भ्रष्टाचार और रोजगार पर धधक उठा इराक, 400 से ज्यादा मौत के बाद पीएम का इस्तीफा | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

भ्रष्टाचार और रोजगार पर धधक उठा इराक, 400 से ज्यादा मौत के बाद पीएम का इस्तीफा

Published

on

Iraq Protest
इराक में 60 दिनों से बेरोजगारी और भ्रष्टाचार के खिलाफ प्रदर्शनों में चार सौ से ज्यादा लोग मारे गए। (फोटो: सोशल मीडिया)

इराक में 60 दिनों से बेरोजगारी और भ्रष्टाचार के खिलाफ हो रहे रहे प्रदर्शनों में चार सौ से ज्यादा लोग मारे गए। इराक के प्रधानमंत्री अदेल अब्दुल महदी ने इस्तीफे का ऐलान कर दिया है। उन्होंने अपना इस्तीफा संसद को सौंप दिया, जिसके बाद पीएम ने कार्यवाहक सरकार के कर्तव्यों पर चर्चा करने के लिए विशेष संसद सत्र बुलाया। अब्दुल महदी ने 29 नवंबर को घोषणा की थी कि वह संसद को अपना इस्तीफा सौंपेंगे, ताकि सांसद सरकार विरोधी प्रदर्शनों के जवाब में एक नई सरकार चुन सके।

बता दें कि इस साल अक्टूबर से ही इराक की राजधानी बगदाद के अलावा मध्य और दक्षिणी इराक के अन्य शहरों में बड़े स्तर पर विरोध प्रदर्शन जारी है। यहां के लोग व्यापक सुधार, भ्रष्टाचार के खिलाफ जंग, नौकरियों और बेहतर सार्वजनिक सेवाओं की मांग को लेकर सड़कों पर निकल पड़े हैं।

इराक के धर्म गुरु कई दिनों से प्रधानमंत्री अदेल अब्दुल महदी से इस्तीफे की मांग कर रहे थे. इराक के शीर्ष धर्मगुरु अयातुल्ला अली अल-सिस्तानी ने नसीरिया में इराकी सैन्य बलों की कार्रवाई का विरोध किया था। इसके बाद प्रधानमंत्री ने सेनाध्यक्ष जनरल शुमारी को उनके पद से हटा दिया। जनरल शुमारी को ही नसीरिया में सरकार विरोधी प्रदर्शन को दबाने के लिए भेजा गया था। जनरल नसीरिया के आदेश पर सुरक्षा बलों ने फायरिंग की, जिसमें 25 प्रदर्शनकारी मारे गए थे।

इराक में सरकार के खिलाफ इसी साल 1 अक्टूबर से प्रदर्शन शुरू हुए हैं। पहले तो ये प्रदर्शन शांतिपूर्ण रहा, लेकिन सरकार की ओर से मिली ठंडी प्रतिक्रिया के बाद प्रदर्शनकारी उग्र हो गए। 60 दिनों में इन प्रदर्शनों में अबतक 420 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 15000 से ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं। बगदाद इन प्रदर्शनों का केंद्र रहा है. इसके अलावा नजफ, करबला, और बसरा में भी प्रदर्शन हो रहे हैं।

बता दें कि 2003 में इराक में सद्दाम हुसैन की सरकार गिरने के बाद यहां 16 सालों से अस्थिरता का दौर है। सद्दाम हुसैन की सरकार गिरने के बाद यहां हालात बेहद बुरे हैं। करप्शन पर आंकड़े जारी करने वाली अंतरराष्ट्रीय संस्था ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल के मुताबिक इराक दुनिया का 12वां सबसे भ्रष्ट देश है। एक सरकारी जांच में पता चला है कि भ्रष्टाचार की वजह से सरकारी खजाने को 450 बिलियन डॉलर की रकम का नुकसान हुआ है।

WeForNews

अंतरराष्ट्रीय

आर्मेनिया के प्रधानमंत्री, परिवार के सदस्य कोरोना संक्रमित

Published

on

coronavirus

येरेवान: आर्मेनिया के प्रधानमंत्री निकोल पशिनियन ने फेसबुक के जरिए घोषित किया कि वह और उनके परिवार के सदस्य कोरोनावायरस से संक्रमित पाए गए हैं।

आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

भारत-चीन का टकराव जमीनी स्तर पर कम, आभासी दुनिया में ज्यादा

Published

on

नई दिल्ली, भारत और चीन ने लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चल रहे तनाव के समाधान के लिए राजनयिक और सैन्य व्यस्तता बढ़ा दी है। लेकिन, इसके साथ ही दोनों देशों के सोशल मीडिया यूजर्स के बीच डिजिटल परिदृश्य में एक अलग ही तरह का धारणा युद्ध शुरू हो गया है।

महज एक फोन और इंटरनेट कनेक्शन से लैस, दोनों देशों में गुमनामी के पर्दे के पीछे छिपे हुए यूजर्स मौखिक रूप से द्वंद्व में लगे हुए हैं। वे भारतीय और चीनी सैनिकों के उन असत्यापित वीडियो व तस्वीरों पर अपनी विभिन्न प्रतिक्रियाएं व्यक्त कर रहे हैं, जिनमें वह खून से लथपथ एक-दूसरे को बेरहमी से पीटते दिखाई दे रहे हैं।

यह वीडियो और तस्वीर कैसे और कहां से आई, इसकी केवल अटकलें ही लगाई जा रही हैं, लेकिन इस धारणा युद्ध ने इस मुद्दे को हल करने के लिए वार्ता की गंभीरता को जरूर कम कर दिया है।

चीन के यह अनाम यूजर कोविड-19 महामारी फैलाने में चीन की जिम्मेदारी से दुनिया का ध्यान हटाने के छिपे हुए एजेंडे पर काम कर रहे हैं।

इन अपुष्ट वीडियो के बीच, एक क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो गई, जिसमें एक घायल चीनी सैनिक दिखाई दे रहा है। भारतीय सैनिक चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के उन लोगों का पीछा कर रहे हैं, जिन्होंने अपने हाई मोबिलिटी मल्टीपर्पज व्हीकल व्हीकल (हम्वे) को छोड़ दिया है। यह वीडियो सोशल मीडिया पर एक चीनी नागरिक के असत्यापित यू-ट्यूब अकाउंट के माध्यम से दिखाई दिया और भारतीय सोशल मीडिया यूजर्स द्वारा प्रसारित किए जाने के बाद यह वायरल हो गया।

इसके अलावा एक असत्यापित और दिनांक रहित तस्वीर में पांच भारतीय सैनिक जमीन पर खून से लथपथ दिखाई दे रहे हैं और उनके ठीक सामने चीनी सैनिक खड़े दिखाई दे रहे हैं। इस तस्वीर ने भी सोशल मीडिया युद्ध छेड़ दिया है। यह तस्वीर एक चीनी नागरिक के असत्यापित ट्विटर अकाउंट के माध्यम से सोशल मीडिया पर सामने आई और फिर ज्यादातर चीनी सोशल मीडिया यूजर द्वारा भारतीय सैनिकों को अपशब्द कहते भी देखा गया।

इसके बाद रविवार को सोशल मीडिया पर विभिन्न प्रतिक्रियाओं के साथ एक प्रकार का बयानबाजी युद्ध शुरू हो गया। दोनों देशों के प्रतिनिधि वीडियो और तस्वीर पर चुप रहे, मगर ऑनलाइन युद्ध जरूर छिड़ गया।

तस्वीर और वीडियो से यह स्पष्ट है कि चीन ने हिंसा के इस स्तर के लिए अच्छी तरह से योजना बनाई है, क्योंकि उन्हें धातु की छड़ें (मेटल रॉड) और हम्वे चलाते हुए देखा गया था। यह भी स्पष्ट है कि चीन ने एलएसी में बहुत बड़ा बुनियादी ढांचा विकसित किया है और अपने हजारों सैनिकों को भी तैनात किया है।

धारणा युद्ध से किसको लाभ होगा यह अभी भी बहस का विषय है। लेकिन यह स्पष्ट है कि दोनों देशों के लोग एक-दूसरे को अपशब्द कहने लगे हैं।

हालांकि ऐसे असत्यापित वीडियो या तस्वीरों पर भारतीय सेना अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त कर चुकी है। भारतीय सेना ने रविवार को एक सोशल मीडिया पर भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प के एक कथित वीडियो के सामने आने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इसकी सामग्री को प्रमाणित नहीं किया गया है।

भारतीय सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि वर्तमान में कोई हिंसा नहीं हो रही है और प्रोटोकॉल के तहत बातचीत के माध्यम से मतभेदों को हल किया जा रहा है।

सेना ने राष्ट्रीय सुरक्षा को प्रभावित करने वाले मुद्दों को सनसनीखेज बनाने के प्रयासों की भी निंदा की है। पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में दोनों सेनाओं के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई है। तीन से चार स्थान ऐसे चिन्हित किए गए हैं, जहां पर पांच मई से ही विशेष तौर पर निगरानी रखी जा रही है। वास्तविक नियंत्रण रेखा पर दोनों पक्षों ने चार स्थानों पर 1000 से अधिक सैनिकों को तैनात किया है।

भारतीय सेना पूर्वी लद्दाख और पैंगवान घाटी क्षेत्र के पैंगोंग त्सो क्षेत्र में कड़ी निगरानी रख रही है, जहां चीन ने तैनाती बढ़ा दी है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि सरकार किसी भी परिस्थिति में भारत के गौरव को चोट नहीं पहुंचने देगी। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प द्वारा मध्यस्थता की पेशकश पर रक्षा मंत्री ने कहा कि उन्होंने शुक्रवार को अमेरिकी रक्षा सचिव मार्क टी. एस्पर को बताया कि भारत और चीन के पास राजनयिक और सैन्य स्तरों पर बातचीत के माध्यम से समस्याओं को हल करने के लिए मौजूदा तंत्र मौजूद है।

वहीं चीनी विदेश मंत्रालय ने भी कहा है कि दोनों देश बातचीत के माध्यम से सीमा संबंधी मुद्दों को हल करने में सक्षम हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

दक्षिण एशियाई देशों ने कोरोना लॉकडाउन में ढील देना शुरू किया

Published

on

File Photo

नई दिल्ली, दक्षिणपूर्व एशियाई देशों- थाईलैंड, फिलीपींस और सिंगापुर इस सप्ताह अपने कोरोनोवायरस लॉकडाउन में ढील देने के लिए तैयार हैं। समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, दक्षिण पूर्व एशिया में कोरोनावायरस के कारण कम से कम 2,700 मौतें हुई हैं और कुल 89,000 मामले दर्ज किए गए हैं।

रेस्तरां, दुकानों और सार्वजनिक पार्को के पहले से ही आंशिक रूप से खुलने के साथ, थाईलैंड में सोमवार से सिनेमाघरों, जिम और मसाज पार्लर खुलने लगेंगे।

थाई सरकार के पीआर विभाग ने रविवार को ट्वीट किया, 1 जून से शुरू तीसरे चरण की छूट शुरू होगी, जब कई प्रतिष्ठानों को कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए सख्त नियमों के तहत अपनी सेवाएं फिर से शुरू करने की अनुमति दी जाएगी।

इसने कहा, आर्थिक गतिविधियों का समर्थन करने के लिए अंतर-प्रांतीय यात्रा में भी ढील दी जा रही है। थाईलैंड के सकल घरेलू उत्पाद में पर्यटन उद्योग का 12-20 प्रतिशत हिस्सा है।

थाई स्वास्थ्य अधिकारियों ने रविवार को कहा कि पिछले 24 घंटों में देश में चार नए मामलों का पता चला है, जिससे कुल मामलों की संख्या 3,081 हो गई है और कुल 57 लोगों की मौत हुई है।

फिलीपींस में भी अधिकारी सोमवार से राजधानी मनीला में लॉकडाउन में ढील देने के लिए तैयार हैं। वायरस के प्रसार को रोकने के लिए शहर में 78 दिनों से सख्त प्रतिबंध लगा रहा।

मनीला में सोमवार से परविहन सेवाएं बहाल हो जाएंगी और लोगों के भी अपने घरों से बाहर निकलने में ज्यााद छूट दी जाएगी। हालांकि, सार्वजिनक स्थानों पर मास्क पहनना अनिवार्य है।फिलीपींस में कोरोना के 17,000 मामले सामने आए हैं और 950 मौतें हुई हैं।

सिंगापुर में, स्कूल आंशिक रूप से मंगलवार को फिर से खुलेंगे और शादियों और अंतिम संस्कारों पर प्रतिबंधों में ढील दी जाएगी, इन कार्यक्रमो में 10 लोग एकत्रित हो सकेंगे। शहर धीरे-धीरे अर्थव्यवस्था को भी फिर से खोलने की प्रक्रिया शुरू कर रहा है।

में 23 मौतों के साथ कोरोना के 34,000 मामले समने आए हैं।इस बीच, मलेशिया और इंडोनेशिया भी लोगों की मुक्त रूप से आवाजाही पर प्रतिबंध हटाना शुरू कर रहे हैं, लेकिन दोनों देशों ने संक्रमण की दूसरी लहर को रोकने के प्रयास में सख्त सामाजिक दूरी के नियम लागू किए हैं।

आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
Teaching-Online
राष्ट्रीय2 mins ago

जिंदल लॉ स्कूल ने शुरू की ऑनलाइन एलएलएम की डिग्री

Naveen Patnaik. (File Photo: IANS)
राष्ट्रीय8 mins ago

ओडिशा सरकार ने की 11 जिलों में सप्ताहांत बंद की घोषणा

coronavirus
अंतरराष्ट्रीय12 mins ago

आर्मेनिया के प्रधानमंत्री, परिवार के सदस्य कोरोना संक्रमित

Coronavirus
राष्ट्रीय29 mins ago

मध्य प्रदेश के इंदौर में कोरोना के 53 नए केस

Urvashi Rautela,
Uncategorized39 mins ago

उर्वशी रौतेला ने 80 किलो वजन से किया वर्कआउट

Prakash Javadekar
राजनीति43 mins ago

कैबिनेट बैठक में एमएसएमई को 20 हजार करोड़ लोन के प्रस्ताव को मंजूरी

coronavirus
राष्ट्रीय47 mins ago

तेलंगाना की राज्यपाल ने कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंता जताई

trivendra_singh_rawat
राष्ट्रीय55 mins ago

त्रिवेंद्र रावत और 3 मंत्री सेल्फ क्वारंटाइन, कैबिनेट मंत्री पाए गए हैं कोरोना पॉजिटिव

Ram Temple
राष्ट्रीय1 hour ago

अयोध्या के संत चाहते हैं राम मंदिर के मॉडल में बदलाव

Coronavirus
राष्ट्रीय1 hour ago

चंडीगढ़ में एक और व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव

Multani Mitti-
लाइफस्टाइल4 weeks ago

चेहरे के लिए इतनी फायदेमंद होती है मुल्तानी मिट्टी…

pm modi cm meeting
ओपिनियन4 weeks ago

धन्य है गोदी मीडिया जिसने प्रधानमंत्री के बयान को भी ‘अंडरप्ले’ कर दिया!

Modi Trump
ओपिनियन4 weeks ago

ट्रम्प को अपना सिंहासन डोलता दिख रहा है, भारत भी अछूता नहीं रहने वाला

Migrant Workers in Train
ब्लॉग4 weeks ago

सम्पन्न तबके की दूरदर्शिता के बग़ैर पटरी पर नहीं लौटेगी अर्थव्यवस्था

Narendra Modi
ब्लॉग4 weeks ago

अद्भुत है मोदीजी की ‘कष्ट-थिरैपी’!

Sonia Gandhi Congress Prez
ओपिनियन4 weeks ago

क्या काँग्रेस के लिए टर्निंग प्वाइंट बनेगी ग़रीबों का रेल-भाड़ा भरने की पेशकश?

Rs 2000 Note
व्यापार4 weeks ago

कर्नाटक में बंद प्रभावित सेक्टरों के लिए 1610 करोड़ रुपये का राहत पैकेज

Swine Flu
राष्ट्रीय4 weeks ago

कोरोना संकट के बीच भारत में पहली बार खतरनाक अफ्रीकी फ्लू की दस्तक

wheat-min
व्यापार4 weeks ago

पंजाब में गेहूं की खरीद 100 लाख टन के पार

Migrant Worker labour laws
ओपिनियन3 weeks ago

बेशक़, प्रधानमंत्री की सहमति से ही हो रही है श्रम क़ानूनों की ‘हत्या’!

Vizag chemical unit
राष्ट्रीय4 weeks ago

आंध्र प्रदेश: पॉलिमर्स इंडस्ट्री में केमिकल गैस लीक, 8 की मौत

Delhi Police ASI
शहर1 month ago

दिल्ली पुलिस के कोरोना पॉजिटिव एएसआई के ठीक होकर लौटने पर भव्य स्वागत

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
स्वास्थ्य2 months ago

WHO को दिए जाने वाले अनुदान पर रोक को लेकर टेडरोस ने अफसोस जताया

Sonia Gandhi Congress Prez
राजनीति2 months ago

PM Modi के संबोधन से पहले कोरोना संकट पर सोनिया गांधी का राष्ट्र को संदेश

मनोरंजन2 months ago

रफ्तार का नया गाना ‘मिस्टर नैर’ लॅान्च

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
अंतरराष्ट्रीय2 months ago

चीन ने महामारी के फैलाव को कारगर रूप से नियंत्रित किया : डब्ल्यूएचओ

मनोरंजन2 months ago

शिवानी कश्यप का नया गाना : ‘कोरोना को है हराना’

Honey Singh-
मनोरंजन3 months ago

हनी सिंह का नया सॉन्ग ‘लोका’ हुआ रिलीज

Akshay Kumar
मनोरंजन3 months ago

धमाकेदार एक्शन के साथ रिलीज हुआ ‘सूर्यवंशी’ का ट्रेलर

Kapil Mishra in Jaffrabad
राजनीति3 months ago

3 दिन में सड़कें खाली हों, वरना हम किसी की नहीं सुनेंगे: कपिल मिश्रा का अल्टीमेटम

Most Popular