Connect with us

स्वास्थ्य

सेहत के लिए जीवनशैली बदलना चाहते हैं दिल्लीवासी

Published

on

FILE PHOTO

नई दिल्ली, 25 अप्रैल| राष्ट्रीय राजधानी में 99 प्रतिशत महिलाओं और 89 प्रतिशत पुरुषों की प्राथमिकता सेहत है और उन्हें लगता है कि स्वस्थ रहने के लिए जीवनशैली में बदलाव लाना चाहिए।

मगर विरोधाभास यह है कि भारत की कुल आबादी के करीब 28 प्रतिशत लोगों को चिकित्सा की जरूरत है, फिर भी वे समय पर चिकित्सक से नहीं मिलते। यह बात सुरक्षात्मक स्वास्थ्य प्रदाता प्रतिष्ठान ‘हेल्दी’ की रिपोर्ट ‘हेल्दी इंसाइट्स इंडिया 2017’ की रिपोर्ट में सामने आई है।

रिपोर्ट में अक्टूबर, 2015 से मार्च, 2017 तक 18 माह के दौरान 10 लाख स्वास्थ्य परीक्षणों के आंकड़े हैं, सेहत का इतिहास है और जीवनशैली का विश्लेषण भी।

रिपोर्ट में कहा गया है कि सेहतमंद होने की शुरुआत हमारी सोच से होती है। 91 प्रतिशत लोगों का विश्लेषण करने से पता चला कि वे अच्छी सेहत पाने के लिए जीवनशैली में जरूरी बदलाव लाने के रास्ते पर हैं।

बताया गया है कि दिल्ली में 18 प्रतिशत महिलाएं और 34 प्रतिशत पुरुष उच्च रक्तचाप पीड़ित हैं या इसका जोखिम है, जबकि 14 प्रतिशत महिलाएं और 32 प्रतिशत पुरुष उच्च कोलेस्ट्रोल की समस्या से ग्रसित हैं। राजधानी में सभी आयु वर्ग के लोगों में वजन की समस्या, अपर्याप्त शारीरिक श्रम, धूम्रपान, तनाव, चिंता और अवसाद आदि जीवनशैली की प्रमुख समस्याएं हैं।

अध्ययन में सभी पेशेवर कार्यक्षेत्रों को शामिल किया गया है, जैसे बीएफएसआई, सूचना प्रौद्योगिकी व इस पर निर्भर सेवाएं, निर्माण, खुदरा व गैर सूचना प्रौद्योगिकी सेवाएं।

खुदरा व्यापार क्षेत्र में कार्यरत लोगों में मोटापे की समस्या सबसे अधिक पाई गई, जिनमें 71 प्रतिशत महिलाएं और 83 प्रतिशत पुरुष शामिल हैं। उच्च रक्तचाप एक अन्य बड़ी समस्या है जो कामकाजी लोगों से जुड़ी है। यह दोषपूर्ण भोजन, तनाव, मोटापा, निरंतर बैठे रहने, धूम्रपान और मदिरा सेवन आदि से बढ़ती है।

रिपोर्ट के अनुसार, बीएफएसआई सेक्टर में 15 प्रतिशत महिलाएं व 29 प्रतिशत पुरुष, सूचना प्रौद्योगिकी व इस पर निर्भर सेवाओं के क्षेत्र में 24 प्रतिशत महिलाएं व 42 प्रतिशत पुरुष, निर्माण क्षेत्र की 12 प्रतिशत महिलाएं और 22 प्रतिशत पुरुष, खुदरा क्षेत्र में 24 प्रतिशत महिलाएं व 39 प्रतिशत पुरुष और गैर सूचना प्रौद्योगिकी सेवा क्षेत्र की 11 प्रतिशत महिलाएं व 27 प्रतिशत पुरुष में उच्च कोलेस्ट्रोल से पीड़ित पाए गए। ये लोग कभी भी मधुमेह व उच्च रक्तचाप की चपेट में आ सकते हैं।

बताया गया है कि 26 प्रतिशत से अधिक महिलाएं रक्त की कमी, 88 प्रतिशत महिलाएं विटामिन डी की कमी और 12 प्रतिशत से अधिक महिलाएं असामान्य टीएसएच लेवल से पीड़ित हैं।

अध्ययन में यह भी पाया गया कि देश की 20 प्रतिशत आबादी बैठे रहने वाला जीवन जी रही है, जिससे इन्हें रक्त नलिकाओं व हृदय रोगों का खतरा सामान्य से दोगुना अधिक है।

हेल्दी के संस्थापक, रेकुराम वरदराज एवं कृष्णा उलागारत्वगन ने संयुक्त वक्तव्य में बताया, “हेल्दी इंसाइट्स इंडिया 2017 रिपोर्ट में यह बात साफ हुई है कि इंटेलिजेंट प्रेडिक्टिव एनालिटिक्स तथा बिग डाटा मॉडल्स की मदद से बीमारियों की रोकथाम और जन स्वास्थ्य प्रबंधन में सफलता पाई जा सकती है।”

उन्होंने कहा कि यह जरूरी है कि सेहत पर ध्यान दिया जाए और प्रभावी जीवनशैली अपनाई जाए। सही समय पर सहायता लेना ही प्रमुख समाधान है।

अध्ययन में जिन शहरों को शामिल किया गया, उनमें दिल्ली व एनसीआर के अलावा बेंगलुरू, चेन्नई, हैदराबाद, मुंबई और पुणे शामिल हैं।

आईएएनएस

स्वास्थ्य

ज्यादा शराब पीने से अल्पकालिक याददाश्त पर बुरा असर

Published

on

File Photo

अगर आप अपने किशोरावस्था में हैं और अत्यधिक शराब पीते/पीती हैं तो आपकी अल्पकालिक याददाश्त इससे प्रभावित हो सकती है। एक नए शोध में यह पता चला है।

पत्रिका जेनूरोसी में प्रकाशित शोध के निष्कर्ष के मुताबिक, किशोरावस्था में अत्यधिक शराब पीने से दिमाग की उन कोशिकाओं की गतिविधियां बाधित होती हैं, जो अल्पकालिक याददाश्त के लिए जिम्मेदार होती है।

न्यूयार्क के कोलंबिया विश्वविद्यालय के माइकेल सेलिंग समेत शोधकर्ताओं के मुताबिक, प्रीफ्रंटल कोर्टेक्स (पीएफसी) जो व्यवहार प्रबंधन में अपनी भूमिका निभाता और किशोरावस्था के दौरान परिपक्व होता है, किशोरावस्था में अत्यधिक शराब पीने से उसकी कार्यक्षमता पर असर पड़ता है।

शोधकर्ताओं ने पाया कि किशोरावस्था में अल्कोहल के सेवन से दिमाग के पीएफसी पायरामिडल न्यूरॉन्स के गुणों में बदलाव आ जाता है, जो पीएफसी को दिमाग के अन्य क्षेत्रों से जोड़ता है, वह गुण प्रभावित होता है, इससे व्यवहार का विनिमयन प्रभावित होता है।

शोधकर्ताओं ने कहा कि जो किशोरावस्था में शराब का सेवन करते/करती हैं, उनकी पीएफसी की गतिविधियों में शिथिलता आ जाती है, इससे उन्हें संज्ञानात्मक कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है और बाद में यह शराब पीकर हुड़दंग करने, मारपीट करने जैसी गतिविधियों में बदल जाती है।

–आईएएनएस

Continue Reading

स्वास्थ्य

नए तरह के प्रोस्टेट कैंसर की पहचान हुई

Published

on

कैंसर
फाइल फोटो

शोधकर्ताओं ने प्रोस्टेट कैंसर के एक नए उपप्रकार की पहचान की है, जो करीब सात फीसदी मरीजों में विकसित होता है। इस उपप्रकार के लक्षण का पता जीन सीडीके12 के नुकसान की वजह से चला है। यह शुरुआती ट्यूमर अवस्था के ट्यूमर की तुलना में आम तौर पर मेटास्टैटिक प्रोस्टेट कैंसर में पाया जाता है।

इस शोध का प्रकाशन सेल नामक पत्रिका में हुआ है।

अमेरिका के मिशिगन विश्वविद्यालय के वरिष्ठ शोध लेखक अरुल चिन्नायन ने कहा, “प्रोस्टेट कैंसर बहुत ही आम है, इसलिए सात फीसदी काफी संख्या है।”

शोध में कहा गया है कि जिन ट्यूमरों में सीडीके12 निष्क्रिय था, वे प्रतिरक्षा चेकपॉइंट अवरोधकों के प्रति प्रतिक्रिया देते हैं। प्रतिरक्षा चेकपॉइंट अवरोधक इम्यूनोथेरेपी उपचार का एक प्रकार है, जिससे प्रोस्टेट कैंसर में सीमित सफलता मिली है।

चिन्नायन ने कहा, “तथ्य यह है कि इम्यून चेकपॉइंट इनहिबिटर इस प्रकार प्रोस्टेट कैंसर के उपप्रकार के खिलाफ प्रभावी हो सकते हैं, जो इसे काफी खास बनाते हैं। यह सीडीके12 परिवर्तन वाले मरीजों के लिए संभावना पैदा करती है और उन्हें इम्यूनोथेरेपी से फायदा हो सकता है।”

–आईएएनएस

Continue Reading

स्वास्थ्य

चिया सीड्स के फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान…

Published

on

Chia-seeds-

बहुत से ऐसे लोग होंगे जिन्होंने कभी चिया सीड्स का नाम तक नहीं सुना होगा। नहीं इससे होने वाले फायदों के बारे में जानते होगें। आज हम आपको बताते है इस बीज के बारे में।

Image result for चिया सीड्स

यह बीज देखने में बहुत ही छोटे आकार का होता है और छोटे काले,भूरे और सफेद रंग के दानों की तरह होता है। ये मेक्सिको में पाई जाने वाली बीज है जो कि सैल्वीया हिस्पानिका नाम के पेड़ से उगती है। ये देखने में जितना छोटा है इसके गुण उतने ही बड़े है।

Image result for चिया सीड्स

इसे एनर्जी का एक अच्छा स्रोत माना जाता है और इसमे प्रोटीन भी काफी मात्रा मे पाया जाता है। चिया सीड्स में प्रोटीन के साथ-साथ फ़ाइबर,फ़ेट,ओमेगा३ जैसे तत्व अच्छी मात्रा में होते है।

आइये जानते हैं इससे होने वाले फायदों के बारे में…

चिया सीड्स हमारे शरीर को भिन्न तरह की बीमारियों से बचा कर रखता है। इसका सेवन आप जूस,सलाद य पके हुए खाने में छिड़कर भी कर सकते हैं। कई लोग तो इसे दही के साथ या फिर अंडे के साथ भी खाना पसंद करते है।

Image result for चिया सीड्स

पेट की समस्या

चिया बीज में फ़ाइबर अच्छी मात्रा में होता है जो कब्ज में राहत दिलाने में मदद करती है। ऐसा इसलिए क्योंकि जब चिया सीड्स पानी के संपर्क में आने से ये जेल में बादल जाता है जिससे आपको माल त्यागने में सहायता मिलती है जिससे कब्ज नहीं होता है। साथ ही ये पाचन क्रिया को भी अच्छा करता है।

Image result for पेट की समस्या

मधुमेह

चिया सीड्स में ओमेगा ३ और फेटी एसिड होता है जिसे मधुमेह के इलाज के लिए पोष्टिक रूप से महत्वपूर्ण माना जाता है। पाचन को धीमा कर चिया की क्षमता मधुमेह की रोकथाम से जुड़ी हो सकती है। क्योंकि चिया सीड्स में ऐसे खाध पढ़ार्थ है जो मधुमेह के उपचार के लिए उपयोगी माना जाता है। ये मधुमेह के रक्तचाप को बढ्ने से रोकता है और सुधार भी लता है जिससे मधुमेह से बचाव होने में काफी मदद मिलती है।

Image result for मधुमेह

कैंसर और ह्दय रोग

चिया सीड्स में एंटी ऑक्सीडैंट्स के गुण होते हैं। जो शरीर के फ्री रैडीकल्स को शरीर से बाहर निकालने में मदद करता है। यह बीज ह्दय की गति दर को घटाते हैं साथ ही ट्राइग्लिसराइड के स्तर को भी कम करते हैं। यह बीज कैंसर के इलाज के लिए भी काफी उपयोगी है।

Image result for कैंसर और हृदय रोग

वजन कम करें

चिया बीज में फाइबर की उचित मात्रा पाई जाती है इस लिए इस बीज का सेवन वजन कम करने के लिए काफी उपयोगी भी होता है। चिया सीड्स में केलोरी की मात्रा काफी कम होती है जिससे वजन कम करने में काफी सहायता मिलती है।

Image result for वजन कम करें

नर्वस सिस्टम

चिया सीड्स के सेवन से हमारे दिमाग और नर्वस सिस्टम को मजबूती मिलती है क्योंकि इसमे प्रोटीन और ओमेगा३ जैसे तत्व है जो दिमाग को तेज करता है और हमारी याददस्त शक्ति को अच्छा करता है। जिससे हमारी मेमोरी लॉस की समस्या का खतरा कम हो जाता है।

कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित करना

ये बीज ओमेगा-3 ऑयल के सबसे बड़े वनस्पति स्रोत हैं। यह ऑयल हृदय तथा कोलेस्ट्रॉल संबंधी स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। यदि वजन के लिहाज से देखा जाए तो चिया सीड्स में सैमन मछली के मुकाबले ओमेगा-3 ऑयल अधिक होता है। यह चुंबक की तरह काम करता है जो शरीर से अपने साथ कोलेस्ट्रॉल को बाहर निकाल देता है।

चिया सीड्स से होने वाले नुकसान

चिया सीड्स की कम मात्रा लेनी चाहिए क्योंकि इसके सेवन से एलर्जी होने की शिकायत रहती है। जैसे की उल्टी,दस्त,खुजली,सांस लेने में परेशानी।

यदि आप प्रोस्तते कैंसर से पीढ़ित है तो चिया के बीज का सेवन न करे।

किसी भी अन्य दवाई के साथ इसे सेवन करने से बचे। अगर हो सके तो पहले अपने डॉक्टर से सलाह ले उसके बाद ही सेवन करे।

अत्यधिक रक्तस्राव से बचने के लिए अगर सर्जरी कराई हो तो चिया बेज के सेवन से बचे।

WeForNews

Continue Reading
Advertisement
Firing-
शहर7 mins ago

बिहार में बीएमपी जवान की गोली मारकर हत्या

राजनीति34 mins ago

जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन लागू, राष्ट्रपति ने दी मंजूरी

Rekha,
मनोरंजन36 mins ago

IIFA 2018 : 20 साल बाद रेखा करेंगी लाइव परफॉर्म

Akhileshwaranand
राजनीति43 mins ago

अलग से गाय मंत्रालय बनाये शिवराज सरकार: अखिलेश्वरानंद गिरि महाराज

donald trump
अंतरराष्ट्रीय1 hour ago

ट्रंप ने सीमा पर परिजनों से बच्चों को अलग करने की नीति का समर्थन किया

nirmala sitharaman-min
राष्ट्रीय1 hour ago

शहीद औरंगजेब के परिजनों से मिलीं रक्षामंत्री

irrfan khan-
मनोरंजन1 hour ago

बॉलीवुड सितारों ने इरफान खान के जल्द ठीक होने की कामना की

crime-scene
शहर2 hours ago

पत्थर खदान में गिरी कार, 2 की मौत

kp oli-min
अंतरराष्ट्रीय2 hours ago

नेपाल-चीन ने किए 2.24 अरब डॉलर के 8 समझौते

nikki-min
अंतरराष्ट्रीय2 hours ago

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद से बाहर हुआ अमेरिका

beadroom-min
ज़रा हटके1 week ago

ये हैं दुनिया के अजीबोगरीब बेडरूम

ujjwala-Scheam
ज़रा हटके4 weeks ago

उज्जवला योजना : सिलेंडर मिला, गैस भरवाने के पैसे नहीं

beer spa
ज़रा हटके1 week ago

यहां पीने के साथ नहाने का भी उठा सकते हैं लुफ्त

amit-shah-yogi-adityanath
ब्लॉग2 weeks ago

इस्तीफ़े की हठ ठाने योगी को अमित शाह का दिलासा

congress
चुनाव1 week ago

भाजपा को लगा झटका, कांग्रेस ने जीती जयनगर सीट

burger-min
ज़रा हटके1 week ago

इस मंदिर में प्रसाद में बंटता है बर्गर और ब्राउनीज

Climate change
Viral सच2 weeks ago

बदलता जलवायु, गर्माती धरती और पिघलते ग्लेशियर

Lack of Toilets
ब्लॉग2 weeks ago

बुंदेलखंड : ‘लड़कियों वाले गांव’ में शौचालय नहीं

राष्ट्रीय2 weeks ago

किसान आंदोलन के पांचवे दिन मंडियों में सब्जियों की कमी से बढ़े दाम

bhadash cafe-min
ज़रा हटके1 week ago

भड़ास निकालनी हो तो इस कैफे में जाइए…

Loveratri Teaser
मनोरंजन6 days ago

सलमान के बैनर की लवरात्रि का टीजर रिलीज

Salman khan and sahrukh khan
मनोरंजन6 days ago

‘जीरो’ का नया टीजर दर्शकों को ईदी देने को तैयार

soorma
मनोरंजन1 week ago

‘सूरमा’ का ट्रेलर रिलीज

Dhadak
मनोरंजन1 week ago

जाह्नवी की फिल्म ‘धड़क’ का ट्रेलर रिलीज

मनोरंजन2 weeks ago

सपना के बाद अब इस डांसर का हरियाणा में बज रहा है डंका

sanju-
मनोरंजन2 weeks ago

फिल्म ‘संजू’ का रिलीज हुआ पहला गाना, ‘मैं बढ़िया, तू भी बढ़िया’

race 3
मनोरंजन3 weeks ago

‘रेस 3’ का तीसरा गाना ‘अल्‍लाह दुहाई है’ रिलीज

salman khan
मनोरंजन3 weeks ago

सलमान खान की फिल्म रेस-3 का ‘सेल्फिश’ गाना हुआ रिलीज

राष्ट्रीय1 month ago

दिल्ली से विशाखापट्टनम जा रही आंध्र प्रदेश एक्‍सप्रेस के 4 कोच में लगी आग

thug_ranjha
मनोरंजन1 month ago

‘ठग रांझा’ दुनियाभर में सबसे अधिक देखा गया भारतीय वीडियो

Most Popular