करवा चौथ के दिन ऐसे निखारें अपनी त्वचा... | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

लाइफस्टाइल

करवा चौथ के दिन ऐसे निखारें अपनी त्वचा…

Published

on

-karava-chauth
File Photo

करवा चौथ के दिन महिलाओं में सजने-संवरने का बहुत क्रेज होता है। ऐसे में महंगे ब्यूटी पार्लर की बजाय घरेलू हर्बल पार्लर के उपयोग से आप हुस्न की मलिका बन सकती हैं और आप दमकती त्वचा पा सकती है।

karwa

कहा जाता है कि इस दिन व्रत रखने से महिलाओं के सौंदर्य में चांद जैसा निखार उभरता है। आजकल महिलाओं में सजने संवरने में ब्यूटी पार्लर और मॉल का प्रचलन शुरू हो गया है, लेकिन अगर आप सचमुच सबसे अलग दिखना चाहती हैं तो इस त्योहार की तैयारियां हफ्ते भर पहले कर लें तथा घरेलू हर्बल पार्लर के उपयोग करें।

Image result for karwa chauth hd wallpapers

इस बार का करवा चौथ 17 अक्टूबर के दिन मनाया जाएगा। आप करवा चौथ से तीन दिन पहले हाथों तथा पांवों की सुंदरता पर फोकस करने के बाद मेहंदी लगाएं। मेहंदी लगाने के दो घंटे बाद नींबू और चीनी के मिश्रण से इसे हटा दें। आप अपनी त्वचा को साफ करके उस पर सनस्क्रीन तथा माइस्चराइजर का प्रयोग कीजिए।

Image result for karva chauth के दिन दुहलन

तैलीय त्वचा के लिए एस्ट्रीजंट लोशन का प्रयोग करने के बाद पाउडर लगाएं। तैलीय त्वचा के लिए ज्यादा पाउडर का प्रयोग मत करें तथा चेहरे के तैलीय भागों पर ही ध्यान दें। पूरे चेहरे तथा गर्दन पर हल्की गीली स्पंज से पाऊडर का प्रयोग करें। इससे चेहरे का सौंदर्य लंबे समय तक बना रहता है।

Image result for karwa chauth मेकअप

दो चम्मच गेहूं का चोकर, एक चम्मच बादाम तेल, दही, शहद और गुलाबजल का पेस्ट बनाकर इसे चेहरे पर लगाकर 20 मिनट बाद धोने से चेहरे की सुंदरता निखर जाती है तथा चेहरा खिला खिला रहता है। अगर आप फाउंडेशन का प्रयोग करना चाहती हैं तो केवल जल आधरित फाउंडेशन का ही प्रयोग करें तथा हल्के कवरेज के लिए एक या दो बूंद पानी प्रयोग में ला सकती हैं।

Image result for karwa chauth फाउंडेशन

फाउंडेशन जितना भी संभव है, आपकी त्वचा के रंग से मेल जोल खाती होनी चाहिए तथा उसके बाद पाउडर का उपयोग करें। चेहरे पर प्राकृतिक आभा के लिए अच्छी तरह ब्लैड करके गालों को ब्लशर से चमकाएं। आंखों की सुंदरता के लिए अपनी पलकों को पेंसिल या काजल से चमकाएं।

Image result for karwa chauth फाउंडेशन

आंखों पर कोमल प्रभाव के लिए पलकों पर भूरी या स्लेटी आई शैडों का प्रयोग करें तथा इसके बाद मस्कारा का प्रयोग करें, जिससे आंखों पर चमक आ जाएगी तथा मेकअप में भारीपन की दिखावट भी नहीं होगी। मस्कारा को एक भारी लगाने की बजाय दो हल्की तहों में करना चाहिए।

पहला कोट करने के बाद इसे सूखने दें तथा इसे कंघी या ब्रश कर लें। इसके बाद दूसरा कोट कीजिए तथा पहली प्रक्रिया को दोहराइए। इसके बाद दूसरा कोट कीजिए तथा पहली प्रक्रिया को दोहराइए। लिपस्टिक की सुंदरता के लिए घने गहरे रंगों का उपयोग न करें, क्योंकि चमकीली लाइट में यह ज्यादा गहरे दिखाई देते हैं, जिससे आपकी आभा पर विपरीत असर दिखाई देता है।

Image result for लिपस्टिक की सुंदरता के लिए घने

सौंदर्य पर चार चांद लगाने के लिए गुलाबी, ताम्रवर्णी, कांस्यवर्णी रंगों का प्रयोग करें। नारंगी रंग या नारंगी शेड का प्रयोग फैशन का नया प्रचलन है। विकल्प के तौर पर आप हल्के बैंगनी तथा गुलाबी रंगों का प्रयोग भी कर सकती है, लेकिन यह सभी रंग अत्यधिक चमकीले नहीं होने चाहिए। बिंदी करवाचौथ के सौंदर्य का अभिन्न अंग मानी जाती है।

Image result for karva chauth के दिन दुहलन

अपनी पोशाक से मिलते जुलते रंग की सजावटी बिंदी का प्रयोग करें। छोटे चमकीले रत्नों से जड़ित बिंदी काफी आर्कषक लगती है। अपने सौंदर्य में इत्र लगाना कभी न भूलें, क्योंकि यह सोने पर सुहागे का काम करता है। उचित जीवनशैली अपनाने से चहेरे पर चमक तथा उत्साह की झलक मिलती है।

Image result for karva chauth

तेजस्वी आभा के लिए उचित पोषाहार, व्यायाम, पर्याप्त नींद, तथा विश्राम अत्यंत आवश्यक है। त्योहार से कुछ हफ्ते पहले हल्का व्यायाम तथा पैदल चलने की आदत डालनी चाहिए। पैदल चलना शारीरिक तथा मानसिक स्वस्थ्य दोनों के लिए अत्यंत लाभकारी साबित होता है।

मन की शांति तथा स्वास्थ्य के लिए लंबी गहरी सांसें सबसे ज्यादा लाभप्रद मानी जाती है। सौंदर्य विशेषज्ञ शहनाज हुसैन ने कहा कि करवाचौथ में मुख्यता परंपारिक पोशाकों तथा परिधनों को ही पसंद किया जाता है, क्योंकि इनका संबंध व्रत तथा पूजा-अर्चना से सीधे तौर पर जुड़ा है। हालांकि बदलते आधुनिक परिवेश में फिल्मों तथा फैशन का प्रभाव भी कुछ हद तक इस व्रत में दिखने में मिल जाता है।

Image result for karva chauth

WeFornews

लाइफस्टाइल

गर्मियों में होने वाली बीमारियों से बचने के लिए अपनाएं ये टिप्स…

Published

on

summer-
File Photo

गर्मी का मौसम अपने साथ कई बीमारियां लेकर आता है। गर्मी और उमस के बीच यह इम्यून सिस्टम को भी प्रभावित करता है।

पाचन और त्वचा संबंधी समस्याओं के साथ ही मौसमी फ्लू और संक्रमण का भी इस दौरान खतरा बना रहता है। ऐसे में गर्मी को लेकर पहले से ही तैयारी कर लेनी चाहिए।

गर्मी में होने वाली बीमारियों से परहेज करने या लड़ने के लिए स्टेहैप्पी फार्मेसी के प्रबंध निदेशक डॉ. सुजीत पॉल कुछ जरूरी टिप्स साझा कर रहे हैं –

रहें हाइड्रेटेड : यदि आपके शरीर में पर्याप्त पानी है तो आप 90 फीसदी बीमारियों से लड़ सकते हैं। पानी को शरीर के फाइबर द्वारा हमारे कोलोन में खींच लिया जाता है और यह नरम मल बनाने में शरीर की मदद करता है। साथ ही बिना किसी तकलीफ के इसका रास्ता भी आसान हो जाता है।

फाइबर इनटेक : अनाज, सब्जियां, फलियां और फल जैसे फाइबर के बेहतरीन स्रोत वाले खाद्य पदार्थ हमारे पाचन तंत्र को दुरुस्त करते हैं और व्यक्ति कब्ज होने की आशंका से दूर होता है, जो अंतत: फिशर का कारण बनता है।

कम कैफीन : गर्मी में कैफीन का सेवन भी आपके पाचन तंत्र की कार्यप्रणाली को प्रभावित करता है, जो आगे चलकर अल्सर, एसिडिटी और जलन का कारण बनता है।

वर्कआउट : पसीने का निकलना बहुत अच्छा है क्योंकि यह आपके शरीर से गंदगी को निकालने में मदद करता है। साथ ही आपके शरीर को फिट और स्वस्थ रखने में भी सहायक है। हम जितना अधिक शारीरिक तौर पर सक्रिय रहेंगे, हमारे लिए जीवन खुशहाल होगा।

धूप से दूरी : संभव हो तो धूप में तीन घंटे से ज्यादा रहने से परहेज करें और सूती जैसे हल्के कपड़े पहनें।

नियमित हेल्थ चेकअप : कई बार हम कुछ लक्षणों की गंभीरता को नजरअंदाज करते हुए डॉक्टर के पास जाने से परहेज करते हैं। लेकिन बेहतर होगा कि स्वास्थ्य के मालमों में हम विशेषज्ञ से संपर्क करें। किसी भी तरह की गंभीर समस्या से बचने के लिए नियमित तौर पर हेल्थ चेकअप के लिए जाना चाहिए।

गरमी के मौसम में कई अन्य तरह की समस्या भी हो जाती है, जैसे- जॉन्डिस, टाइफाइड और फूड प्वाइजनिंग आदि। बेहतर होगा कि आप अपने खान- पान की आदतों के साथ धूप में समय बिताने को लेकर सतर्क रहें।

बाहर के खाने से परहेज, मील्स नहीं छोड़ना और बाहरी ड्रिंक एवं अल्कोहल की बजाय स्वास्थ्यकर विकल्पों जैसे छोटे बदलाव बड़ा अंतर ला सकते हैं। ये छोटे लेकिन अनहेल्दी आदतें आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकती हैं।

— आईएएनएस

Continue Reading

लाइफस्टाइल

मुंहासों को दूर करने के लिए अपनाएं ये 6 टिप्स…

Published

on

pimple
File Photo

मुंहासे हर किसी की आम परेशनी है ज्यादातर ये किशोरावस्था में होते हैं। हार्मोनल परिवर्तन, प्रदूषण और बैक्टीरिया के कारण किशोरावस्‍था में अकसर पिम्पल्स की समस्‍या का सामना करना पड़ता है।

ऐसा इसलिए क्योंकि जीवन की इस भागदौड़ में जहां हर कोई ‘अच्‍छे’ लाइफस्‍टाइल के लिए पैसों के पीछे भाग रहा है, ऐसे में इतना वक्त ही नहीं मिल पाता कि हम अपनी ओर भी थोड़ा ध्‍यान दे दें। नतीजा चेहरे पर झाईयां, डार्क सकर्ल्‍स और पिम्पल्स हमारी खूबसूरती में दाग लगाने लगते हैं।

आइए हम आपको पिम्पलस को दुर करने के कुछ उपाय बताते हैं।

pimple-

पिम्पल्स को दूर रखने के लिए जरूरी है एक्‍सरसाइज

हम अपने जीवन में इतने व्यस्त हैं कि हम अपने रोज के काम में एक महत्वपूर्ण बात को भूल जाते हैं, जी हां ये महत्वपूर्ण बात है व्यायाम। सिर्फ व्यायाम के 20-30 मिनट हर रोज आपको स्वस्थ, फिट और इन मुंहासों से दूर रखने में मदद कर सकते हैं। कसरत का अर्थ केवल प्रतिदिन जिम जाने से नहीं होता है, यह तैरना, साइकिल चलाना या किसी भी चीज के लिए की जा सकती है जिसमें हल्की कठोर शारीरिक गतिविधि शामिल है।

एक्‍सरसाइज

आहार में लें हेल्‍दी डाइट

क्या आप ज्यादा खाने के शौकीन हैं और क्या आपके खाने की आदतों पर कोई कंट्रोल नहीं है? आपको जंक फूड खाने को छोड़ने की ज़रूरत नहीं है, ऐसे में आपको अपनी डाइट पर ध्‍यान देना होगा। अगर आप को रात में भूख लगती है तो आप उन खाद्य पदार्थों को खाना शुरू करें जो आपके लिए फायदेमंद हो सकते हैं, जैसे अधिक सब्जियां और फल का सेवन करें, वहीं डेजर्स और तेल का सेवन कम से कम करें, क्योंकि यहीं पिंप्‍ल्‍स का मुख्‍य वजह होते हैं।

diet-

बदलें अपना लाइफस्टाइल

पिम्पल्स से छुटकारा पाने के लिए स्वस्थ जीवनशैली होना सबसे ज्यादा जरूरी है। रोजाना कम से कम दो लीटर पानी जरूर पीएं। सोने से पहले सुनिश्चित कर लें कि आपने अपने मेकअप को हटा दिया हो, यह मुहांसों की समस्‍या को जन्‍म दे सकता है।
टूथपेस्ट का करें इस्तेमाल

टूथपेस्ट का सिर्फ रोज इस्तेमाल नहीं होता बल्कि ये त्वचा से पिंम्पल को हटाने के उपचार में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। यदि आप अपनी त्वचा पर कहीं भी खुजली या कोई दाना
देखते हैं, तो सोने से पहले इसपर सफेद टूथपेस्ट लगाएं। बाद में इसे साफ ठन्डे पानी से धो लें।

totk

होम मेड फेस पैक

अगर आपके पास ब्‍यूटी पार्लर जाने का टाइम नहीं है तो अपनी किचन का इस्‍तेमाल करें। बेसन, हल्दी, दूध और नीम का पेस्ट का बना लें और इस पैक को हर रोज (या दो दिन में कम से कम एक बार) अपने चेहरे पर लगाएं। आपकी त्वचा जल्दी ही मुंहासों से मुक्‍त हो जाएगी।

Homemade-

मुंहासे से प्रभावित त्वचा पर लहसुन का करें उपयोग

लहसुन का उपयोग निजी इस्तेमाल के लिए भी किया जा सकता है। अपने एंटीसेप्टिक गुणों के कारण ये आपको जादुई लाभ भी दे सकता है। लहसुन का रस अपने मुहांसों पर लगाएं, बाद में हल्के गर्म पानी के साथ इसे धो लें। इस उपाय को दिन में 3 बार ट्राई करें, फायदा होगा।

Garlic-2

WeForNews 

Continue Reading

लाइफस्टाइल

कभी-कभी रोना भी आपकी सेहत के लिए होता है फायदेमंद…

Published

on

crying-
File Photo

अक्सर हम खुशी के लिए तो कभी गम की वजह से रोते है। कुछ लोग बात-बात पर रोने लगते है। जो हर छोटी-छोटी बात पर रोने लगते है, जिसके बाद लोग उनका मजाक बनाते है।

कुछ लोगो को ज़्यादा खुशी होने पर भी रोना आ जाता है। लेकिन हम कहें रोना आपकी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। जी हां, रोने से आपके शरीर से कई बीमारियां दूर होती है। साथ ही आपकी आंखें भी साफ हो जाती है।

आज हम आपको रोने से कुछ मिलने फायदों के बारे में बताएंगे।

  • आपको बता दें आँसुओं में पर्याप्त लुब्रिकेशन होता है जो आपकी आँखों की पुतलियों को लुब्रिकेट करता है। साथ ही हाइड्रेट करता है। कभी-कभी तनाव के कारण आप स्ट्रेस में रहते या किसी घटना के कारण आप रोने लगते है।
  • ऐसे में रोने से आपका तनाव काम हो जाता है। इतना ही नहीं तनाव के कारण आपका कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने लगता है। इसिलए रोकर आप अपना केलोस्ट्रॉल लेवल कम कर सकते है।
  • आपकी जानकारी के लिए बता दें ज्यादा तनाव लेने से आपका इम्युनी सिस्टम कमजोर पढ़ता है। जिसके कारण आप जल्दी बीमारियों का शिकार हो जाते है। ऐसे में अगर आपको अपना तनाव कम करना है तो रोना आपके लिए जरुरी है।
  • क्योंकि रोने से अपने अंदर का तनाव कम होने लगता है। जिससे आप बहुत हल्का महसूस करने लगते है। आपको बता दें अक्सर ज्यादा तनाव लेने से इंसान को नींद नहीं आती। साथ ही धीरे-धीरे इंसान कमजोर होने लगता है। ऐसे में अगर वो रोकर अपने दिल का बोझ हल्का करें तो ये उसकी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है।

WeForNews

Continue Reading

Most Popular