चुनाव

लोकसभा-विधानसभाओं का चुनाव एक साथ करवाना चाहिए: नीति आयोग

Niti Aayogaaa
फाइल फोटो

नीति आयोग ने एक रिर्पोट जारी करते हुए लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराने की सलाह दी है। रिपोर्ट में कहा गया है कि 2024 में लोकसभा और विधानसभा चुनाव को एक साथ दो चरणों में कराने की ओर कदम बढ़ाने चाहिए। इसमें अधिकतम एक बार कुछ विधानसभाओं के कार्यकाल में कटौती करनी होगी या कुछ को कार्यकाल विस्तार देना होगा।

रिपोर्ट में कहा गया है कि राष्ट्र हित में इसे लागू करने के लिए संविधान और इस मामले पर विशेषज्ञों, थिंक टैंक, सरकारी अधिकारियों और विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों सहित पक्षकारों का एक विशेष समूह गठित किया जाना चाहिए, जो इसे लागू करने से संबंधी सिफारिशें करेगा।

तीन वर्ष का कार्य एजेंडा, 2017—2018 से 2019—2020′ शीर्षक वाली इस रिपोर्ट के अनुसार, इसमें संवैधानिक और वैधानिक संशोधनों के लिए मसौदा तैयार करना, एक साथ चुनाव कराने के लिए संभव कार्ययोजना तैयार करना, पक्षकारों के साथ बातचीत के लिए योजना बनाना और अन्य जानकारियां जुटाना शामिल होगा।’

नीति आयोग ने इन सिफारिशों का अध्ययन करने और इस संबंध में मार्च 2018 की ‘समय सीमा’ तय करने के लिए निर्वाचन आयोग को नोडल एजेंसी बनाया है। बता दे कि इस वर्ष गणतंत्र दिवस समारोह की पूर्व संध्या पर अपने भाषण में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने लोकसभा और विधानसभाओं चुनाव को साथ कराने की बात कही थी। साथ ही साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी चुनाव को एक साथ कराने की बात करते रहें है।

WeForNews Bureau

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top