शहर

अब ट्रेन में यात्रियों को मिलेगा हाईस्पीड इंटरनेट

फाइल फोटो
File Photo

रेल यात्रियों के लिए इंटरनेट से जोड़ी बड़ी खुशखबरी है। जी हां, अब रेल यात्री सफर के दौरान हाईस्पीड इंटरनेट सुविधा का लुफ्त उठा सकते हैं।

खबर है कि रेलवे 5000 करोड़ रुपए की लागत से हाईस्पीड मोबाइल कम्युनिकेशन कॉरिडोर तैयार कर रहा है। इस सिस्टम से रेलवे के कर्मचारी (गैंगमेन) लोको पायलट और स्टेशन मास्टर को ट्रैक के हालात की सीधी (रियल टाइम) जानकारी दे सकेंगे। इससे ट्रेन ऑपरेशन सुधरेगा और ट्रेन संचालन में भी सुधार होगा।

रेल मंत्रालय के मुताबिक, मुख्य मार्ग पर 2541 किलोमीटर में नए कम्युनिकेशन सिस्टम ने काम शुरू कर दिया है, जबकि 3408 किलोमीटर मार्ग पर इसका काम तेजी से चल रहा है। कम्युनिकेशन कॉरिडोर बनाने के लिए रेल मंत्रालय ने एक कंपनी को जिम्मा सौंपा है। यह कॉरिडोर पीपीपी मॉडल के तहत बनाया जा रहा है। रेल संचालन के लिए रेलवे फिलहाल वायरलेस सिस्टम का इस्तेमाल करता है। इसमें ड्राइवर और कंट्रोलर किसी ट्रेन का मार्ग तय करते हैं।

क्या- क्या मिलेगी सुविधा

वहीं रेलवे के सिग्नल और टेलिकॉम शाखा के अधिकारी ने बताया कि अब जीएसएम-आर (ग्लोबल सिस्टम फॉर मोबाइल कम्युनिकेशन-रेलवेज) की जगह एलटीई-आर (लॉन्ग टर्म इवोल्यूशन-रेलवेज) सिस्टम लगाया जा रहा है। हाईस्पीड कॉरिडोर से अलग-अलग रूट की ट्रेनों के संचालन में सुरक्षा और प्रबंधन के अलावा यात्रियों को ब्रॉडबैंड सेवा भी मिलेगी। इंटरनेट के इस दौर में यात्री हर वक्त इंटरनेट कनेक्टिविटी चाहते हैं ।फिर चाहे वो ट्रेन में हों या स्टेशन पर।

बता दें कि पिछले साल देश के बड़े स्टेशनों पर फ्री इंटरनेट सुविधा की शुरुआत हुई थी। हाल ही में शुरू हुई तेजस एक्सप्रेस समेत देश की कुछ ट्रेनों में यात्रियों के लिए वाईफाई सुविधा है।

Wefornews bureau

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top