shinzo
राष्ट्रीय

मोदी-आबे ने बुलेट ट्रेन का किया शिलान्यास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के पीएम शिंजो आबे ने गुरुवार को अहमदाबाद में देश की पहली बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट की नींव रखी है।

यह प्रोजेक्ट करीब 1 लाख करोड़ रुपए का है, बुलेट ट्रेन का यह प्रोजेक्ट अहमदाबाद से मुंबई तक है। दोनों नेताओं ने सुबह साबरमती रेलवे स्टेशन के पास इस कार्यक्रम की शुरुआत की। सरकार की ओर से कहा गया है कि इस प्रोजेक्ट को निर्धारित समय से एक साल पहले यानी 2022 में पूरा करे जाने की बात की है।

इससे पहले बुधवार (13 सितंबर) जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे भारत पहुंच थे। पीएम मोदी ने खुद अहमदाबाद एयरपोर्ट पर आबे का गले लगाकर स्वागत किया था। इसके बाद शिंजो आबे को एयरपोर्ट पर ही गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। पीएम नरेंद्र मोदी और जापान के पीएम शिंजो आबे जॉइंट रोड शो के बाद साबरमती आश्रम पहुंचे।

दोनों ने आश्रम में मौजूद महात्मा गांधी की निजी स्मरणीय वस्तुओं को देखा। यहां दोनों पीएम ने महात्मा गांधी को श्रद्धा सुमन अर्पित किया और रिवर फ्रंट पर भी थोड़ा वक्त बिताया।

इसके बाद दोनों नेता मशहूर सीदी सैयद मस्जिद पहुंचे। प्रधानमंत्री मोदी खुद जापानी पीएम शिंजो आबे को सीदी सैयद मस्जिद की अहमियत और इतिहास बताया।

यह मस्जिद संस्कृति और खूबसूरती का मिश्रण है। इस मस्जिद की खास बात है कि शाम के वक्त जब ढलते सूरज की किरणें मस्जिद की जाली से निकलती हैं, तो वो नजारा अद्भुत होता है।

दोनों ही नेताओं को राज्य की ऐतिहासिक विरासत पर एक प्रेजेंटेशन भी दिखाया गया। आपको बता दें की पीएम बनने के बाद नरेंद्र मोदी पहली बार देश की किसी मस्जिद में गए। पीएम मोदी ने 2015 में अबू धाबी के मशहूर शेख जायद मस्जिद का दौरा किया था। आबे अपने इस दौरे में पीएम मोदी के साथ मिलकर बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट की नींव रखेंगे।

मोदी और आबे के बीच यह चौथा वार्षिक शिखर सम्मेलन होगा। भारत और जापान के बीच कई समझौते भी होंगे।

अधिकारियों का कहना है कि पीएम मोदी और एबी भारत-जापान वार्षिक सम्मेलन में तो शामिल होंगे ही साथ ही इनके कई अन्य कार्यक्रमों में भी शामिल होने की भी संभावना जताई जा रही है। जिसे ध्यान में रखते हुए सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं। मोदी और एबी को गुरुवार को गांधीनगर का दौरा करना है। गांधीनगर के दौरे पर दोनों नेताओं की सुरक्षा के लिए 2,000 से ज्यादा पुलिसकर्मियों की तैनाती की जाएगी।

wefornews bureau 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top