Connect with us

शहर

HBSE 12th results: हरियाणा बोर्ड 12वीं का रिजल्ट घोषित, देखें नतीजे

Published

on

हरियाणा बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन (एचबीएसई) ने बारहवीं कक्षा के परीक्षा परिणाम जारी कर दिए हैं। नतीजों की घोषणा हरियाणा बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट bseh.org.in पर दोपहर करीब सवा 3 बजे की गई।

बारहवीं कक्षा में ओवरऑल (तीनों स्ट्रीम) में हिसार के नवीन और हिना ने टॉप किया है। नवीन और हिना दोनों ही साइंस स्ट्रीम के विद्यार्थी हैं। नवीन और हिना दोनों के ही 491 मार्क्स हैं। दूसरे स्थान पर महेन्द्रगण की स्वीटी और जिंद की गुरमीत रही। साइंस स्ट्रीम की स्वीटी और आर्ट्स की गुरमीत दोनों के 489 मार्क्स आए हैं। तीसरे स्थान पर जिंद की आर्ट्स स्ट्रीम की स्टूडेंट निशू रही है जिसके 488 मार्क्स आए हैं।

स्ट्रीम वाइज टॉपर

– साइंस स्ट्रीम में टॉपर

– पहले स्थान पर 491 अंक हासिल कर हिसार के नवीन और हिना रहे। नवीन और हिना दोनों एक समान अंक आए हैं।
– दूसरे स्थान पर 489 अंकों के साथ महेन्द्रगण की स्वीटी रही।
– तीसरे स्थान पर महेन्द्रगण के धीरज यादव और रोहतक के साहिल रहे। दोनों के 487-487 अंक आए हैं।

कॉमर्स स्ट्रीम में टॉपर

– पहले स्थान पर कैथल की मोनिका रही जिन्होंने 484 अंक हासिल किए।
– दूसरे स्थान पर मंडी डबवाली के जसविंद्र सिंह, नरवाना के तूषार और पलवल की मानसी गोयल रहे। तीनों के 483 मार्क्स आए हैं।
– तीसरे स्थान पर फतेहाबाद के लविश और फरीदाबाद की अदिति रही। दोनों के 482-482 अंक हैं।

आर्ट्स स्ट्रीम में टॉपर

– पहले स्थान पर नरवान की छात्रा गुरमीत रही हैं। उनके 500 में से 489 मार्क्स आए हैं।
– दूसरे स्थान पर जींद की निशू रही जिन्होंने 488 मार्क्स प्राप्त किए हैं।
– तीसरे स्थान पर कैथल की अन्नू रही जिन्होंने 485 अंक हासिल किए हैं।

हरियाणा बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन (एचबीएसई) ने बारहवीं कक्षा में परीक्षा परिणाम 63.84 फीसदी स्टूडेंट पास हुए हैं। 72.38 फ़ीसदी लड़कियां उत्तीर्ण हुई, लड़कों की पास प्रतिशतता 57.10 प्रतिशत रही।

WeForNews

शहर

पत्‍थर मारकर बुजुर्ग की हत्‍या करने वाले बंदर के खिलाफ मुकदमा दर्ज

Published

on

Monkey
प्रतीकात्मक तस्वीर

देश के भिन्न-भिन्न इलाकों से बंदरों द्वारा लोगों पर हमले किए जाने की घटनाएं सामने आती हैंं। अब एक ऐसा ही मामला उत्तर प्रदेश के बागपत से सामने आया है जहां बंदर ने एक बुजुर्ग व्यक्ति को जान से मार दिया। बुजुर्ग बंदर से बचने का लगातार प्रयास करते रहे, पर बंदर एक के बाद एक पंजा उनपर बरसाता रहा। अब पुलिस ने बंदर के खिलाफ हत्‍या का मामला दर्ज कर लिया हैै।

जानकारी के मुताबिक, मामला यूपी स्थित बागपत के दोघट थाना क्षेत्र का है। यहां 72 साल के एक बुजुर्ग व्यक्ति हवन के लिए लकड़ियां लेने जा रहे थे कि तभी अचानक खूंखार बंदर ने जानलेवा हमला कर दिया। मृतक की पहचान धर्मवीर सिंह के तौर पर हुई है। वह जब हवन की लकड़ी लेने निकले तो सूखी लकड़ी इकट्ठा करते समय पेड़ पर बैठे बंदर ने उनपर पत्थर बरसाना शुरू कर दिया। पत्थरों की लगातार बरसात के कारण सीने और सिर पर गंभीर चोट आने से बुजुर्ग ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

पुलिस का कहना है मृतक बुजुर्ग के परिवार ने बंदर को आरोपी बताया है और मुकदमा दर्ज करवाया है। पुलिस टीम मामले की जांच में जुट गई है। ग्रामीणों का आरोप है कि इलाके में मौजूद बंदरों ने उनकी जिंदगी नर्क बना दी है। इलाके में उनका चैन की सांस लेना और जीवन व्यतीत करना मुश्किल कर दिया है।

गांव वालों का कहना है धर्मपाल सिंह की मृत्यु का भले ही बंदरों के आतंक का सबसे खौफनाक मामला हो लेकिन बंदरों ने मौजूदा गांव वालों की जिंदगी भी नर्क बना रखी है। इस गंभीर मामले का कोई हल नजर नहीं आ रहा है और न ही अभी तक किसी ने इस पर कोई कार्रवाई की है।

WeForNews

Continue Reading

शहर

अमृतसर हादसे पर पंजाब में राजकीय शोक

Published

on

Amritsar Train
इस हादसे में कम से कम 60 लोगों की मौत हुई।

अमृतसर में हुए रेल हादसे पर पंजाब सरकार ने शनिवार को राजकीय शोक दिवस घोषित किया था। सूबे के सभी कार्यालय और शैक्षणिक संस्थान बंद रहे। मुख्यमंत्री कैप्‍तान अमरिंदर सिंह ने मृतकों के रिश्‍तेदारों और घायलों से मिले।उन्‍होंने इस दौरान मामले न्‍यायिक जांच की घोषणा की और आदेश दिया कि जांच रिपोर्ट चार हफ्तों के अंदर पेश की जाये।

बता दें अमृतसर में शुक्रवार की रात एक भयावह हादसे में रावण दहन देख रहे लोग तेज रफ्तार ट्रेन की चपेट में आ गए, जिससे 59 लोगों की मौत और 57 लोग घायल हुये।

अमृतसर के जोड़ा फाटक इलाके में रेलवे ट्रैक के नजदीक रावण का पुतला जलाया जा रहा था। जैसे ही पुतले में पटाखे का विस्फोट होना शुरू हुआ और आग की लपटें तेज हुईं, लोग रेल पटरी पर चले गए। कुछ लोग रावण दहन देखने के लिए पहले से ही रेल पटरी पर खड़े थे।

इसी दौरान पठानकोट से अमृतसर जा रही ट्रेन तेज गति से आई और बड़ी तादाद में लोगों को अपनी चपेट में ले लिया।

बताया जाता है कि रावण दहन के दौरान पटाखे जलने की वजह से लोग ट्रेन की सीटी की आवाज नहीं सुन सके।

–आईएएनएस

Continue Reading

शहर

फरीदाबाद में एक ही परिवार के चार लोगों ने लगाई फांसी

Published

on

haryana-
फोटो-ANI

फरीदाबाद जिले के सूरजकुंड थाना इलाके में एक ही परिवार के चार लोगों की लाश मिलने से हड़कंप मच गया। इस परिवार ने आर्थिक तंगी के चलते फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

मृतकों में तीन सगी बहनें व एक भाई शामिल है। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने इस घटना की जांच शुरू कर दी है। जानकारी के मुातबिक, दयालबाग कॉलोनी में शनिवार को एक ही परिवार के चार लोगों के शव मिले हैं।  मृतकों के नाम प्रदीप, मीना, बीना व दया हैं। सभी मृतकों की उम्र 24 से 30 साल के बीच है। इनके माता-पिता की पहले ही मौत हो चुकी है।  ये सभी बहन-भाई मई-2018 से दयालबाग में किराये का मकान लेकर रह रहे थे।

अंदेशा है कि फांसी दो-तीन दिन पहले लगाई है। कमरे से दुर्गंध आने पर मौत का पता अब चला है। बता दें कि ऐसी ही एक दिल दहला देने वाली सामूहिक आत्महत्या की घटना इसी साल एक जुलाई को दिल्ली के बुराड़ी स्थित एक घर में हुई थी, जहां एक ही परिवार के11 लोग फांसी के फंदे से लटके हुए पाए गए थे।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सभी की मौत का कारण फांसी पर लटकना पाया गया था। हालांकि, पुलिस ने इस कांड की जांच सभी पहलुओं से की थी। इस मामले को लेकर पुलिस ने साइक्लॉजिकल अटोप्सी भी कराई गई थी।

WeForNews

Continue Reading

Most Popular