Connect with us

राजनीति

मोदी सरकार से नाराज चंद्रबाबू नायडू बोले- ‘आंध्र प्रदेश के साथ नहीं हुआ न्याय’

Published

on

Chandrababu Naidu
एन चंद्रबाबू नायडू (फाइल फोटो)

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि केंद्र सरकार ने आंध्र के साथ अन्याय किया है। उन्होंने कहा कि हम बीजेपी के साथ इसलिए आए ताकि आंध्र प्रदेश के लोगों के साथ न्याय हो सके। मैं 29 बार दिल्ली गया और सबसे कई बार मुलाकात की, फिर भी न्याय नहीं किया गया।

चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि उन्‍हें उम्‍मीद थी कि केंद्र सरकार के इस अंतिम बजट में आंध्र प्रदेश को उम्‍मीद के मुताबिक फंड मुहैया कराया जाएगा लेकिन मोदी सरकार ने उने साथ धोखा किया है।

WeForNews

 

 

राजनीति

प्लास्टिक जिम्मेदारी के साथ इस्तेमाल करें: पर्रिकर

Published

on

parrikar-min (2)
गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर (फाइल फोटो)

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने सोमवार को लोगों से प्लास्टिक का इस्तेमाल जिम्मेदारी के साथ करने को कहा।

दक्षिण गोवा के मडगाव इलाके में नए मछली बाजार के खुलने के एक दिन बाद पर्रिकर ने एक वीडियो में कहा, “अब जब नए बाजार का उद्धघाटन हो चुका है तो मैं कहना चाहता हूं कि यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम इसे साफ रखें। हमें हर जगह प्लास्टिक थैलों को फेंकने से रोकना चाहिए।”

अमेरिका से तीन महीने बाद लौटे मुख्यमंत्री ने राज्य के लोगों के साथ संपर्क करने के लिए वीडियो का इस्तेमाल किया। पर्रिकर अमेरिका से अग्न्याशय के कैंसर का इलाज कराकर लौटे हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading

राजनीति

देश को लूटना और लुटवाना मोदी सरकार का तकिया कलाम: कांग्रेस

Published

on

surjewala
कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला (फाइल फोटो)

कांग्रेस ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि इस देश के लोगों की जमा संपत्ति को आये दिन लूटना और लुटवाना मोदी सरकार का तकिया कलाम बन गया है।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि मोदी सरकार के चलते 4 साल में एनपीए बढ़कर 10 लाख 30 हजार करोड़ हो चुके हैं। आईडीबीआई बैंक का एनपीए आज हर 100 रुपये में से 28 रुपया हो चुका है।

उन्होंने कहा कि भारतीय जीवन बीमा निगम में देश के 38 करोड़ लोगों की जमा पूंजी लगी हुई है। सुरजेवाला ने कहा कि मोदी सरकार अब 38 करोड़ बीमा धारकों का पैसा जबरन डूबे हुए बैंक आईडीबीआई बैंक को उभारने में लगाने के लिये एलआईसी को आदेश दे रही है।

सुरजेवाला ने कहा कि भारतीय बैंकों का 2017-18 के लिए क्यू 4 नुकसान लगभग 90000 करोड़ रुपए है। भारतीय बैंकों का बैड लोन अनुपात 28% के करीब है। आईडीबीआई बैंक, जिसका एनपीए 55588.26 करोड़ है। यह सबसे खराब प्रदर्शन करने वाला सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक है।

wefornews 

Continue Reading

राजनीति

शिवसेना का मोदी से सवाल: किसानों की खुदकुशी क्या अच्छे दिन हैं?

Published

on

shiv sena
फाइल फोटो

शिवसेना ने महाराष्ट्र में किसानों और दूसरे लोगों द्वारा आत्महत्या करने की घटनाओं पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल किया कि क्या यही उनके ‘अच्छे दिन’ के वादे हैं?

सोमवार को शिवसेना ने केंद्र और महाराष्ट्र में बीजेपी की सरकारों पर दोषारोपण करते हुए कहा कि इन लोगों ने गरीबी, जीने के संसाधनों की कमी और सरकार की आर्थिक नीतियों के कारण पड़ने वाले वित्तीय बोझ के चलते इन लोगों ने खुदकुशी की है।

शिवसेना ने पार्टी मुखपत्र सामना और दोपहर का सामना के संपादकीय में लिखा है कि वास्तविकता यह है कि महाराष्ट्र गंभीर संकट में है और लोगों को भूखे रहना पड़ता है, उनके पास जरूरतों की पूर्ति के साधन नहीं है। इसलिए पूरा-पूरा परिवार खुदकुशी कर रहा है। आत्महत्या की ये घटनाएं न सिर्फ मुफ्फसिल इलाके में, बल्कि मुंबई में भी हो रही हैं।”

पार्टी ने मुंबई में प्रवीण पटेल और रीना दंपति के 11 साल के बेटे साथ आत्महत्या करने की घटना का जिक्र किया और कहा कि परिवार ने कैंसर से पीड़ित अपनी 14 साल की बेटी के इलाज के लिए भारी कर्ज लिया था। हाल ही में उनकी बेटी की मृत्यु हो गई। कर्ज अदा करने में लाचार होने पर परिवार ने खुदकुशी कर ली।

शिवसेना ने कहा कि पिछले सप्ताह सरकारी कर्मचारी राजेश भिंगरे द्वारा आत्महत्या करने की घटना से मुंबई एक बार फिर सन्न रह गई। घर का खर्च चलाने में लाचार भिंगरे ने दो बच्चे और पत्नी समेत खुदकुशी कर ली।

उधर, सोलापुर जिले के पंढरपुर में 21 साल की इंजीनियरिंग की छात्रा अलीशा नवाते ने इसलिए आत्महत्या कर ली, क्योंकि उसके माता-पिता उसकी पढ़ाई का खर्च उठाने में अक्षम थे।

अहमदनगर जिले के पोखरी-बालेश्वर गांव में संतूजी फटंगरे ने अपनी दो नाबालिग बेटियों की गला दबाकर हत्या करने के बाद खुद भी जान दे दी, क्योंकि वह परिवार का भरण-पोषण नहीं कर पा रहे थे।

शिवसेना ने कहा, “कर्ज के बोझ से दबे किसानों की आत्महत्या की घटनाएं अबतक सिर्फ विदर्भ में देखी जाती थीं, मगर अब मुंबई समेत पूरे राज्य से इस तरह की रपट मिल रही है। लोग गरीबी और भूख से निराश हैं और आत्महत्या कर रहे हैं।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर हमला बोलते हुए शिवसेना ने कहा कि दोनों बार-बार विदेशों के दौरे पर जाते हैं और वहां से लौटने पर हर बार विकास और समृद्धि लाने की बड़ी-बड़ी बातें करते हैं, जो कहीं दिखती नहीं है।

भाजपा द्वारा हाल ही में शुरू की गई संपर्क से समर्थन पहल पर सेना ने कहा कि वे (भाजपा के लोग) माधुरी दीक्षित, सलमान खान, टाटा और बिड़ला के संपर्क में हैं, लेकिन देश के गरीबों से उनका संपर्क टूट गया है। शिवेसना ने कहा कि जनता की जो ज्वलंत समस्याएं हैं, उनको समझने में भाजपा विफल रही है।

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular