Connect with us

चुनाव

वसुंधरा के खिलाफ मैदान में जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र सिंह

Published

on

Vasundhara Raje
(PHOTO CREDIT ANI)

राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने 32 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की। झालरापाटन से सीएम वसुंधरा राजे के सामने मैदान में कांग्रेस के मानवेंद्र सिंह मुकाबले पर हैं। इसी के साथ कुल 200 सीटों में से 184 उम्मीदवारों की घोषणा पार्टी ने कर दी है।

बीजेपी के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र सिंह है। बाड़मेर की शिव विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व करने वाले मानवेंद्र सिंह ने सितंबर में सत्तारूढ़ भाजपा का दामन छोड़ दिया था। वह 2014 लोकसभा चुनाव में अपने पिता को पार्टी से दरकिनार किए जाने को लेकर नाराज थे।

इसके पहले कांग्रेस ने 16 नवंबर को 152 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की थी, जिसमें अशोक गहलोत और सचिन पायलट को मैदान में उतारा गया था। दोनों ही नेता मुख्यमंत्री पद के प्रबल दावेदार हैं। 200 सदस्यीय राजस्थान विधानसभा के लिए सात दिसंबर को मतदान होना है। नतीजों की घोषणा 11 दिसंबर को की जाएगी।

WeForNews

चुनाव

भूपेश बघेल बने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री

Published

on

bhupesh bhaghel
भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ सीएम पद की शपथ ली। (फोटो: एएनआई)

भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। वह प्रदेश के पांचवें मुख्यमंत्री हैं। इस दौरान टीएस सिंह देव और ताम्रध्‍वज साहू ने भी मंत्री पर की शपथ ग्रहण की। समारोह में पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमार स्वामी समेत कई दलों के नेता शामिल हुए।

बता दें कि बघेल का छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को मजबूती देने में योगदान रहा है। राहुल ने जो भी जिम्मा सौंपा, बघेल उस पर खरे उतरे। उन्होंने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर पिछले 5 साल में कांग्रेस को मजबूती दी।

WeForNews 

Continue Reading

चुनाव

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री पद की कमलनाथ ने ली शपथ

Published

on

kamal nath
कमलनाथ (फाइल फोटो)।

मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री पद की कमलनाथ ने सोमवार को शपथ ली। शपथ ग्रहण समारोह में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, अशोक गहलोत, सचिन पायलट, फारूक अब्दुल्ला और शरद यादव समेत कई बड़े नेता शामिल हुए। साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद रहे।

बता दें कि कमलनाथ 38 साल पहले सांसद चुने गए थे और अब वे सूबे के 31वें मुख्यमंत्री बने हैं। कमलनाथ को आठ महीने पहले ही मध्य प्रदेश कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया था।

18 नवंबर 1946 को उत्तर प्रदेश के कानपुर में जन्मे कमलनाथ की स्कूली पढ़ाई मशहूर दून स्कूल से हुई। दून स्कूल से पढ़ाई करने के बाद कमलनाथ ने कोलकाता के सेंट जेवियर कॉलेज से बी.कॉम किया। 27 जनवरी 1973 को कमलनाथ अलका नाथ के साथ शादी के बंधन में बंध गए।

कमलनाथ 9 बार लोकसभा के लिए चुने गए हैं। वह साल 1980 में 34 साल की उम्र में छिंदवाड़ा से पहली बार चुनाव जीते जो अब तक जारी है। कमलनाथ 1985, 1989, 1991 में लगातार चुनाव जीते। 1991 से 1995 तक उन्होंने नरसिम्हा राव सरकार में पर्यावरण मंत्रालय संभाला। 1995 से 1996 तक वे कपड़ा मंत्री रहे।

1998 और 1999 के चुनाव में भी कमलनाथ को जीत हासिल हुई। लगातार जीत हासिल करने से कमलनाथ का कांग्रेस में कद बढ़ता गया और 2001 में उन्हें महासचिव बनाया गया। वह 2004 तक पार्टी के महासचिव रहे। छिंदवाड़ा में तो जीत का दूसरा नाम कमलनाथ हो गया और 2004 में उन्होंने एक बार फिर जीत हासिल की। यह लगातार उनकी 7वीं जीत थी। उन्होंने यूपीए-1 की सरकार में पूरे पांच साल तक यह अहम मंत्रालय संभाला। इसके बाद 2009 में चुनाव हुआ और एक बार फिर उनको लोकसभा के लिए चुन लिया गया। साल 2012 में कमलनाथ संसदीय कार्यमंत्री बने।

WeForNews 

Continue Reading

चुनाव

गहलोत ने राजस्थान सीएम और पायलट ने डिप्टी सीएम की ली शपथ

Published

on

ashok gehlot and sachin pilot

जयपुर के अल्बर्ट हॉल में सोमवार को अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री पद की और सचिन पायलट ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। शपथ ग्रहण समारोह में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत कई नेता शामिल हुए। वहीं राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुईं।

इससे पहले गहलोत और पायलट के आवास पर उनके समर्थकों और पार्टी के कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लगा हुआ था। लोगों ने अपने नेता को बधाई दी। फूल और मालाएं पहनाई।

शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने से पहले अशोक गहलोत ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि एक बार जब कैबिनेट को लेकर फैसला हो जाए। मुख्यमंत्री कैबिनेट की सालाह पर काम करना शुरू कर देंगे। जनता के हित में जो कुछ भी होगा वह किया जाएगा। घोषणापत्र हमारी पहली प्राथमिकता होगी।

वहीं शपथग्रहण समारोह से पहले जयपुर में सचिन पायलट के आवास पर भी समर्थकों का जमावड़ा लगा रहा। इस दौरान पायलट ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि राज्य और लोगों के लिए यह नई शुरूआत है। लोगों ने हम पर भरोसा किया है। आज से ही काम शुरू हो जाएगा। जैसे ही कैबिनेट बनेगा और बेहतर ढंग से काम होगा और लोगों से किए गए वोदों को हम पूरा करेंगे और उनकी उम्मीदों पर खरे उतरेंगे।

WeForNews 

Continue Reading

Most Popular