Connect with us

राजनीति

जनता दरबार में मेनका गांधी ने अधिकारी से की अभद्रता, बोले ‘अपशब्द’

Published

on

केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने अपने संसदीय क्षेत्र बहेड़ी में आम जनता की समस्याएं सुनने के लिए जनता दरबार लगाया। जहां एक अधिकारी के खिलाफ कई सारी शिकायतें सुनने के बाद केंद्रीय मंत्री भड़क गईं। मेनका गांधी ने अधिकारी को जनता के सामने ही खरी-खोटी सुनाई। खरी-खोटी सुनाते हुए उन्होने एक सप्लाई इंस्पेक्टर पर आग बबूला हो गईं।

मेनका ने आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करते हुए अधिकारी से कहा कि एक तो तुम मोटे हो गए हो। लोग तुम्हारी इतनी शिकायत कर रहे हैं। इसके ऊपर तुम्हारी कोई इज्जत नहीं है। सप्लाई इंस्पेक्टर पर गुस्से से आग बबूला होते हुए उन्होंने कहा कि तुम बहुत बुरे आदमी हो, तुम्हारी आय से अधिक संपत्ति की जांच करवाऊंगी।

इतना ही नहीं लोगों की शिकायत पर मेनका ने सबके सामने अधिकारियों से कहा कि शर्म करिये क्या इज्जत है तुम्हारी, आदमी इज्जत पर जीता है इस तरह से नहीं।

दरअसल, मेनका गांधी पीलीभीत लोकसभा क्षेत्र में बरेली के बहेड़ी विधानसभा पहुंची थी। यहां उन्होंने क्षेत्र के विकास कार्यों का जायजा लिया। इस दौरान उन्हें कोटेदारों और सप्लाई इंस्पेक्टर की खूब शिकायतें मिली। अपने संसदीय क्षेत्र में लोगों की परेशानियां सुनकर मेनका गांधी भड़क उठीं।

WeForNews

राजनीति

जानिए, केसीआर से मिलने बाइक से क्यों पहुंचे ओवैसी…

Published

on

Asaduddin
असदुद्दीन ओवैसी (PIC Source: IANS)

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी विधानसभा नतीजों की घोषणा से पहले तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव (केसीआर) के साथ दोपहर के भोजन पर प्रस्तावित एक बैठक के लिए उनके आधिकारिक आवास पर अपनी मोटरसाइिकल से पहुंचे।

ओवैसी और तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के प्रमुख मंगलवार को नतीजों के बाद संभावित परिदृश्य और आगे की रणनीति पर चर्चा कर रहे हैं। केसीआर के साथ अपनी बैठक से पहले ओवैसी ने ट्वीट किया कि वह तेलंगाना के कार्यवाहक और ‘अगले’ मुख्यमंत्री से मिलने जा रहे हैं।

एआईएमआईएम प्रमुख ने ट्वीट किया, “इंशाअल्लाह, वह अपने दम पर सरकार बनाएंगे और मजलिस उनके साथ खड़ी होगी। राष्ट्र निर्माण के विशाल लक्ष्य के लिए यह हमारा पहला कदम है।”

पिछली 119 सदस्यीय विधानसभा में एआईएमआईएम के सात सदस्य थे और इस बार पार्टी ने आठ सीटों पर चुनाव लड़ा है, और सभी सीटें हैदराबाद की हैं। राज्य की बाकी सीटों पर उसने टीआरएस को समर्थन किया है।

–आईएएनएस

Continue Reading

राजनीति

शीतकालीन सत्र से पहले विपक्ष की बैठक जारी

Published

on

congress

दिल्ली में संसद भवन के एनेक्सी में विपक्षी दलों की बैठक चल रही है। ये बैठक तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) प्रमुख और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने बुलाई है। इस बैठक में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की प्रमुख ममता बनर्जी, आम आदमी पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल, नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) के प्रमुख फारुक अबदुल्ला, द्रविड़ मुनेत्र कषगम (डीएमके) अध्यक्ष एमके स्टालिन सहित विपक्षी दलों के अन्य नेता भी मौजूद हैं। इस बैठक में कुल 17 पार्टियां हिस्सा ले रही हैं। बैठक में अब तक समाजवादी पार्टी और बीएसपी की ओर से कोई भी नेता नहीं पहुंचा है।

बता दें कि राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, मिरोजम और तेलंगाना विधानसभा चुनाव के नतीजे मंगलवार को आने वाले हैं। इससे एक दिन पहले बीजेपी और मोदी सरकार के खिलाफ विपक्षी दल एकजुट हो रहे हैं। इस बैठक में बीजेपी का मुकाबला करने के लिए एक ‘महागठबंधन’ बनाने पर चर्चा होगी।

WeForNews 

Continue Reading

राजनीति

बीजेपी को दिल्ली की सत्ता से उखाड़ फेकेंगे : राहुल

Published

on

RAHUL
PHOTO CREDIT (Congress TWITTER)

बीजेपी पर न्यायपालिका, सेना और मीडिया जैसे संस्थानों की विश्वसनीयता को कमजोर करने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि उनकी पार्टी भाजपा को 2019 के आम चुनाव में सत्ता से उखाड़ फेकेंगी।

राहुल ने चंडीगढ़ से सटे पंजाब के इस शहर में कहा, “हम भाजपा को उसकी जगह दिखाएंगे और चुनाव में हराएंगे। 2019 में हम सुनिश्चित करेंगे कि दिल्ली में भाजपा को सत्ता से बेदखल किया जाए।”

राहुल, यहां पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा के साथ समाचार पत्र नवजीवन को फिर से लांच करने के लिए आयोजित समारोह में हिस्सा लेने आए थे।


बीजेपी और मोदी सरकार पर बरसते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि देश में डर का एक माहौल बनाया गया और मीडिया को भी दबाने की कोशिश की गई।

राहुल ने कहा, “मीडिया को भी डराया जा रहा है, दबाया जा रहा है। मीडिया केवल वही कहती है, जो शक्तिशाली लोग सुनना चाहते हैं। ऐसे माहौल में ‘नवजीवन’ एक स्वतंत्र आवाज बनेगा। यह अखबार कांग्रेस पार्टी की भी आलोचना कर सकता है।”

उन्होंने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश खुले तौर पर कह रहे हैं कि उन्हें काम करने नहीं दिया जा रहा है। सेना के जनरल कह रहे हैं कि मोदी सेना का दुरुपयोग कर रहे हैं और चुनाव आयोग को भी दबाया जा रहा है।

राहुल ने कहा, “हम इन संस्थानों की रक्षा के लिए लड़ेंगे। हम राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(आरएसएस) और बीजेपी के जैसे नहीं हैं।” उन्होंने कहा कि केंद्र में सत्तासीन लोग मीडिया को बेरोजगारी और किसानों की दुर्दशा जैसे मुद्दे नहीं उठाने दे रहे हैं।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की सराहना करते हुए राहुल ने कहा कि उन्होंने यह दिखाया कि कैसे विनम्रता और सम्मान के साथ नेतृत्व किया जाता है।
उन्होंने कहा, “उन्होंने(मनमोहन) विश्व के नेताओं को बताया कि कैसे काम किया जाता है। वह ब्रह्मांड के गौरव हैं।”

‘नवजीवन’ कांग्रेस के स्वामित्व वाले नेशनल हेराल्ड अखबार का हिंदी संस्करण है। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने कांग्रेस शासित पंजाब में हुए इस समारोह में भाग नहीं लिया।

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular