Connect with us

राजनीति

लालू का ऐलान- राहुल 2019 में होंगे गैर बीजेपी दलों के पीएम पद के उम्मीदवार

Published

on

lalu-prasad
राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू यादव (फाइल फोटो)

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) अध्यक्ष लालू यादव ने राहुल गांधी को लेकर बड़ा ऐलान किया है। लालू ने कहा कि 2019 के आम चुनाव में राहुल गांधी गैर बीजेपी दलों की ओर से प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार होंगे। उन्होंने कहा कि मेरा समर्थन और मेरी पार्टी का समर्थन राहुल गांधी को है।

लालू ने कहा कि गुजरात चुनाव में पीएम मोदी राम के ना पर वोट मांग रहे हैं। यह साबित हो गया है कि बीजेपी गुजरात में हार रही है। इस वजह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम के नाम पर वोट मांगने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी राम के नाम पर वोट मांगकर ध्रुवीकरण की कोशिश कर रही है।

बता दें कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पार्टी अध्यक्ष बनने के एक कदम और नजदीक पहुंच गए हैं। राहुल के पक्ष में बीते मंगलवार को दाखिल किए गए सभी 89 नामांकनों को जांच में सही पाया गया और इस तरह अध्यक्ष पद के लिए चुनाव मैदान में वह अकेले उम्मीदवार हैं। एक बयान में कहा गया है, “कुल 89 नामांकन पत्रों में सभी में राहुल गांधी के नाम के प्रस्ताव पाए गए हैं। ये नामांकन पत्र सभी राज्यों से हैं।”

चुनाव के लिए निर्वाचन अधिकारी मुलापल्ली रामचंद्रन ने एक बयान में कहा, “हमने सभी नामांकन पत्रों की जांच की है और सभी 89 नामांकन पत्र वैध पाए गए हैं। अब सिर्फ एक मात्र वैध उम्मीदवार राहुल गांधी हैं, जो कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए चुनाव मैदान में हैं।”

नाम वापस लेने की आखिरी तारीख 11 दिसंबर है, और राहुल गांधी को उसी दिन नया कांग्रेस अध्यक्ष घोषित किए जाने की उम्मीद है।

wefornews bureau 

राजनीति

अविश्वास प्रस्ताव पर मोदी बोले, कांग्रेस जनता से कट गई है

Published

on

modi

नई दिल्ली, 20 जुलाई | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को लोकसभा में विपक्षी दलों पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस जनता से कट गई है और जो दल कांग्रेस के साथ हैं वे भी डूबने वाले हैं। मोदी लोकसभा में सरकार के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के दौरान परिचर्चा में हिस्सा लेते हुए विपक्ष के सवालों का जवाब दे रहे थे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र में 30 साल के बाद पूर्ण बहुमत की सरकार बनी है, लेकिन विपक्ष में शामिल दल सरकार के खिलाफ बहुमत जुटाने में विफल होने को लेकर आश्वस्त होने के बावजूद सरकार गिराने की कोशिश में जुटे हैं।

मोदी ने शायरी के जरिए विपक्ष पर निशाना साधा और कहा- “मांझी ना रहबर ना कह में हवाएं .. है कश्ती भर जर्जर ये कैसा है सफर।”

उन्होंने कहा, “मेरे बारे में कहा गया कि प्रधानमंत्री को संसद में बोलने दिया जाए तो वह 15 मिनट भी नहीं बोल पाएंगे लेकिन मैं खड़ा भी हूं और चार साल के अपने काम के बल पर अड़ा भी हूं।”

मोदी ने कहा कि राहुल गांधी को प्रधानमंत्री की कुर्सी हथियाने की जल्दी है, इसलिए विपक्ष द्वारा यह प्रस्ताव लाया गया है। उन्होंने कहा, “भाजपा को जनता का समर्थन प्राप्त है। सरकार को बहुमत मिला है, लेकिन विपक्ष इस बात को नहीं समझ रहा है और अपने स्वार्थ के लिए देश पर विश्वास नहीं कर रहा है। सरकार को देश के 125 करोड़ लोगों का आशीर्वाद मिला है।”

प्रधानमंत्री ने कहा, “मोदी को हटाने कोशिश में वे सब एकजुट हुए हैं जो एक दूसरे को देखना भी पसंद नहीं करते थे।”

मोदी ने अपने भाषण में सरकार के काम-काज का जिक्र किया और कहा, “हमारी सरकार देश के किसानों की आमदनी 2022 तक दोगुना करने के लिए काम कर रही है और इस दिशा में कई कदम उठाए गए हैं। देशभर में 15 करोड़ किसानों को मृदा स्वास्थ्य कार्ड दिया गया है, लेकिन विपक्ष को इस पर भी विश्वास नहीं हो रहा है। हमारी सरकार ने यूरिया की कमी नहीं होने दी लेकिन इस पर भी विपक्ष को विश्वास नहीं है। जनधन योजना के तहत 32 करोड़ बैंक खाते खोले गए और उज्‍जवला योजना के तहत 4.5 करोड़ गरीब महिलाओं को मुफ्त गैस कनेक्शन दिया गया।”

मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस जनता से कट गई है और जो दल कांग्रेस के साथ हैं वे भी डूबने वाले हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading

राजनीति

तीन मोदी भारत को लूट रहे हैं : टीएमसी

Published

on

Saugata Roy

नई दिल्ली, 20 जुलाई | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक ‘फेरीवाला’ और उनकी आर्थिक नीतियों को ‘आपदा’ करार देते हुए तृणमूल कांग्रेस के सांसद सौगत राय ने शुक्रवार को कहा कि ‘तीन मोदी का सिंडीकेट देश को लूट रहा है’। लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर बोलते हुए राय ने किसी का नाम लिए बिना कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की आर्थिक नीतियों से केवल एक आदमी को फायदा हुआ है और वह ‘एक मोटा भाई’ है।

उन्होंने कहा, “किसी फेरीवाले की तरह वह जगह-जगह घूम रहे हैं, लेकिन काम नहीं कर रहे। वह बस चारों ओर घूम रहे हैं और खाली भाषण दे रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “वह (मोदी) इसी तरह से पश्चिम बंगाल गए और वहां उन्होने एक सभा को संबोधित किया, (लेकिन) किसी योजना की घोषणा नहीं की। उन्हें घूमने की आदत है।”

प्रधानमंत्री ने 16 जुलाई को पश्चिम बंगाल के दौरे के दौरान कहा कि पश्चिम बंगाल की सरकार का कथित रूप से “सर्वव्यापी सिंडिकेट” के साथ गठजोड़ है।

तृणमूल नेता ने कहा, “मैं आपको मोदी सिंडिकेट के बारे में बताता हूं। यहां ललित मोदी, नीरव मोदी और बड़े मोदी, जिनका मैं नाम नहीं ले रहा हूं। ये तीनों मिलकर देश को लूट रहे हैं।”

–आईएएनएस

Continue Reading

राजनीति

भाजपा डूबता जहाज : तारिक अनवर

“उन्हें गांधी-नेहरू परिवार पर हमले करने के बदले देश के हालात सुधारने पर ध्यान देना चाहिए। मोदी का अधिकांश भाषण कांग्रेस ने 60 सालों में क्या गलत किया और क्या कुछ नहीं किया, इसपर होता है।”

Published

on

NCP leader Tariq Anwar

नई दिल्ली, 20 जुलाई | राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता और सांसद तारिक अनवर ने शुक्रवार को भाजपा को डूबता जहाज बताया और कहा कि अब कोई इस जहाज पर सवार होने को तैयार नहीं है।

अनवर ने लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव के समर्थन में कहा कि यदि मौजूदा हालात, जैसा कि भाजपा कहती है, राम राज्य है, तो उन्हें आश्चर्य है कि फिर रावण राज क्या होगा।

उन्होंने कहा, “सरकार सबका साथ, सबका विकास के नारे के साथ सरकार में आई थी, लेकिन आज सरकार किसी के साथ नहीं है, और विकास गायब है।”

उन्होंने कहा, “भाजपा सरकार के पिछले चार वर्षो में बेरोजगारी बढ़ी है, किसान नाराज हैं, महिलाएं असुरक्षित हैं और अल्पसंख्यक और कमजोर वर्ग भयभीत हैं। पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ रही हैं। सरकार अच्छी विदेश नीति बनाने में भी विफल रही है।”

बिहार के कटिहार से सांसद अनवर ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने पिछले चार सालों में अधिकांश समय गांधी-नेहरू परिवार पर हमले करने में बिताया। सरकार राजनीतिक लाभ के लिए जांच एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही है।

उन्होंने कहा, “उन्हें गांधी-नेहरू परिवार पर हमले करने के बदले देश के हालात सुधारने पर ध्यान देना चाहिए। मोदी का अधिकांश भाषण कांग्रेस ने 60 सालों में क्या गलत किया और क्या कुछ नहीं किया, इसपर होता है।”

तारिक ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह की मॉब लिंचिंग पर की गई टिप्पणी पर कहा, “उनके स्पष्टीकरण से लगता है कि वह इसके मूक समर्थक हैं। यदि यह सरकार इस मुद्दे को लेकर गंभीर होती तो लिंचिंग के कारण 200 मौतें नहीं होती।”

उन्होंने कहा, “भाजपा नेतृत्व सिर्फ दो लोगों तक सीमित है। यही कारण है कि जिन्होंने भाजपा का समर्थन किया था, वे कहीं नहीं दिखते।” उन्होंने कहा कि जो तेलुगू देशम पार्टी कभी भाजपा का समर्थक थी, उसने अपने अलग रास्ते अपना लिए हैं।

उन्होंने कहा, “शिव सेना भी उनके साथ नहीं है। बिहार के मुख्यमंत्री और जद (यू) के अध्यक्ष नीतीश कुमार भी अपना रंग दिखाते रहते हैं।”

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular