रोज एक अंडा खाने से होते हैं ये फायदे.... | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

स्वास्थ्य

रोज एक अंडा खाने से होते हैं ये फायदे….

Published

on

egg-
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

ज्यादातर लोगों को ये पता है कि अंडा एक पौष्ट‍िक खाद्य है। ऐसा कम ही लोग जानते हैंं कि अंडा खाने से क्या-क्या फायदे होते हैं। अंडा प्रोटीन और अमीनो एसिड का एक बहुत अच्छा सोर्स है।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

कुछ ही ऐसी चीजें होती हैं जिनमें संपूर्ण प्रोटीन होता है और अंडा उनमें से एक है। साथ ही इसमें सभी नौ जरूरी अमीनो एसिड्स भी पाए जाते हैं जो शरीर के लिए बेहद जरूरी होते हैं। इसके अलावा ये विभिन्न प्रकार के विटामिन्स जैसे विटामिन A, B12, D और E से भी भरपूर होता है।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

अंडा फोलेट, सेलेनियम और दूसरे कई प्रकार के लवणों से भी युक्त होता है। चीन में हुई एक स्टडी की रिपोर्ट में बताया गया गया है कि दिनभर में एक अंडा खाने से दिल संबंधी बीमारियों का खतरा बेहद कम हो जाता है। ‘हार्ट जर्नल’ में प्रकाशित इस स्टडी में लगभग 4 लाख लोगों को शामिल किया गया है।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

आइए जानें, क्या कहती है स्टडी की रिपोर्ट…

स्टडी की रिपोर्ट के मुताबिक, रोजाना अंडा खाने वाले लोगों में दिल की बीमारी की वजह से मौत होने की संभावना अंडा न खाने वाले लोगों के मुकाबले 18 फीसदी कम होती है। इतना ही नहीं दिल की बीमारी से पीड़ित लोगों में हार्ट अटैक, स्ट्रोक और दिल संबंधी कई दूसरी समस्याएं होने का खतरा रहता है।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

आजकल अधिकतर लोग ब्लड प्रेशर, मोटापा और ब्लड शुगर जैसी गंभीर बीमारियों से जूझ रहे हैं, जो दिल की बीमारी को न्योता देने का काम करती हैं। इसके अलावा खान-पान में लापरवाही, स्मोकिंग और अल्कोहल के सेवन से भी दिल की बीमारियों का खतरा कई गुना अधिक बढ़ जाता है।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

हालांकि, कई डॉक्टर कुछ मरीजों को ज्यादा अंडे न खाने की सलाह देते हैं। इस पर स्टडी के सहलेखक और ‘पेकिंग यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ’ के एसोसिएट प्रोफेसर Canqing Yu ने बताया कि विटामिन और अन्य गुणों से भरपूर अंडे में भारी मात्रा में कोलेस्ट्रोल भी होता है, जिस वजह से कुछ लोगों को लगता है कि अंडा सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

इसके अलावा उन्होंने ये भी बताया कि अभी तक अंडे के सेवन और दिल संबंधी समस्याओं पर जितनी भी स्टडी हुई हैं, उनमें काफी कम जानकारी दी गई है। उन सभी स्टडी में खान-पान की आदतें, जीवनशैली और बीमारी होने के कारणों में काफी अंतर है, जिस वजह से उन्होंने और उनके अन्य साथियों ने अंडे के सेवन से दिल की बीमारियों के संबंध को देखते हुए इस पर रिसर्च करने का फैसला किया।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

स्टडी के दौरान शोधकर्ताओं ने एक दूसरी स्टडी के डेटा को भी इस्तेमाल किया, जिसमें चीन के 10 अलग-अलग क्षेत्रों में रहने वाले लगभग लाखों लोगों को शामिल किया गया था। उस स्टडी में करीबन 416,213 ऐसे लोग थे जिनको कभी कैंसर, डायबिटीज या दिल से जुड़ी कोई बीमारी नहीं हुई थी।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

बता दें, इनमें से 13 फीसदी लोग 30 से 79 की उम्र वाले थे,जो रोजाना अंडा खाते थे। वहीं 9 फीसदी लोग ऐसे भी सामने आए जो अंडा नहीं खाते थे लेकिन चिकन खाते थे। लगभग 9 साल की रिसर्च के बाद शोधकर्ता इस स्टडी के नतीजों पर पहुंचे है। शोधकर्ताओं ने बताया कि चीन में सबसे ज्यादा मौतें दिल की बीमारियों की वजह से होती हैं।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

इसके अलावा स्टडी के दौरान लगभग 9,985 लोगों की दिल की बीमारी की वजह से मौत के मामले सामने आए। वहीं, करीब 84,000 लोगों में दिल की बीमारी की शिकायत सामने आई। सभी जानकारी का विश्लेषण करने के बाद शोधकर्ताओं ने पाया कि अंडे खाने वाले लोगों में उन लोगों के मुकाबले दिल की बीमारी होने का खतरा बेहद कम होता है जो अंडा नहीं खाते हैं।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

WeForNews

राष्ट्रीय

कर्नाटक में सौ साल की बुजुर्ग महिला ने कोरोना को मात दी

Published

on

Coronavirus
प्रतीकात्मक तस्वीर

चित्रदुर्ग (कर्नाटक)। यहां एक संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से कोरोना की मरीज हुईं 100 साल से अधिक उम्र की एक बुजुर्ग महिला जानलेवा वायरस को मात देकर स्वस्थ हो गईं। जिले के एक चिकित्सक ने यह जानकारी दी।

जिला अस्पताल के चिकित्सक रंगा रेड्डी ने आईएएनएस को फोन पर बताया, सिद्दम्मा की उम्र 100 साल से ज्यादा है। वह संकमण से मुक्त हो गई हैं। उन्हें इस अस्पताल से शनिवार को छुट्टी मिल गई। उन्हें 27 जुलाई को भर्ती कराया गया था।

चित्रदुर्ग बेंगलुरु से 205 किलोमीटर उत्तर-पश्चिम में है।

रंगा रेड्डी ने बताया कि सिद्दम्मा बुरुजानाहट्टी गांव में स्थित पुलिस क्वार्टर में अपने परिवार के साथ रहती हैं। उनकी पांच संतान हैं, 17 पोते-पोती और 22 पड़पोते-पड़पोती हैं।

जिला स्वास्थ्य बुलेटिन में शतायु बुजुर्ग महिला के संक्रमण से मुक्त होने की सूचना प्रसारित होते ही स्थानीय समाचार चैनलों के मीडयाकर्मी सिद्दम्मा से मिलने पहुंचे।

सिद्दम्मा ने संवाददाताओं से कन्नड़ में कहा, मुझे किसी चीज से डर नहीं लगता। अस्पताल में डॉक्टर ने जब बताया कि कोरोना बीमारी हो गई है तो मैं घबराई नहीं। मैंने तो इस बीमारी का पहले नाम भी नहीं सुना था। मुझे पीने के लिए गर्म पानी और खाने के लिए दलिया दिया जाता था।

रंगा रेड्डी ने कहा कि सिद्दम्मा की उम्र 110 साल बताई जाती है। इसका सत्यापन कराना होगा। हालांकि उनके पास ऐसा कोई दस्तावेज नहीं है, जिससे साबित हो सके कि उनका जन्म 1910 में हुआ था।

–आईएएनएस

Continue Reading

राष्ट्रीय

नोएडा में 886 संक्रमित मरीजों का इलाज जारी, कंटेनमेंट जोन 500 के पार

Published

on

Coronavirus
प्रतीकात्मक तस्वीर

गौतमबुद्धनगर। उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर(नोएडा) में कोरोना के 105 नए मरीज सामने आए। जिले में कोरोना संक्रमण के 886 मरीजों का इलाज जिले के अलग-अलग अस्पतालों में चल रहा है।

जिला सूचना अधिकारी राकेश चौहान द्वारा साझा की गई राज्य रिपोर्ट के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 105 नए संक्रमित मरीजों के मामले सामने आए तो वहीं 63 मरीज स्वस्थ भी हुए। जिले में अब तक 4502 मरीज डिस्चार्ज किए गए हैं। रविवार को कोरोना संक्रमण से एक भी मौत नहीं हुई है। हालांकि जिले में अब तक कोरोना संक्रमण से 43 मरीजों की मौत हो चुकी है। इस समय 886 मरीजों का इलाज जिले के अलग-अलग अस्पतालों में चल रहा है।

जिले में रविवार को चिकित्सा विभाग द्वारा जारी अंतिम आंकड़ों के अनुसार, जिले में कंटेनमेंट जोन की संख्या 517 हो गई है। इसमें श्रेणी 1 में 470 तो वहीं श्रेणी 2 में 47 कंटेनमेंट जोन हो गए हैं। श्रेणी 1 का मतलब इन आवासीय क्षेत्रों में मरीजों की संख्या केवल एक है। वहीं श्रेणी 2 का मतलब इन आवासीय क्षेत्रों में मरीज की संख्या एक से ज्यादा है।

जिले में संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए जहां-जहां नए कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं, वहां सेनिटाइजेशन भी किया जा रहा है। रविवार को जिले में 56 स्थानों पर सेनिटाइजेशन कराया गया।

–आईएएनएस

Continue Reading

राष्ट्रीय

बिहार में कोरोना के 2,502 नए मामले, संक्रमितों की संख्या 54,508

Published

on

Coronavirus
प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार में कोरोना के 2,502 नए मामले आने के बाद राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या 54,508 पहुंच गई है। पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य में 14 संक्रमितों की मौत हुई है, जिससे मृतकों की कुल संख्या 312 हो गई है।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार, पिछले 24 घंटे के दौरान 28,624 नमूनों की जांच हुई है। राज्य में अब तक 5,76,796 नमूनों की जांच हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट में कहा गया है कि राज्य में पिछले 24 घंटे के दौरान 14 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है। राज्य में अब तक कुल 312 कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है।

जरी रिपोर्ट में कहा गया है कि शनिवार को 2,502 नए मरीजों के मिलने से राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 54,508 हो गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान 1,823 संक्रमित स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं। राज्य में अब तक 35,473 संक्रमित स्वस्थ हो चुके है। बिहार राज्य में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की रिकवरी रेट 65़ 08 प्रतिशत है।

बिहार में शनिवार को आए नए मामलों में सबसे अधिक 442 मामले पटना जिले से सामने आए हैं।

बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के अब तक सामने आए कुल मामलों में सबसे अधिक पटना जिले में 9,358, भागलपुर के 2,638, मुजफ्फरपुर के 2,459, रोहतास के 2,178, गया के 2,209 तथा नालंदा में 2,266 संक्रमित मिले हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular