Connect with us

राजनीति

21 फरवरी को कमल हासन करेंगे पार्टी के नाम का ऐलान

Published

on

kamal-hasan
File Photo

बॅालीवुड के सुपरस्टार कमल हासन अब राजनीति में एंट्री लेने की तैयारी हैं। कमल हासन ने इस बात का ऐलान आधिकारिक तौर पर कर दिया है। आगामी 21 फरवरी को कमल हासन तमिलनाडु के रामनाथपुरम में राजनीतिक पार्टी का औपचारिक ऐलान करेंगे।

इसके साथ ही कमल हासन इसी दिन अपनी ताकत का प्रदर्शन करने के लिए राज्यव्यापी यात्रा की शुरुआत करेंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कमल हासन कई चरणों में अपनी राज्यव्यापी सफर को पूरी करेंगे। हासन पहले अपने गृहजनपद रामानाथपुरम से मधुरई, दिंडीगुल और सिवगंगई की यात्रा करेंगे।

इसके बाद वह अपनी यात्रा को आगे बढ़ेंगे। कमल हासन ने लगभग एक साल पहले ही इस बात के संकेत दे दिए थे कि वह राजनीति में आना चाहते हैं और किसी राजनीतिक दल के साथ मिलकर काम करने की बजाय वह अपनी पार्टी बनाकर चुनाव लड़ने के इच्छुक हैं।

मंगलवार को तमिलनाडु में मीडिया को संबोधित करते हुए हासन ने कहा कि वह अपनी राजनीतिक यात्रा को चुनौती देने का इरादा रखते हैं, जो कुछ वक्त से तमिलनाडु की राजनीति को तोड़ने का प्रयास कर रही हैं। उन्होंने यह भी कहा कि उन्होंने राजनीतिक पार्टी का गठन सिर्फ इसलिए करना चाहते हैं ताकि सामूहिक आवाज को बुलंद करना है।

उन्होंने यह भी कहा कि आम लोगों को किस तरह की समस्या हो रही है, उनके राजनेताओं से क्या उम्मीदे हैं और वह किस तरह से प्रदेश का विकास होते हुए देखना चाहते हैं, वह इन सभी मुद्दों को जानना चाहते हैं और इसके लिए वह यात्रा के दौरान आम जनता से मुलाकात करेंगे।

पिछले साल अक्टूबर में चेन्नई में शिवाजी गणेशन मेमोरियल के उद्घाटन में एक्टर कमल हासन और रजनीकांत दोनों ही पहुंचे थे। इस दौरान कमल हासन और रजनीकांत ने एक दूसरे से काफी देर तक बात की। कार्यक्रम के बाद रजनीकांत ने बोला था की, जब उन्होंने कमल हासन से पूछा कि राजनीति में कैसे सफल हों तो उन्होंने कहा- ‘मेरे साथ आइए तब मैं आपको इसका जवाब दूंगा’। उन्होंने यह पहले ही कहा है कि अगर सुपरस्टार रजनीकांत राजनीति में आते हैं तो वह उनसे हाथ मिलाना पसंद करेंगे।

Wefornews Bureau

राजनीति

राहुल-सोनिया 23 को अमेठी-रायबरेली दौरे पर

Published

on

By

sonia gandhi and rahul gandhi

लखनऊ/अमेठी, 18 जनवरी 2019 । कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी अपनी मां व संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ 23 जनवरी को अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी के दो दिवसीय दौरे पर आ रहे हैं।

दोनों विशेष विमान से फुरसतगंज हवाईअड्डे पर उतरेंगे। राहुल गांधी वहां से सड़क मार्ग से अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी पहुंचेंगे। वह वहां तिलोई व सलोन क्षेत्र में आयोजित कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे, जबकि सोनिया गांधी अपने संसदीय क्षेत्र रायबरेली में रहेंगी और कई कार्यक्रमों में शिरकत करेंगी। दोनों नेता भएमऊ गेस्ट हाउस में रात्रि विश्राम करेंगे। जिला प्रशासन ने राहुल गांधी के दो दिवसीय कार्यक्रम की पुष्टि की है।

अपने दो दिनी अमेठी दौरे में राहुल अमेठी में पार्टी के कार्यक्रम के साथ जिला सतर्कता एवं निगरानी समिति की बैठक में भाग लेंगे। राहुल गांधी तिलोई विधानसभा क्षेत्र के ग्राम प्रधानों के साथ बहादुरपुर (जायस) में बैठक करेंगे। इसके बाद 24 जनवरी को जिला मुख्यालय पर होने वाली जिला सतर्कता एवं निगरानी समिति की बैठक की अध्यक्षता करेंगे। जिला सतर्कता एवं निगरानी समिति की बैठक में 36 विभागों के 38 कार्यक्रमों की समीक्षा करेंगे।

क्षेत्र भ्रमण के साथ ही राहुल कार्यकर्ता जगदीश पीयूष व सुनीता सिंह के घर शोक संवेदना व्यक्त करने जाएंगे। जगदीश पीयूष की पत्नी और सुनीता सिंह के पिता का हाल ही में निधन हो गया था।

जिलाधिकारी शकुंतला गौतम ने राहुल गांधी के दो दिवसीय कार्यक्रम का पुष्टि की है। तीन राज्यों में जीत के बाद अपने संसदीय क्षेत्र आ रहे राहुल गांधी का यह दौरा काफी अहम मना जा रहा है।

राहुल 4 जनवरी को अमेठी आने वाले थे, लेकिन संसद सत्र में भाग लेने की वजह से वह नहीं आ सके थे।

Continue Reading

राजनीति

राहुल ने ममता को पत्र लिखा, रैली के लिए समर्थन जताया

Published

on

By

rahul gandhi

नई दिल्ली, 18 जनवरी 😐 तृणमूल कांग्रेस की शनिवार को होने वाली विशाल रैली में हिस्सा नहीं लेने का फैसला करने के बाद, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को एक संदेश भेजकर कार्यक्रम के लिए अपना समर्थन जताया है। इसके साथ ही उन्होंने उम्मीद जताई कि ‘एकता का प्रदर्शन’ एक ‘संगठित भारत के विचार’ के संदेश को दर्शाएगा, जिसे भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी क्षतिग्रस्त करना चाहते हैं।

अपने संदेश में तृणमूल कांग्रेस प्रमुख को ‘ममता दी’ संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि पूरा विपक्ष इस विश्वास के साथ एकजुट है कि सच्ची देशभक्ति और विकास की रक्षा केवल लोकतंत्र, समाजिक न्याय और धर्मनिरपेक्षता के जांचे परखे स्तंभ ही कर सकते हैं। इन विचारों को भाजपा और मोदी नष्ट करना चाहते हैं।

कांग्रेस नेताओं ने कहा है कि राहुल, बनर्जी द्वारा बुलाए गए विपक्षी दलों की रैली में शामिल नहीं होंगे, जिसका आयोजन आगामी लोकसभा चुनाव से पहले नरेंद्र मोदी सरकार के विरुद्ध विपक्षियों की ताकत दर्शाने के लिए किया जा रहा है।

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि इस रैली में पार्टी की तरफ से लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और पार्टी के राज्यसभा सदस्य अभिषेक मनु सिंघवी शामिल होंगे।

राहुल व बनर्जी दोनों को प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर देखा जा रहा है।

राहुल ने कहा, “मैं एकता के इस प्रदर्शन में ममता दी को अपना समर्थन देता है और उम्मीद करता हूं कि हम एक साथ मिलकर संगठित भारत का मजबूत संदेश देंगे।”

उन्होंने कहा, “हम बंगाल के उन महान लोगों की सराहना करते हैं, जो हमारे विचारों की रक्षा के लिए ऐतिहासिक रूप से आगे रहे हैं।”

Continue Reading

राजनीति

‘देश को बदलाव की जरूरत है और एक नए पीएम की भी’

Published

on

Akhilesh Yadav

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष नेता अखिलेश यादव ने पीएम मोदी पर निशान साधा। उन्होंने कहा कि देश को बदलाव की जरूरत है और एक नए प्रधानमंत्री की भी।

बता दें कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कोलकाता में शनिवार (19 जनवरी) को मोदी सरकार के खिलाफ मेगा रैली कर रही हैं। रैली में 19 क्षेत्रीय दलों ने अब तक समर्थन का ऐलान कर दिया है।

WeForNews

Continue Reading

Most Popular