मिसाल: हिंदू लिंगायत मठ का प्रमुख बनेगा मुस्लिम युवक | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

राष्ट्रीय

मिसाल: हिंदू लिंगायत मठ का प्रमुख बनेगा मुस्लिम युवक

Published

on

Lingayat Math
(फोटो: सोशल मीडिया)

उत्‍तरी कर्नाटक के गडग जिले से धर्मनिरपेक्षता की एक ऐसी मिसाल सामने आई है जो देश में धर्मों के बीच भाईचारे के संदेश को मजबूत बनाती है। खबर आई है कि गडग जिले की लिंगायत मठ का नेतृत्‍व मुस्लिम युवक दीवान शरीफ रहीमनसाब मुल्‍ला को सौंपा गया है। 33 वर्षीय मुल्‍ला 26 फरवरी को समुदाय का कमान संभालेंगे। मुल्‍ला ने बताया कि वे 12वीं सदी के बसवन्‍ना की सीखों से वे प्रेरित है और बचपन से ही सामाजिक न्‍याय व सौहाद्र के लिए काम कर रहे हैं।

‘टाइम्‍स ऑफ इंडिया’ में प्रकाशित खबर के मुताबिक, आसुति गांव के मुरुघराजेंद्र कोरानेश्‍वर शांतिधाम मठ के पुजारी के तौर पर मुल्‍ला की नियुक्ति की गई है। मुख्‍य बात यह है कि मुल्‍ला के पिता ने सालों पहले इस मठ के लिए दो एकड़ जमीन दान में दी थी। यह दान उन्‍होंने आसुति में शिवयोगी के प्रवचनों से प्रभावित होने के बाद दिया था। शिवयोगी ने बताया कि आसुति मठ का निर्माण कार्य जारी है।

आसुति गांव स्थित मुरुगराजेंद्र कोरानेश्वरा शांतिधाम मठ में मुल्‍ला को पुजारी का पद सौंपा गया है। कलबुर्गी के खजुरी गांव के 350 साल पुराने कोरानेश्वर संस्थान मठ से जुड़े इस शांतिधाम मठ के लिए खजूरी मठ के पुजारी मुरुगराजेंद्र कोरानेश्वर शिवयोगी ने कहा, ‘बसवन्‍ना का दर्शन सार्वभौमिक है और हम अनुयायियों को जाति और धर्म की विभिन्नता के बावजूद गले लगाते हैं। उन्होंने 12वीं शताब्दी में सामाजिक न्याय और सद्भाव का सपना देखा था और उनकी शिक्षाओं का पालन करते हुए, मठ ने सभी के लिए अपने दरवाजे खोल दिए हैं।’

आसुति में शिवयोगी के प्रवचनों से प्रभावित होकर शरीफ के पिता स्वर्गीय रहिमनसब मुल्ला ने गांव में एक मठ स्थापित करने के लिए जमीन दान की थी। शिवयोगी ने कहा, ‘मुल्‍ला बसवन्‍ना के दर्शन के प्रति समर्पित हैं। उनके पिता ने भी हमसे ‘लिंग दीक्षा’ ली थी। 10 नवंबर, 2019 को शरीफ ने ‘दीक्षा’ ली। हमने उन्हें पिछले तीन वर्षों में लिंगायत धर्म और बासवन्ना की शिक्षाओं के विभिन्न पहलुओं को लेकर प्रशिक्षित किया है।’

मुल्‍ला ने आगे बताया, ‘मैं पास के मेनासगी गांव में आटा चक्की चलाता था और अपने खाली समय बसवन्ना और 12वीं शताब्दी के अन्य साधुओं द्वारा लिखे गए प्रवचनों के प्रसार के साथ व्‍यतीत करता था। मुरुगराजेंद्र स्वामीजी ने मेरी इस छोटी सेवा को पहचान लिया और मुझे अपने साथ ले लिया। मैं बसवन्ना और मेरे गुरु द्वारा प्रचारित उसी रास्ते पर आगे बढ़ूंगा।’

मुल्‍ला विवाहित हैं। वे तीन बेटियों व एक बेटे के पिता हैं। लिंगायत मठों में गृहस्‍थ को पुजारी के तौर पर नियुक्‍त नहीं किया जाता है। लेकिन मुल्‍ला का मामला जुदा है। शिवयोगी ने कहा, ‘लिंगायत धर्म संसार (परिवार) के माध्यम से सद्गति में विश्वास करता है। पारिवारिक व्यक्ति एक स्वामी बन सकता है और सामाजिक तथा आध्यात्मिक कार्य कर सकता है।’ उन्होंने कहा, ‘मठ के सभी भक्तों के समर्थन से पुजारी के पद को मुल्‍ला को सौंपा गया है।’

WeForNews

राष्ट्रीय

कोराना के मरीजों को नहीं होगी सांस लेने में दिक्कत, बनी खास डिवाइस

Published

on

Coronavirus
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली। कोरोनावायरस के मरीजों के उपचार के लिए भारतीय वैज्ञानिकों ने एक खास डिवाइस बनाई है। यह डिवाइस ऑक्सीजन से भरपूर हवा की आपूर्ति करेगा। यह डिवाइस उन मरीजों के लिए मददगार होगी, जिन्हें कोरोना के कारण सांस लेने में तकलीफ होती है। पूरी तरह स्वदेशी इस डिवाइस को विज्ञान एवं प्रौद्यौगिकी विभाग(डीएसटी) से मिली आर्थिक मदद पर जेनरिच मेम्ब्रेन्स नामक कंपनी ने बनाया है।

जेनरिच मेम्ब्रेन्स ने कोविड-19 के मरीजों के उपचार में काम आने वाले इस मशीन को ‘मेम्ब्रेन ऑक्सीजनेटर इक्विपमेंट’ नाम दिया है। नई और स्वदेशी हॉलो-फाइबर मेम्ब्रेन प्रौद्योगिकी पर आधारित यह मशीन 35 प्रतिशत तक ऑक्सीजन बढ़ाती है।

यह डिवाइस सुरक्षित है। इसे चलाने के लिए ट्रेंड स्टाफ की भी जरूरत नहीं होती। इसकी देखरेख में भी ज्यादा सावधानी नहीं बरतनी होती। यह पोर्टेबल होता है यानी इसे कहीं भी लगाकर चला सकते हैं। खास बात है कि यह किसी भी जगह तेजी से भरपूर ऑक्सीजन से युक्त हवा उपलब्ध कराती है।

इस उपकरण में मेम्ब्रेन काटिर्र्ज, तेल मुक्त कम्प्रेशर, आउटपुट फ्लोमीटर, ह्युमिडिफायर बोतल, नासल कैनुला और ट्यूबिंग व फिटिंग्स शामिल हैं। साफ हवा को मेम्ब्रेन काटिर्र्ज में भरा जाता है, जो भारी दबाव के साथ नाइट्रोजन की तुलना में ऑक्सीजन की प्रचुर मात्रा वाली ऑक्सीजन की सप्लाई करता है। मेम्ब्रेन काटिर्र्ज कुल मिलाकर ऑक्सीजन और नाइट्रोजन में अंतर करने में सक्षम है, जो वायरस, बैक्टीरिया और कणयुक्त तत्वों को गुजरने से रोकता है।

डीएसटी सचिव प्रोफेसर आशुतोष शर्मा के मुताबिक, “कोविड-19 सहित अन्य मरीजों के लिए चिकित्सा ग्रेड से ऑक्सीजनयुक्त हवा की जरूरत होती है। वैश्विक अनुभव से सामने आया है कि लगभग 14 प्रतिशत संक्रमण के मामले में ही ऑक्सीजन सपोर्ट की जरूरत होती है और जिसमें 4 प्रतिशत को ही आईसीयू आधारित वेंटिलेटरों की जरूरत होती है। इस डिवाइस के जरिए संक्रमित मरीजों की सांस से जुड़ी समस्याओं का बेहतर इलाज किया जा सकता है।”

कोविड 19 के प्रमुख लक्षणों में सांस फूलने की भी समस्या है। ऐसे में इस डिवाइस का इस्तेमाल उन मरीजों के लिए किया जा सकता है, जिन्हें गहन देखभाल इकाइयों (आईसीयू) से डिस्चार्ज कर दिया गया है। यह डिवाइस क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिसीज (सीओपीडी), अस्थमा, इंटर्सटिशियल लंग डिसीज (आईएलडी), समय पूर्व जन्मे बच्चों, सांप काटने जैसी बीमारियों से प्रभावित मरीजों के लिए भी खासी मददगार हो सकती है। खास बात है कि इस डिवाइस का परीक्षण और इसे मान्यता देने का काम पूरा हो गया है।

Continue Reading

राष्ट्रीय

कोविड-19: आंध्र प्रदेश में 12 घंटे में कोई नया मामला नहीं

Published

on

By

Coronavirus
प्रतीकात्मक तस्वीर

अमरावती। आंध्र प्रदेश में बीती रात के दौरान कोरोना का कोई नया मामला सामने नहीं आया है, जो कि बड़ी राहत की बात है। राज्य नोडल अधिकारी द्वारा जारी किए गए स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, राज्य में बुधवार की शाम छह बजे से लेकर गुरुवार की सुबह तक 12 घंटों के दौरान 217 नमूनों का परीक्षण किया गया, जिसमें कोई भी पॉजिटिव मामला सामने नहीं आया है।

इस तरह से राज्य में कोविड-19 मामलों की संख्या बुधवार शाम के आंकड़े 348 पर ही बनी हुई है। यह राज्य के लिए किसी बड़ी राहत से कम नहीं है, क्योंकि आंध्र प्रदेश में पिछले कुछ हफ्तों में कोरोना के मामलों में लगातार बढ़ोतरी दर्ज की जा रही थी।

अब तक नौ मरीजों ठीक हो चुके हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है, जबकि चार व्यक्तियों ने कोरोनावायरस संक्रमण के कारण दम तोड़ दिया है।

इस बीच राज्य में कोरोना के रोगियों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग को मजबूत करने के प्रयास में प्रदेश सरकार ने 10 डिप्टी कलेक्टरों के राज्य नियंत्रण कक्ष में अस्थायी स्थानांतरण के आदेश जारी किए हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading

राष्ट्रीय

कोरानावायरस: भोपाल, इंदौर और उज्जैन किए गए सील

Published

on

By

coronavirus
प्रतीकात्मक तस्वीर

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोनावायरस की रोकथाम की कोशिशों के बीच इंदौर, भोपाल और उज्जैन में बढ़ते संक्रमण ने सरकार की चिंताएं बढ़ा दी है। यही कारण है कि, सरकार को तीनों जिलों को पूरी तरह सील करने का फैसला लेना पड़ा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर तीनों ही स्थानों पर पुलिस बल को और चुस्त-दुरुस्त कर दिया गया है। बेवजह घूमने वालों को गिरफ्तार भी किया जा रहा है।

राज्य में अब तक 381 कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए गए है, उनमें 213 इंदौर, 94 भोपाल और 15 उज्जैन में पाए गए है। इंदौर में तो 22 मरीजों और उज्जैन में पांच की मौत हो चुकी है। भोपाल में एक मरीज ने दम तोड़ा है। इसी के चलते तीनों ही जिलों में सरकार ने सख्ती से सील करने के निर्देश दिए हैं। यहां जो भी घरों से बाहर पाया जा रहा है, उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

इंदौर के पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) हरि नारायण चारी मिश्र ने आईएएनएस को बताया, “लोगों के घरों से निकलने पर पूरी तरह पाबंदी है, पुलिस बल की तैनाती है। जो लोग भी घरों से बेवजह बाहर निकल रहे हैं, उन्हें गिरफ्तार कर सीधे जेल भेजा जा रहा है। अब तक 125 से ज्यादा लोगों को घूमते पाए जाने पर जेल भेजा जा चुका है।”

मुख्यमंत्री चौहान ने तीनों जिलों को पूरी तरह सील किए जाने के साथ इन क्षेत्रों में जिला प्रशासन आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के आदेश दिए हैं। इन क्षेत्रों से कोई भी व्यक्ति अंदर-बाहर आ-जा नहीं सकेंगे। कोरोना संबंधी कार्य में सभी शासकीय विभागों की तथा उनके संसाधनों की सेवाएं ली जाएं।

मुख्यमंत्री चौहान ने प्रदेशवासियों से आग्रह किया है कि संक्रमण से बचने के लिए हर व्यक्ति मास्क लगाकर ही घर से बाहर निकले। उन्होने कहा कि होममेड मास्क का भी प्रयोग किया जा सकता है।

इसी तरह उज्जैन में भी सीमाओं को पूरी तरह सील कर दिया गया है और लोगों के बेवजह बाहर निकलने पर पाबंदी लगा ली गई है।

कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी शशंक मिश्रा ने कहा कि अन्य जिलों तथा विदेश से आए हुए व्यक्ति स्वयं को क्वारेंटीन में रखे तथा इसकी सूचना कंट्रोल रूम पर 104 पर दें। ऐसे व्यक्ति यदि सूचना नहीं देते हैं एवं खुले में घूमते पाए जाते हैं तो उनके विरुद्घ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

उज्जैन में भी बेवजह घूमने वालों को गिरफ्तार किया जा रहा है। प्रशासनिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, अब तक उज्जैन में 20 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं लोगों केा सचेत व सतर्क किया जा रहा है।

वहीं भोपाल में भी टोटल सील किए जाने को अमल में लाया जा रहा है, हर जगह पुलिस बल की तैनाती है। लॉकडाउन का जिले में पुलिस प्रशासन द्वारा कड़ाई से पालन कराया जा रहा है। इसके साथ ही जनसामान्य को समझाइश भी दी जा रही है। विभिन्न स्थानो पर लॉकडाउन का उल्लंघन करते पाए जाने पर विभिन्न धाराओं में पुलिस ने 79 प्रकरण दर्ज किए हैं। लॉकडाउन के दौरान पुलिस द्वारा 22 मार्च से अब तक 753 मामले दर्ज किए जा चूके हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
Coronavirus
राष्ट्रीय7 mins ago

कोराना के मरीजों को नहीं होगी सांस लेने में दिक्कत, बनी खास डिवाइस

Coronavirus
राष्ट्रीय17 mins ago

कोविड-19: आंध्र प्रदेश में 12 घंटे में कोई नया मामला नहीं

coronavirus
राष्ट्रीय26 mins ago

कोरानावायरस: भोपाल, इंदौर और उज्जैन किए गए सील

rbi
व्यापार35 mins ago

कोरोना के चलते अर्थव्‍यवस्‍था में रिकवरी की संभावनाएं होंगी कमजोर: आरबीआई

delhi high court
राष्ट्रीय54 mins ago

दिल्ली हाई कोर्ट ने गर्मी की छुट्टियां की निलंबित, अब जून महीने में भी काम करेंगी अदालतें

मनोरंजन1 hour ago

नुपूर ने लिखी कविता, सुनकर भावुक हुईं कृति

Coronavirus
राष्ट्रीय1 hour ago

कर्नाटक में कोविड-19 से मरने वालों की संख्या 6 हुई

Corona India Tablighi Jamaat
राष्ट्रीय2 hours ago

उप्र : मऊ में 2 और जमातियों की हुई पहचान

Coronavirus
राष्ट्रीय2 hours ago

क्वारंटाइन में प्रकृति से जोड़ा नाता

Unemployment
अंतरराष्ट्रीय2 hours ago

कोरोना से अमेरिका में लाखों बेरोजगार, भत्ते के लिए सड़कों पर उतरे लोग

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
अंतरराष्ट्रीय3 days ago

चीन ने महामारी के फैलाव को कारगर रूप से नियंत्रित किया : डब्ल्यूएचओ

मनोरंजन2 weeks ago

शिवानी कश्यप का नया गाना : ‘कोरोना को है हराना’

Honey Singh-
मनोरंजन1 month ago

हनी सिंह का नया सॉन्ग ‘लोका’ हुआ रिलीज

Akshay Kumar
मनोरंजन1 month ago

धमाकेदार एक्शन के साथ रिलीज हुआ ‘सूर्यवंशी’ का ट्रेलर

Kapil Mishra in Jaffrabad
राजनीति2 months ago

3 दिन में सड़कें खाली हों, वरना हम किसी की नहीं सुनेंगे: कपिल मिश्रा का अल्टीमेटम

मनोरंजन2 months ago

शान का नया गाना ‘मैं तुझको याद करता हूं’ लॉन्च

मनोरंजन2 months ago

सलमान का ‘स्वैग से सोलो’ एंथम लॉन्च

Shaheen Bagh Jashn e Ekta
राजनीति2 months ago

Jashn e Ekta: शाहीनबाग में सभी धर्मो के लोगों ने की प्रार्थना

Tiger Shroff-
मनोरंजन2 months ago

टाइगर की फिल्म ‘बागी 3’ का ट्रेलर रिलीज

Human chain Bihar against CAA NRC
शहर2 months ago

बिहार : सीएए, एनआरसी के खिलाफ वामदलों ने बनाई मानव श्रंखला

Most Popular