शहर

20 सितंबर तक तमिलनाडु विधानसभा में न हो फ्लोर टेस्ट: मद्रास HC

madras high court-min

AIADMK से निकाले जा चुके दिनाकरण की याचिका पर मद्रास हाईकोर्ट ने फैसला सुनाया है।

हाईकोर्ट ने कहा है कि 20 सितंबर से पहले विधानसभा में फ्लोर टेस्ट नहीं कराया जाना चाहिए। बता दें कि दिनाकरण ने विधानसभा में फ्लोर टेस्ट की मांग को लेकर याचिका लगाई थी।

साथ ही मद्रास हाईकोर्ट ने विधायकों को याचिका दायर करने के आदेश के साथ एडवोकेट जनरल से स्पष्टीकरण देने को कहा है कि क्या अध्यक्ष पी धनपाल 19 विधायकों को अयोग्य घोषित करने जा रहे हैं।

इससे पहले वे राज्य के गर्वनर से ये मांग लगातार उठा रहे थे। बता दें कि शशिकला से पार्टी का महासचिव समेत सभी पद छीन लिए हैं। इसके अलावा दिनाकरन को भी पार्टी ने निकाल दिया गया है। मुख्यमंत्री पलानीसामी की तरफ से बुलाई गई पार्टी की जनरल काउंसिल बैठक में मंगलवार को ये फैसला लिया गया।

इससे पहले भी राज्य के सीएम पलानीसामी और डिप्टी सीएम पनीरसेल्वम ने कई बैठकें की थीं। माना जा रहा है कि यह बैठक दोनों को बाहर निकालने के लिए की गई थी। साथ ही पार्टी ने यह निर्णय लिया है कि शशिकला और दिनाकरन द्वारा लिए गए सभी फैसले पार्टी में लागू नहीं होंगे।

बता दें कि शशिकला आय से अधिक संपत्ति के चलते जेल में हैं, जबकि दिनाकरन को रिश्वत के आरोप के चलते सीबीआई की जांच का सामना करना पड़ रहा है। उन पर पार्टी के चिन्ह के लिए रिश्वत देने का आरोप लगा है।

wefornews bureau 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top