Connect with us

राष्ट्रीय

गूगल ने डूडल बनाकर शहनाई के जादूगर उस्ताद बिस्मिल्लाह खान को किया याद, जानें उनकी कुछ खास बातें

Published

on

google-

भारत रत्न शहनाई वादक उस्ताद बिस्मिल्लाह खां का 21 मार्च को 102वां जन्मदिवस मनाया जा रहा है। उनके जन्मदिन के मौके पर Google ने Doodle बनाकर उन्हें सम्‍मानपूर्वक समर्पित किया है।

देश-दुनिया में शहनाई को लोकप्रिय बनाने वाले उस्‍ताद बिस्मिल्लाह खां किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। शहनाई वादन में उन्होंने भारत को दुनिया में अलग मुकाम दिलाया। उनका जन्म 21 मार्च, 1916 को बिहार के डुमरांव में हुआ था। उनके पिता भोजपुर के राजा के दरबारी संगीतकार थे। 6 साल की उम्र में वे वाराणसी आ गए थे।

Image result for र उस्ताद बिस्मिल्लाह खान

उन्होंने यहां पर अपने अंकल से शहनाई की ट्रेनिंग ली। उस्ताद बिस्मिल्लाह खां के संगीत करियर को सम्मानित करते हुए भारत सरकार ने 2001 में भारत रत्न से सम्मानित किया। उस्ताद बिस्मिल्लाह खान, एम.एस. सुब्बलक्ष्मी और रवि शंकर के बाद यह सर्वोच्च नागरिक सम्मान पाने वाले तीसरे शास्त्रीय संगीतकार थे।

Image result for र उस्ताद बिस्मिल्लाह खान

उस्ताद बिस्मिल्लाह खान खाने-पीने के बहुत शौकीन थे और उन्हें कचौड़ियां बेहद पसंद थीं। उस्ताद बिस्मिल्लाह खां को 2001 में भारत रत्न, 1980 में पद्म विभूषण, 1968 में पद्म भूषण और 1961 में पद्मश्री सम्मान से नवाजा गया था। 90 साल की उम्र में 21 अगस्त 2006 को उनका देहांत हो गया।

उस्ताद बिस्मिल्लाह खां के बारे में कुछ खास बातें :

1947 में देश के आजाद होने पर पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के लाल किला पर तिरंगा फहराने के बाद उस्ताद बिस्मिल्लाह खान ने देशवासियों को बधाई देने के लिए लाल किले से शहनाई बजाई।

1992 में ईरान के तेहरान में एक बड़ा ऑडिटोरियम बनाया गया, जिसका नाम उस्ताद बिस्मिल्लाह खान के नाम पर रखा गया, ‘तालार मौसीकी उस्ताद बिस्मिल्लाह खान।

उन्होंने कन्नड़ फिल्म में साउथ के सुपरस्टार राजकुमार के लिए शहनाई बजाई थी। यह फिल्म थी ‘शादी अपन्ना’ और यह ब्लॉकबस्टर रही थी।

उस्ताद बिस्मिल्लाह खान सत्यजीत रे की फिल्म ‘जलसाघर’ में नजर आए थे और 1959 की फिल्म ‘गूंज उठी शहनाई’ में शहनाई बजाई थी। हालांकि ‘रॉकस्टार’ फिल्म में भी उनकी शहनाई का इस्तेमाल किया गया था।

भारत के पहले गणतंत्र दिवस (26 जनवरी, 1950) के मौके पर उन्होंने लाल किले से राग कैफी की प्रस्तुति दी थी।

उस्ताद बिस्मिल्लाह खान का बचपन का नाम कमरूद्दीन खान बताया जाता है लेकिन खुद बिस्मिल्लाह खान के मुताबिक उनका नाम अमीरूद्दीन था।

1997 में आजादी की 50वीं वर्षगांठ पर भारत सरकार के आमंत्रण पर उस्ताद बिस्मिल्लाह खान ने दूसरी बार लाल किले के दीवाने-आम से शहनाई बजाई।

Wefornews Bureau

राष्ट्रीय

सीबीआई ने डीएसपी देवेंद्र कुमार को किया सस्‍पेंड

Published

on

cbi
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

सीबीआई के डीएसपी देवेंद्र कुमार को सस्‍पेंड कर दिया गया। उन पर रिश्वत लेने का आरोप है और अदालत ने 7 दिन की सीबीआई रिमांड पर भेजा है।

दरअसल, मीट व्यवसायी मोइन कुरैशी मामले में सीबीआई ने कार्रवाई करते हुए अपने ही एक अफसर डिप्टी एसपी देवेंद्र कुमार को गिरफ्तार कर लिया था, जिन्हें आज दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया। मामले की सुनवाई के बाद कोर्ट ने देवेंद्र कुमार को 7 दिन की सीबीआई हिरासत में भेज दिया है। जबकि सीबीआई ने देवेंद्र कुमार की 10 दिनों की कस्टडी की मांग की थी।

देवेंद्र कुमार CBI के विशेष निदेशक राकेश अस्थाना की घूसखोरी के मामले में आरोपी हैं। सीबीआई ने अपने ही विशेष निदेशक राकेश अस्थाना समेत कई लोगों के खिलाफ घूस लेने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है।

WeForNews

Continue Reading

राष्ट्रीय

सीबीआई डीएसपी देवेंद्र को 7 दिन की सीबीआई हिरासत

Published

on

CBI

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के विशेष निदेशक राकेश अस्थाना के खिलाफ रिश्वतखोरी के आरोपों के बीच यहां एक अदालत ने मंगलवार को एजेंसी के डीएसपी देवेंद्र कुमार को सात दिनों के लिए सीबीआई की हिरासत में भेज दिया। कुमार को दस्तावेजों में फर्जीवाड़ा करने के आरोप में सोमवार को गिरफ्तार किया गया था।

एजेंसी ने कहा कि धन शोधन और भ्रष्टाचार के विभिन्न मामलों का सामना कर रहे मांस कारोबारी मोइन कुरैशी ने अपने खिलाफ एक मामले को सलटाने के लिए कथित तौर पर रिश्वत दी थी।

सीबीआई के अनुसार, कुमार ने कुरैशी मामले के गवाह सतीश सना के बयान से छेड़छाड़ कर यह दिखाया है कि उसने यह बयान दिल्ली में 26 सितंबर को दर्ज कराया था। हालांकि जांच में खुलासा हुआ है कि सना उस दिन दिल्ली में नहीं हैदराबाद में था और वह जांच में एक अक्टूबर को शामिल हुआ था।

अस्थाना, कुमार और दो अन्य आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज होने के अगले दिन कुमार को गिरफ्तार किया गया था। सीबीआई ने आरोप लगाया है कि दिसंबर 2017 और इस साल अक्टूबर में कम से कम पांच बार रिश्वत ली गई है।

गुजरात काडर के भारतीय पुलिस सेवा के 1984 बैच के अधिकारी अस्थाना पर कुरैशी मामले में जांच का सामना कर रहे एक व्यापारी से जांच में राहत देने के लिए दो करोड़ रुपये रिश्वत लेने का आरोप है। इस मामले की जांच अस्थाना के नेतृत्व में गठित एक विशेष जांच दल (एसआईटी) कर रहा था।

–आईएएनएस

Continue Reading

राष्ट्रीय

मध्य प्रदेश: मूर्ति विसर्जन के दौरान विवाद, कई वाहन फूंके

Published

on

madhya pradesh

मध्य प्रदेश के जबलपुर में नर्मदा नदी में दुर्गा प्रतिमा विसर्जन को लेकर श्रद्धालुओं और पुलिस के बीच जमकर झड़प हो गई। भीड़ ने कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया, वहीं पुलिस ने हालात पर काबू पाने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज किया।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, उच्च न्यायालय ने नर्मदा नदी में प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगाई थी, जिसके चलते प्रतिमा विसर्जन के लिए अलग से कुंड बनाया गया था, मगर काली माता पड़ाव समिति के लोग कुंड में प्रतिमा विसर्जन को तैयार नहीं हुए, इसी पर विवाद हो गया। सोमवार रात लगभग दो बजे विसर्जन जुलूस शुरू हुआ और ग्वारीघाट पहुंचने से पहले मंगलवार सुबह साढ़े सात बजे पुलिस व भीड़ में झड़प हुई।

पुलिस अधिकारियों के अनुसार, भीड़ प्रतिमा विसर्जन के लिए ग्वारीघाट जाना चाहती थी और पुलिस ने उसे ऐसा नहीं करने दिया, जिससे भीड़ उग्र हो गई और उसने वहां खड़े वाहनों में तोड़फोड़ की और कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया।

पुलिस के अनुसार, भीड़ के बढ़ते उपद्रव के बीच पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसूगैस के गोले छोड़े, जिसके बाद हालात नियंत्रित हुआ। पुलिस ने इस उपद्रव से जुड़े 40 से ज्यादा लोगों को हिरासत में ले लिया है।

पुलिस अधीक्षक अमित सिंह ने संवाददाताओं को बताया कि हालात अब पूरी तरह काबू में है, और भीड़ के पथराव में पुलिस जवानों को भी चोटें आई हैं। मौके पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular