Connect with us

राष्ट्रीय

अविश्वास प्रस्ताव पर लोकसभा में चर्चा खत्म

Published

on

lok sabha-min

संसद के मॉनसून सत्र का तीसरा दिन है। लोकसभा में आज मोदी सरकार के खिलाफ पहले अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग होगी। टीडीपी सांसद की तरफ से बुधवार को लाए गए अविश्वास प्रस्ताव को लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने मंजूर किया था, जिसके बाद उस पर चर्चा के लिए शुक्रवार का दिन तय किया गया था।

लाइव अपडेट-

  • एनसीपी सांसद ने कहा कि बीजेपी की रवैये की वजह से ही उसके सहयोगी भाग रहे हैं। टीडीपी एनडीए छोड़ चुका है, शिवसेना आपके साथ सदन में नहीं खड़ी है। एनडीए के साथियों को लग रहा है कि मोदी जी के साथ चुनाव नहीं जीत सकते क्योंकि बीजेपी डूबती नांव हैं।
  • तारिक अनवर ने कहा कि प्रधानमंत्री राम राज की बात करते हैं लेकिन अगर यही राम राज है तो रावण राज क्या होगा। उन्होंने कहा कि बीजेपी के भीतर अजीब स्थिति है क्योंकि पार्टी का नेतृत्व दो लोगों के बीच सिमट गया है। आज गृहमंत्री राजनाथ सिंह तक की सलाह नहीं ली जाती है। पार्टी ने इसीलिए मार्ग दर्शक मंडल बनाया है लेकिन उनसे भी कोई राय नहीं ली जाती वह सिर्फ नाम के लिए हैं।
  • अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में बोल रहे हैं एनसीपी सांसद तारिक अनवर ने कहा कि सरकार विकास और अच्छे दिन का नारा देकर आई थी। आज समाज का हर परिवार दुखी है। नौजवान परेशान, किसान आत्महत्या कर रहा है। महिलाओं की सुरक्षा को लेकर भारत की बदनामी हो रही है और सरकार इस पर कुछ भी नहीं कर रही है।
  • राजनाथ सिंह ने कहा कि आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने में कुछ अड़चने हैं लेकिन जो भी मदद की जरूरत होगी वो केंद्र सरकार करने को तैयार है। आंध्र की सरकार को जो भी मदद केंद्र से मिली है उसपर काम करते हुए राज्य सरकार को परियोजनाएं लागू करनी चाहिए। राजनाथ सिंह ने अविश्वास प्रस्ताव का विरोध करते हुए अपना संबोधन समाप्त किया।
  • राजनाथ ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री ने सवा चार साल में सवा चार मिनट की छुट्टी तक नहीं ली है ऐसी उनकी कर्मठता है। उन्होंने कहा कि आज भी चंद्रबाबू नायडू के साथ आज भी हमारी मित्रता है। गठबंधन टूटा है लेकिन रिश्ते कायम हैं।
  • मॉब लिंचिंग पर बोलते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि यह घटनाएं नहीं होनी चाहिए और कड़ाई से इस पर कार्रवाई हो। केंद्र की जो भी मदद हो सकती है हम करने को तैयार हैं। साथ ही इसपर कानून की जरूरत हो तो वो भी बनाएंगे।
  • गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि देश में बीते 4 साल में कोई बड़ी आतंकी वारदात नहीं हुई है। पठानकोट में हमारे जवानों ने शौर्य का प्रदर्शन किया।
  • लोकसभा स्पीकर ने राहुल के पीएम मोदी को गले मिलने पर कहा कि यह सदन की गरिमा के खिलाफ है और मुझे यह अच्छा नहीं लगा। उन्होंने कहा कि वो प्रधानमंत्री के तौर पर यहां बैठे थे और पद की गरिमा होती है। साथ ही सांसद को भी इस गरिमा का पालन करना चाहिए।
  • लोकसभा की कार्यवाही शुरू।
  • लोकसभा की कार्यवाही 4.30 PM तक स्थगित।
  • लोकसभा में गृहमंत्री ने कहा विपक्ष के मित्र संशय की स्थिति में हैं। गठबंधन को लेकर, उसके नेता को लेकर साथ ही नीतियों को लेकर भी संशय है। टीडीपी सांसद हंगामा कर रहे हैं और गृहमंत्री से आंध्र प्रदेश पर बयान देने की मांग कर रहे हैं।
  • राजनाथ सिंह ने कहा कि यूपीए सरकार में जीडीपी और महंगाई दर बराबर हुआ करती थी लेकिन आज जीडीपी दर ऊपर जा रही है और महंगाई दर नीचे जा रही है।
  • राजनाथ सिंह ने कहा कि बीते 30-35 साल में किसी भी दल को देश में स्पष्ट बहुमत प्राप्त नहीं हुआ और पहली बार किसी गैर कांग्रेसी सरकार को स्पष्ट बहुमत हासिल हुआ है। इस बात को प्रस्ताव लाने वाले दलों को समझना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिस देश के पीएम की अपील पर करोड़ों लोगों ने LPG पर मिलने वाली सब्सिडी को छोड़ दिया उसके खिलाफ प्रस्ताप पर चर्चा के लिए बैठे हैं।
  • राजनाथ सिंह ने कहा कि विपक्ष भी जानता था कि हमारे पास सदन में बहुमत है और प्रस्ताव गिर जाएगा, लेकिन हमारे प्रधानमंत्री और पार्टी का मानना था कि स्वस्थ लोकतंत्र में विपक्ष की भी अहमियत होती है इसलिए हमने फैसला अगर विपक्ष की इच्छा है तो हमें अविश्वास प्रस्ताव को स्वीकार करना चाहिए
  • राज्यसभा की कार्यवाही सोमवार तक के लिए स्थगित।
  • राजनाथ सिंह ने कहा कि इस सदन में किसी भी पार्टी के पास अकेले हमारे खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की ताकत नहीं है, इसी वजह से कई पार्टियों को मिलकर यह प्रस्ताव लाना पड़ा है।
  • अविश्वास प्रस्ताव के खिलाफ बोल रहे हैं गृहमंत्री राजनाथ सिंह।
  • सीपीएम सांसद मोहम्मद सलीम लोकसभा में अपने विचार रख रहे हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी के वरिष्ठ लोग मार्गदर्शक मंजड में चले गए उनमें राजनाथ सिंह का भी नाम था लेकिन वह अब भी डटे हुए हैं। सलीम ने कहा कि जो वादा किया था वो निभाना पड़ेगा। उन्होंने कहा बीजेपी ने घोषणा पत्र में जो वादे किए थे चाहे रोजगार का हो, कालाधन वापस लाने का हो, वो पूरा नहीं हुआ है और सरकार कहता है कि हमारे पास आंकड़े नहीं हैं।
  • लोकसभा में मुलायम सिंह ने कहा कि अगर सरकार किसान, नौजवानों के लिए कुछ कर दे तो ही काम हो जाए। उन्होंने कहा कि किसान की पैदावार को दोगुना कर दें तो किसान को बहुत राहत मिलेगी। मुलायम ने कहा कि किसान को पैदावार पर घाटा हो रहा और खाद से लेकर बीज, पानी, सिंचाई सब महंगी हो गई है।
  • लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर बोल रहे हैं सपा सांसद मुलायम सिंह यादव।
  • टीआरएस के सांसद विनोद कुमार अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान अपना भाषण दे रहे हैं।
  • लोकसभा में सौगात राय ने कहा कि एक है ललित मोदी और एक नीरव मोदी एक बड़ा मोदी…यही मोदी सिंडिकेट देश को लूट रहा। उन्होंने कहा पश्चिम बंगाल में रैली के लिए पीएम गुजरात वाले अपने मोटा भाई को भेजे, पीएम क्यों घूम-घूमकर रैली कर रहे हैं, यह शर्म की बात है।
  • लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर बोले रहे हैं टीएमसी सांसद सौगत राय।
  • लोकसभा में AIADMK सांसद पोन्नुसामी वेणुगोपाल अविश्वास प्रस्ताव पर अपने विचार रख रहे हैं।
  • लोकसभा में रक्षा मंत्री के बयान के बाद हंगामा, हरसिमरत कौर बादल ने राहुल के गले मिलने पर जताई आपत्ति। कहा कि ये संसद है ये मुन्नाभाई का पप्पी-झप्पी एरिया नहीं है।
  • लोकसभा में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने राहुल के आरोपों का जवाब देते हुए दस्तावेज दिखाए और उन्हें पटल पर रखने की बात कही। रक्षा मंत्री ने कहा कि मेरे पास तत्कालीन रक्षा मंत्री एके एंटनी के दस्तखत वाले दस्तावेज हैं।
  • राहुल गांधी ने भाषण के बाद लोकसभा में पीएम मोदी की सीट पर जाकर उन्हें गले लगाया। पीएम ने भी पीठ थप थपाकर राहुल को बधाई दी।
  • स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा कि यह काफी महत्वपूर्ण चर्चा है लेकिन कोई भी आरोप लगाने से पहले सबूत होना चाहिए। स्पीकर ने राहुल से कहा कि अगर आप मंत्री का नाम लेकर आरोप लगाते हैं तो उन्हें भी सफाई देने का अधिकार मिलता है। स्पीकर ने कहा कि सीधे आरोप न लगाएं और नियमों के मुताबिक चलें।
  • लोकसभा की कार्यवाही शुरू।
  • हंगामे के बाद लोकसभा की कार्यवाही 01.45 PM तक स्थगित।
  • राहुल ने कहा कि पता नहीं कहा से मैसेज लिया और पीएम ने रात को 8 बजे कालेधन के खिलाफ नोटबंदी का ऐलान किया। समझ नहीं थी कि इससे छोटे कारोबारियों को कितना नुकसान हुआ और आज बेरोजगार 7 साल के सबसे उच्च स्तर पर है।
  • उन्होंने कहा कि जीएसटी कांग्रेस लेकर आई थी और तब आपने विरोध किया था। मोदी की जीएसटी से करोड़ों लोग बर्बाद हुए। पीएम मोदी विदेश जाते हैं लेकिन अपने सुरक्षा घेरे से बाहर नहीं निकलते और उनकी बात सिर्फ सूट-बूट वाले कारोबारियों से ही मिलते हैं छोटे दुकानदारों से नहीं।
  • राहुल ने संसद में उठाया जय शाह का मुद्दा, बीजेपी सांसदों ने जताई आपत्ति। स्पीकर ने बयान को सदन की कार्यवाही से हटाने के लिए कहा। राहुल बोले कि पीएम खुद को प्रधानसेवक बोलते हैं लेकिन अमित शाह के बेटे जय शाह पर कुछ नहीं बोलते।
  • राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी ने देश को जुमले दिए। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी 2 करोड़ युवाओं को रोजगार का वादा किया था, लेकिन कभी कहते हैं पकौड़े बनाओ, कभी कहते हैं कि दुकान खोलो। यही बीजेपी का दोहरापन है।
  • राहुल गांधी ने लोकसभा में टीडीपी सांसद गल्ला को संबोधित करते हुए कहा कि आप आज राजनीतिक हथियार के शिकार है जिसे जुमला स्ट्राइक कहा जाता है। उन्होंने कहा कि टीडीपी ही नहीं पूरा देश बीजेपी की इस जुमला स्ट्राइक का शिकार है।
  • लोकसभा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का संबोधन शुरू।
  • जयदेव गल्ला ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि आपने आंध्र के साथ किए गए वादों को पूरा नहीं किया। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की बात करते हैं लेकिन कर्नाटक चुनाव में जनार्दन रेड्डी और उनके लोगों को टिकट क्यों दिया गया।
  • गल्ला ने कहा कि आंध्र को संसाधन नहीं दिए गए जिनकी जरुरत राज्य की जनता को थी।
  • जयदेव गल्ला ने लोकसभा में पीएम मोदी को संबोधित करते हुए कहा कि क्या आपके वादों में कोई ताकत है। सदन के पटल पर कहे गए शब्दों की आपके लिए कोई अहमियत है। गल्ला ने कहा कि 2014 के विधानसभा चुनाव में भी मोदी ने रैली में आंध्र के स्पेशल स्टेटस देने का वादा किया था।
  • टीआरएस ने गल्ला के बयान पर आपत्ति जताई। गल्ला ने कहा कि था कि आज आंध्र प्रदेश असफल है जबकि तेलंगाना को ज्यादा राजस्व दिया जा रहा है, बंटवारे के बाद हमारे साथ न्याय नहीं हुआ।
  • जयदेव गल्ला ने कहा कि आज वादों और नैतिकता की लड़ाई है। उन्होंने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने खुद टीडीपी के खिलाफ जंग का ऐलान किया। अभी भी अनिश्चितता का माहौल है और आंध्र के सामने कई चुनौतियां हैं।
  • जयदेव गल्ला ने लोकसभा में कहा कि चार कारणों से यह अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है। इसमें विश्वास की कमी, भेदभाव, विश्वास की कमी, प्राथमिकता की कमी की वजह से मोदी सरकार के खिलाफ यह प्रस्ताव लाया गया है। आंध्र की 5 करोड़ जनता के साथ धोखा किया गया है। जयदेव गल्ला ने कहा कि आंध्र प्रदेश से किए गए वादों को पूरा करना जरूरी है और यह हमारे लिए भावनात्मक मुद्दा है।
  • टीडीपी सांसद जयदेव गल्ला ने अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा की शुरुवात की। टीडीपी सांसद जयदेव गल्ला ने प्रस्ताव पर पार्टी का समर्थन करने वाले दलों का आभार जताया। गल्ला ने कहा कि पहली बार सांसद बनने के साथ अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा शुरु करना मेरे लिए गौरव की बात है।
  • संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने कहा कि वनडे के जमाने में 5 दिन का टेस्ट संभव नहीं है। खड़गे ने 5 दिन तक अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा का वक्त मांगा था।
  • लोकसभा से बीजेडी का वॉकआउट।
  • नेता प्रतिपक्ष ने कांग्रेस समेत अन्य दलों को बोलने के लिए दिए गए तय वक्त पर आपत्ति जताई। उन्होंने कहा कि 5 घंटे में सभी विपक्षी दलों के सांसदों के बोल पाना संभन नहीं है।
  • सुमित्रा महाजन ने लोकसभा में बताया कि अब हम अविश्वास प्रस्ताव लेंगे और 6 बजे तक प्रस्ताव पर चर्चा खत्म करनी है। सदन सहमत हुआ तो लंच भी रद्द किया जा सकता है। उन्होंने सांसदों ने तय वक्त में अपनी बात कहने की अपील की।
  • लोकसभा में बीजेपी सांसदों ने लगाए जय श्री राम के नारे, पटल पर रखे जा रहे हैं दस्तावेज।
  • लोकसभा की कार्यवाही शुरू।

संसद के कामकाज के लिहाज से दूसरा दिन भी काफी बेहतर रहा और दोनों सदनों से एक-एक अहम विधेयक पारित की गए। लोकसभा में भगोड़ा आर्थिक अपराधी बिल को मंजूरी दी गई वहीं राज्यसभा में भ्रष्टाचार निवारण बिल को पारित किया गया।

संसद में आज का एजेंडा

लोकसभा में जहां अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा और वोटिंग कराई जाएगी। वहीं राज्यसभा में एजेंडे में आज 21 गैर सरकारी विधेयक हैं। उच्च सदन में शुक्रवार को 15 नए विधेयक पेश होंगे। राज्यसभा में प्रश्न काल के दौरान रेल मंत्रायल से जुड़े अहम सवाल पूछे जाएंगे इसके अलावा अहम दस्तावेजों को भी सदन के पटल पर रखा जाएगा।

क्या है अविश्वास प्रस्ताव

अविश्वास का प्रस्ताव एक संसदीय प्रस्ताव है, जिसे विपक्ष द्वारा संसद में केंद्र सरकार को गिराने या कमजोर करने के लिए रखा जाता है। यह प्रस्ताव संसदीय मतदान (अविश्वास का मतदान) द्वारा पारित या अस्वीकार किया जाता है।

wefornews 

राष्ट्रीय

केरल में बाढ़ से 174 मरे, 12 जिलों में रेड अलर्ट

Published

on

kerala flood
जलप्रलय का कहर

तिरुवनंतपुरम, 17 अगस्त (आईएएनएस)| केरल में शुक्रवार को 10 दिनों से लगातार हो रही बारिश और बाढ़ से मरने वालों की संख्या बढ़कर 174 हो चुकी है। अधिकारियों ने बारिश कम होने के बाद अपने बचाव अभियान को जारी रखा और कई लोगों को सुरक्षित बचाकर राहत शिविरों तक लाया गया। मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने शुक्रवार सुबह मृतकों की संख्या 164 बताई थी, लेकिन बाद में इसे बढ़ाकर 174 कर दिया गया।

8 अगस्त तक लगभग 2.40 लाख लोगों को 1,568 राहत शिविरों में स्थानांतरित किया जा चुका था।

केरल सरकार ने एक बयान में कहा, “गत 10 दिनों से लगातार हो रही बारिश से शुक्रवार तक 174 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। 14 जिलों में से 12 जिलों में रेडअलर्ट जारी किया गया है।

बयान के अनुसार, “कासरगोड़ और तिरुवनंतपुरम जिलों में शुक्रवार को रेडअलर्ट हटा लिया गया था।”

पेरियार और इसकी सहायक नदियों में उफान से एर्नाकुलम और त्रिशूर के कई कस्बे जलमग्न हो गए हैं।

चालाकुडी से टीवी चैनलों को वीडियो क्लिप भेजने वाले लोगों के एक समूह ने कहा, “हमारे पास खाना नहीं है और 150 लोग राहत की प्रतीक्षा कर रहे हैं।”

हजारों लोग अभी भी ऊंची इमारतों पर बैठे हैं और बचाए जाने की प्रतीक्षा कर रहे हैं। अकेले एर्नाकुलम और त्रिशूर शिविरों में 50,000 से अधिक लोग फंसे हैं।

कई जिलों में शुक्रवार सुबह से तेज बारिश से राहत मिली है, लेकिन इडुक्की स्थित बड़े बांधों से लगातार पानी छोड़ा जा रहा है।

मंत्रिमंडल सचिव पी.के. सिन्हा ने शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए केरल व तमिलनाडु के मुख्य सचिवों के साथ बैठक की।

सिन्हा ने थल, जल और वायु सेना, एनडीआरएफ और विभिन्न एजेंसियों को केरल में जरूरी सहायता पहुंचाने के निर्देश दिए।

उन्होंने इसके साथ ही इन एजेंसियों को नाव, हेलीकॉप्टर, लाइफ जैकेट, रेन कोट इत्यादि सामना भी मुहैया कराने के आदेश दिए।

गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “केंद्र ने अब तक केरल में 339 मोटर बोट, 2800 लाइफ जैकेट, 1400 लाईफ ब्वॉय, 27 लाईट टॉवर्स, 1000 रेनकोट वितरित किए हैं।”

kerala flood

बयान के अनुसार, 1 लाख खाद्य पैकेट को वितरित किया गया है और अन्य 1 लाख खाद्य पैकेट की आपूर्ति की व्यवस्था की जा रही है।

रेलवे ने भी अभी तक 1,20,000 पानी के बोतल मुहैया कराए हैं और इसके अतिरिक्त इतने ही और बोतलों की व्यवस्था की जा रही है।

मंत्रालय ने कहा कि 2.9 लाख लीटर पीने के पानी को लेकर विशेष ट्रेन को भेजा गया है, जोकि शनिवार को कायाकुलम पहुंचेगी।

भारतीय नौसेना ने गोताखोर सदस्यों के साथ अपनी 51 नौकाओं को तैनात किया है। वहीं 1000 लाईफ जैकेट और 1300 रबड़ के जूते केरल भेजा गया है। इसके साथ ही शुक्रवार को 1600 खाद्य पैकेट को विमान से नीचे गिराया गया था।

kerala flood

बयान के अनुसार, भारतीय वायुसेना ने 23 हेलीकॉप्टर, 11 ट्रांसपोर्ट विमानों को तैनात किया है। थल सेना ने 10 टुकड़ियों, 10 इंजीनियरिंग टास्क फोर्स, 60 नौकाओं और 100 लाइफ जैकेट को सेवा पर लगाया है। एनडीआरएफ ने 43 राहत टीमों और 163 नौकाओं को अन्य सामग्रियों के साथ काम पर लगाया है।

जिन क्षेत्रों में टेलीफोन संपर्क कट गया है, केरल सरकार ने वहां के लोगों को संचार के लिए वी-सैट का प्रयोग करने की सलाह दी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को फोन पर मुख्यमंत्री पिनारई विजयन के साथ बाढ़ की स्थिति पर चर्चा की और कहा कि वह स्थिति का जायजा लेने के लिए शनिवार को हवाई सर्वेक्षण करेंगे।

WeForNews

Continue Reading

राष्ट्रीय

केरल बाढ़ राहत के लिए 10 करोड़ रुपये देगा पंजाब

Published

on

amrinder

चंडीगढ़, 17 अगस्त | पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने बाढ़ से जूझ रहे केरल राज्य को तुरंत 10 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता की घोषणा की है।

मुख्यमंत्री पंजाब राहत कोष में से पांच करोड़ रुपये की राशि केरल के मुख्यमंत्री राहत कोष में भेजे जा रहे हैं और शेष पांच करोड़ रुपये तैयार खाद्य वस्तुओं और अन्य वस्तुओं के रूप में भारतीय रक्षा मंत्रालय द्वारा भेजे जाएंगे।

इस संबंधी जानकारी देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि पंजाब सरकार द्वारा बाढ़ प्रभावित केरल राज्य को दी गई इस मदद की पहली खेप, जोकि 30 टन की है, जिसमें तैयार खाद्य सामग्री, बिस्कुट, रस, बोतलबंद पानी और सूखा दूध शामिल है। इसके अलावा एक लाख फूड पैकेट पहली खेप में भेजे जा रहे हैं। भारतीय वायुसेना के द्वारा भेजी जा रही यह सामग्री शनिवार तक चली जाएगी और बाकी सामान केरल सरकार की मांग के अनुसार भेज दिया जाएगा।

प्रवक्ता ने बताया कि पंजाब सरकार बाढ़ प्रभावित केरल राज्य को समय पर मदद पहुंचाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। इसी के अंतर्गत 30-30 टन खाद्य वस्तुएं लेकर चार हवाई जहाज केरल जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने राज्य की विभिन्न गैर सरकारी संस्थाओं और परोपकारी संस्थाओं को भी अपील की कि वह केरल के लोगों की हर तरह की मदद के लिए सामने आएं, क्योंकि इस अनोखी समस्या से निपटने के लिए अनोखे किस्म के उपायों की जरूरत है। उन्होंने पूरे देश को इस संकट की घड़ी में केरला की मदद करने के लिए आगे आने की भी अपील की।

— आईएएनएस

Continue Reading

राष्ट्रीय

पंचतत्व में विलीन हुआ अटल बिहारी का पार्थिव शरीर

Published

on

atal bihari

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (93) का पार्थिव शरीर पंचतत्व में विलीन हो गया। शुक्रवार शाम को नई दिल्ली के राष्ट्रीय स्मृति स्थल पर राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। अटल बिहारी वाजपेयी को उनकी दत्तक पुत्री नमिता भट्टाचार्य ने मुखाग्नि दी।

इस दौरान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, बीजेपी के दिग्गज नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी समेत तमाम नेता मौजूद रहे। सेना के तीनों अंगों के प्रमुखों ने अटल बिहारी वाजपेयी को सलामी दी।

इससे पहले अटल बिहारी वाजपेयी (93) को बीजेपी मुख्यालय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल रामनाईक समेत सैकड़ों बीजेपी कार्यकर्ताओं ने श्रद्धांजलि दी थी।

अटलजी के निधन पर 7 दिन का राष्ट्रीय शोक की घोषणा की गई। शुक्रवार को देश के 12 राज्यों ने राजकीय शोक और अवकाश की घोषणा की गई। इनमें दिल्ली, उत्तर प्रदेश, गुजरात, मध्यप्रदेश, ओडिशा, पंजाब, बिहार, झारखंड, हरियाणा, तेलंगाना, तमिलनाडु और कर्नाटक राज्य शामिल हैं। इन राज्यों में सरकारी कार्यालय, स्कूलों और कॉलेजों में अवकाश रखा गया।

अटल बिहारी वाजपेयी का गुरुवार शाम 5.05 बजे निधन हो गया था। वे 93 साल के थे। 11 जून को उन्हें किडनी और यूरिन में संक्रमण के कारण एम्स में भर्ती कराया गया था और पिछले 9 हफ्तों से वे एम्स में भर्ती थे, लेकिन पिछले 36 घंटों के दौरान उनकी सेहत काफी बिगड़ती चली गई। उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था।

मध्य प्रदेश के ग्वालियर में 25 दिसंबर 1924 को अटल बिहारी वाजपेयी का जन्म हुआ था। वे कवि और शिक्षक भी रह चुके हैं। 1951 में जनसंघ की स्थापना हुई और वाजपेयीजी ने चुनावी राजनीति में प्रवेश किया। अटलजी ने 1955 में पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ा था लेकिन वह हार गए थे। सन् 1957 में अटल बिहारी वाजपेयी पहली बार सांसद बनकर लोकसभा में आए और 1996 में वो पहली बार देश के प्रधानमंत्री बने। हालांकि मात्र 13 दिनों के लिए ही। 1998 में वह फिर से पीएम बने और 2004 तक रहे। वाजपेयी कुल 10 बार लोकसभा सांसद रहे और वह दो बार 1962 और 1986 में राज्यसभा सांसद रहे। अटल ने उत्तर प्रदेश, नई दिल्ली और मध्य प्रदेश से लोकसभा का चुनाव लड़ा और जीते और गुजरात से राज्यसभा पहुंचे थे।

उन्होंने 2005 में मुंबई में एक रैली में ऐलान कर दिया कि वे सक्रिय राजनीति से संन्यास ले रहे हैं और लालकृष्ण आडवाणी और प्रमोद महाजन को बागडोर सौंप रहे हैं। उस समय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा था कि वाजपेयी मौजूदा राजनीति के भीष्म पितामह हैं।

wefornews

Continue Reading
Advertisement
kerala flood
राष्ट्रीय7 hours ago

केरल में बाढ़ से 174 मरे, 12 जिलों में रेड अलर्ट

Kerala Flood Baby
शहर8 hours ago

केरल बाढ़ : हेलीकाप्टर से बचाई गई महिला ने बच्चे को जन्म दिया

amrinder
राष्ट्रीय9 hours ago

केरल बाढ़ राहत के लिए 10 करोड़ रुपये देगा पंजाब

virat kohli
खेल9 hours ago

जीत के अलावा किसी और बारे में सोचने का विकल्प नहीं : विराट कोहली

foreign-capital-reserves
व्यापार9 hours ago

देश का विदेशी पूंजी भंडार 1.82 अरब डॉलर घटा

Atal Bihar Vajpaeee
ब्लॉग9 hours ago

अटल जी ने कुछ बहुत अच्छा दिया तो कुछ बहुत ख़राब भी!

akhilesh yadav
राजनीति11 hours ago

विरोधियों को पूरा सम्मान देते थे अटल बिहारी: अखिलेश

sensex-min
व्यापार12 hours ago

सेंसेक्स में 284 अंकों की तेजी

Go Edition
टेक12 hours ago

एंट्री लेवल फोन्स के लिए Android 9 Pie गो एडिशन लॉन्च

atal bihari
राष्ट्रीय13 hours ago

पंचतत्व में विलीन हुआ अटल बिहारी का पार्थिव शरीर

chili-
स्वास्थ्य3 weeks ago

हरी मिर्च खाने के 7 फायदे

School Compound
ओपिनियन4 weeks ago

स्कूली छात्रों में क्यों पनप रही हिंसक प्रवृत्ति?

pimple
लाइफस्टाइल3 weeks ago

मुँहासों को दूर करने के लिए अपनाएंं ये 6 टिप्स…

Kapil Sibal
ब्लॉग3 weeks ago

लिंचिंग के ख़िलाफ़ राजनीतिक एकजुटता ज़रूरी

Mob Lynching
ब्लॉग4 weeks ago

जो लिंचिंग के पीछे हैं, वही उसे कैसे रोकेंगे!

Gopaldas Neeraj
ज़रा हटके4 weeks ago

अब कौन कहेगा, ‘ऐ भाई! जरा देख के चलो’

Kashmir Vally
ब्लॉग2 weeks ago

कश्मीर में नफरत, हिंसा के बीच सद्भाव-भाईचारे की उम्मीद

Indresh Kumar
ओपिनियन3 weeks ago

संघ का अद्भुत शोध: बीफ़ का सेवन जारी रहने तक होती रहेगी लिंचिंग!

Bundelkhand Farmer
ब्लॉग3 weeks ago

शिवराज से ‘अनशनकारी किसान की मौत’ का जवाब मांगेगा बुंदेलखंड

No-trust motion Parliament
ब्लॉग4 weeks ago

बस, एक-एक बार ही जीते विश्वास और अविश्वास

sui-dhaga--
मनोरंजन5 days ago

वरुण धवन की फिल्म ‘सुई धागा’ का ट्रेलर रिलीज

pm modi
ब्लॉग1 week ago

70 साल में पहली बार किसी प्रधानमंत्री के शब्द संसद की कार्रवाई से हटाये गये

flower-min
शहर1 week ago

योगी सरकार कांवड़ियों पर मेहरबान, हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा

Loveratri-
मनोरंजन2 weeks ago

आयुष शर्मा की फिल्म ‘लवरात्र‍ि’ का ट्रेलर रिलीज

-fanney khan-
मनोरंजन3 weeks ago

मोहम्मद रफी की पुण्यतिथि पर रिलीज हुआ ‘बदन पे सितारे’ का रीमेक

tej pratap-min
राजनीति3 weeks ago

तेज प्रताप का शिव अवतार…देखें वीडियो

nawal kishor yadav-min
राजनीति3 weeks ago

शर्मनाक: बीजेपी विधायक ने गवर्नर को मारने की दी धमकी

Dr Kafeel Khan
शहर3 weeks ago

आर्थिक तंगी से जूझ रहे गोरखपुर के त्रासदी के हीरो डॉक्टर कफील

sonakshi-
मनोरंजन3 weeks ago

डायना पेंटी की फिल्म ‘हैप्पी फिर भाग जाएगी’ का ट्रेलर रिलीज

Lag Ja Gale-
मनोरंजन4 weeks ago

‘साहेब, बीवी और गैंगस्टर 3’ का गाना रिलीज

Most Popular