Connect with us

राजनीति

सीबीआई ने ‘हिरासत’ की नोटिस को ‘सूचित किये जाने’ में बदलकर माल्‍या की मदद की: राहुल गांधी

Published

on

rahul-gandhi-pti
राहुल गांधी (फाइल फोटो)

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह समझ से परे है कि केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई), जो कि प्रधानमंत्री को रिपोर्ट करता है, ने भगोड़ा शराब व्यापारी विजय माल्या के खिलाफ जारी लुकआउट नोटिस को प्रधानमंत्री की अनुमति के बगैर कमजोर किया होगा।

राहुल ने ट्वीट किया, “माल्या के भागने के लिए सीबीआई ने ‘हिरासत’ के नोटिस को ‘सूचित किए जाने’ में बदलकर उसकी मदद की थी। सीबीआई सीधे प्रधानमंत्री को रिपोर्ट करती है। यह अकल्पनीय है कि सीबीआई इस तरह के किसी हाई प्रोफाइल व विवादास्पद मामले में प्रधानमंत्री की मंजूरी के बगैर लुकआउट नोटिस को बदल दे।”

बता दें कि गुरुवार को राहुल ने माल्य को देश से भगाने के लिए वित्तमंत्री अरुण जेटली पर आरोप लगाया था और उनसे इस्तीफे की मांग की थी। उन्होंने कहा कि जेटली ने माल्या से अपनी मुलाकात के बारे में जांच एजेंसी को क्यों नहीं बताया। माल्या दो मार्च, 2016 को देश से फरार हो गया था। वह बैंक का 9,000 करोड़ रुपये न चुकाने के आरोपों का सामना कर रहा है।

WeForNews

राजनीति

बीजेपी नेता जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र सिंह ने छोड़ी बीजेपी

Published

on

manvendra singh
बीजेपी नेता जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र सिंह ने पार्टी को अलविदा कह दिया। (फाइल फोटो)

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्‍ठ नेता जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र सिंह ने पार्टी छोड़ दी है। शनिवार (22 सितंबर) को राजस्थान के बाड़मेर जिले में अपनी स्वाभिमान रैली के दौरान उन्‍होंने बीजेपी को अलविदा करते हुए कहा कि ‘कमल का फूल’ हमारी भूल थी।

मानवेंद्र सिंह ने कहा कि रैली उन सभी लोगों के ‘स्वाभिमान’ के लिए है जो हमारे साथ हैं। यह एक जाति या समुदाय की बैठक नहीं है। इसमें ‘छत्तीस कौम’ के लोगों द्वारा भाग लिया जाएगा। इस स्वाभिमान रैली में मानवेंद्र सिंह की पत्नी चित्रा सिंह भी उनके साथ हैं।

बता दें कि साल 2014 के लोकसभा चुनावों में बाड़मेर-जैसलमेर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से बीजेपी के वरिष्ठ नेता और मानवेंद्र सिंह के पिता जसवंत को पार्टी के टिकट से इंकार के बाद से ही परिवार के रिश्ते मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के साथ संबंध खराब हो गए थे।

WeForNews

Continue Reading

राजनीति

राहुल ने मोदी से पूछा- अब तो बताओ, ओलांद सच कह रहे हैं या झूठ

Published

on

rahul gandhi
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो)

राफेल डील को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के बयान के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अनिल अंबानी पर निशाना साधा है।

राहुल गांधी ने कहा कि फ्रांस के एक पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि अनिल अंबानी की कंपनी को चुनने में उनका कोई रोल नहीं था। अनिल अंबानी को जो हजारों करोड़ों का करार मिला, वो नरेंद्र मोदी के कहने पर दिया था मतलब फ्रांस के एक पूर्व राष्ट्रपति भारत के प्रधानमंत्री को चोर कह रहे हैं। इस पर हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री को बयान देना चाहिए।

राहुल ने कहा, ‘मुझको समझ नहीं आ रहा है कि आखिर हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री राफेल डील पर एक भी शब्द क्यों नहीं बोल रहे हैं? वो ओलांद के बयान पर कब जवाब देंगे? नरेंद्र मोदी ने खुद अनिल अंबानी को 130 हजार करोड़ रुपये का गिफ्ट दिया है। उन्होंने कहा कि जब पीएम मोदी राफेल डील कर रहे थे, तब रक्षामंत्री गोवा में मछली खरीद रहे थे। राहुल गांधी ने कहा कि अनिल अंबानी को पीएम मोदी ने कॉन्ट्रैक्ट दिलवाया है।

WeForNews 

Continue Reading

राजनीति

मप्र व्यापमं घोटाले की जड़ हैं मुख्‍यमंत्री: सिब्बल

Published

on

kapil sibal
कपिल सिब्‍बल, वरिष्‍ठ नेता, कांग्रेस (फाइल फोटो)

भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सर्वोच्च न्यायालय के वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने मध्य प्रदेश के व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) में हुए घोटाले को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि तीन हजार लोगों को तो आरोपी बना दिया गया है, मगर इस घोटाले की वास्तविक जड़ मुख्यमंत्री (शिवराज सिंह चौहान) हैं, उन्हें अबतक आरोपी नहीं बनाया गया है। भोपाल की विशेष अदालत में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा दायर निजी शिकायत को लेकर शनिवार को बयान दर्ज किए गए। इस मौके पर सिंह ने अपना पक्ष रखा। वहीं उनके साथ कपिल सिब्बल और विवेक तन्खा भी उपस्थित थे।

निजी शिकायत पर बयान दर्ज होने के बाद सिब्बल ने कांग्रेस कार्यालय में संवाददाताओं से बातचीत में शिवराज सिंह चौहान का नाम लिए बगैर कहा, “इस घोटाले की जड़ मुख्यमंत्री हैं, और इस शिकायत के जरिए यह बात साबित करके दिखाई जाएगी। क्योंकि, हार्ड डिस्क से जो डेटा मिला था, उसमें नियुक्तियों या चयन में सिफारिश करने वाालों के तौर पर 48 जगह मुख्यमंत्री के अलावा उमा भारती और मिनिस्टर एक, मिनिस्टर दो, मिनिस्टर तीन आदि लिखा हुआ था।”

सिब्बल ने आरोप लगाया, “इस व्यापमं घोटाले में 3000 लोगों को आरोपी बनाया जा चुका है, मगर इसकी जड़ मुख्यमंत्री पर अबतक मामला ही दर्ज नहीं हुआ है। इसीलिए दिग्विजय सिंह की ओर से निजी शिकायत विशेष अदालत में दर्ज कराई गई है। इस बात को साबित किया जाएगा कि व्यापमं की जड़ मुख्यमंत्री हैं।”

सिब्बल ने आरोप लगाया कि सभी जांच एजेंसियां मिली हुई हैं और मुख्यमंत्री व मंत्री को बचाने में लगी हुई हैं।

व्यापमं घोटाले की जांच के दौरान कंप्यूटर से जब्त हार्ड डिस्क (सीडी) से की गई छेड़छाड़ का जिक्र करते हुए सिब्बल ने आरोप लगाया कि “एसटीएफ द्वारा 18 जुलाई, 2013 को हार्ड डिस्क जब्त किए जाने की सूचना भोपाल में 4:30 बजे शाम को दी जाती है, जबकि यह डिस्क उसी दिन 4:20 बजे इंदौर में प्रशांत पांडे के पास होती है। वास्तव में यह डिस्क 17 जुलाई को जब्त की गई थी।”

वरिष्ठ अधिवक्ता विवेक तन्खा ने इस मौके पर कहा कि दिग्विजय सिंह की ओर से न्यायालय में दर्ज कराई गई निजी शिकायत में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित अन्य को पक्ष बनाया गया है।

— आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular