Connect with us

मनोरंजन

‘सत्यमेव जयते’ का पहला पोस्टर जारी, राष्ट्रीय चिह्न् संग दिखे जॉन

Published

on

john_abraham_-
फोटो-ट्विटर

मारधाड़ से भरपूर फिल्म ‘सत्यमेव जयते’ का पहला पोस्टर जारी हो गया है। इसमें जॉन अब्राहम और मनोज वाजपेयी जैसे सितारे प्रमुख भूमिकाओं में हैं।

यह स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर 15 अगस्त को रिलीज होगी। स्वतंत्रता दिवस आने में कुछ दिन ही बाकी है। नई फिल्म ‘परमाणु’ की सफलता का मजा ले रहे जॉन ने फिल्म का पहला पोस्टर जारी किया। इसके साथ ही उन्होंने कहा, “स्वतंत्रता दिवस है, न्याय गर्जन होगी।

सत्यमेव जयते 15 अगस्त को, मिलाप झवेरी, वाजपेयी मनोज, एसएमजे फिल्म, टीसीरीज, एम्मेएंटरटेन, निखिल आडवाणी, भूषण कुमार, आयशा शर्मा। फिल्म की पहली झलकी में जॉन बड़े बाइसेप्स के साथ नजर आ रहे हैं। अगर उनके पीछे आतिश पर गौर किया जाए तो राष्ट्रीय चिह्न् का आकार नजर आएगा, जिसमें चार शेर और अशोक चक्र बना हुआ है।

इसकी टैगलाइन ‘बेईमान पिटेगा करप्श्न मिटेगा’ है, जो स्पष्ट करता है कि यह फिल्म भ्रष्टाचार विरोधी है। कहा जा सकता है कि स्वतंत्रता दिवस के लिए यह उपयुक्त है। ‘सत्यमेव जयते’ 15 अगस्त को रिलीज होगी और इसकी अक्षय कुमार की ‘गोल्ड’ से मुकाबले की संभावना है।

WeForNews

ज़रा हटके

अब कौन कहेगा, ‘ऐ भाई! जरा देख के चलो’

Published

on

Gopaldas Neeraj

नई दिल्ली, 19 जुलाई | ‘लिखे जो खत तुझे‘, ‘ऐ भाई! जरा देख के चलो‘, ‘दिल आज शायर है‘, ‘जीवन की बगिया महकेगी‘, ‘खिलते हैं गुल यहां’ जैसे मशहूर गानों के जरिए लोगों के दिलों में जगह बनाने वाले हिंदी के प्रख्यात गीतकार और कवि गोपाल दास नीरज 93 वर्ष की उम्र में गुरुवार को दुनिया छोड़ चले, लेकिन ऐसा जिंदादिल कवि कभी मरता है क्या!

उत्तर प्रदेश के इटावा जिले स्थित पुरवली गांव में 4 जनवरी, 1925 को जन्मे गोपाल दास नीरज जब छह वर्ष के थे, तभी उनके पिता का देहांत हो गया था। सन् 1942 में एटा से हाईस्कूल परीक्षा प्रथम श्रेणी में पास करने के बाद उन्होंने इटावा की कचहरी में कुछ समय टाइपिस्ट का काम किया। उसके बाद सिनेमाघर की एक दुकान पर नौकरी की, लेकिन लिखने की कला अपने हाथ में समेटे गोपाल दास लंबी बेकारी के बाद दिल्ली आ गए।

दिल्ली आकर उन्होंने सफाई विभाग में टाइपिस्ट की नौकरी की। वहां से नौकरी छूट जाने पर कानपुर के डीएवी कॉलेज में क्लर्की की। फिर बाल्कट ब्रदर्स नाम की एक प्राइवेट कंपनी में पांच साल तक टाइपिस्ट का काम किया। नौकरी करने के साथ प्राइवेट परीक्षाएं देकर 1949 में 12वीं, 1951 में बीए और 1953 में प्रथम श्रेणी में हिंदी से एमए पास किया।

Image result for neeraj poet पद्मभूषण सम्मान

‘दर्द दिया है’, ‘आसावरी’, ‘बादलों से सलाम लेता हू’ं, ‘गीत जो गाए नहीं’, ‘कुछ दोहे नीरज के’, ‘नीरज की पाती’ जैसे रचना संग्रह, ‘तमाम उम्र मैं इक अजनबी के घर में रहा’, ‘हम तेरी चाह में, ऐ यार! वहां तक पहुंचे’, ‘अब तो मजहब कोई ऐसा भी चलाया जाए’, ‘दूर से दूर तलक एक भी दरख्त न था’ , ‘पीछे है बहुत अंधियार अब सूरज निकलना चाहिये’ जैसी गजलें लिखने वाले मशहूर कवि और गीतकार गोपाल दास नीरज को 1991 में पद्मश्री और 2007 में पद्मभूषण सम्मान से भी नवाजा गया था।

उत्तर प्रदेश सरकार ने भी यश भारती सम्मान से सम्मानित कर उनके दमदार लेखनी को सराहा था। बॉलीवुड फिल्मों में कई सुपरहिट गाने लिखकर अपना लोहा मनवाया था। उन्हें उनकी लेखनी के लिए कई बार सम्मानित किया गया था। उन्होंने तीन बार फिल्म फेयर अवार्ड भी अपने नाम किया था।

हिंदी मंचों के प्रसिद्ध कवियों में शुमार नीरज को अंतिम दिनों में सांस लेने में तकलीफ हो रही थी, जिस कारण मंगलवार को तबीयत बिगड़ने के बाद आगरा के लोटस हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, लेकिन तबीयत ज्यादा खराब होने पर उन्हें एम्स लाया गया, हालांकि बुधवार को तबीयत में सुधार की भी खबरें आई थीं, लेकिन अगले दिन नीरज ने दुनिया को अलविदा कह दिया। उनके लाखों चाहने वालों का दिल आज रोएगा बहुत, उनकी प्रसिद्ध कविता ‘रोने वाला ही गाता है’ सबको ढाढस बंधाएगी। कवि कभी मरता नहीं, नीरज सदियों अपनी रचनाओं के रूप में जीवित रहेंगे। उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि!!!

–आईएएनएस

Continue Reading

मनोरंजन

सोनाली ने जब बेटे रणवीर को दी कैंसर की खबर तो उसका यूं आया रिएक्शन…

Published

on

Sonali Bendre-
फोटो ट्विटर

बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनाली बेंद्रे दिनों न्यूयॉर्क में मेटास्टेटिक कैंसर का इलाज करा रहीं।

सोनाली बेंद्रे ने सोशल मीडिया पर एक भावुक पोस्ट शेयर कर बताया है कि जब उनके 12 साल के बेटे को जब कैंसर होने की बात पता चली तो उसने इसे किस तरह से लिया।उन्होंने  ने इंस्टाग्राम पर बेटे के साथ अपनी तस्वीर शेयर करते हुए यह पोस्ट लिखी।

सोनाली ने कहा कि जब से रणवीर पैदा हुआ है, ‘उसकी खुशी और देखभाल ही उनके और उनके पति गोल्डी बहल के लिए किसी और चीज की अपेक्षा प्राथमिकता रही है।’उन्होंने लिखा, और जब कैंसर ने अपना खराब सिर उठाया तो हमारी सबसे बड़ी उलझन थी कि हम उसे कैसे बताएंगे।

सोनाली और गोल्डी दोनों चाहते थे कि रणवीर सुरक्षित महसूस करे लेकिन वे पूरी सच्चाई भी बताना चाहते थे। लेकिन, सोनाली हैरान रह गईं जब उनके बेटे ने इस खबर को परिपक्वता के साथ लिया और उनके लिए ताकत और सकारात्मकता का स्रोत बन गया।

सोनाली ने कहा, अब कुछ स्थितियों में उसने अपनी भूमिका बदल दी है, अभिभावक की तरह मेरी देखभाल करने लगा है और याद दिलाता है कि मुझे क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए। प्रशंसकों को परवरिश संबंधी कुछ सलाह देते हुए सोनाली ने कहा कि बच्चों को इस तरह के हालात से वाकिफ कराना चाहिए। उन्हें इन सबसे परे रखने के बजाय उनके साथ समय बिताकर इसमें शामिल करने की जरूरत है।

From the moment he was born 12 years, 11 months and 8 days ago, my amazing @rockbehl took ownership of my heart. From then on, his happiness and wellbeing have been the centre of anything @goldiebehl and I ever did. And so, when the Big C reared its ugly head, our biggest dilemma was what and how we were going to tell him. As much as we wanted to protect him, we knew it was important to tell him the full facts. We’ve always been open and honest with him and this time it wasn’t going to be different. He took the news so maturely… and instantly became a source of strength and positivity for me. In some situations now, he even reverses roles and takes on being the parent, reminding me of things I need to do! I believe that it’s imperative to keep kids involved in a situation like this. They are a lot more resilient than we give them credit for. It’s important to spend time with them and include them, rather than make them wait on the side-lines, not being told yet instinctively knowing everything. In our effort to protect them from the pain and realities of life, we might end up doing the opposite. I’m spending time with Ranveer right now, while he’s on summer vacation. His madness and shenanigans help me #SwitchOnTheSunshine. And today, we derive strength from each other #OneDayAtATime

A post shared by Sonali Bendre (@iamsonalibendre) on

In the words of my favourite author Isabel Allende, “We don't even know how strong we are until we are forced to bring that hidden strength forward. In times of tragedy, of war, of necessity, people do amazing things. The human capacity for survival and renewal is awesome.” The outpouring of love I’ve received in the last few days has been so overwhelming… and I’m especially grateful to those of you who shared stories of your experiences in dealing with cancer, whether it was your own or of loved ones. Your stories have given me an extra dosage of strength and courage, and more importantly, the knowledge that I’m not alone. Each day comes with its own challenges and victories and so for now, I’m taking this #OneDayAtATime. The only thing I’m trying to be consistent about is maintaining a positive outlook… literally #SwitchOnTheSunshine – it’s my way of dealing with this. Sharing my journey is also part of this process… I can only hope it reminds you that all is not lost and that someone, somewhere understands what you’re going through. 🤞🌞 Thank you @tomoarakawa for making this a chic transition from long to short!

A post shared by Sonali Bendre (@iamsonalibendre) on

WeForNews

Continue Reading

मनोरंजन

‘सूरमा’ की टीम ने झज्जर पुलिस को सराहा

Published

on

File Photo

फिल्म ‘सूरमा’ की टीम ने झज्जर पुलिस द्वारा दुबलधन गांव के गरीब बच्चों को फिल्म दिखाने की सराहना की।

फिल्म निर्माता चित्रांगदा सेन और अभिनेता दिलजीत दोसांझ आईपीएस अधिकारी पंकज नैन के उस ट्विटर पोस्ट पद से अभिभूत हो गए, जिसमें बताया गया था कि वह अपनी टीम के साथ गरीब बच्चों को ‘सूरमा’ दिखाने के लिए सिनेमाघर ले गए।

आईपीएस अधिकारी की पोस्ट पर चित्रांगदा ने ट्वीट कर कहा, “यह ‘सूरमा’ के लिए अब तक की सबसे अच्छी समीक्षा है। इस दिलेर कहानी के साथ हर रोज काफी लोग प्रेरित हो रहे हैं और दिलों को जीत रहे हैं। झज्जर पुलिस की इस पहल से अभिभूत हैं। साभार।

Image result for Soorma

दिलजीत ने आईपीएस अधिकारी के ट्वीट को रिट्वीट कर उन्हें सराहा। यह फिल्म हॉकी के दिग्गज खिलाड़ी संदीप सिंह के जीवन पर आधारित है। 

WeForNews

Continue Reading

Most Popular