घर में ऐसे बनाएं स्वादिष्ट इमली चावल... | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

लाइफस्टाइल

घर में ऐसे बनाएं स्वादिष्ट इमली चावल…

Published

on

Imli Rice-
File Photo

चावल खाना सभी को पसंद है। अब आप अपने सादे चावल में भी स्वाद ला सकते है। अगर आपका मन कुछ चटपटा खाने का कर रहा है तो आप इमली के चावल घर में बना सकते है। ये आपको खाने में स्वादिष्ट लगेंगे। इसे बनाना भी बेहद आसान है।

आइए जानतें है घर में कैसे बनाएं इमली के चावल।

सामग्री

सरसों के बीज- एक चम्मच, सफेद मसूर की दाल- एक चम्मच,, करी पत्ते- 10 – 12, सूखी लाल मिर्च- 3, हींग- एक चोथई चम्मच, मूंगफली- 45 ग्राम, सफेद तिल के बीज- एक चम्मच हल्दी- 1/4 टीस्पून, इमली का गुदा- 200 मि.ली., धनिए के बीज- 2 चम्मच,

सफेद मसूर की दाल- 2 चम्मच, चने की दाल- 2 चम्मच, काली मिर्च- आधा चम्मच, मेथी के बीज- 1/4 टीस्पून, सूखी लाल मिर्च- 4, तिल का तेल- 50 मि.ली., गुड़ पाउडर- 2 चम्मच, उबले हुए चावल- 650 ग्राम, नमक- 1 1/2 टीस्पून

विधि

इमली वाले चावल बनाने के लिए सबसे पहले एक पैन में सुख धनिया, सफेद मसूर की दाल, चने की दाल, काली मिर्च, मेथी के बीज, सूखी लाल मिर्च डालकर अच्छे से 3-5 मिनट भून लें। फिर इस मिश्रण को मिक्सी में डालकर भून लें।

इसके बाद एक काढई में तिल का तेल डालकर गर्म कर लें। अब इसमें सरसों के बीज, सफेद मसूर की दाल, चने की दाल, 10-12 करी पत्ते, 3 सूखी लाल मिर्च, हींग, मूंगफली और एक चम्मच सफेद तिल के बीज डालकर 5 मिनट तक फ्राई करें।

अब इसमें हल्दी मिक्स कर लें। फिर इसमें पिसा हुआ इमली का पेस्ट डाल दें। फिर इसे गाढ़ा होने तक पका लें। जब ये गाढ़ा हो जाए तो इसमें गुड़ मिला दे। अब इसमें उबले हुए चावल डालकर 10 मिनट तक पका लें। लीजिए तैयार है आपके इमली चावल। इसे गर्म-गर्म सर्व करे।

WeForNews

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × 1 =

लाइफस्टाइल

मेकअप से ऐसे ढकें स्ट्रेच मार्क्‍स

Published

on

Photo Source: IANS

नई दिल्ली: बॉडी में स्ट्रेच मार्क्‍स का होना काफी स्वाभाविक है और इसमें शर्माने जैसी कोई बात नहीं है। कई बार कुछ खास मौकों पर हम इन्हें ढकना या हल्का दिखाना चाहते हैं, ऐसे में सही सौंदर्य उत्पादों का इस्तेमाल कर आप इन्हें कुछ समय तक के लिए कवर कर सकते हैं।

लॉरियल पेरिस यूएसए की तरफ से ऐसे ही कुछ खास टिप्स सुझाए गए हैं। सही कलर करेक्टर का करें चयन

बात जब स्ट्रेच मार्क्‍स को ढकने की आती है, तो ऐसे में रंगों की सही पहचान सबसे महत्वपूर्ण कारकों में से एक है। अगर ये नए या बैंगनी रंग के हैं, तो इन्हें हल्का दिखाने के लिए पीले कलर करेक्टर का इस्तेमाल करें। शरीर पर मौजूद ये मार्क्‍स अगर पुराने हैं, तो आपको किसी कलर करेक्टर की जरूरत नहीं है, क्योंकि त्वचा के बाकी हिस्सों की तुलना में इनका रंग पहले से ही हल्का होता है।

फुल कवरेज फाउंडेशन

बेशक स्ट्रेच मार्क्‍स को कवर करने के लिए फुल कवरेज फाउंडेशन काफी जरूरी है। इनके सही इस्तेमाल से स्कार्स से लेकर हाइपरपिग्मेंटेशन तक को कवर किया जा सकता है।

मेकअप को करें सेट

स्ट्रेच मार्क्‍स को कवर करने के बाद, आप इसे दिनभर टिकाए रखना चाहेंगे। मेकअप दिन भर बरकरार रहे और इसका कवरेज भी बेहतर हो, इसके लिए मेकअप ब्रश से इन पर सेटिंग पाउडर लगाना न भूलें।

सेल्फ-टैनर को करें अप्लाई

मेकअप के बिना आप सेल्फ-टैनर की मदद से स्ट्रेच मार्क्‍स के गहरे निशान को कवर कर सकते हैं। बताने की जरूरत नहीं है, इसकी मदद से अपने लुक को अपने हिसाब से सांवला बनाया और खुद को अलग व खूबसूरत दिखाया जा सकता है।

–आईएएनएस

Continue Reading

लाइफस्टाइल

गर्मी के लिए टॉप 5 लॉन्जरी ट्रेंड्स

Published

on

फोटो-सोशल मीडिया

नई दिल्ली, क्या आप भी उन महिलाओं में से हैं, जो लॉन्जरी को अक्सर बैक ड्रॉवर में रख देती हैं और किसी खास मौके पर ही उन्हें निकालती हैं? अगर हां, तो हम आपको बता दें कि आपको अपनी इस मानसिकता को बदलने की जरूरत है।

लॉन्जरी रोजमर्रा की जिंदगी में शामिल एक ऐसी चीज है जिस पर निवेश करने की जरूरत है। ग्रोवरसंस पेरिस ब्यूटी के निदेशक सिद्धार्थ ग्रोवर द्वारा इसी बारे में कुछ खास टिप्स साझा किए गए हैं। स्पोर्ट्स ब्रा का करें इस्तेमाल

हेल्थ और फिटनेस को ध्यान में रखते हुए स्पोर्ट्स ब्रा का चलन और उसकी मांग आज काफी ज्यादा है। इससे न केवल खुद को काफी हद तक सहज महसूस कराया जा सकता है बल्कि ये दिखने में भी बेहद स्टाइलिश होते हैं।

आज के दौर में स्पोर्ट्स ब्रा एक फैशन ट्रेंड बन गया है, जो खेल-कूद, मैराथन में दौड़ लगाना, घुड़सवारी, स्विमिंग जैसी हर गतिविधि के लिए उपयुक्त है। ऐसे में लॉन्जरी के अपने कलेक्शन में स्पोर्ट्स ब्रा को जरूर शामिल करें।

टाइमलेस लेस लुक

लेसेज हमेशा ही चलन में रहता है, खासकर अगर बात लॉन्जरी की हो, तो इसका ट्रेंड हमेशा से ही बरकरार रहा है। लेसेज की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसकी खूबसूरत बनावट से यह न केवल आपको नारीत्व का बेहतर एहसास कराता है, बल्कि पहनने में भी यह काफी आरामदेय होते हैं।

यह आपको खूबसूरत दिखाने के साथ-साथ आपको अपने बारे में अच्छा भी महसूस करवाता है जिससे आत्मविश्वास में वृद्धि होती है। लेसेज किसी भी रंग में बेहतर दिखते हैं, लेकिन अगर चुनने की बात आए, तो हल्के या सुगरी पेस्टल कलर में आप इन्हें खरीद सकते हैं।

हॉल्टर नेक ब्रा

आजकल की महिलाएं बोल्ड फैशन को अपनाने से नहीं कतराती हैं, ऐसे में उनके वॉर्डरोब कलेक्शन में हॉल्टर नेक ब्रा का होना लाजिमी है। गर्मी के दिनों में इसे पहनना खासतौर पर पसंद किया जाता है। यह कॉटन, स्पैंडेक्स, पॉलीएमाइड, सैटिन, मेश, नेट, लेस और सिल्क जैसे कई सारे फ्रैब्रिक्स में उपलब्ध होते हैं। इन्हें सरासर कपड़ों या मेश टॉप के साथ खूबसूरती से पेयर किया जा सकता है।

सेक्सी बैक डिटेलिंग

पीठ की ओर डिजाइन का चलन आजकल काफी ज्यादा है। ऐसे में इस गर्मी के मौसम में इन सेक्सी पैटर्न को अपनाकर आप खुद को बेहतर ढंग से पेश कर सकती हैं।

शेपवेयर

अंर्तवस्त्र में आजकल एक और चीज शामिल है, जो है शेपवेयर। आजकल यह लगभग हर महिला के वॉर्डरोब का एक हिस्सा है। इन्हें खास मौकों के साथ-साथ हर रोज भी पहना जा सकता है।

तो, अब बिना देर किए अपने लॉन्जरी के कलेक्शन में कुछ नए फ्लेवर्स जोड़ें और बेहतरीन व अलग हटके लुक के साथ लोगों के ध्यान को अपनी ओर आकर्षित करें।

–आईएएनएस

Continue Reading

लाइफस्टाइल

क्या आप अच्छी और पूरी नींद नहीं ले पा रहे?

नींद संबंधी बीमारियों में से सबसे ज्यादा लोगों में पाई जाने वाली बीमारी है इंसोमेनिया। आइए, एक नजर डालते हैं ऐसी कई बीमारियों पर-

Published

on

Sleep-Nap

नई दिल्ली: रात के दौरान अच्छी नींद स्वस्थ शरीर के लिए बहुत आवश्यक है। अगर आप पूरी नींद नहीं ले पाते हैं या गलत समय पर सोते हैं या फिर टुकड़ों में नींद पूरी करते हैं तो इससे आपको निंद्रा विकार की समस्या हो सकती है, जिससे नींद के समय में कमी हो सकती है।

अगर आप सात से नौ घंटे की अच्छी नींद लेते हैं तो न केवल आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है बल्कि ब्लड प्रेशर, हार्मोन भी ठीक रहता है।

मुलुंद स्थित फोर्टिस हॉस्पिटल की सलाहकार न्यूरोलॉजिस्टडॉ. रीमा चौधरी कहती हैं, “नींद संबंधी विकार कई तरह के हालातों के प्रभाव के कारण होते हैं, जो नियमित रूप आने वाली अच्छी नींद को प्रभावित करते हैं। यह आजकल एक आम समस्या है, जो साधारण सिरदर्द और दिन भर के तनाव से जुड़ी रहती है। जब कोई मरीज सिरदर्द की समस्या से जूझता है तो वह भी एक सामान्य न्यूरोलॉजिकल विकार है, जो 60-70 प्रतिशत तक नींद में खलल से संबंधित है।”

नींद संबंधी बीमारियों में से सबसे ज्यादा लोगों में पाई जाने वाली बीमारी है इंसोमेनिया। आइए, एक नजर डालते हैं ऐसी कई बीमारियों पर-

  1. स्लीप एपनोया : यह नींद से जुड़ा एक गंभीर विकार है, जिसमें खून में ऑक्सीजन की कमी से सांस लेने में परेशानी होती है। इसमें अचानक से सांस रुक जाती है और फिर एकाएक आने लगती है। इससे मस्तिष्क और शरीर के अन्य हिस्सों में ऑक्सीजन का प्रवाह प्रभावित होता है, जिससे अच्छी नींद लेने में समस्या आती है। खर्राटे लेना, घरघराहट और उठने पर मुंह का सूखा होना इसके सामान्य लक्षण हैं।
  2. रेस्टलेस लेग्स सिंड्रोम : इस विकार में मरीज अक्सर अपने पैरों को हिलाता रहता है। वे जब भी सोने जाते हैं तो उन्हें पैरों में जलन महसूस होती है जिससे उन्हें अच्छी नींद लेने में परेशानी होती है।
  3. स्लिप पैरालिसिस : स्लीप पैरालिसिस एक विकार है जहां एक व्यक्ति जागने और सोते समय हिलने या बोलने में असमर्थ होता है। मरीजों को एक निश्चित दबाव और तत्काल भय का अनुभव होता है, कई बार इससे पीड़ित लोग सचेतन में होते हैं, लेकिन फिर भी वे हिलने-डुलने में असमर्थ होते हैं।
  4. सर्कैडियन रिदम डिसऑर्डर : इस बीमारी में मरीजों का इंटरनल बायोलॉजिकल क्लॉक बाहरी समय के साथ समन्वय नहीं बिठा पाता है। इसमें सोने के समय को लेकर मरीज की दिमागी घड़ी कुछ घंटे पीछे चल रही होती है। जो लोग नाइट सिफ्ट करते हैं, उनके साथ ऐसा अक्सर होता है।
  5. इंसोमेनिया सामान्यत: इस तरह के अनिद्रा विकार में मरीजों को नींद आने और नियमित तौर पर पूरी नींद लेने में परेशानी होती है। ऐसे में पूरे दिन उनमें ऊर्जा की कमी नजर आती है।

अच्छी और पूरी नींद लेने के टिप्स :

  • बिस्तर पर जाने का एक समय निश्चित कर लें और उसे बनाए रखें।
  • शाम और रात के समय कॉफी के सेवन से बचें।
  • टीवी, कंप्यूटर या मोबाइल पर समय बिताना कम करें, खासकर सोने से पहले।
  • प्रतिदिन नियमित रूप से व्यायाम करें।
  • रात को नींद आने में दिक्कत होती है तो दोपहर या बीच-बीच में नींद लेने से बचें।
  • बिस्तर पर जाने से पहले गर्म पानी से नहाएं। इससे आप रिलैक्स महसूस करेंगे और नींद भी अच्छी आएगी।

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular