Connect with us

राजनीति

नोटबंदी की सालगिरह पर कांग्रेस देशव्यापी विरोध प्रदर्शन आयोजित करेगी

Published

on

Congress
File Photo

कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से नोटबंदी को लेकर देश से माफी मांगने को कहा, जिसके कारण अर्थव्यवस्था ‘तबाह’ हो गई। कांग्रेस ने कहा कि शुक्रवार को नोटबंदी की दूसरी सालगिरह पर देशव्यापी विरोध-प्रदर्शन आयोजित किया जाएगा।

कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने ट्वीट किया, “दो साल पहले प्रधानमंत्री ने नोटबंदी की घोषणा की थी और इसे लागू करने के तीन कारण गिनाए थे। पहला इससे काला धन पर रोक लगेगी, दूसरा नकली मुद्रा पर रोक लगेगी और तीसरा आंतकवाद के वित्त पोषण पर रोक लगेगी, लेकिन इसमें से एक भी उद्देश्य पूरा नहीं हुआ।”

उन्होंने कहा, “वास्तव में, अब प्रचलन में दो साल पहले की तुलना में ज्यादा नकदी आई है, जब मोदी ने नोटबंदी की घोषणा की थी।” कांग्रेस नेता ने कहा कि मोदी को देशवासियों से 500 और 1000 रुपये के नोटों को बंद करने के अपने ‘तुगलकी फरमान’ के लिए आठ नवंबर को (नोटबंदी की सालगिरह पर) माफी मांगनी चाहिए।

तिवारी ने कहा, “प्रधानमंत्री को देश की अर्थव्यवस्था को तबाह और ध्वस्त करने के लिए आठ नवंबर, 2018 को देशवासियों से माफी मांगनी चाहिए।” उन्होंने कहा कि नोटबंदी जैसे तुगलकी फरमान से देश की अर्थव्यवस्था को पूरी तरह से ध्वस्त करने के विरोध में आठ नवंबर को कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता सड़कों पर उतर कर देशव्यापी विरोध प्रदर्शन करेंगे।

–आईएएनएस

राजनीति

प्रधानमंत्री का वाराणसी दौरा आज, कई करोड़ योजनाओं की देंगे सौगात

Published

on

pm modi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर हैं। इस मौके पर वह यहां के लोगों को कई करोड़ की योजनाओं की सौगात देने जा रहे हैं।

जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह व एसएसपी आनंद कुलकर्णी के अनुसार, “प्रधानमंत्री की सुरक्षा व्यवस्था मजबूत ढंग से की गई है। इस बार किसी को कोई भी रियायत नहीं दी जाएगी। व्यवस्था बिगाड़ने की कोशिश करने वालों के खिलाफ सख्ती से निपटा जाएगा। अराजक तत्वों की सूची बनाकर उन पर नजर रखी जा रही है।”

पीएम मोदी दस बजे वाराणसी पहुंचेंगे। बाबतपुर एयरपोर्ट से वह सेना के हेलीकाप्टर से डीरेका आएंगे। डीरेका में पीएम मोदी लोको कार्यशाला का निरीक्षण कर परिवर्तित लोकोमोटिव का लोकार्पण करेंगे।

प्रधनमंत्री डीरेका से सड़क मार्ग से सीर जाएंगे। यहां संत रविदास मंदिर में दर्शन-पूजन और लंगर छकने के बाद सत्संग स्थल पहुंचेंगे। श्रद्धालुओं को संबोधित करने के बाद पीएम काशी हिंदू विश्वविद्यालय परिसर आएंगे। यहां प्रधानमंत्री टाटा कैंसर अस्पताल का शुभारंभ करेंगे। वहीं से मोदी भाभा कैंसर अस्पताल, लहरतारा को भी मरीजों के उपचार के लिए समर्पित करेंगे। इस दौरान पीएम आयुष्मान भारत के बीस लाभार्थियों से भी भेंट करेंगे।

प्रधानमंत्री पुलवामा में शहीद हुए रमेश यादव व अवधेश यादव के परिजनों से मुलाकात भी कर सकते हैं। कैंसर अस्पताल के लोकार्पण के बाद बीएचयू से पीएम हेलीकाप्टर से औढ़े जाएंगे। जनसभा के दौरान नरेंद्र मोदी काशी को सिटी कमांड सेंटर, एसटीपी समेत कई सौ करोड़ की परियोजनाओं की सौगात देंगे।

–आईएएनएस

Continue Reading

राजनीति

पुलवामा हमला : ममता ने मोदी सरकार के इस्तीफे की मांग की

Published

on

कोलकाता, 18 फरवरी | पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को ‘पुलवामा आतंकवादी हमले का राजनीतिकरण करने’ को लेकर मोदी सरकार की निंदा की और हमले को लेकर खुफिया अलर्ट होने के बाद भी ‘एहतियाती कदम उठाने में विफल’ रहने पर मोदी सरकार को हटाने की मांग की। ममता बनर्जी ने राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ व भारतीय जनता पार्टी पर बंगाल में सांप्रदायिक हिंसा फैलाने की कोशिश करने का आरोप लगाया।

ममता बनर्जी ने राज्य सचिवालय में संवाददाताओं से कहा, “बहुत से जवान मारे गए हैं। हम अपराधियों के लिए सजा की मांग करते हैं, लेकिन लापरवाही के लिए भी जिम्मेदारी तय की जानी चाहिए। इस घटना की जांच होनी चाहिए।”

यह कहते हुए कि बीते महीने एक अमेरिकी खुफिया परामर्श में देश में चुनावों के नाम पर सांप्रदायिक हिंसा की चेतावनी दी गई थी, मुख्यमंत्री ने कहा, “खुफिया रिपोर्ट के बाद कार्रवाई क्यों नहीं की गई।”

ममता बनर्जी ने कहा, “78 वाहनों के काफिले को एक साथ जाने की इजाजत क्यों दी गई जिसमें 2000 से ज्यादा जवान थे, जब कि सरकार को इस संभावित हमले की सूचना मिली थी? एहतियाती कदम क्यों नहीं लिए गए?”

ममता बनर्जी ने कहा कि गुरुवार के हमले के बाद विपक्ष बिना कोई सवाल पूछे सरकार के साथ खड़ा हो गया।

ममता ने कहा, “हम चुप रहे लेकिन मोदी जी व अमित शाह रोजाना भाषण दे रहे हैं। और, जिस तरीके से वे बोल रहे हैं उससे ऐसा लगता है कि सिर्फ वे ही देश में राष्ट्रभक्त नेता है। यह सही नहीं है।”

ममता ने कहा कि मोदी बताएं कि पठानकोट व पुलवामा हमले के बाद उन्होंने क्या किया। बीते पांच में उन्होंने क्या कार्रवाई की। उन्होंने कहा कि अगर मोदी देश में राजनीतिक हालात पर नियंत्रण नहीं रख सकते तो उन्हें इस्तीफा देना चाहिए।

Continue Reading

राजनीति

भारत ने पाकिस्तानी राजनयिक से हाथ मिलाने से किया इनकार

Published

on

जासूसी के आरोप में पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव के मामले में अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत (आईसीजे) में चार दिनों तक चलने वाली सुनवाई शुरू हो गई। इस दौरान पुलवामा आतंकी हमले के चलते भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव का असर कोर्ट में भी दिखा। जब भारतीय विदेश मंत्रालय में ज्वाइंट सेक्रेटरी दीपक मित्तल ने पाकिस्तान के अटॉर्नी जनरल अनवर मंसूर खान से हाथ मिलाने से इनकार कर दिया।

दरअसल, आईसीजे में बहस से पहले दोनों देशों के प्रतिनिधि एक दूसरे से मिल रहे थे, तब पाकिस्तान के एजी अनवर मंसूर खान ने भारतीय राजनयिक दीपक मित्तल की तरफ हाथ बढ़ाया, लेकिन मित्तल ने हाथ न मिलाते हुए उन्हें हाथ जोड़कर प्रणाम किया।

WeForNews

Continue Reading

Most Popular