Connect with us

चुनाव

मध्य प्रदेश में ‘राम वन गमन पथ यात्रा’ निकालेगी कांग्रेस

Published

on

Congress-reuters
प्रतीकात्मक फोटो

मध्यप्रदेश में कांग्रेस राम वन गमन पथ यात्रा निकालने जा रही है। कांग्रेस की यह यात्रा 21 सितंबर से शुरू होकर 9 अक्टूबर तक चलेगी। ये यात्रा उन रास्तों से गुजेरगी जिन रास्तों से भगवान राम 14 साल के वनवास को गए थे।

खुले रथ में चित्रकूट से निकलने वाली यह यात्रा सतना, रीवा, पन्ना, छतरपुर, शहडोल, अनूपपुर तक जाएगी। यात्रा के दौरान रथ में अखंड मानस पाठ और भजन होंगे, वहीं पार्टी अपने चुनावी घोषणा पत्र में राम वन गमन पथ को पूरा करने को भी शामिल करने जा रही है।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस नेता हरिशंकर शुक्ला ने बताया, राज्य में चुनाव से पहले हम भगवान राम का आशीर्वाद चाहते हैं, राम वन गमन पथ यात्रा निकालने के पीछे हमारा यही मकसद है। उन्होंने कहा कि हम एक खुली रथ यात्रा की तैयारी कर रहे हैं, जिसमें हिंदू संत बैठेंगे। यात्रा के दौरान अखंड मानस पाठ और भजन चलाए जाएंगे।

WeForNews

चुनाव

मायावती छत्तीसगढ़ चुनाव में अजित जोगी का देंगी साथ

Published

on

MAYA-JOGI
मायावती-अजीत जोगी (फाइल फोटो)

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने यहां गुरुवार को कहा कि छत्तीसगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी पूर्व मुख्यमंत्री अजित जोगी की पार्टी ‘जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जोगी)’ के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी। बसपा गठबंधन के मुख्यमंत्री उम्मीदवार अजित जोगी का समर्थन करेगी। मायावती ने लखनऊ में अजित जोगी के साथ संयुक्त पत्रकार वार्ता कर यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बसपा ने फैसला लिया है कि छत्तीसगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनाव में वह ‘जकांछ (जोगी)’ के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी।

मायावती ने कहा कि छत्तीसगढ़ में 35 विधानसभा सीटों पर बसपा और 56 सीटों पर जोगी की पार्टी चुनाव लड़ेगी। उन्होंने कहा कि मीडिया में तरह-तरह की खबरें सामने आ रही हैं, लेकिन वह जो बता रही हैं यही सच है, बाकी अफवाह है।

बसपा प्रमुख ने कहा, “हमारा साफतौर पर मानना है कि बसपा उसी पार्टी के साथ समझौता करेगी जो दलित, पिछड़े एवं आदिवासी लोगों के लिए काम करती हो ओर उनके कल्याण में जुटी हुई हो। हम यह भी देखेंगे कि उस पार्टी की सोच दलितों को लेकर कैसी है।”

मायावती ने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में पिछले 15 वर्षो से भाजपा की सरकार है, लेकिन वहां गरीबों, आदिवासियों और पिछड़ों के हितों के लिए कुछ काम नहीं हुआ है। भाजपा सिर्फ मीडिया में ही बड़ी-बड़ी बातें करती नजर आती है।

बसपा प्रमुख ने कहा, “छत्तीसगढ़ में हम अजित जोगी के साथ इसीलिए गठबंधन कर रहे हैं, क्योंकि वे वहां के मुख्यमंत्री भी रह चुके हैं और उन्हें सरकार चलाने का भी अनुभव है। उनके कार्यो को देखते हुए पार्टी ने उनके साथ मिलकर चुनाव लड़ने का फैसला किया है।”

–आईएएनएस

Continue Reading

चुनाव

मप्र चुनाव के लिए बसपा की पहली सूची जारी

Published

on

bsp-logo
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

भोपाल। मध्यप्रदेश के विधानसभा चुनाव के लिए बहुजन समाजवादी पार्टी (बसपा) ने उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी। बसपा ने ऐलान किया कि वो सभी 230 सीटों पर अपने उम्‍मीदवार उतारेगी।

इस सूची में 22 उम्मीदवारों के नाम हैं। बसपा की पहली सूची में जिन 22 सीटों के लिए उम्मीदवार घोषित किए गए हैं, इनमें तीन वर्तमान विधायक हैं।

जारी सूची के अनुसार, मुरैना जिले के सबलगढ़ से लाल सिंह केवट, अम्बाह से सत्य प्रकाश, भिंड से संजीव सिंह कुशवाह, सेवढ़ा से लाखन सिंह यादव, करैरा से प्रागीलाल जाटव, अशोकनगर से बाल कृष्ण महोबिया, छतरपुर जिले के चंदला से पुष्पेंद्र अहिरवार को उम्मीदवार बनाया गया है।

बसपा के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप अहिरवार के अनुसार, दमोह के पथरिया से राम बाई परिहार, जबेरा से डेलन सिंह धुर्वे, सतना के रैगांव से उषा चौधरी, अमर पाटन से छंगे लाल कोल, रामपुर बघेलान से रामलखन सिंह पटेल, रीवा के सिरमौर से राम गरीब कोल, सेमरिया से पंकज सिंह पटेल, देवतलाब से सीमा सिंह, मनगंवा से शीला त्यागी, सिंगरौली के चितरंगी से अशोक गौतम, शहडोल के धोहनी से अवध प्रताप सिंह, उमरिया के बांधवगढ़ से शिव प्रसाद कोल, कटनी के बहोरीबंद से गोविंद पटेल और जबलपुर के सीहोरा से बबीता गोटिया को उम्मीदवार बनाया है।

बसपा के उम्मीदवारों की यह सूची राष्ट्रीय महासचिव व प्रदेश प्रभारी रामअचल राजभर और प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप अहिरवार के दस्तखत से जारी की गई है।

–आईएएनएस

Continue Reading

चुनाव

कश्मीर : निकाय और पंचायत चुनावों में हिस्सा लेगी कांग्रेस

Published

on

Ghulam Ahmed Mir

श्रीनगर, 19 सितम्बर | कांग्रेस ने बुधवार को कहा कि वह जम्मू एवं कश्मीर में आगामी निकाय और पंचायत चुनावों में हिस्सा लेगी। कांग्रेस की जम्मू एवं कश्मीर इकाई के अध्यक्ष जी.ए. मीर ने यहां मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि सांप्रदायिक ताकतों को हटाने के लिए उनकी पार्टी ने चुनावों में भाग लेने का निर्णय लिया है।

मीर ने इससे पहले एक बयान में कहा था कि यहां चुनाव कराने के अनुकूल परिस्थितियां नहीं हैं।

नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) ने चुनाव का बहिष्कार किया है। मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने भी चुनावों में शामिल नहीं होने का फैसला किया है।

श्रीनगर और जम्मू नगर निगमों सहित 77 नगर पंचायतों में चुनाव अक्टूबर में तथा राज्य में पंचायत चुनाव नवंबर-दिसंबर में होंगे।

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular