खेल

दूसरा क्वालिफायर मुंबई या कोलकाता को फाइनल का टिकट चाहिए तो यहां जीत ज़रूरी है

mi vs kkr-min
फाइल फोटो

आईपीएल सीज़न 10 सिमटकर तीन टीमों पर रह गया है लेकिन फाइनल मुकाबले की तस्वीर का साफ होना अभी बाकी है. इसके लिए कोलकाता नाइटराइडर्स को मुंबई इंडियंस से भिड़ना है. ये मुकाबला उसी मैदान पर होगा जहां कोलकाता ने एलिमिनेटर में सनराइज़र्स हैदराबाद जैसी खतरनाक टीम को शिकस्त दी. यानी थोड़ा घबराई मुंबई का सबसे मुश्किल इम्तिहान अभी बाकी है.

मुंबई इंडियंस सीज़न 10 में सबसे ज़्यादा मुकाबले जीतने वाली टीम है. जीत की रेस में कोलकाता नाइट राइडर्स उससे पीछे है. लेकिन इस खेल की विडंबना देखिए. आज की तारीख में जो पीछे है वही खतरनाक है. वही फेवरेट है. मुंबई की जो टीम सीज़न के पहले क्वालिफायर में अपने होमग्राउंड तक में नहीं जीत सकी. वो उस मैदान पर क्या करेगी जिस पर नाइटराइडर्स ने टूर्नामेंट की सबसे घातक टीम तक को नहीं बख्शा. मुंबई को बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में होने वाले मुकाबले में कोलकाता का सामना करना है.

रोहित शर्मा की टेबल टॉपर टीम को मुंबई से बेंगलुरु तक का सफर सिर्फ इसलिए तय करना पड़ा. क्योंकि पहले क्वालिफायर में उसे अपने ही घर में शिकस्त का सामना करना पड़ा था. पहले क्वालिफायर में पुणे सुपरजाएंट का मुकाबला टेबल टॉपर मुंबई इंडियंस से था और ये टक्कर भी उनके फेवरेट हंटिंग ग्राउंड वानखेड़े स्टेडियम में ही थी लेकिन मुकाबले का नतीजा इन आंकड़ों का मोहताज़ नहीं रहा.

20 ओवर के इस खेल ने विजयतिलक उसी टीम के माथे पर लगाया जो इसकी हकदार थी. आईपीएल सीज़न 10 में मुंबई इंडियंस के खिलाफ़ अपनी परंपरा को आगे बढ़ाते हुए पुणे सुपरजाएंट ने बाज़ी मार ली. पुणे सुपरजाएंट ने सीज़न 10 के पहले क्वालिफायर में मुंबई इंडियंस को बड़ी आसानी से 20 रन से शिकस्त दे दी.

इस अहम मुकाबले में सुपरजाएंट ने खेल के हर डिपार्टमेंट में मुंबई को धोकर रख दिया था. इस मैच में पुणे टीम मुंबई पर ठीक उसी तरह भारी पड़ी जिस तरह से कोलकाता ने एलिमिनेटर में हैदराबाद को धोया. पुणे और कोलकाता इन दोनों ही टीमों की पिछली जीत में कंप्लीट टीम गेम देखने को मिला. पहले क्वालिफायर में मुंबई को अपने घर में सिर्फ 163 रन की चुनौती मिली थी.

वानखेड़े की धीमी पिच पर ये मुंबई इंडियंस के लिए काफी बड़ी साबित हुई. 162 रन के जवाब में मुंबई की टीम 20 ओवर में सिर्फ 142 रन ही बना सकी. तस्वीर साफ है अगर रोहित एंड कंपनी को फाइनल में जगह बनानी है तो कोलकाता के खिलाफ़ बल्लेबाज़ों को बड़ी पारियां खेलनी पड़ेगी लेकिन बेंगलुरु की ट्रिकी पिच पर ये काम वानखेड़े से कहीं ज़्यादा मुश्किल साबित हो सकता है.

मुंबई इंडियंस की दिक्कत सिर्फ पिच से जुड़ी नहीं होगी. चिन्नास्वामी में जो टीम सामने खड़ी होगी वो उसकी बदहाली को कई गुणा बढ़ा सकती है. नाइटराइडर्स ने इस मैदान में मौसम की तमाम बदमिज़ाजियों के बीच एलिमिनेटर मुकाबले सनराइज़र्स हैदराबाद को शिकस्त दी है. कप्तान गौतम गंभीर के गेंदबाज़ों ने सनराइज़र्स हैदराबाद के खिलाफ़ मज़बूत बुनियाद तैयार की थी. डेविड वॉर्नर की टीम को गेंदबाज़ों ने सिर्फ 128 रन पर ही रोक दिया.

जीत महज़ एक औपचारिकता जैसी दिखने लगी. हालांकि इस बुनियाद पर खड़े होने वाले जीत के महल को बारिश ने धोने की भरपूर कोशिश की लेकिन दिन के बदलने के साथ ही बदला मौसम का मिज़ाज और गेंदबाज़ों की बनाई मज़बूत बुनियाद पर गौती एंड कंपनी ने देखते ही देखते जीत का महल खड़ा कर दिया. बारिश के चलते गेंद पिच पर फिसलती रही लेकिन शुरुआती झटकों के बावजूद गंभीर के बल्ले ने जीत का धमाका कर ही दिया.

डकवर्थ लुइस नियम के मुताबिक तय 48 रन के लक्ष्य को कोलकाता ने 5 ओवर 2 गेंद में ही हासिल कर लिया. गौती एंड कंपनी ने हैदराबाद को सात विकेट से शिकस्त देकर दूसरे क्वालिफायर के लिए मुंबई को कड़ी चेतावनी दे दी. अगर रोहित शर्मा की मुंबई को फाइनल में पहुंचना है तो उन्हें कोलकाता को हराना होगा और एलिमिनेटर मुकाबले का सबक साफ है. गौती एंड कंपनी को शिकस्त देने के लिए रोहित की टीम को अपने खेल का स्तर कई गुणा बढ़ाना होगा.

दूसरा क्वालिफायर दो हैवीवेट टीमों की टक्कर है, जहां मुंबई के इंडियन्स कोलकाता के नाइटराइडर्स से भिंड़ेगे. यहां ना सिर्फ खिलाड़ियों का प्रदर्शन टीम की जीत में अहम किरदार अदा करेगा बल्कि किस्मत का भी मेहरबान होना उतना ही लाज़िमी होगा, क्योंकि सनराइज़र्स हैदराबाद की किस्मत ने जैसा धोखा किया वहां मौसम विलेन बन गया, लिहाज़ा गंभीर और रोहित को अब आसमान को भी ध्यान में रखकर अपनी रणनीतियां तैयार करनी होंगी तभी जीत के दीदार हो सकते हैं.

wefornews bureau

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top