Connect with us

राजनीति

लालू का ऐलान- राहुल 2019 में होंगे गैर बीजेपी दलों के पीएम पद के उम्मीदवार

Published

on

lalu-prasad
राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू यादव (फाइल फोटो)

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) अध्यक्ष लालू यादव ने राहुल गांधी को लेकर बड़ा ऐलान किया है। लालू ने कहा कि 2019 के आम चुनाव में राहुल गांधी गैर बीजेपी दलों की ओर से प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार होंगे। उन्होंने कहा कि मेरा समर्थन और मेरी पार्टी का समर्थन राहुल गांधी को है।

लालू ने कहा कि गुजरात चुनाव में पीएम मोदी राम के ना पर वोट मांग रहे हैं। यह साबित हो गया है कि बीजेपी गुजरात में हार रही है। इस वजह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम के नाम पर वोट मांगने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी राम के नाम पर वोट मांगकर ध्रुवीकरण की कोशिश कर रही है।

बता दें कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पार्टी अध्यक्ष बनने के एक कदम और नजदीक पहुंच गए हैं। राहुल के पक्ष में बीते मंगलवार को दाखिल किए गए सभी 89 नामांकनों को जांच में सही पाया गया और इस तरह अध्यक्ष पद के लिए चुनाव मैदान में वह अकेले उम्मीदवार हैं। एक बयान में कहा गया है, “कुल 89 नामांकन पत्रों में सभी में राहुल गांधी के नाम के प्रस्ताव पाए गए हैं। ये नामांकन पत्र सभी राज्यों से हैं।”

चुनाव के लिए निर्वाचन अधिकारी मुलापल्ली रामचंद्रन ने एक बयान में कहा, “हमने सभी नामांकन पत्रों की जांच की है और सभी 89 नामांकन पत्र वैध पाए गए हैं। अब सिर्फ एक मात्र वैध उम्मीदवार राहुल गांधी हैं, जो कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए चुनाव मैदान में हैं।”

नाम वापस लेने की आखिरी तारीख 11 दिसंबर है, और राहुल गांधी को उसी दिन नया कांग्रेस अध्यक्ष घोषित किए जाने की उम्मीद है।

wefornews bureau 

राजनीति

तेलंगाना में केसीआर-मोदी पर जमकर बरसे राहुल

Published

on

Rahul Gandhi Telangana
राहुल ने 'नया तेलंगाना' बनाने का वादा किया।

हैदराबाद। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को तेलंगाना में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव पर निशाना साधा और इसके साथ ही यहां उन्होंने अपनी पार्टी के चुनाव अभियान की शुरुआत की। राहुल ने दोनों नेताओं पर भ्रष्टाचार में संलिप्त होने का आरोप लगाया। ‘नया तेलंगाना’ बनाने का वादा करते हुए उन्होंने आदिलाबाद जिले के भैंसा कस्बे में एक विशाल जनसभा को संबोधित किया, जहां उन्होंने लोगों से कहा कि राज्य के पांच वर्ष बर्बाद हो गए, क्योंकि मुख्यमंत्री राव ने नए प्रदेश के सपनों को चूर-चूर कर दिया।

राहुल ने कहा कि कांग्रेस एक ऐसा तेलंगाना बनाएगी, जो भ्रष्टाचार और किसान आत्महत्या से मुक्त होगा।

चुनावी तिथियों की घोषणा के बाद तेलंगाना के अपने पहले दौरे के दौरान राहुल कामारेड्डी और हैदराबाद में भी जनसभाओं को संबोधित करेंगे।

कांग्रेस अध्यक्ष ने भैंसा में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी और केसीआर दोनों की सरकारें जाने वाली हैं।

उन्होंने आरोप लगाया कि केसीआर ने प्रदेश की एक सिंचाई परियोजना का नाम बदलकर कालेश्वरम कर बी.आर. अंबेडकर का अपमान किया है।

उन्होंने केसीआर पर अपने परिजनों और दोस्तों को फायदा पहुंचाने के लिए सिंचाई परियोजनाओं की डिजाइन बदल कर भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया है।

उन्होंने कहा, “इस परियोजना का नाम अंबेडकर के नाम पर रखा गया था और इसे 38,000 करोड़ रुपये की लागत से पूरा किया जाना था। अन्य सिंचाई परियोजनाओं की लागत बढ़ाने के लिए भी उन्हें फिर से डिजाइन किया गया।”

उन्होंने वादा किया कि अगर कांग्रेस सत्ता में आई तो पार्टी किसानों व जनजातीय लोगों की जमीनों की रक्षा करेगी और केसीआर सरकार द्वारा जबरदस्ती अधिग्रहित भूमि को लौटाने के लिए संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन(संप्रग) सरकार द्वारा लाए गए कानून को लागू करेगी।

उन्होंने दावा किया कि कानून का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना होगा कि किसानों की जमीन को बिना उनकी सहमति के नहीं लिया जाए और अगर उनकी सहमति से जमीन ली भी जाती है तो, उन्हें बाजार मूल्य से चार गुना ज्यादा मुआवजा दिया जाए।

राहुल ने कहा कि अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो पार्टी दो लाख रुपये तक का कृषि ऋण माफ करेगी और युवाओं को 3,000 रुपये बेरोजगारी भत्ता देगी।

उन्होंने कहा कि केसीआर प्रत्येक परिवार को एक नौकरी, प्रत्येक अनुसूचित जाति/जनजाति परिवार को तीन एकड़ जमीन, गरीबों के लिए दो कमरों का घर और सभी घर को पीने का पानी मुहैया कराने के अपने वादों को पूरा करने में विफल रहे हैं।

गरीबों के लिए कुछ नहीं करने के भाजपा के आरोप पर, राहुल ने दावा किया कि कांग्रेस ने मनरेगा और भोजन का अधिकार लाकर कई परिवारों को गरीबी से बाहर निकाला है।

राहुल ने कहा कि मोदी ने वादा किया था कि वह ‘चौकीदार’ की तरह काम करेंगे, लेकिन उन्होंने यह नहीं बताया कि किसकी ‘चौकीदारी’ करेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी अपने चहेतों -नीरव मोदी, विजय माल्या, मेहुल चोकसी, ललित मोदी और अनिल अंबानी- की ‘चौकीदारी’ कर रहे थे।

उन्होंने राफेल पर अपने आरोपों को दोहराते हुए कहा कि मोदी ने राफेल सौदे को सार्वजनिक क्षेत्र की हिंदुस्तान एयरोनोटिक्स लिमिटेड(एचएएल) से छीन लिया और 30,000 करोड़ रुपये का फायदा पहुंचाने के लिए इसे अनिल अंबानी को दे दिया।

राहुल ने कहा, “भारत के चौकीदार ने लोगों का पैसा चुरा लिया है।”

कांग्रेस नेता ने मोदी पर नफरत फैलाने का भी आरोप लगाया।

उन्होंने कहा, “वह एक धर्म के लोगों को दूसरे धर्म के खिलाफ, एक जाति के लोगों को दूसरी जाति के खिलाफ, एक क्षेत्र के लोगों को दूसरे क्षेत्र के लोगों के खिलाफ खड़ा करते हैं।”

राहुल ने कहा, “वह देश को कमजोर कर रहे हैं। कांग्रेस धर्म, जाति और क्षेत्र से ऊपर उठकर लोगों को एकजुट करने में विश्वास करती है।”

–आईएएनएस

Continue Reading

राजनीति

कोविंद, मोदी और राहुल ने अमृतसर ट्रेन हादसे पर जताया दुख

Published

on

amritsar

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पंजाब के अमृतसर ट्रेन हादसे पर दुख व्यक्त किया और शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट की।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट किया कि पंजाब के अमृतसर में रेल की पटरी पर हुए हादसे की खबर सुनकर दुखी हूं। मैं समझता हूं कि भारतीय रेलवे और स्थानीय अधिकारी प्रभावित लोगों को मदद पहुंचा रहे होंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्रेन हादसे पर दुख व्यक्त किया और अधिकारियों को तत्काल पीड़ित लोगों को सहायता पहुंचाने का निर्देश दिया। मोदी ने ट्वीट किया कि अमृतसर में ट्रेन हादसे से बेहद दुखी हूं। यह दुख भरी घटना दिल दहलाने वाली है। उन्होंने कहा कि मेरी संवेदनाएं उन परिवारों के साथ हैं जिन्होंने अपने परिजन को खोया है और मैं घायल लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। जरूरतमंद लोगों को तत्काल सहायता पहुंचाने का निर्देश अधिकारियों को दिया गया है।

अमृतसर में हुए ट्रेन हादसे पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दुख जताया है। उन्होंने कहा कि ख़बर से बहुत आहत हूं| मेरी संवेदनाएं इस हादसे में मारे गए और पीड़ितों के परिवारों के साथ है। राज्य सरकार एवं कांग्रेस पार्टी के साथियों से मेरा आग्रह है कि राहत और बचाव कार्य में अपना पूर्ण योगदान दें और पीड़ितों को हर संभव मदद पहुंचाएं|

दशहरे के दिन पंजाब के अमृतसर में बड़ा रेल हादसा हो गया। रेलवे ट्रैक पर खड़े होकर रावण दहन देख रही भीड़ पर ट्रेन चढ़ गई जिससे 61 लोगों की मौत हो गई।

WeForNews 

Continue Reading

राजनीति

बिहार के बेगूसराय से भाजपा सांसद भोला सिंह का निधन

Published

on

-bhola-singh-
File Photo

बिहार के बेगूसराय से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद भोला सिंह का शुक्रवार रात दिल्ली के एक अस्पताल में निधन हो गया।

वे 79 साल के थे। दिल्ली के राममनोहर लोहिया अस्पताल में शुक्रवार रात उन्होंने अंतिम सांस ली। सिंह के परिजनों के मुताबिक, वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे और उन्हें चार दिन पहले राममनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

भोला सिंह बेगूसराय से आठ बार विधायक चुने गए। वह कम्युनिस्ट पार्टी, कांग्रेस, राष्ट्रीय लोकदल जैसी पार्टियों के भी सदस्य रहे थे। 2014 में सिंह बेगूसराय से भाजपा के सांसद चुने गए। तीन जनवरी 1939 को जन्मे सिंह बिहार में भी कई विभागों का मंत्री पद का दायित्व संभाल चुके थे।

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular