sonia Gandhi Congress Prez
ओपिनियन3 weeks ago

क्या काँग्रेस के लिए टर्निंग प्वाइंट बनेगी ग़रीबों का रेल-भाड़ा भरने की पेशकश?

मनोरंजन4 weeks ago

डीडी नेशनल पर रविवार से प्रसारित होगा लोकप्रिय धारावाहिक श्रीकृष्णा

Rs 2000 Note
व्यापार3 weeks ago

कर्नाटक में बंद प्रभावित सेक्टरों के लिए 1610 करोड़ रुपये का राहत पैकेज

wheat-min
व्यापार3 weeks ago

पंजाब में गेहूं की खरीद 100 लाख टन के पार

Swine Flu
राष्ट्रीय3 weeks ago

कोरोना संकट के बीच भारत में पहली बार खतरनाक अफ्रीकी फ्लू की दस्तक

Vizag chemical unit
राष्ट्रीय3 weeks ago

आंध्र प्रदेश: पॉलिमर्स इंडस्ट्री में केमिकल गैस लीक, 8 की मौत

Delhi Police ASI
शहर1 month ago

दिल्ली पुलिस के कोरोना पॉजिटिव एएसआई के ठीक होकर लौटने पर भव्य स्वागत

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
स्वास्थ्य1 month ago

WHO को दिए जाने वाले अनुदान पर रोक को लेकर टेडरोस ने अफसोस जताया

Sonia Gandhi Congress Prez
राजनीति1 month ago

PM Modi के संबोधन से पहले कोरोना संकट पर सोनिया गांधी का राष्ट्र को संदेश

मनोरंजन1 month ago

रफ्तार का नया गाना ‘मिस्टर नैर’ लॅान्च

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
अंतरराष्ट्रीय2 months ago

चीन ने महामारी के फैलाव को कारगर रूप से नियंत्रित किया : डब्ल्यूएचओ

मनोरंजन2 months ago

शिवानी कश्यप का नया गाना : ‘कोरोना को है हराना’

Honey Singh-
मनोरंजन3 months ago

हनी सिंह का नया सॉन्ग ‘लोका’ हुआ रिलीज

Akshay Kumar
मनोरंजन3 months ago

धमाकेदार एक्शन के साथ रिलीज हुआ ‘सूर्यवंशी’ का ट्रेलर

Kapil Mishra in Jaffrabad
राजनीति3 months ago

3 दिन में सड़कें खाली हों, वरना हम किसी की नहीं सुनेंगे: कपिल मिश्रा का अल्टीमेटम

Most Popular