Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

मेक्सिको में भूकंप के झटके

Published

on

earthquake
फाइल फोटो

दक्षिणी मेक्सिको में शनिवार को भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए, जिसके डर से लोग घरों से बाहर निकल आए। अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण के हवाले से बताया कि रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 7.5 मापी गई।

मेक्सिको सिटी में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। भूकंप के डर से लोगों के सड़कों पर निकलने से यातायात को अस्थाई तौर पर रोक दिया गया।

WeForNews

अंतरराष्ट्रीय

इस देश का है नारा, “बच्चे पैदा करो, देरी मत करो”

Published

on

Baby Born
प्रतीकात्मक तस्वीर

दुनिया में जहां कई देश बढ़ती आबादी की समस्या से चिंतित हैं, वहीं दूसरी ओर कुछ देश ऐसे भी हैं जहां जनसंख्या दिन-ब-दिन घट रही है। इन्हीं में शामिल एक देश है सर्बिया। इस देश की आबादी तकरीबन 70 लाख है। इसलिए अब यहां आबादी बढ़ाने के तमाम हथकंडे अपनाए जा रहे हैं। यहां ”बच्चे पैदा करो, देरी मत करो” का नारा दिया गया है।

जानकारी के मुताबिक, सर्बिया ने अपने देश के युवा दंपतियों से एक ओर अपील की है कि ‘देरी मत करो, बच्चे पैदा करो!’ वहीं दूसरी ओर ‘चलो बच्चों की किलकारियां सुनें’ की आवाज़ बुलंद है। देश की महिलाओं का कहना है कि उन्हें आबादी बढ़ाने के लिए बेहतर सहयोग चाहिए ना कि महज प्रेरणादायक शब्द बुने जाने चाहिए।

बता दें, सर्बिया में बहुत लोग देश छोड़कर जा रहे हैं और इसके साथ जन्म-दर भी तेजी से गिर रही है। देश में औसतन हर दो परिवार में तीन बच्चे हैं जो यूरोप में सबसे कम है और इससे सर्बिया की आबादी गिरकर 70 लाख लोगों पर पहुंच गई है। संयुक्त राष्ट्र को अंदेशा है कि 2050 तक सर्बिया की आबादी 15 फीसदी तक और कम हो सकती है।

गौरतलब है कम बच्चे पैदा करने की प्रवृत्ति को दूर करने के लिए सर्बियाई अधिकारियों ने अनेक प्रस्ताव दिए हैंं, इसमें जून में घोषित एक योजना भी शामिल है। योजना के अनुसार उन इलाकों में कम मंजिलों वाले मकान बनेंगे, जहां बच्चों की दर कम है।

राष्ट्रपति एलेक्जेंडर वुकिक का कहना है कि यह एक अध्ययन पर आधारित है, जिसमें पता चला है कि दो से चार मंजिला घरों में रहने वाले दंपत्तियों में बच्चे पैदा करने की दर दोगुना ज्यादा है। इसके अलावा महिलाओं को और बच्चे पैदा करने के लिए प्रेरित करने के वास्ते नए मातृत्व देखभाल कानून पारित किए गए हैं।

WeForNews

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

गुटेरेस का नरसंहार रोकने संबंधी समझौते की सार्वभौमिकता का आह्वान

Published

on

Antonio Guterres
फाइल फोटो

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने नरसंहार की रोकथाम और इसके दोषियों को दंडित किए जाने के समझौते की सार्वभौमिकता का आह्वान किया।

गुटेरेस ने इस सम्मेलन की 70वीं वर्षगांठ के मौके पर कहा कि होलोकास्ट और द्वितीय विश्वयुद्द के बाद दुनिया एकजुट हुई और नरसंहार की रोकथाम और इसके दोषियों को दंडित किए जाने को लेकर एक समझौते को स्वीकार किया था।

उन्होंने कहा, “70 साल बाद नरसंहार को रोकना अभी भी हमारे समय का महत्वपूर्ण काम बना हुआ है। इसलिए मैं हर देश से नरसंहार समझौते को समर्थन देने की अपील करता हूं। मैं बाकी बचे 45 देशों से भी बिना देरी किए ऐसा करने का आग्रह करता हूं।” उन्होंने सभी देशों से मानव पीड़ा को कम करने और जवाबदेही बढ़ाने के लिए इस समझौते के शब्दों पर अमल करने का भी आह्वान किया।

–आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

ट्रंप 750 अरब डॉलर के रक्षा बजट पर सहमत

Published

on

donald trump
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रक्षा मंत्री जेम्स मैट्टिस के आगामी वर्ष 750 अरब डॉलर के रक्षा बजट के प्रस्ताव को मंजूरी देने के आग्रह को स्वीकार कर लिया है। एक अधिकारी ने रविवार को सीएनएन को बताया कि पिछले सप्ताह ट्रंप ने ट्वीट कर रक्षा विभाग के 716 अरब डॉलर के बजट को पागलपन बताया था। इसके अगले दिन मैट्टिस और रिपब्लिकन सीनेटर्स ने सैन्य फंडिग को लेकर राष्ट्रपति से लंच पर मुलाकात की।

गौरतलब है कि 750 अरब डॉलर बजट के प्रस्ताव पर सहमति चार दिसंबर को हुई इसी बैठक के बाद बनी, जिसमें ट्रंप, मैट्टिस और हाउस और सीनेट आर्म्ड सर्विसेज कमिटी के चैयरमैन ने हिस्सा लिया था।

अधिकारी ने कहा, “राष्ट्रपति राष्ट्रीय रक्षा रणनीति का पूर्ण समर्थन करते हैं और सेना के सतत पुनर्निर्माण के हिमायती हैं। ट्रंप 750 अरब डॉलर के रक्षा बजट पर रजामंद हो गए हैं।”

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular