Connect with us

खेल

निदास ट्रॉफी : मुश्किल फाइनल में भारत ने बांग्लादेश को हराया

Published

on

Dinesh kartik, Photo credit PTI

कोलम्बो, 18 मार्च| दिनेश कार्तिक (29 रन, 8 गेंद, 2 चौके, 3 छक्के) की आतिशी पारी के दम पर भारत ने रविवार को आर.प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए निदास ट्रॉफी टी-20 त्रिकोणीय सीरीज के फाइनल मैच में बांग्लादेश को चार विकेट से हरा दिया। भारत को अंतिम गेंद पर जीत के लिए पांच रन चाहिए थे और कार्तिक ने मिडविकेट के ऊपर से छक्का लगाते हुए भारत को यादगार जीत दिलाई। भारत को यह मैच जिताने का श्रेय सिर्फ और सिर्फ कार्तिक को मिलना चाहिए क्योंकि उन्होंने असम्भव को सम्भव करते हुए भारत को अपने पड़ोसी के हाथों शर्मनाक हार से बचा लिया।

कार्तिक जिस समय बल्लेबाजी के लिए आए थे, उस समय भारत बेहद मुश्किल स्थिति में था लेकिन इस अनुभवी खिलाड़ी ने संयम बनाए रखते हुए बेहतरीन शॉट्स खेले और भारत को 167 रनों के स्कोर तक छह विकेट के नुकसान पर ही पहुंचा दिया।

बहरहाल, भारत के लिए कप्तान रोहित शर्मा और शिखर धवन (10) ने तेज शुरुआत की। दोनों ने 16 गेंदों पर 32 रन जोड़ दिए लेकिन इसी योग पर शाकिब अल हसन ने धवन को आउट कर भारत को पहला झटका दिया। इसी योग पर रुबेल हुसैन ने सुरेश रैना (0) को आउट कर भारत को दूसरा झटका दिया।

इसके बाद हालांकि कप्तान शर्मा और लोकेश राहुल (24) के साथ तीसरे विकेट के लिए 51 रनों की साझेदारी की। राहुल 83 के कुल योग पर रुबेल की गेंद पर शब्बीर के हाथों लपके गए। राहुल ने 14 गेंदों का सामना कर दो चौके और एक छक्का लगाया।

अब कप्तान का साथ देने विकेट पर मनीष पांडे (28) आए। इसी बीच, रोहित ने अपना अपना अर्धशतक पूरा किया। इसके लिए भारतीय कप्तान ने 35 गेंदों का सामना किया और चार चौके तथा तीन छक्के लगाए।

रोहित हालांकि 56 रनों की आकर्षक पारी खेलने के बाद 98 के कुल योग पर नजमुल इस्लाम की गेंद पर महमुदुल्लाह के हाथों लपके गए। रोहित ने 42 गेंदों का सामना कर चार चौके और तीन छक्के लगाए।

रोहित के आउट होने के बाद विजय शंकर (17) आए लेकिन वह हालात के अनुकूल गेंदबाजी नहीं कर सके और 18वें ओवर में लगातार चार डॉट्स खा बै। इससे मनीष दबाव में आ गए और छक्का लगाने के प्रयास में लपके गए।

मनीष का स्थान लेने आए कार्तिक ने दो छक्कों और दो चौकों की मदद से भारत को 12 गेंदों पर 34 रनो से छह गेंदों पर 12 रनों तक पहुंचा दिया। अंतिम ओवर में भी विजय ने गेंदें खराब कीं और फिर पांचवीं गेंद पर आउट हो गए। हालांकि जाने से पहले उन्होंने एक चौका लगाया था। अंतिम गेंद पर भारत को जीत के लिए छक्के की जरूरत थी और कार्तिक ने यह कमाल करते हुए भारत को यादगार जीत दिला दी।

इससे पहले, शब्बीर रहमान (77) की तेज अर्धशतकीय पारी के दम पर बांग्लादेश ने टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में आठ विकेट पर 166 रन बनाए।

शब्बीर ने 50 गेंदों का सामना कर सात चौके और चार छक्के लगाए। बांग्लादेश की ओर से सलामी बल्लेबाज तमीम इकबाल ने 15, लिटन दास ने 11 और महमुदुल्लाह ने 21 रन बनाए।

महमुदुल्लाह और कप्तान शाकिब अल हसन (7) रन आउट हुए। अंतिम ओवर में मेहेदी मिराज ने ताबड़तोड़ अंदाज में खेलते हुए सात गेंदों पर दो चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 19 रन बनाकर अपनी टीम सम्मानजनक योग तक पहुंचाया।

भारत की ओर से युजवेंद्र चहल ने तीन विकेट लिए जबकि जयदेव उनादकट ने भी दो विकेट लिए। वॉशिंगटन सुंदर को भी एक सफलता मिली।

बांग्लादेश की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसने 33 रन पर ही तीन विकेट गंवा दिए थे लेकिन रहमान ने एक छोर पर टिके रहकर रन रेट को मेंटेन रखा। 68 के कुल योग पर मुशफिकुर रहीम (9) का विकेट गिरने के बाद रहमान ने महमुदुल्लाह के साथ मिलकर स्कोर को 100 के पार पहुंचाया।

महमुदुल्लाह 104 रन के कुल योग पर आउट हुए। महमुदुल्लाह ने 16 गेंदों पर दो चौके लगाए। इसके बाद रहमान ने कप्तान के साथ पारी को आगे बढ़ाया लेकिन शाकिब 133 के कुल योग पर रन आउट कर दिए गए।

टी-20 करियर का चौथा अर्धशतक लगाने वाले रहमान का विकेट 147 के कुल योग पर गिरा। उनादकट ने 19वें ओवर की लगातार दो गेंदों पर रहमान के अलावा रुबेल हुसैन (0) को भी चलता किया।
ऐसा लगा कि भारतीय गेंदबाज बांग्लादेश को 150-155 तक सीमित कर देंगे लेकिन मेहेदी ने शार्दूल ठाकुर द्वारा फेंके गए अंतिम ओवर में 18 रन लेकर समीकरण ही बदल दिया। शार्दूल ने चार ओवरों मे 45 रन दिए।

निदाहास ट्रॉफी टी-20 त्रिकोणीय सीरीज का फाइनल रविवार को आर. प्रेमदासा स्टेडियम में भारत और बांग्लादेश के बीच खेला जा रहा है। टीम इंडिया कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया और बांग्लादेश को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया। भारतीय टीम में एक बदलाव हुआ है, मोहम्मद सिराज की जगह जयदेव उनादकट प्लेइंग इलेवन में शामिल हैं। इसके अलावा बांग्लादेश की टीम में कोई बदलाव नहीं है।

भारत को इस त्रिकोणीय टी-20 सीरीज के पहले मैच में श्रीलंका से हार मिली थी, लेकिन इसके बाद उसने शानदार वापसी करते हुए फाइनल में प्रवेश किया है। वहीं, बांग्लादेश ने इस सीरीज में दो जीत हासिल की हैं और दोनों बार उसने श्रीलंका को मात दी है।

दो बार भारत से परास्त हो चुकी बांग्लादेश की नजरें एक और उलटफेर कर खिताब अपने नाम करने पर होंगी, लेकिन उसकी राह किसी भी कीमत पर आसान नहीं है।

भारतीय टीम भी बांग्लादेश के अप्रत्याशित व्यवहार से वाकिफ है और इसी कारण वह उसे हल्के में नहीं ले सकती।

टीमें :

भारत : रोहित शर्मा (कप्तान), शिखर धवन (उप-कप्तान), लोकेश राहुल, सुरेश रैना, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), दीपक हुड्डा, वाशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, विजय शंकर, शार्दूल ठाकुर, जयदेव उनादकट, ऋषभ पंत।

बांग्लादेश : शाकिब अल हसन (कप्तान), महमुदुल्लाह, तमीम इकबाल, सौम्य सरकार, इमरुल कायेस, मुश्फीकुर रहीम (विकेटकीपर), सब्बीर रहमान, मुस्ताफीजुर रहमान, रुबेल हुसैन, तस्किन अहमद, अबु हैदर, अबु जायेद, अरिफुल हक, नजमुल इस्लाम, नुरुल हसन, मेहदी हसन और लिटन दास।

Input from IANS

खेल

पंत पहली बार टेस्ट टीम में, शमी की वापसी

Published

on

Mohmmad shami-
File Photo

युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत को पहली बार टेस्ट टीम में जगह मिली है। इंग्लैंड के खिलाफ खेली जाने वाली तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए बुधवार को भारतीय टीम की गई, जिसमें पंत का भी नाम है।

वहीं, तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी टीम में वापसी करने में सफल रहे हैं। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने बुधवार को टीम का ऐलान किया। इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज से बाहर होने वाले जसप्रीत बुमराह को भी टीम में जगह मिली है लेकिन वो चोट के कारण पहले टेस्ट मैच में उपलब्ध नहीं रहेंगे।

टेस्ट टीम के नियमित विकेटकीपर-बल्लेबाज रिद्धिमान साहा पूरी तरह से चोट से उबरे नहीं है इसलिए उन्हें टीम में जगह नहीं मिली। पंत के अलावा दिनेश कार्तिक के रूप में दो विकेटकीपर चुने हैं। साहा के चोटिल होने के बाद अफगानिस्तान के खिलाफ खेले गए टेस्ट मैच में कार्तिक ने टेस्ट टीम में आठ साल बाद वापसी की थी।

वहीं, भुवनेश्वर को तीसरे वनडे में चोट लग गई है इसलिए वो अभी टेस्ट टीम में नहीं चुने गए हैं। फिटनेस टेस्ट के आधार पर उनका चयन किया जाएगा। बीसीसीआई की सीनियर चयन समिति ने करुण नायर को भी टीम में बनाए रखा है। वहीं रोहित शर्मा टीम में वापसी नहीं कर पाए हैं।

बीसीसीआई ने एक बयान जारी कर कहा, “अखिल भारतीय सीनियर चयन समिति ने लीड्स में बैठक कर इंग्लैंड के खिलाफ खेली जाने वाली तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए भारतीय टीम का चयन किया।” बयान में भुवनेश्वर के बार में कहा गया है, “भुवनेश्वर को तीसरे वनडे में पीठ के निचले हिस्से में परेशानी हुई थी।

बीसीसीआई की मेडिकल टीम उनकी जांच करेगी। इसके बाद टेस्ट टीम में उनको शामिल किए जाने पर फैसला लिया जाएगा।” वहीं बुमराह के बारे में बीसीसीआई ने बताया है, “बुमराह को टीम में शामिल किया गया है, लेकिन वो दूसरे टेस्ट मैच से फिटनेस के आधार पर टीम में चयन के लिए उपलब्ध रहेंगे।”

भारत को पहला टेस्ट मैच एक अगस्त से एजबेस्टन में, दूसरा टेस्ट मैच नौ अगस्त से लॉर्ड्स में और तीसरा तथा आखिरी टेस्ट मैच 18 अगस्त से ट्रेंट ब्रिज में खेलना है। टीम : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, लोकेश राहुल, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (उप-कप्तान), करुण नायर, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, हार्दिक पांड्या, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, जसप्रीत बुमराह, शार्दूल ठाकुर।

–आईएएनएस

Continue Reading

खेल

सोटेविल एथलेटिक्स में भारतीय भाला फेंक एथलीट नीरज को स्वर्ण

Published

on

Neeraj chopra-
-आईएएनएस

भारत के स्टार भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा ने फ्रांस में आयोजित सोटेविल एथलेटिक्स मीट में स्वर्ण पदक जीता है। नीरज ने इससे पहले इस साल राष्ट्रमंडल खेलों में भी स्वर्ण पदक जीता था।

भारतीय एथलीट नीरज ने मंगलवार को सोटेविल-लेस-रोवेन में आयोजित इस स्पर्धा में 85.17 की दूरी तय कर सोना अपने नाम किया। मोल्डोवा के एडरियान मारडारे ने 81.48 मीटर की दूरी तय कर रजत और लिथुआनिया के एडिस मेटुसेविसियस ने 79.31 मीटर की दूरी तय कर कांस्य पदक जीता।

नीरज ने अपने सभी प्रयासों में जीत हासिल की। वह एक भी प्रयास में असफल नहीं रहे। हालांकि, यह उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं है। भारत के 20 वर्षीय एथलीट नीरज ने इससे पहले आईएएएफ डायमंड लीग में भाला फेंक स्पर्धा में 87.43 मीटर की दूरी तय तक अपना नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया था।

–आईएएनएस

Continue Reading

खेल

भारत विश्व कप के लिए तैयार नहीं : कोहली

Published

on

virat-kohli
File Photo

इंग्लैंड के खिलाफ खेली गई तीन वनडे मैचों की सीरीज में मिली हार से निराश भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि भारत अभी विश्व कप के लिए तैयार नहीं है।

वेबसाइट ‘ईएसपीएन क्रिकइन्फो’ की रिपोर्ट के अनुसार, कोहली का कहना है कि अब से 2019 विश्व कप की शुरुआत तक भारतीय टीम को कई सवालों के जवाब देने हैं। उल्लेखनीय है कि इंग्लैंड ने दो वनडे मैचों के बाद 1-1 से बराबर हुई सीरीज में अंतिम मैच जीतने के साथ 2-1 से कब्जा जमा लिया।

लीड्स मैदान पर खेले गए इस मैच में मेजबान टीम ने भारत को आठ विकेट से हरा दिया। मैच के बाद कोहली ने कहा, हर टीम इस चीज की तलाश करती है। इस प्रकार की सीरीज और ऐसे मैचों में मिली हार हमें बताती है कि हमें सही तौर पर किस क्षेत्र में अधिक मेहनत करने की जरूरत है। हमें इन चीजों में विश्व कप की शुरुआत से पहले सुधार करना है।

कप्तान कोहली ने कहा, हमारे पास अभी 15-16 मैच हैं और हमें अपने खेल को सुधारना होगा। हमें एक साथ मिलकर अपने अच्छे प्रदर्शन में नियमितता लानी होगी और इसी की हम में ललक है। इस मैच को देखा जाए, तो रनों के मामले में हम सही स्थान पर नहीं हैं। हमारा प्रदर्शन पर्याप्त नहीं था।

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular