Connect with us

व्यापार

फ्लिपकार्ट और अमेजन पर ग्रेट इंडियन फेस्टिवल सेल की 24 अक्टूबर से फिर वापसी

Published

on

File Photo

आपके लिए एक बार फिर फ्लिपकार्ट और अमेजन पर धमाकेदार सेल शुरू होने जा रही है। अभी ऑनलाइन फेस्टिव सीजन सेल खत्म नहीं हुए हैं। अमेजन ने ग्रेट इंडियन फेस्टिवल के दूसरे राउंड की घोषणा कर दी है।

इसकी शुरुआत 24 अक्टूबर से होगी। यानी ग्राहकों के पास दिवाली से पहले अपने पसंदीदा प्रोडक्ट्स को डिस्काउंट में खरीदने का मौका होगा। अमेजन ग्रेट इंडियन फेस्टिवल सेल की शुरुआत 24 अक्टूबर (मध्यरात्रि) से होगी और ये 28 अक्टूबर 11:59 pm तक जारी रहेगी। अमेजन इंडिया ने जानकारी दी है कि दूसरे राउंड में भी ढेरों एक्सक्लूसिव प्रोडक्ट्स और ऑफर्स होंगे।

इस पांच दिवसीय सेल के दौरान स्मार्टफोन्स, एलईडी टीवी, होम एप्लाइंसेस और कन्ज्यूमर प्रोडक्ट्स पर डील्स और ऑफर्स होंगे। अमेजन सेल के दौरान ग्राहकों को इस बार भी नो-कॉस्ट EMI का ऑप्शन मिलेगा। इस बार ऑनलाइन प्लेटफॉर्म ने ग्रेट इंडियन फेस्टिवल सेल के दौरान 10 प्रतिशत कैशबैक देने के लिए ICICI बैंक और सिटी बैंक के साथ साझेदारी की है।

साथ ही अमेजन पे यूजर्स को अपना अकाउंट 5,000 रुपये या उससे ज्यादा का रिचार्ज कराने पर 250 रुपये तक का कैशबैक मिलेगा। बता दें अमेजन के सारे नए ग्राहकों को सेल के दौरान फ्री शिपिंग मिलेगी। अमेजन इंडिया ने जानकारी दी है कि ग्रेट इंडियन फेस्टिवल सेल के दौरान Redmi 6A रोजाना फ्लैश सेल में उपलब्ध कराया जाएगा।

साथ ही अमेजन फायर टीवी स्टिक और थर्ड जेनरेशन ईको स्मार्ट स्पीकर को भी आकर्षक ऑफर के साथ उपलब्ध कराया जाएगा। इन सबके अलावा अलेक्सा इनेबल्ड डिवाइसेस 70 प्रतिशत की छूट के साथ उपलब्ध होंगे।

WeForNews

व्यापार

हरे निशान में खुले शेयर बाजार

Published

on

sensex-min
File Photo

देश के शेयर बाजारों में मजबूती का रुख है।

प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.57 बजे 33.06 अंकों की बढ़त के साथ 35,175.05 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 3.10 अंकों की मजबूती के साथ 10,579.40 पर कारोबार करते देखे गए।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 3.76 अंकों की मजबूती के साथ 35145.75 पर जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 4.3 अंकों की बढ़त के साथ 10,580.60 पर खुला।

–आईएएनएस

Continue Reading

व्यापार

सेंसेक्स में 3 अंकों की गिरावट

Published

on

sensex-min (1)

देश के शेयर बाजारों में गिरावट दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 2.50 अंकों की गिरावट के साथ 35,141.99 पर और निफ्टी 6.20 अंकों की गिरावट के साथ 10,576.30 पर बंद हुआ।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 185.65 अंकों की तेजी के साथ 35,330.14 पर खुला और 2.50 अंकों या 0.01 फीसदी गिरावट के साथ 35,141.99 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 35,351.88 के ऊपरी और 34,986.86 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के मिडकैप सूचकांक में तेजी और स्मॉलकैप सूचकांक में गिरावट रही। बीएसई का मिडकैप सूचकांक 28.41 अंकों की तेजी के साथ 14,881.95 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 30.55 अंकों की गिरावट के साथ 14,547.74 पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 52.4 अंकों की तेजी के साथ 10,634.90 पर खुला और 6.20 अंकों या 0.06 फीसदी गिरावट के साथ 10,576.30 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 10,651.60 के ऊपरी और 10,532.70 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के 19 में से 10 सेक्टरों में तेजी रही। तेल और गैस (1.18 फीसदी), तेज खपत उपभोक्ता वस्तुएं (0.94 फीसदी), दूरसंचार (0.83 फीसदी), वित्त (0.67 फीसदी) और ऊर्जा (0.52 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही।

बीएसई के गिरावट वाले सेक्टरों में प्रमुख रहे – सूचना प्रौद्योगिकी (2.24 फीसदी), प्रौद्योगिकी (1.86 फीसदी), स्वास्थ्य सेवाएं (1.65 फीसदी), रियल्टी (1.52 फीसदी) और धातु (0.81 फीसदी)।

–आईएएनएस

Continue Reading

व्यापार

देश की थोक महंगाई दर अक्टूबर में 5.38 फीसदी

Published

on

थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) पर आधारित देश की सालाना मुद्रास्फीति दर अक्टूबर में बढ़कर 5.28 फीसदी रही है, जबकि सितंबर में यह 5.13 फीसदी थी। केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, साल-दर-साल आधार पर भी थोक मूल्य सूचकांक में वृद्धि दर्ज की गई है, जोकि साल 2017 के इसी महीने में 3.68 फीसदी थी।

आंकड़ों से पता चलता है, “मासिक डब्ल्यूपीआई पर आधारित सालाना मुद्रास्फीति दर (अनंतिम) अक्टूबर में (साल 2017 के अक्टूबर की तुलना में) 5.28 फीसदी रही, जबकि इसके पिछले महीने यह 5.13 फीसदी (अनंतिम) और पिछले साल के अक्टूबर में 3.68 फीसदी रही थी।”

वाणिज्य मंत्रालय के आधिकारिक बयान में कहा गया है, “चालू वित्त वर्ष में अबतक बिल्ड अप मुद्रास्फीति दर 4.64 फीसदी रही है, जबकि पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में यह 2.12 फीसदी थी।”

क्रमिक आधार पर, प्राथमिक वस्तुओं पर खर्च 1.79 फीसदी बढ़ा है, जिसका सूचकांक में 22.62 फीसदी भार है। यह सितंबर में 2.97 फीसदी पर था। इसी प्रकार खाद्य पदार्थो की कीमतें गिरी हैं। इस श्रेणी का डब्ल्यूपीआई सूचकांक में भार 15.26 फीसदी है।

हालांकि ईंधन और बिजली खंड, जिसका सूचकांक में भार 13.15 फीसदी है, में अक्टूबर में तेजी दर्ज की गई, जोकि 18.44 फीसदी रही। जबकि एक महीने पहले इसमें 16.65 फीसदी तेजी दर्ज की गई थी।

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular