सर्दी के मौसम में बनाकर पीएं मटर-पुदीने का सूप | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

लाइफस्टाइल

सर्दी के मौसम में बनाकर पीएं मटर-पुदीने का सूप

Published

on

Pea-Mint-
File Photo

सर्दियों में बार-बार चाय पीने की आदत तो सभी की होती है। लेकिन ज्यादा चाय आपकी सेहत को नुकसान भी कर सकती है। इसलिए आज हम आपके लिए लेकर आए है हेल्दी सूप की रेसिपी।

इसे पीने से आपके शरीर में एनर्जी बनी रहेगी। साथ ही शरीर में गर्माहट भी रहेगी। इस सूप को बनाने में लहसुन प्याज और पुदीने का प्रयोग किया जाएगा। इन सबसे बना सूप को कई बीमारियों से भी दूर रखेगा। आइए जानें इस सूप की रेसिपी।

सामग्री

एक कप पुदीना, 6 कप पानी, एक चम्मच- ऑलिव ऑयल, 3 लहसुन की कली, नमक स्वादानुसार, एक प्याज, एक चम्मच- सौंफ का पाउडर, एक कप-उबली मटर 2 चम्मच-क्रीम, 1/4 टीस्पून काली मिर्च पाउडर

विधि

सूप बनाने के लिए सबसे पहले प्याज, लहसुन और पुदीने को बारीक करके काट लें। इसके बाद एक पैन में ऑलिव ऑयल डालकर गर्म होने के लिए रख दें। अब इसमें प्याज और लहसुन को डालकर नरम होने तक भून लीजिए।

इसके बाद पुदीना और उबली मटर को डालकर 15 मिनट तक धीमी आंच पर पकने के लिए छोड़ दें। फिर ग्राइंडर जार में सूप डालकर इसका पेस्ट बना लें। अब इसके अंदर नमक और काली मिर्च डालकर अच्छे से मिला लें। लीजिए तैयार है आपका मटर-पुदीने का हेल्दी सूप। तैयार सूप पर पुदीना और क्रीम गर्म-गर्म सर्व करें।

WeForNews

लाइफस्टाइल

घर में ऐसे बनाएं पनीर की बर्फी

Published

on

File Photo

पनीर का सेवन सेहत के लिए लाभकारी है। इसमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। जो शरीर को ताकात देता है। आज हम आपके लिए पनीर की नई रेसिपी लेकर आए है।

अगर आपका मन कुछ मीठा खाने का है तो घर में बनाए पनीर बर्फी। इसका स्वाद आपको मज़ेदार लगेगा। साथ ही पनीर की बर्फी बच्चों से लेकर बड़ो तक को पसंद आएगी। पनीर की बर्फी आप घर आए मेहमानों को भी बनाकर खिला सकते है। आइए जानतें है इसकी रेसिपी।

सामग्री

पनीर-एक पाव, इलायची पाउडर- एक चम्मच, मिल्क पाउडर- दो चम्मच, कंडेंस्ड मिल्क- 2-3 कप, ड्रायफ्रूट्स- एक कटोरी, देसी घी- एक चम्मच

विधि

पनीर की बर्फी बनाने के लिए सबसे पहले पनीर को एक बाउल में मैश कर लें। इसके बाद इसमें मिल्क पाउडर और कंडेंस्ड मिल्क डालकर अच्छे से मिला लें। अब एक पैन को गैस पर गर्म होने के लिए रखें।

जब पैन गर्म हो जाए तो इसमें तैयार हुआ पनीर और मिल्क का मिश्रण पकने के लिए डाल दें। इसे तब तक पकाए जब तक ये मिश्रण गाढ़ा ना हो जाए। अब मिश्रण पकने पर गैस को बंद कर दें। इसके बाद एक थाल पर घी लगाकर तैयार किया हुआ मिश्रण फैला दें।

अब इसपर इलायाची पाउडर को फैला दें। फिर इसे ठंडा होने के लिए छोड़ दें। अब जब यह सेट हो जाए तो इसेबर्फी के आकार में काय लें। फिर इसे मेवे से गर्निश कर दें। लीजिए तैयार है आपकी पनीर बर्फी। इसे अब मन मुताबिक सर्व करें।

WeForNews

Continue Reading

लाइफस्टाइल

संभोग कम करने से जल्द होती है रजोनिवृत्ति : शोध

Published

on

रिलेशनशिप

लंदन: जो महिलाएं अधिक संभोग करती हैं, उनमें रजोनिवृत्ति होने की संभावना कम होती है। हफ्ते में एक बार संभोग (सेक्स) करने वाली महिलाओं में रजोनिवृत्ति (मीनोपॉज) की संभावना महीने में एक बार संभोग करने वाली औरतों से 28 फीसदी कम होती है।

एक शोध में यह जानकारी मिली है। शोधकर्ताओं ने कहा कि संभोग के भौतिक संकेत शरीर को संकेत दे सकते हैं कि गर्भवती होने की संभावना है।

अध्ययन में कहा गया है कि जो महिलाएं मिड लाइफ (35 व इससे अधिक उम्र) में बार-बार संभोग नहीं करती हैं, उनमें जल्द रजोनिवृत्ति देखने को मिलती है।

यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ लंदन की अध्ययनकर्ता मेगन अर्नोट ने कहा, “अध्ययन के निष्कर्ष बताते हैं कि अगर कोई महिला यौन संबंध नहीं बना रही है और गर्भधारण का कोई मौका नहीं है, तो शरीर अंडोत्सर्ग (ओव्यूलेशन) बंद कर देता है क्योंकि यह व्यर्थ होगा।”

अध्ययन में कहा गया है कि अंडोत्सर्ग के दौरान महिला की प्रतिरक्षा क्षमता बिगड़ जाती है, जिससे शरीर में बीमारी होने की संभावना अधिक होती है।

यह शोध 2,936 महिलाओं से एकत्र किए गए आंकड़ों पर आधारित है, जो कि 1996/1997 में एसडब्ल्यूएएन अध्ययन के तहत किया गया था।

इस दौरान महिलाओं को कई सवालों के जवाब देने के लिए कहा गया था, जिसमें यह भी शामिल था कि पिछले छह महीनों में उन्होंने अपने साथी के साथ संभोग किया है या नहीं।

संभोग करने के अलावा उनसे पिछले छह महीनों के दौरान कामोत्तेजना से जुड़े अन्य प्रश्न भी किए गए, जिनमें मुख मैथुन, यौन स्पर्श और आत्म-उत्तेजना या हस्तमैथुन के बारे में भी विस्तृत जानकारी ली गई।

यौन क्रियाओं में भाग लेने संबंधी सबसे अधिक उत्तर साप्ताहिक (64 फीसदी) देखने को मिले।

दस साल की अनुवर्ती अवधि में देखा गया कि 2,936 महिलाओं में से 1,324 (45 फीसदी) ने 52 वर्ष की औसत उम्र में प्राकृतिक रजोनिवृत्ति का अनुभव किया।

बता दें कि रजोनिवृत्ति उस स्थिति को कहा जाता है जब महिलाओं में मासिक धर्म चक्र बंद हो जाता है। असल में इसे प्रजनन क्षमता का अंत माना जाता है।

शोध की रिपोर्ट को जर्नल रॉयल सोसायटी ओपन साइंस नामक पत्रिका में प्रकाशित किया गया है। इस पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन में इसके कारण का उल्लेख नहीं किया गया है।

–आईएएनएस

Continue Reading

लाइफस्टाइल

इन सारी बीमारियों को झट से दूर करेगा अदरक

Published

on

Ginger
File Photo

अदरक का इस्तेमाल अक्सर खाना बनाने या चाय में होता है। ये सर्दियों में जुकाम से जुड़ी समस्याओं को भी ठीक करता है।

इसके कई फायदे होते हैं और उन फायदों से आपकी सेहत पर अच्छा असर पड़ता है। अदरक तो बहुत से कामों में इस्तेमाल किया जाता है-जैसे सब्जी में, चाय में आदि।

बता दें, इसकी तासीर गर्म होती है इसलिए सर्दियों में इसका सेवन हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद साबित होता है। आप जानते ही हैं कि अदरक में भरपूर मात्रा में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेटस, आयरन, कैल्शियम जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो हमारे शरीर को सेहतमंद रखने का काम करते हैं।

इसका सेवन करने से आप सर्दियों के मौसम होने वाली बीमारियां जैसे- खांसी- जुकाम, बलगम जैसी समस्याओं से बच सकते है। इस दौरान आपको जोड़ों में भी दर्द होता है और इससे कई लोग परेशां भी रहते हैं। अगर आपके साथ भी ये परेशानी है तो हम आपको बता दें अदरक के कुछ खास उपाय

अदरक से होने वाले फायदे

  • कभी कभी कुछ गलत खा लेने से जी मिचलना और उल्टी की समस्या हो जाती है। ऐसे में आप अदरक के इस्तेमाल से इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं, इसके लिए 1 चम्मच अदरक के रस में 1 चम्मच नींबू का रस मिलाकर हर दो घंटे के बाद सेवन करें।
  • अदरक में भरपूर मात्रा में एंटी-इन्फ्लॉमेट्री गुण मौजूद होते हैं जो जोड़ों के दर्द से आराम दिलाने का काम करते हैं, इसे इस्तेमाल करने के लिए अपने जोड़ो पर दर्द वाली जगह पर अदरक का लेप लगाए। अदरक के लेप को दिन में दो बार लगाएं। ऐसा करने से कुछ ही दिनों में आपको जोड़ो के दर्द से आराम मिल जायेगा।

WeForNews

Continue Reading

Most Popular