Connect with us

खेल

अपने बच्चों को प्यार की जगह पदक देने पर मुझे गर्व : मैरी कॉम

Published

on

marry kom

पांच बार की विश्व चैंपियन और राष्ट्रमंडल खेलों की स्वर्ण पदक विजेता भारतीय महिला मुक्केबाजी एमसी मैरी कॉम ने कहा कि उन्हें इस बात पर गर्व है कि उन्होंने अपने बच्चों को प्यार की जगह पदक दिए हैं।

मैरी कॉम ने इस साल अप्रैल में आस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में लाइफ्लाई वेट 48 किग्रा में स्वर्ण पदक जीता था। मैरी कॉम ने यहां स्पेशल ओलम्पिक यूनीफाइड फुटबाल कप में हिस्सा लेने जा रही भारतीय स्पेशल महिला फुटबाल टीम के विदाई समारोह के दौरान यह बातें कही।

स्पेशल ओलम्पिक यूनीफाइड फुटबाल कप का आयोजन 17 से 20 जुलाई तक अमेरिका के शिकागो में होने हैं। मैरी कॉम ने कहा, इस बार जब मैंने राष्ट्रमंडल खेंलों में स्वर्ण पदक जीतने के बाद अपने घर पर फोन किया तो मुझे घर वालों की खुशी का अहसास फोन पर ही हो गया था।

बच्चे भी चाहते हैं कि उन्हें घर में मां का प्यार मिले, जो मैं उन्हें नहीं दे पाई। लेकिन मुझे लगता है कि मुझे इस गर्व होना चाहिए कि मैंने बच्चों को प्यार की जगह पदक दिये हैं।उन्होंने कहा, “खेल तो कुछ समय के लिए है। इसके बाद मुझे पूरा जीवन घर पर ही रहना है तब मैं अपने बच्चों को मां का प्यार दूंगी।

लेकिन उससे पहले मैंने जो भी पदक दिए हैं। उस पर मुझे गर्व है। यह मेरा नहीं, पूरे देश का पदक है और मेरे बच्चों को भी इससे खुशी होनी चाहिए। मैरी कॉम चोट के चलते अगले माह इंडोनेशिया के जकार्ता में होने जा रहे एशियाई खेलों में हिस्सा नहीं ले रही हैं।

लेकिन उन्हें उम्मीद है कि वह अगले एआईबीए महिला विश्व चैंपियनशिप में देश के लिए जरुर पदक जीतेंगी। एआईबीए महिला विश्व चैंपियनशिप का आयोजन इस साल भारत में 15 से 24 नवंबर के बीच होना है। मैरी कॉम ने कहा, “चोट के कारण मैं एशियाई खेलों में हिस्सा नहीं ले पा रही हूं।

पिछले एक महीने से मेरा इलाज चल रहा था और मैं अभी वापस ट्रेनिंग कर रही हूं। देश में ट्रेनिंग सिस्टम काफी अच्छा चल रहा है और मुझे भी इसका फायदा मिल रहा है।”उन्होंने कहा, छह-सात साल पहले हम दो तीन घंटे अभ्यास करते थे लेकिन अब आज के समय में स्मार्ट ट्रेनिग होने से हमें इसका फायदा मिल रहा है।

अब एक घंटे में अच्छे से ट्रेनिंग हो सकती है। इसलिए आज के समय में स्मार्ट ट्रेनिंग होनी चाहिए। कुछ सालों से मैं विश्व चैंपियनशिप में हिस्सा नहीं ले रही थी लेकिन इस बार मैं इसके लिए तैयार हूं और फिट रही तो देश के लिए जरूर पदक जीतूंगी।

WeForNews

खेल

एशिया कप : भारत ने पाकिस्तान को 162 रनों पर समेटा

Published

on

IND vs PAK
india vs pakistan (file photo)

दुबई, 19 सितम्बर | भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए बुधवार को दुबई अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में खेले जा रहे एशिया कप-2018 के मैच में पाकिस्तान को निर्धारित 43.1 ओवरों में 162 रनों पर ढेर कर दिया। पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया, लेकिन उसके बल्लेबाज भारतीय गेंदबाजों के सामने असरदार साबित नहीं हो सके।

पाकिस्तान के लिए सबसे ज्यादा 47 रन बाबर आजम ने बनाए। शोएब मलिक ने 43 रनों का योगदान दिया। फहीम अशरफ ने अंत में 21 रनों का उपयोगी योगदान दिया। मोहम्मद आमिर 18 रनों पर नाबाद लौटे।

भारत के लिए भुवनेश्वर कुमार और कुलदीप यादव ने तीन-तीन विकेट लिए। जसप्रीत बुमराह को दो और कुलदीप यादव को एक सफलता मिली।

–आईएएनएस

Continue Reading

खेल

पाकिस्‍तान से मैच के दौरान पंड्या की पीठ पर आई गम्‍भीर चोट

Published

on

hardik pandya asia cup
अचानक पीठ में दर्द बढ़ने से पंड्या को स्‍ट्रेचर से मैैैैदान के बाहर ले जाया गया।

दुबई में पाकिस्‍तान खिलाफ खेले जा रहे एशिया कप के महत्‍वपूर्ण मैच में भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या की पीठ में अचानक दर्द इतना बढ़ा कि उन्‍हें स्‍ट्रेचर पर लिटाकर मैदान से बाहर ले जाया गया। यह घटना पाकिस्तानी पारी के 18वें ओवर में घटी, जब हार्दिक अपना पांचवां ओवर कर रहा था।

दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में पंड्या को अपनी पांचवीं गेंद करने के बाद पीठ के निचले हिस्से में तेज दर्द महसूस हुआ और वह ज्यादा दर्द होने पर मैदान पर लेट गए। इसके बाद वह उठ नहीं पाए और उन्हें चिकित्सकीय परीक्षण के लिए स्ट्रेचर पर बाहर ले जाना पड़ा।

बीसीसीआई ने थोड़ी देर बाद ट्वीट कर बताया कि पंड्या को पीठ के निचले हिस्से में गंभीर चोट है, हालांकि वह खड़े हो पा रहे हैं। पंड्या फिलहाल मेडिकल टीम की निगरानी में हैं। उनकी जगह मैदान पर सब्स्टीट्यूट के तौर पर मनीष पांडे को उतारा गया।

WeForNews

Continue Reading

खेल

बैडमिंटन : चीन ओपन के पहले दौर में हारे प्रणॉय

Published

on

Prannoy Kumar

चांग्झू (चीन), 19 सितम्बर | भारतीय पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी एच.एस. प्रणॉय को यहां जारी चीन ओपन में बुधवार को पहले दौर में ही हारकर बाहर होना पड़ा। प्रणॉय को पुरुष एकल वर्ग के पहले दौर में हांगकांग के एनजी का लोंग एंगस ने मात दी।

वर्ल्ड नम्बर-13 प्रणॉय को विश्व रैंकिंग में 11वें स्थान पर काबिज एनजी ने 34 मिनटों के भीतर सीधे गेमों में 21-16, 21-12 से मात देकर बाहर का रास्ता दिखाया।

प्रणॉय का सामना एनजी से पांचवीं बार हो रहा था। पिछले चार में से तीन मैचों में हांगकांग के खिलाड़ी ने प्रणॉय को मात दी। ऐसे में यह भारतीय खिलाड़ी के खिलाफ एनजी ने चौथा मैच जीता है।

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular