कांग्रेस ने की पुलवामा हमले की नए सिरे से जांच की मांग, गिरफ्तार डीएससी उस दौरान था वहां तैनात | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

राष्ट्रीय

कांग्रेस ने की पुलवामा हमले की नए सिरे से जांच की मांग, गिरफ्तार डीएससी उस दौरान था वहां तैनात

Published

on

Adhir Ranjan
कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी (फाइल फोटो)

कांग्रेस ने मांग की है कि पुलवामा हमले की नए सिरे से जांच होनी चाहिए, क्योंकि पुलवामा हमले के दौरान गिरफ्तार डीएसपी वहां तैनात था। जम्मू-कश्मीर में दो आतंकवादियों के साथ गिरफ्तार हुए डीएसपी देवेंद्र सिंह को आतंकवादी मानते हुए उस कार्रवाई शुरू हो गई है। इस मामले को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर हमला बोला है। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएएस) पर भी निशाना साधा है।

कांग्रेस सांसद अधीर चौधरी ने लगातार तीन ट्वीट किए और केंद्र सरकार पर सवालों की बौछार की। अधीर चौधरी ने एक ट्वीट में लिखा, “क्या देवेंद्र सिंह मूल रूप से देवेंद्र खान है, इस बारे में आरएसएस के ट्रोल रेजिमेंट को साफ-साफ और स्पष्ट शब्दों में जवाब देना चाहिए। मजहब, रंग और कर्म को किनारे रखते हुए देश के ऐसे दुश्मनों की एकसुर में आलोचना की जानी चाहिए।

बता दें, डीएसपी देवेंद्र सिंह को पुलिस ने दो आतंवादियों के साथ गिरफ्तार किया था। उस वाहन में पांच ग्रेनेड थे और बाद में डीएसपी के घर की तलाशी में दो एके-47 राइफल भी मिले थे। सिंह ने राज्य पुलिस के कई वरिष्ठ पदों पर काम किया है। पुलिस ने उसे दो आतंकवादियों के साथ गिरफ्तार किया था।

डीएसपी देवेंद्र सिंह की गिरफ्तारी ने सुरक्षा हलकों में एक तरह से भूचाल मचा दिया क्योंकि इसमें फांसी पर चढ़ाए गए अफजल गुरु का भी नाम सामने आया है। पुलिस ने देवेंद्र सिंह को आतंकवादी मानते हुए कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू कर दी है लेकिन राजनीति में एक नए हंगामे का दौर शुरू हो गया है। कांग्रेस इस मुद्दे को गंभीरता से उठा रही है और सरकार से जवाब तलब कर रही है। इसी कड़ी में अधीर चौधरी ने ट्वीट कर कहा कि घाटी में बड़ी कमी उजागर हुई है जो हम पर भारी पड़ती दिख रही है। हम खुद को पाखंडी और मूर्ख नहीं बना सकते।

कांग्रेस नेता अधीर चौधरी ने आगे लिखा, अब (देवेंद्र सिंह की गिरफ्तारी के बाद) यह सवाल उठना लाजिमी है कि पुलवामा हमले के पीछे किसका हाथ था। इस पर नए सिरे से गौर करना जरूरी है। बता दें, पिछले साल 14 फरवरी को पुलवामा में एक भीषण आतंकी हमला हुआ था जिसमें 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए थे। इस घटना के बाद पूरे देश में गुस्से का ज्वार उमड़ पड़ा था। कांग्रेस पार्टी शुरू से इस हमले को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधती रही है। बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले के दौरान डीएसपी देवेंद्र सिंह वहां डीएसपी के पद पर तैनात था।

गौरतलब है कि हिज्बुल मुजाहिदीन और लश्कर-ए-तैयबा के 2 आतंकियों के साथ गिरफ्तार जम्मू-कश्मीर पुलिस का डीएसपी देवेंद्र सिंह श्रीनगर एयरपोर्ट पर तैनात था। उसने जम्मू-कश्मीर के दौरे पर गए विदेशी राजनयिकों को भी रिसीव किया था। एंटी-हाईजैकिंग स्क्वॉड के डीएसपी देवेंद्र सिंह को आतंकवाद के खिलाफ ऑपरेशन में अहम भूमिका निभाने के लिए राष्ट्रपति मेडल से भी नवाजा जा चुका है। देवेंद्र सिंह एंटी टेरर ग्रुप का भी सदस्य था।

WeForNews

राष्ट्रीय

राजस्थान में बढ़ रहे कोरोना के मामले, फिर भी कल से होगी ढील

Published

on

Coronavirus

राजस्थान में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 300 से ज्यादा मामले सामने आए हैं, जबकि 16 लोगों की मौत हो चुकी है, अकेले जयपुर, जोधपुर और भरतपुर में कोरोना के 120 से ज्यादा केस आए हैं।

राजस्थान में कोरोना वायरस पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा साढे दस हजार के आसपास चला गया है. जबकि कोरोना से 234 लोगों की मौत हुई है।

इसके बावजूद राजस्थान में कल से होटल ,मॉल और रेस्टोरेंट्स खुल रहे हैं. टाइगर सफारी के लिए रणथंभौर और सरिस्का जैसे टाइगर रिजर्व भी खोल जा रहे हैं, हालांकि धार्मिक स्थलों को खोलने का निर्णय सरकार ने स्थानीय प्रशासन के ऊपर छोड़ा है जो कमेटी बनाकर फैसला लेगी. राज्य में शराब की दुकानें भी रात को 8:00 बजे तक खुल सकेंगे, पहले यह शाम 6:00 बजे तक ही खोलने की इजाजत थी।

wefornews

Continue Reading

राष्ट्रीय

केजरीवाल का ऐलान- ‘दिल्ली के अस्पतालों में सिर्फ दिल्लीवासियों का होगा इलाज’

Published

on

Arvind Kejriwal
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

दिल्ली में कोरोना संक्रमण खतरनाक स्थिति में जा पहुंचा है। इसी बीच दिल्ली सरकार द्वारा गठित पांच सदस्यीय डॉक्टरों की समिति ने भी अपनी रिपोर्ट सौंप दी, जिसके बाद सरकार ने स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर कैबिनेट की बैठक में कुछ बड़े निर्णय लिए हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसके बाद वीडियो कॉन्फ्रेंस कर दिल्ली सरकार के फैसलों की जानकारी दी।

केजरीवाल ने बताया कि कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया गया है कि फिलहाल दिल्ली के सरकारी और निजी अस्पतालों में अब सिर्फ दिल्ली के निवासियों का ही इलाज होगा। दिल्ली में केंद्र सरकार के जो अस्पताल हैं, उनमें पहले की तरह ही सभी मरीजों का इलाज हो सकेगा।

मुख्यमंत्री ने बताया कि दिल्ली में स्वास्थ्य व्यवस्था की समीक्षा के लिए हमने पांच वरिष्ठ डॉक्टरों की समिति बनाई थी, उनका भी यही सुझाव है कि जब तक कोरोना संकट है, तब तक दिल्ली के अस्पतालों को दिल्लीवासियों के लिए आरक्षित कर दिया जाए। केजरीवाल ने बताया कि समिति के अनुसार अगर दिल्ली के अस्पतालों को सभी के इलाज के लिए खोल दिया जाए, तो तीन दिन में सारे बेड भर जाएंगे।

केजरीवाल ने कहा कि 8 जून से दिल्ली में रेस्त्रां, मॉल और धार्मिक स्थल खोले जाएंगे। इस दौरान केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन किया जाएगा। होटल और बैंक्वेट हॉल को अभी नहीं खोला जाएगा। हो सकता है आने वाले समय में होटलों को अस्पतालों के साथ अटैच करना पड़े, इसलिए उन्हें नहीं खोला जाएगा।

केजरीवाल ने बुजुर्गों से अपील हैं कि बाहर या घर के अंदर भी किसी से संपर्क में न आने की कोशिश करें। सोमवार से दिल्ली के बॉर्डर को सभी की आवाजाही के लिए खोल दिया जाएगा। 
दिल्ली में कुछ निजी अस्पताल ऐसे हैं जो विशेष तरह की सर्जरी करते हैं। यहां देश भर से लोग आकर सर्जरी करवाते हैं। इन अस्पतालों में सभी का इलाज हो सकेगा।

केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में स्वास्थ्य व्यवस्था की समीक्षा के लिए हमने पांच वरिष्ठ डॉक्टरों की समिति बनाई थी, उनका भी यही सुझाव है कि जब तक कोरोना संकट है, तब तक दिल्ली के अस्पतालों को दिल्लीवासियों के लिए आरक्षित कर दिया जाए। केजरीवाल ने बताया कि समिति के अनुसार अगर दिल्ली के अस्पतालों को सभी के इलाज के लिए खोल दिया जाए, तो तीन दिन में सारे बेड भर जाएंगे।

WeForNews

Continue Reading

राष्ट्रीय

दिल्ली में जून के अंत तक एक लाख कोरोना के मरीज होने की संभावना, 15 हजार बेड की सलाह

Published

on

Coronavirus-Infections

दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। तेज बढ़ रहे मरीजों की संख्या को देखते हुए जून के अंत कर राजधानी में कोरोना के एक लाख मरीज हो सकते हैं।

दिल्ली सरकार की तरफ से गठित की गई डॉक्टरों की पांच सदस्यीय के आकलन के अनुसार जून के अंत तक दिल्ली में कम से कम एक लाख COVID-19 मामलों की होने की संभावना है।

डॉक्टरों की समिति ने दिल्ली सरकार को सुझाव दिया है कि इसके लिए 15 हजार बेड की जरुरत पड़ेगी। समिति के चेयरमैन डॉक्टर महेश वर्मा ने समाचार एजेंसी एएनआइ को बताया कि हमने अहमदमाबाद, मुंबई और चेन्नई के शहरों में बढ़ रहे कोरोना के मरीजों की संक्या का अध्यन किया है। इसके अनुसार, दिल्ली के अंत तक एक लाख से अधिक मरीज हो सकते हैं।

डॉक्टर महेश वर्मा ने बताया कि समिति ने दिल्ली सरकार को अपनी रिपोर्ट दे दी है। रिपोर्ट में दिल्ली में 15 हजार बेड का इंतजाम करने का सुझाव दिया गया है।

उन्होंने बताया कि दिल्ली में मरीजों की संख्या के देखते हुए करीब 25 फीसद मरीजों को अस्पताल में भर्ती करने की आवश्यकता पड़ेगी।

डॉक्टर महेश वर्मा ने कहा कि दिल्ली में 15 जुलाई तक 42 हजार बेड की जरुरत पड़ेगी। बता दें कि दिल्ली सरकार ने दो मई को डॉक्टरों की पांच सदस्यीय टीम बनाई थी।

समिति को कहा गया था कि वह अस्पतालों की स्थिति, कोरोना महामारी का सामने करने के लिए सुझाव, बढ़ते मामलों का अध्ययन करें। इसके बाद रिपोर्ट बनाकर दिल्ली सरकार को सौंपे। समिति ने अब अपनी रिपोर्ट दिल्ली सरकार को सौप दी है।

wefornews

Continue Reading
Advertisement
coronavirus
अंतरराष्ट्रीय5 mins ago

बांग्लादेश कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए फिर से लॉकडाउन लगाएगा

Ekta Kapoor
मनोरंजन9 mins ago

एकता कपूर ने तोड़ी अपनी चुप्पी!

खेल12 mins ago

बायर्न म्यूनिख का विजयरथ जारी, लेवरकुसेन को 4-2 से हराया

मनोरंजन34 mins ago

लॉकडाउन में दोगुना कसरत कर रही हैं तापसी

Coronavirus
राष्ट्रीय44 mins ago

राजस्थान में बढ़ रहे कोरोना के मामले, फिर भी कल से होगी ढील

Arvind Kejriwal
राष्ट्रीय45 mins ago

केजरीवाल का ऐलान- ‘दिल्ली के अस्पतालों में सिर्फ दिल्लीवासियों का होगा इलाज’

Chicago
अंतरराष्ट्रीय50 mins ago

शिकागो में प्रदर्शन में 20,000 लोगों ने लिया हिस्सा

अंतरराष्ट्रीय59 mins ago

हजारों प्रदर्शनकारियों ने वाशिंगटन डी.सी. में निकाला मार्च

Coronavirus-Infections
राष्ट्रीय60 mins ago

दिल्ली में जून के अंत तक एक लाख कोरोना के मरीज होने की संभावना, 15 हजार बेड की सलाह

coronavirus
राष्ट्रीय1 hour ago

देश के इन दस राज्यों में हैं कोरोना वायरस के 84 फीसदी मामले…

Migrant Worker labour laws
ओपिनियन4 weeks ago

बेशक़, प्रधानमंत्री की सहमति से ही हो रही है श्रम क़ानूनों की ‘हत्या’!

Anil Kumble
खेल4 weeks ago

कोविड-19 के खिलाफ हमें एकजुट होकर जीत दर्ज करनी होगी: कुंबले

Nirmala Sitharaman
ब्लॉग3 weeks ago

आख़िर क्यों वित्तमंत्री के ऐलान झुनझुने जैसे ही हैं?

PM Modi
ब्लॉग3 weeks ago

कोरोना पैकेज़: झुनझुना बजाने और ऐलान करने के मोर्चे पर प्रधानमंत्री से आगे निकलीं वित्तमंत्री

टेक3 weeks ago

रियलमी टीवी, स्मार्टवॉच भारत में 25 मई को होंगे लॉन्च

ayurved
लाइफस्टाइल2 weeks ago

हल्की खांसी और गले में खराश, तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

coronavirus
अंतरराष्ट्रीय3 weeks ago

ब्राजील: जान पर आफत बना कोरोना, अबतक 15 हजार से अधिक की मौत

टेक4 weeks ago

Vivo V19 भारत में लॉन्च, जानें फीचर्स

अंतरराष्ट्रीय4 weeks ago

वर्ष 2100 तक 1 मीटर से अधिक ऊंचा हो जाएगा समुद्र का स्तर

airindia-
व्यापार3 weeks ago

एयर इंडिया ने कहा- अभी बंद है टिकटों की बुकिंग

Vizag chemical unit
राष्ट्रीय1 month ago

आंध्र प्रदेश: पॉलिमर्स इंडस्ट्री में केमिकल गैस लीक, 8 की मौत

Delhi Police ASI
शहर2 months ago

दिल्ली पुलिस के कोरोना पॉजिटिव एएसआई के ठीक होकर लौटने पर भव्य स्वागत

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
स्वास्थ्य2 months ago

WHO को दिए जाने वाले अनुदान पर रोक को लेकर टेडरोस ने अफसोस जताया

Sonia Gandhi Congress Prez
राजनीति2 months ago

PM Modi के संबोधन से पहले कोरोना संकट पर सोनिया गांधी का राष्ट्र को संदेश

मनोरंजन2 months ago

रफ्तार का नया गाना ‘मिस्टर नैर’ लॅान्च

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
अंतरराष्ट्रीय2 months ago

चीन ने महामारी के फैलाव को कारगर रूप से नियंत्रित किया : डब्ल्यूएचओ

मनोरंजन2 months ago

शिवानी कश्यप का नया गाना : ‘कोरोना को है हराना’

Honey Singh-
मनोरंजन3 months ago

हनी सिंह का नया सॉन्ग ‘लोका’ हुआ रिलीज

Akshay Kumar
मनोरंजन3 months ago

धमाकेदार एक्शन के साथ रिलीज हुआ ‘सूर्यवंशी’ का ट्रेलर

Kapil Mishra in Jaffrabad
राजनीति3 months ago

3 दिन में सड़कें खाली हों, वरना हम किसी की नहीं सुनेंगे: कपिल मिश्रा का अल्टीमेटम

Most Popular