Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

इस डर से किम जोंग ने नहीं छूआ अमेरिकी पेन

Published

on

kim jon un-

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और नॉर्थ कोरिया के नेता किम जोंग की मुलाकात को लेकर दुनियाभर में चर्चा हो रही है। इस मुलाकात में दोनों देशों ने अपने रिश्ते सुधारने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर भी किए हैं।

हालांकि एक समय ऐसा भी था, जब दोनों नेता एक दूसरे को फूटीं आंख देखना भी पसंद नहीं करना चाहते थे। दोनों एक-दूसरे पर जुबानी हमले करने से पीछे नहीं हट रहे थे। ऐसा लग रहा था कि अमेरिका उत्तर कोरिया पर हमला ना कर दे। लेकिन अब दोनों नेताओं ने आपसी संबंध सुधारने के लिए कदम बढ़ाए हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और नॉर्थ कोरिया के नेता किम जोंग के बीच मंगलवार को सिंगापुर में ऐतिहासिक बैठक हुई। इस मुलाकात में कई ऐसे पल आए, जिससे लग रहा था कि दोनों नेताओं को एक दूसरे पर भरोसा नहीं है। ऐसा लग रहा था कि किंम जोंग हर कदम पर बहुत सावधानी बरत रहे थे।

वह कोई भी कदम उठाने से पहले कई बार सोच रहे थे। इसका अंदाजा दोनों देशों के बीच हुए समझौते पर साइन करने के दौरान घटी एक घटना से पता चलता है। जब समझौते पर साइन करने की बात आई तो अमेरिका की तरफ से दोनों नेताओं के सामने शार्पी पेन रखा गया।

किम के साइन करने से पहले इस पेन को उनके सिक्योरिटी गार्ड ने साफ किया। इसके बाद भी किम जोंग ने अमेरिकी पेन को छुआ तक नहीं। किम की बहन ने उनको दूसरा पेन दिया। जिससे उन्होंने समझौते पर हस्ताक्षर किए। किम के द्वारा अमेरिकी पेन को हाथ नहीं लगाने की खबर को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं।

खबरों के मुताबिक किम को अपने डीएनए के सार्वजनिक होने का डर सता रहा था। डेली मेल की खबर के मुताबिक, किम को डर था कि कहीं उसका डीएनए सार्वजनिक ना हो जाए या फिर उनको लग रहा था कि पेन में जहर हो सकता है।

इतना ही नहीं किम अपनी सिंगापुर की यात्रा के दौरान पोर्टेबल टॉयलेट भी लेकर आए थे। इसके पीछे भी किम की सुरक्षा को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं। कहा जा रहा है कि पोर्टेबल टॉयलेट लाने के पीछे उनका मकसद था कि कहीं कोई उनकी स्टूल यानि मल की जांच ना कर ले।

WeForNews

अंतरराष्ट्रीय

किम जोंग उन 2 दिवसीय दौरे पर चीन पहुंचे

Published

on

kim jong un
File Photo

उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन मंगलवार से चीन के दो दिवसीय दौरे पर हैं। किम जोंग की मार्च 2018 के बाद से यह चीन का तीसरा दौरा है।

चीन की सरकारी मीडिया ने मंगलवार सुबह इस खबर की पुष्टि की। किम जोंग का यह दौरान अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ 12 जून को सिंगापुर में हुई वार्ता के कुछ दिनों बाद हो रहा है। सिंगापुर में ट्रंप और किम जोंग ने कोरियाई प्रायद्वीप के परमाणु निरस्त्रीकरण को लेकर प्रतिबद्धता जताई थी। चीन, उत्तर कोरिया का एकमात्र निकट सहयोगी देश है।

–आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

धोखाधड़ी के आरोप में ऑडी का सीईओ गिरफ्तार

Published

on

audi_ceo
ऑडी एजी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) रूपर्ट स्टैडलर (फाइल फोटो)

मेड्रिड। ऑडी एजी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) रूपर्ट स्टैडलर को धोखाधड़ी के आरोप में सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया। कंपनी के प्रवक्ता ने यह जानकारी दी।

समाचार एजेंसी एफे न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, जर्मनी के अभियोजन पक्ष ने स्टैडलर और ऑडी के एक अन्य कार्यकारी को कंपनी के उत्सर्जन घोटाले में धोखाधड़ी और झूठे विज्ञापन देने वाले संदिग्ध के रूप में नामित किया।

प्रवक्ता ने कहा, “हम पुष्टि करते हैं कि स्टैडलर को आज सुबह गिरफ्तार कर लिया गया है और उन्हें हिरासत में रखने के मामले में सुनवाई जारी है। “

कार निर्माता ने इस मुद्दे पर चल रही जांच का हवाला देते हुए टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। फॉक्सवैगन के प्रवक्ता ने भी इस गिरफ्तारी की पुष्टि की है।

–आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

अमेरिका: डेमोक्रेट नेताओं ने प्रवासी बच्चों के लिए उठाई आवाज

Published

on

Donald Trump

अमेरिका के डेमोक्रेट सांसदों ने डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के मेक्सिको सीमा पर प्रवासी बच्चों को उनके मां-बाप से अलग करने की नीति के खिलाफ अपने अभियान का विस्तार किया।

समाचार पत्र वाशिंगटन पोस्ट के मुताबिक, कई रिपब्लिकन नेताओं की चुप्पी के खिलाफ रविवार को डेमोक्रेट सांसदों ने न्यूयॉर्क शहर के बाहरी इलाके में स्थित एक सुधार केंद्र का दौरा किया और टेक्सास जाकर सुधार गृहों में रखे गए बच्चों को मिलने वाली सुविधाओं का जायजा लिया।

टेक्सास के मैकएलेन में जहां कई डेमोक्रेट सांसदों ने सुधार गृह का दौरा किया, राज्य प्रतिनिधि वीसेंटे गोंजालेज का अनुमान है कि उन्होंने वहां छह साल से कम उम्र के 100 बच्चे देखे।

उन्होंने कहा,”यह सुव्यवस्थित था, लेकिन यह उस चीज से दूर था, जिसे हम मानवीय कहते हैं।”

न्यूयॉर्क के प्रतिनिधि एड्रियानो एस्पाइलैट ने कहा,”यह अनुचित और असंवैधानिक है।”

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular