Connect with us

अन्य

जानिए 2018 में किन राशियों पर रहेगा शनि का प्रकोप…

Published

on

शनि को हमेशा से ही ऐसे ग्रह के तौर पर माना जाता है जिसकी चाल किसी के लिए खुशियां तो किसी के लिए गम लेकर आ सकती हैं।

शनि को हमेशा से ही क्रोधी प्रवृत्ति का माना जाता है। जब भी शनि की बात हो तो वह कौन से भाव में तथा किस धातु के पाद में है यह जानना अति आवश्यक हो जाता है क्योंकि इससे जीवन में शुभ-अशुभ, हानि-लाभ, घटना-दुर्घटना, उत्थान-पतन आदि के बारे में संकेत मिलते हैं। आइए जानिए कि साल 2018 में आपकी राशि में शनि किस भाव में रहेगा।

मेष- नवें भाव में रजत के पाये पर शनि के होने से लाभ, शुभ, सफलता और आर्थिक वृद्धि होगी।

वृषभ- आठवें भाव में लौह के पाये पर शनि के भ्रमण से कष्ट, दुख, परिवार आदि में कलह, अड़चनों का संकेत, शनि की ढैय्या से प्रभावित होंगे।

मिथुन- सातवें भाव में तांबे के पाये पर शनि के होने पर धन-सम्पदा, लाभ देवी लक्ष्मी की कृपा के योग बन रहे हैं। वैवाहिक जीवन का प्रारंभ होगा तथा पत्नी सुख, शांति, आरोग्य काया और उन्नति मिलेगी।

कर्क- छठें भाव में सुवर्ण पाद पर शनि का भ्रमण सुख-दुख, लाभ-हानि, श्रम-संघर्ष की समान स्थिति रहेगी। पारिवारिक सुख में बाधा उत्पन्न होगी। धोखे का भय सताएगा। लगातार कई उतार चढ़ाव से परेशान रहेंगे।

सिंह- पांचवें में रजत के पाये पर शनि के भ्रमण से लाभ, सुख, आर्थिक, सामाजिक, पारिवारिक स्थिति सुखमय रहेगी।

कन्या- चतुर्थ भाव में लौह पाद पर शनि से अशांति, कलह और अड़चनें रहेंगी। व्यवसाय में लाभ कम, हानि अधिक होगी। सिर दर्द और छोटी-मोटी बीमारियों से परेशान रहेंगे।

तुला- तीसरे भाव में ताम्र के पाये में शनि भ्रमण से देवी लक्ष्मी की कृपा, उद्योग, व्यापार में उन्नति होगी। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। इस राशि के जातकों को शनि की कृपा से सभी श्रेष्ठमय, सुखमय स्थिति प्राप्त होगी।

वृश्चिक- द्वितीय भाव में रजत पाद पर शनि तथा पैरों की ओर से उतरती शनि की साढ़ेसाती शुभ, मंगल, लाभकारी, अर्थोपार्जन में वृद्धि होगी। प्रसन्नता रहेगी। मकान, वाहन, जमीन, प्रॉपर्टी में विस्तार, व्यापार में लाभ होगा।

धनु- प्रथम भाव में सुवर्ण पाद पर शनि रहेंगे। ह्रदय के मध्य भाग पर शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव सुखद नहीं है। आय से अधिक व्यय होगा। व्यापार में हानि के योग बनेंगे। श्रम तथा संघर्ष अधिक होगा। स्वास्थ्य की चिंता सताएगी। कहीं बाधा, कहीं असंतोष रहेगा। परिवार में अशांति होगी।

मकर- बारहवें भाव में लौह पाद पर शनि का भ्रमण, सिर पर शनि की साढ़ेसाती का दुखद प्रभाव रहेगा। कलह, कष्ट, विघ्न-बाधा के साथ-साथ परिवार के किसी सदस्य का विछोह संभव है। उद्योग व्यापार में अनिश्चितता रहेगी।

कुंभ- ग्याहरवें भाग में सुवर्ण पाद पर शनि रहेंगे। संघर्ष के बावजूद सफलता अनिश्चित रहेगी। मानसिक उद्विग्नता, उदासी, अशांति लेकिन व्यवसाय उद्योग में उन्नति के योग बन रहे हैं।

मीन- दसवें भाव में ताम्र पाद पर शनि भ्रमण करेंगे। धनाभाव से मुक्ति मिलेगी और देवी लक्ष्मी की कृपा प्राप्त करेंगे। स्त्री सुख, परिवार में शांति बनी रहेगी। स्वास्थ्य लाभ, सहयोगी, मित्रों से प्रसन्नता के संबंध बने रहेंगे।

wefornews 

अन्य

बांधवगढ़ ले जाए जाएंगे उत्पाती हाथी

Published

on

Elephant

भोपाल, 19 सितंबर | छत्तीसगढ़ में उत्पात मचाने वाले हाथी काफी समय से मध्य प्रदेश के सीधी जिले में घुसकर उत्पात मचा रहे हैं। इस दौरान दो लोगों की मौत होने के अलावा संपत्ति का भारी नुकसान हो चुका है। वन अमले ने इन हाथियों को कब्जे में ले लिया है और इन्हें बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान भेजने की तैयारी हो रही है। वन विभाग की ओर से बुधवार को दी गई आधिकारिक जानकारी में बताया गया कि छत्तीसगढ़ के हाथी मवई नदी को पार कर सीधी जिले में घुस गए और यहां जमकर उत्पात मचाया। इन हाथियों ने कुंदौर गांव के कच्चे घरों को तोड़कर उनमें रखा अनाज खा लिया और खेतों की फसलों को तबाह कर दिया।

हाथियों के बढ़ते आतंक को देखते हुए टाइगर रिजर्व प्रबंधन ने तत्काल सोलर लाइट गांव की सीमा पर लगा कर हाथियों को गांव में घुसने से रोका। इसके बाद हाथी अन्य गांवों में भी इसी तरह उत्पात मचाते हुए सीधी मुख्यालय की 15 किलोमीटर की परिधि में पहुंच गए। हाथियों को भगाने के लिए पश्चिम बंगाल से विशेषज्ञ भी बुलाए गए। अगस्त से सितंबर के बीच इन उत्पाती हाथियों ने दो ग्रामीणों की जान भी ले ली।

उत्पाती हाथियों पर काबू पाने के लिए बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के संचालक मृदुल पाठक के नेतृत्व में अधिकारियों और कर्मचारियों के दल ने अभियान चलाया और कुल पांच हाथियों को कब्जे में ले लिया है। इन हाथियों को बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान ले जाया जाएगा।

–आईएएनएस

Continue Reading

अन्य

हिंदी ब्लॉग्स को हर महीने 3 करोड़ पेज व्यू : मॉमस्प्रेसो

Published

on

Hindi Blog

नई दिल्ली, 14 सितम्बर | भारत के महिलाओं के लिए सबसे बड़े यूजर-जनरेटेड कंटेंट प्लेटफार्म मॉमस्प्रेसो ने हिंदी दिवस (14 सितंबर) पर अपने 6,500 से ज्यादा ब्लॉगर्स के डेटा का विश्लेषण कर नई रिपोर्ट प्रस्तुत की है। विश्लेषण कहता है कि हिन्दी ब्लॉग्स ने हर महीने 3 करोड़ से ज्यादा पेज व्यू हासिल की है। इसमें से 95 प्रतिशत की खपत पाठकों ने मोबाइल पर की है।

प्लेटफार्म ने बताया कि हिंदी पेज व्यू अंग्रेजी से ज्यादा हो गए हैं और इस समय कुल पेज व्यू का 50 प्रतिशत हो गया है।

मॉमस्प्रेसो की ओर से जारी बयान में कहा गया कि प्लेटफार्म पर हिंदी में लेखन की सूची मुख्य रूप से उन शहरों की माताओं ने तैयार की है, जिनकी तुलनात्मक रूप से भागीदारी कम रही है। इनमें पटना, आगरा, लखनऊ, शिमला, भुवनेश्वर और इंदौर शामिल है। 75 प्रतिशत हिन्दी ब्लॉग्स को मॉमस्प्रेसो मोबाइल ऐप के जरिये लिखा गया है, जबकि अंग्रेजी में ऐसा नहीं है। 60 प्रतिशत ब्लॉगर्स अभी भी ब्लॉग लिखने के लिए डेस्कटॉप उपयोग करते हैं। मोबाइल ऐप पर बने हिन्दी ब्लॉग्स में से 93 प्रतिशत एंड्रायड फोन पर बने हैं। प्लेटफार्म पर इस समय 1,595 हिन्दी ब्लॉगर्स हैं, जिन्होंने अब तक 14,746 ब्लॉग्स बनाए हैं। हर महीने करीब 1,800 ब्लॉग्स जोड़े जा रहे हैं।

मॉमस्प्रेसो ने बताया कि हिन्दी की अधिकतम रीडरशिप लखनऊ, जयपुर, इंदौर, चंडीगढ़, आगरा और पटना से है। यह भी बताया गया कि 95 प्रतिशत यूजर्स ने लेखन का इस्तेमाल मोबाइल पर किया। जिस कंटेंट ने अधिकतम रीडरशिप (65 प्रतिशत) हासिल की, वह ‘मां की जिंदगी’ या ‘मॉम्स लाइफ’ सेक्शन था। रिलेशनशिप्स से लेकर पैरेंटिंग और सामाजिक उत्तरदायित्व तक का लेखन इस पर उपलब्ध है। अन्य लोकप्रिय सेक्शन में प्रेग्नेंसी, बेबी, हेल्थ और रैसिपी भी शामिल हैं।

हिंदी पोस्ट्स को अंग्रेजी की तुलना में 4.2 गुना ज्यादा एंगेजमेंट मिला। इसमें लाइक्स, शेयर और कमेंट्स शामिल हैं। हिन्दी में हाइपर एंगेजमेंट की एक बड़ी वजह हिन्दी कंटेंट की क्वालिटी है। पहली बार महिलाओं को कई मुद्दों पर अपने विचार अभिव्यक्त करने के लिए सुरक्षित स्थान मिला है। कई महिलाएं जो लैंगिंक भेदभाव, सामाजिक मुद्दों और अन्य वजहों से खुलकर बोल नहीं पाती थी, वह भी इस पर अपने आपको अभिव्यक्त कर रही है।

मॉमस्प्रेसो के सह-संस्थापक और सीईओ विशाल गुप्ता ने कहा, “हमारा विजन यह है कि अगले तीन वर्षो में हमारे प्लेटफॉर्म पर सभी माताओं में से 70 फीसदी को लेकर आना है और क्षेत्रीय भाषा लेखन इस लक्ष्य को प्राप्त करने में महत्वपूर्ण है। हमें गर्व है कि मॉमस्प्रेसो एक ऐसा मंच प्रदान कर रहा है जहां भारत भर की माताएं बिना डर के अपने विचार व्यक्त कर रही हैं। इन विषयों पर बहस और चर्चाओं को प्रोत्साहित करती हैं। पिछले 12 महीनों में हमारे ट्रैफिक चार गुना बढ़ा है और हिंदी की भूमिका इस विकास में महत्वपूर्ण रही है। इस समय हमारे पास चार अन्य क्षेत्रीय भाषाओं में लेखन है और वर्ष के अंत से पहले हमारी योजना 3 और जोड़ने की है।

हिंदी भाषा लेखन का उपयोग करने वाले ब्रांड्स की संख्या 2017 के 6 फीसदी से बढ़कर 2018 में 27 फीसदी हो गई है। इसमें पैम्पर्स, डेटॉल, बेबी डव, नेस्ले, जॉनसन एंड जॉन्सन, एचपी, ट्रॉपिकाना एसेंशियल्स और क्वैकर जैसे ब्रांड शामिल हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading

अन्य

हिंदी के प्रख्यात गीतकार और कवि गोपाल दास नीरज का निधन।

Published

on

Gopaldas Neeraj

हिंदी के प्रख्यात गीतकार और कवि गोपाल दास नीरज का गुरुवार को यहां के एम्स में देर शाम 7:50 बजे निधन हो गया। मंगलवार को तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें आगरा के लोटस हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, लेकिन तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर उन्हें एम्स लाया गया, जहां उन्होंने आखिरी सांस ली।

उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के पुरवली गांव में चार जनवरी, 1925 को जन्मे गोपाल दास नीरज हिंदी मंचों के प्रसिद्ध कवियों में शुमार थे। उन्होंने बॉलीवुड फिल्मों को भी कई सुपरहिट गाने दिए। उन्हें उनकी उत्कृष्ट रचनाओं के लिए कई बार सम्मानित किया गया था। उन्होंने तीन बार फिल्म फेयर अवार्ड भी अपने नाम किया था।

मशहूर कवि और गीतकार गोपाल दास नीरज को 1991 में पद्मश्री और 2007 में पद्मभूषण सम्मान से भी नवाजा गया था। साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार ने भी यश भारती सम्मान से सम्मानित कर उनके दमदार लेखनी को सराहा था।

गोपालदास को सांस लेने में तकलीफ थी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बुधवार को तबीयत में सुधार की भी खबरें आई थीं, लेकिन गोपालदास ने आखिर में दुनिया को अलविदा कह ही दिया।

–आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
ananth kumar
राजनीति13 hours ago

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार की अंत्येष्टि में उमड़े हजारों लोग

Smiley-Flipkart-
व्यापार14 hours ago

Flipkart के सीईओ का इस्तीफा

sensex-min
व्यापार14 hours ago

शेयर बाजारों में तेजी, सेंसेक्स 332 अंक ऊपर

jammu and kashmir-min
राष्ट्रीय14 hours ago

जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ करता आतंकी ढेर

मनोरंजन14 hours ago

दीपिका-रणवीर की शादी में प्रस्तुति देंगी हर्षदीप कौर

Sonali Bendre -
मनोरंजन14 hours ago

शादी की 16वीं सालगिरह पर सोनाली ने लिखा इमोशनल पोस्ट…

राष्ट्रीय15 hours ago

यूपी में बिजली से परेशान किसान बैठे धरने पर

Opration
शहर15 hours ago

हैरतअंगेज! युवती के पेट से निकला खजाना

राजनीति15 hours ago

दसॉल्ट सीईओ का बयान भरोसे लायक नहीं: कांग्रेस

whatsapp
टेक15 hours ago

व्हाट्स एप सुरक्षित नहीं किए गए सभी चैट डिलीट करेगा

jeans
लाइफस्टाइल4 weeks ago

जानिए जीन्स का इतिहास, इसमें छुपे एक-एक राज…

Modi Shah
ब्लॉग4 weeks ago

गोवा में एक बार फिर राजनीति का सबसे घिनौना चेहरा सामने है!

mahesh bhatt
ब्लॉग4 weeks ago

‘मी टू मूवमेंट’ का एकजुट होकर समर्थन करना चाहिए : महेश भट्ट

unemployment in India
ब्लॉग4 weeks ago

नई नौकरियां नहीं पैदा हुई, देश में बढ़ी बेरोजगारी दर

jan-dhan-bank-
ब्लॉग4 weeks ago

‘आयुष्मान योजना काफी नहीं, लोगों को मिले स्वास्थ्य का अधिकार’

Sleep
लाइफस्टाइल3 weeks ago

सुबह बिस्तर से उठने का मन नहीं करता, तो हो सकती है ये बीमारी

Whatsapp-
टेक1 week ago

वॉट्सऐप में जुड़ा नया फीचर, कर सकेंगे प्राइवेट रिप्लाई

yoga1
अंतरराष्ट्रीय3 weeks ago

‘चीन में किशोरावस्था से लोग करते हैं योग’

Manoj Nath Myar Madhuli Wana
मनोरंजन4 days ago

लेटेस्ट कुमाऊनी गीत ‘म्यर मधुली वाना’ रिलीज

oily-skin--
लाइफस्टाइल4 weeks ago

वायु प्रदूषण पहुंचा रहा त्वचा को नुकसान

SHIVRAJ
राजनीति20 hours ago

वोट मांगने गई शिवराज की पत्नी को महिला ने सुनाई खरी खोटी…देखें वीडियो

kedatnath-
मनोरंजन2 days ago

सुशांत की फिल्म ‘केदारनाथ’ का ट्रेलर रिलीज

Manoj Nath Myar Madhuli Wana
मनोरंजन4 days ago

लेटेस्ट कुमाऊनी गीत ‘म्यर मधुली वाना’ रिलीज

शहर1 week ago

गुजरात के गांधीनगर सचिवालय में तेंदुआ घुसने से मचा हड़कंप

राजनीति1 week ago

दो से ज्यादा बच्चे पैदा करे उसे न हो मतदान का अधिकार: रामदेव

Rajniknat-
मनोरंजन2 weeks ago

अक्षय और रजनीकांत की फिल्म ‘2.0’ का ट्रेलर रिलीज

Patna
शहर2 weeks ago

पटना में महिला पुलिसकर्मी की मौत पर फूटा गुस्सा

kapil sibal
राजनीति2 weeks ago

कोर्ट फैसला करेगा कि अयोध्‍या केस की सुनवाई कब हो: सिब्‍बल

शहर2 weeks ago

लंदन में दिवाली से पहले यूं जश्न मनाती दिखीं महिलाएं

Diljit Dosanjh-
मनोरंजन3 weeks ago

दिलजीत दोसांझ का नया गाना ‘पुत जट्ट दा’ रिलीज

Most Popular