शहर

खुले दरवाजे के साथ दौड़ती रही दिल्ली मेट्रो

metro

दिल्ली मेट्रो में सफर कर रहे लोगों की दिल की धड़कन उस समय तेज हो गई थी जब प्लेटफार्म से मेट्रो दरवाजा खुले ही दौड़ने लगी।

टनल के भीतर मेट्रो ने रफ्तार पकड़ ली और उधर यात्रियों की सांसे फूलने लगी। यह घटना सोमवार रात करीब दस बजे की है और मेट्रो की येलो लाइन यानी गुड़गांव बादली लाइन की है। बता दें कि 2014 में इस तरह की लापरवाही की घटना हुई थी। सूत्रों के मुताबिक मेट्रो ट्रेन गुड़गांव की तरफ से आकर विश्वविद्यालय की ओर जा रही थी।

चावड़ी बाज़ार मेट्रो स्टेशन तक तो सबकुछ ठीक रहा, लेकिन चावडी बाजार से जैसे ही मेट्रो आगे बढ़ी, कोच का एक दरवाजा बंद ही नहीं हो पाया। यूं तो मेट्रो के दरवाजों में सेंसर लगे होते हैं और दरवाजा बंद नहीं होने तक मेट्रो आगे नहीं बढ़ती है, लेकिन यहां कुछ ऐसी तकनीकी खराबी आयी कि दरवाजा खुला होने के बावजूद मेट्रो ने रफ्तार पकड़ ली और चांदनी चौक की तरफ बढ़ गई लोगों ने इमरजेंसी अलार्म बजाने की कोशिश की लेकिन वह भी नहीं बज रहा था। मेट्रो के अंदर मौजूद लोगों ने खुले दरवाजे का वीडियो बनाया।

दिल्ली मेट्रो के एक प्रवक्ता का कहना है कि समस्या सिर्फ एक दरवाजे के साथ थी। किसी भी प्रकार की देरी या ट्रेनों के इकट्ठा होने से बचने के लिए ट्रेन को विश्वविद्यालय स्टेशन ले जाया गया। घटना के तुरंत बाद ट्रेन ऑपरेटर को सुरक्षा में चूक के कारण निलंबित कर दिया गया।

wefornews bureau 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top