Connect with us

चुनाव

महागठबंधन के आगे बीजेपी पस्त, मुश्किल हुआ 2019 के आम चुनाव का रास्‍ता

Published

on

mahagathbandhan
विपक्ष के महागठबंधन ने भाजपा को जोरदार शिकस्‍त दी है।

देश में लोकसभा की 4 और विधानसभा की 10 सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजों में बीजेपी को करारी शिकस्‍त मिली है। भारतीय जनता पार्टी विपक्ष के महागठबंधन के आगे लाचार नजर आया।

लोकसभा सीटों पर हुए उपचुनाव नतीजों पर गौर करें तो उत्‍तर प्रदेश की बहुचर्चित कैराना लोकसभा सीट पर रालोद उम्मीदवार तबस्सुम हसन ने बड़ी जीत हासिल की। उन्‍होंने करीब 50 हज़ार वोटों से बीजेपी की उम्मीदवार मृगांका सिंह को हराया। रालोद उम्मीदवार तबस्सुम को सपा, बसपा, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी का समर्थन प्राप्‍त था।

महाराष्ट्र की गोंदिया-भंडारा लोकसभा सीट पर एनसीपी उम्‍मीदवार मधुकर कुकड़े को 162287 वोट मिले हैं, जबकि बीजेपी के उम्‍मीदवार हेमंत पटले को 149935 वोट मि‍ले। एनसीपी ने इस सीट पर कब्‍जा कर लिया है।

महाराष्ट्र के पालघर लोकसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी का मुकाबला अपनी ही साथी शिवसेना से था। यहां पर बीजेपी के उम्मीदवार राजेंद्र गावित ने करीब 29 हज़ार वोटों से जीत दर्ज की। शिवसेना ने भाजपा के दिवंगत सांसद चिंतामण वनगा के बेटे श्रीनिवास वनगा को अपना उम्मीदवार बनाया था।

नगालैंड सीट पर बीजेपी समर्थ‍ित NDPP के उम्‍मीदवार तोखेहो येपथेमी ने जीत दर्ज की। तोखेहो येपथेमी को 594205 वोट मिले, कांग्रेस समर्थ‍ित NPF के उम्‍मीदवार सी अपोक जमीर को 420459 वोट मिले हैं। तोखेहो येपथेमी ने 173746 वोटों के अंतर से जीत दर्ज की।

उधर विधानसभा सीटों के उपचुनाव पर नजर डालें तो उत्तर प्रदेश के बिजनौर की नूरपुर विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में सपा उम्मीदवार नईमुल हसन ने बीजेपी उम्मीदवार अवनि सिंह को 6211 मतों से मात दी है, जबकि ये सीट बीजेपी की सबसे मजबूत सीट मानी जाती थी, वहीं, सपा का इस सीट पर पहली बार खाता खुला है।

बिहार की जोकीहाट विधानसभा सीट पर राजद उम्मीदवार शाहनवाज आलम ने बड़ी जीत हासिल की है। शाहनवाज ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी जेडीयू के मुर्शीद आलम को 41,224 मतों के अंतर से हराया। शाहनवाज को 81,240 जबकि मुर्शीद को 40,016 मत हासिल हुए। बता दें कि जद (यू) के विधायक सरफराज आलम के विधानसभा एवं पार्टी से इस्तीफा देकर राजद के टिकट पर अररिया से सांसद चुने जाने के बाद जोकीहाट विधानसभा सीट खाली हुई थी। सरफराज के पिता मो़ तस्लीमुद्दीन राजद के सांसद थे, जिनका निधन पिछले साल सितंबर में हो गया था। पिता के निधन के बाद अररिया संसदीय सीट खाली हुई थी।

उत्तराखंड के थराली विधानसभा सीट पर बीजेपी प्रत्याशी मुन्नी देवी ने 1872 वोटों से जीत दर्ज की। उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी जीतराम को हराया।

केरल के चेंगन्नुर सीट पर सीपीएम उम्मीदवार एस चेरियां ने 20956 वोटों से जीत दर्ज की, यहां सीपीएम को 67303 वोट, कांग्रेस को 46347 वोट और BJP को 35270 वोट मिले।

झारखंड के सिल्ली विधानसभा सीट पर झारखंड मुक्ति मोर्चा की सीमा महतो ने बड़ी जीत दर्ज की। उन्होंने एजेएसयू के सुदेश महतो को मात दी। इसके साथ ही झारखंड गोमिया विधानसभा क्षेत्र पर झारखंड मुक्ति मोर्चा ने विजय हासिल की। गोमिया सीट पर जेएमएम उम्मीदवार बबीता देवी ने आजसू के उम्मीदवार को करीब 2000 मतों से हराया।

पंजाब के शाहकोट विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस के हरदेव सिंह लाडी ने बाजी मारी। कांग्रेस के हरदेव सिंह लाडी ने अकाली दल के नायब सिंह कोहाड़ को 38802 वोटों से हराया।

पश्चिम बंगाल के महेश्तला विधानसभा सीट पर टीएमसी ने 62896 वोटों से जीत दर्ज की। यहां टीएमसी को 104818 वोट, बीजेपी को 41993 वोट और सीपीएम को 30316 वोट मिले। टीएमसी के दुलाल दास ने बीजेपी के सुजीत घोष को शिकस्‍त दी।

मेघालय के अंपाती सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार मियानी डी शिरा ने 3191 वोटों से जीत दर्ज की। मियानी ने नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) के उम्मीदवार जी मोमीन को हराया।

कर्नाटक के राजराजेश्वरी विधानसभा सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार मुनिरत्ना ने 25,492 वोटों से जीत दर्ज की है। यहां कांग्रेस को 108064, बीजेपी को 82572 और जेडीएस को 60360 वोट मिले। उन्होंने बीजेपी के मुनिराजू गौड़ा को हराया।

महाराष्ट्र की पलूस-कडेगांव विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस के विश्‍वजीत कदम ने निर्विरोध जीत हासिल कर ली है। यह सीट विश्‍वजीत के पिता और वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता पतंगराव कदम के निधन से खाली हुई थी। यहां पर पहले बीजेपी ने कांग्रेस प्रत्याशी विश्वजीत कदम के खिलाफ संग्राम सिंह देशमुख को उतारा था, लेकिन आखिरी वक्त उन्होंने नामांकन वापस ले लिया।

गौरतलब है कि कैराना लोकसभा सीट के उपचुनाव पर देश के राजनीतिक दलों की निगाहें थी। क्योंकि यहां पर जिस तरह से महागठबंधन कर विपक्ष चुनाव लड़ रहा था, उसके नतीजों से देश में संदेश जाने वाला था कि आगामी लोकसभा चुनाव में हम इस तरह साथ मिलकर बीजेपी के खिलाफ लड़ेंगे तो एनडीए को सत्‍ता में फिर से काबिज होनेे से रोका जा सकता है। अब जब कैराना की सीट विपक्ष के खाते में चली है तो कहा जा सकता है कि आगामी 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के लिए रास्‍ता आसान नहीं रहेगा।

WeForNews

चुनाव

राजस्थान निकाय उपचुनाव में कांग्रेस ने दी बीजेपी को टक्कर

Published

on

bjp - congress

राजस्थान के पंचायती राज और शहरी निकाय के उपचुनाव नतीजों ने कांग्रेस में जोश भर दिया है। कुल 27 सीटों के लिए उपचुनाव हुए थे। इसमें से 13 बीजेपी ने जीतीं जबकि कांग्रेस ने 11 सीटें जीतीं। नगर पालिका की एक सीट पर एनसीपी ने जीत दर्ज की है। पंचायत समिति और नगरपालिका की एक-एक सीट पर निर्दलीयों ने विजय दर्ज की है।

सवाई माधोपुर जिले में कांग्रेस ने जिला परिषद की सीट जीती। यहां पर कांग्रेस के उम्मीदवार लोकेश ने भाजपा के अपने निकटतम प्रतिद्वंदी कमल को 358 मतों से पराजित किया है। पार्टी ने 9 निगम वार्ड के पदों में से 5 पर कब्जा जमाया। जबकि बीजेपी को मात्र 2 ऐसे वार्ड पर जीत मिल सकी। कांग्रेस ने पंचायत समिति की 5 सीटों और नगरपालिका परिषद की पांच सीटों पर विजय हांसिल की है।

स्थानीय निकाय के उपचुनावों के परिणामों पर भाजपा के प्रदेश महासचिव भजनलाल शर्मा ने कहा कि लोगों ने एक बार फिर से भाजपा पर विश्वास व्यक्त किया है और पार्टी के 13 उम्मीदवारों ने उपचुनावों में जीत दर्ज की है।

वहीं कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि शहरी मतदाताओं ने सत्ताधारी भाजपा के खिलाफ मतदान किया है। जनविरोधी योजनाओं के कारण लोगों ने भाजपा को नकार दिया है। सचिन पायलट ने कहा कि लोग बीजेपी की जन विरोधी नीतियों से बेहद खफा हैं। उन्होंने कहा कि शहरी मतदाता भी अब बीजेपी से दूरी बनाने लगे हैं। उन्होंने कहा, बीजेपी म्यूनिसिपल वार्ड में 2 सीटें ही जीत सकी, जबकि कांग्रेस ने 5 सीटें जीती।

बता दें कि राजस्थान में इस साल के अंत तक विधानसभा चुनाव होने है। बीजेपी को इस चुनाव में सरकार बनाने की चुनौती है, तो कांग्रेस के पास सत्ता पर फिर से काबिज होने का मौका भी है।

wefornews 

Continue Reading

चुनाव

भाजपा को लगा झटका, कांग्रेस ने जीती जयनगर सीट

Published

on

congress
कांग्रेस की सौम्‍या रेड्डी ने जयनगर सीट बीजेपी से छीन ली। (प्रतीकात्‍म तस्‍वीर) 

कर्नाटक की जयनगर विधानसभा सीट कांग्रेस ने जीत ली है। मतगणना में कांग्रेस की सौम्‍या रेड्डी ने बीजेपी के बीएन प्रहलाद को 3775 वोटों से हरा दिया। कांग्रेस की सौम्या रेड्डी को 54045 जबकि बीजेपी के बीएन प्रहलाद को 50270 वोट मिले।

कर्नाटक विधानसभा के लिये 12 मई को प्रदेश भर में चुनाव कराये गए थे। हालांकि बीजेपी प्रत्याशी बी एन विजयकुमार के निधन के बाद जयनगर में चुनाव स्थगित कर दिया गया था। विजयकुमार इस सीट से विधायक थे। जयनगर सीट पर 11 जून को हुये मतदान में करीब 55 प्रतिशत वोट पड़े थे।

इस सीट पर विजयकुमार के भाई भाजपा के बी एन प्रहलाद और वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री रामलिंगा रेड्डी की बेटी सौम्या रेड्डी के बीच सीधा मुकाबला था। चुनाव से पहले जनता दल (एस) ने पांच जून को अपने प्रत्याशी को मैदान से हटा लिया और अपने सत्तारूढ़ गठबंधन सहयोगी कांग्रेस को समर्थन दिया। मतगणना केन्द्र के भीतर और आसपास पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये हैं।

इस जीत के बाद कर्नाटक विधानसभा में कांग्रेस सदस्यों की संख्या अब बढ़कर 79 हो गई है। 15 मई को घोषित हुए चुनाव नतीजों में कांग्रेस को 78 सीटें मिली थीं। लेकिन बीते 28 मई को उसके एक नवनिर्वाचित विधायक सिद्दू न्यामागोडा की सड़क हादसे में मौत हो गई थी।

WeForNews

Continue Reading

चुनाव

राहुल के ‘मास्टर स्ट्रोक’ से बिगड़ी भाजपा की फील्डिंग

राहुल की सभा के बाद भाजपा में अचानक सक्रियता बढ़ गई है। पार्टी की चुनाव प्रबंधन समिति के प्रमुख नरेंद्र सिंह तोमर ने कार्यकर्ताओं से कहा कि वे लोगों के बीच जाएं और उनकी समस्याओं को जानकर समाधान के प्रयास करें।

Published

on

Rahul Modi

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनकी सरकार की पहचान या यूं कहें कि ‘किसान हितैषी सरकार’ के तौर पर प्रचार कुछ ज्यादा ही हुआ है, मगर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंदसौर की श्रद्धांजलि सभा में किसानों के कर्ज माफ करने का भरोसा दिलाकर ऐसा मास्टर स्ट्रोक मारा है कि भाजपा की लगभग डेढ़ दशक पुरानी फील्डिंग ही बिखरने लगी है।

मंदसौर गोलीकांड की पहली बरसी पर कांग्रेस की ओर से आयोजित श्रद्धांजलि सभा में पहुंचे राहुल गांधी ने प्रदेश की शिवराज सरकार को किसान, गरीब, मजदूर और युवा विरोधी करार दिया। साथ ही सत्ता में आने के 10 दिन के भीतर किसानों का कर्ज माफ करने का ऐलान किया।

राहुल के कर्जमाफी के ऐलान या क्रिकेट की भाषा में कहें तो मास्टर स्ट्रोक से भाजपा की लाइन लेंथ पूरी तरह गड़बड़ा गई है। राहुल का एक तरफ भाजपा की सबसे बड़ी ‘किसान हितैषी’ होने की ताकत पर वार और दूसरी ओर बड़ी-बड़ी बाधाओं को लांघकर बड़ी संख्या में पहुंचे किसानों के जमावड़े ने सत्ताधारी दल के माथे पर चिंता की लकीरें गहरी कर दी हैं।

राहुल की सभा के बाद भाजपा में अचानक सक्रियता बढ़ गई है। पार्टी की चुनाव प्रबंधन समिति के प्रमुख नरेंद्र सिंह तोमर ने कार्यकर्ताओं से कहा कि वे लोगों के बीच जाएं और उनकी समस्याओं को जानकर समाधान के प्रयास करें। साथ ही यह जानें कि आमजन की बेहतरी के लिए और क्या किया जा सकता है।

वहीं पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह ने राहुल गांधी के किसानों के कर्ज माफ करने वाले बयान पर तंज कसा और किसानों के कर्ज के बोझ को ही झुठला दिया।

उन्होंने कहा, “यहां किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर कर्ज मिलता है और 10 प्रतिशत बतौर अनुदान दिया जाता है। ऐसे में किसान कर्ज के बोझ तले कैसे दबेगा? राज्य में भाजपा की सरकार बनने के बाद किसानों की स्थिति सुधरी है, सिंचाई सुविधा में बढ़ोतरी हुई है। यही कारण है कि पांच बार कृषि कर्मण पुरस्कार मिला है।”

मुख्यमंत्री शिवराज ने तो कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाने के लिए यहां तक कह दिया कि उनकी सरकार ने ऐसे काम किए हैं, जिनके उदाहरण दुनिया में कहीं नहीं मिलते।

उन्होंने कहा, “संघर्ष का शंख बज चुका है, हमें लड़ना है और जीतना है। लड़ाई के लिए जो हथियार चाहिए, वह सरकार की उपलब्धियों के रूप में हमारे हाथ में है। सरकार ने मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना सहित किसान, युवा और महिलाओं के हित में ऐसे-ऐसे काम किए हैं जिनके दूसरे उदाहरण दुनिया में कहीं नहीं मिलते।”

राहुल की सभा के बाद ‘डैमेज कंट्रोल’ के लिए भाजपा नेताओं के बयानों तक ही बात नहीं ठहरी है। पार्टी ने मीडिया में अपनी बात पूरी ताकत से उठाने के लिए पूर्व पत्रकार और सांसद प्रभात झा के हाथ में कमान सौंपी है। उन्हें प्रवक्ताओं, पैनलिस्टों के बीच समन्वय बनाने के लिए पार्टी के समग्र मीडिया का प्रभारी बनाया गया है।

वहीं दूसरी ओर, कांग्रेस की प्रचार समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा सरकार को ‘किसान विरोधी’ बताते हुए कहते हैं, “इस सरकार के राज में किसानों का नहीं, दलालों और बिचौलियों का फायदा हुआ है। यह किसान को लूटने वाली सरकार है।”

वरिष्ठ पत्रकार भारत शर्मा का कहना है, “राज्य में भाजपा के खिलाफ तीन स्तर की एंटी इंकम्बेंसी है। पहला, स्थानीय स्तर के नेताओं की राज्य सरकार और केंद्र सरकार से नाराजगी है। दूसरा, गोलीकांड के बाद से किसानों में बेहद नाराजगी है। तीसरा, उत्तर प्रदेश के कैराना लोकसभा उपचुनाव में पार्टी की हार ने भाजपा को सचेत किया है। वहां जातिवाद, संप्रदायवाद का जहर घोलने के बाद भी पार्टी जीत नहीं पाई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनके बैबिनेट के धुआंधार प्रचार, मतदान से ठीक एक दिन पहले कैराना के पास बागपत में प्रधानमंत्री का रोड शो और मेरठ में उनकी रैली भी भाजपा को जिता नहीं पाई। इससे पार्टी कार्यकर्ताओं का मनोबल गिरा है। इसी बीच यहां राहुल ने सत्ता में आने पर कर्जमाफी की घोषणा कर दी, जिससे भाजपा सकते में आ गई है।”

राहुल की मंदसौर सभा और उसमें किसानों की कर्जमाफी के वादे के बाद भाजपा को किसानों को खुश करने की चुनौती है, मगर सूझ नहीं रहा कि क्या किया जाए। लिहाजा, भाजपा बड़े बदलाव के साथ ज्यादा आक्रामक होने की नीति बनाने में जुट गई है।

–आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
jeff bezos
टेक11 mins ago

अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस दुनिया के सबसे अमीर शख्स

sensex-1
व्यापार23 mins ago

शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में कमजोरी

kim jong un
अंतरराष्ट्रीय43 mins ago

किम जोंग उन 2 दिवसीय दौरे पर चीन पहुंचे

audi_ceo
अंतरराष्ट्रीय16 hours ago

धोखाधड़ी के आरोप में ऑडी का सीईओ गिरफ्तार

rahul gandhi
राजनीति16 hours ago

दिल्‍ली विवाद पर बोले राहुल- अराजकता पर पीएम ने कीं आंखें बंद

manish tiwari
राजनीति16 hours ago

प्रधानमंत्री बताएं वित्तमंत्री कौन है: मनीष तिवारी

vijay malya
राष्ट्रीय17 hours ago

विजय माल्या के खिलाफ ईडी ने दायर की नई चार्जशीट

kumarswamy
राजनीति17 hours ago

गौरी लंकेश मामले में मुतालिक के खिलाफ कार्रवाई होगी: कुमारस्‍वामी

manish sisodia-min
राजनीति17 hours ago

सत्येंद्र जैन के बाद अब मनीष सिसोदिया अस्पताल में भर्ती

pc-chacko
राजनीति17 hours ago

दिल्ली संकट के लिए आप, भाजपा दोनों जिम्मेदार : कांग्रेस

beadroom-min
ज़रा हटके1 week ago

ये हैं दुनिया के अजीबोगरीब बेडरूम

ujjwala-Scheam
ज़रा हटके3 weeks ago

उज्जवला योजना : सिलेंडर मिला, गैस भरवाने के पैसे नहीं

beer spa
ज़रा हटके1 week ago

यहां पीने के साथ नहाने का भी उठा सकते हैं लुफ्त

amit-shah-yogi-adityanath
ब्लॉग2 weeks ago

इस्तीफ़े की हठ ठाने योगी को अमित शाह का दिलासा

congress
चुनाव6 days ago

भाजपा को लगा झटका, कांग्रेस ने जीती जयनगर सीट

burger-min
ज़रा हटके7 days ago

इस मंदिर में प्रसाद में बंटता है बर्गर और ब्राउनीज

Climate change
Viral सच2 weeks ago

बदलता जलवायु, गर्माती धरती और पिघलते ग्लेशियर

राष्ट्रीय2 weeks ago

किसान आंदोलन के पांचवे दिन मंडियों में सब्जियों की कमी से बढ़े दाम

Lack of Toilets
ब्लॉग2 weeks ago

बुंदेलखंड : ‘लड़कियों वाले गांव’ में शौचालय नहीं

bhadash cafe-min
ज़रा हटके1 week ago

भड़ास निकालनी हो तो इस कैफे में जाइए…

Loveratri Teaser
मनोरंजन5 days ago

सलमान के बैनर की लवरात्रि का टीजर रिलीज

Salman khan and sahrukh khan
मनोरंजन5 days ago

‘जीरो’ का नया टीजर दर्शकों को ईदी देने को तैयार

soorma
मनोरंजन1 week ago

‘सूरमा’ का ट्रेलर रिलीज

Dhadak
मनोरंजन1 week ago

जाह्नवी की फिल्म ‘धड़क’ का ट्रेलर रिलीज

मनोरंजन2 weeks ago

सपना के बाद अब इस डांसर का हरियाणा में बज रहा है डंका

sanju-
मनोरंजन2 weeks ago

फिल्म ‘संजू’ का रिलीज हुआ पहला गाना, ‘मैं बढ़िया, तू भी बढ़िया’

race 3
मनोरंजन2 weeks ago

‘रेस 3’ का तीसरा गाना ‘अल्‍लाह दुहाई है’ रिलीज

salman khan
मनोरंजन3 weeks ago

सलमान खान की फिल्म रेस-3 का ‘सेल्फिश’ गाना हुआ रिलीज

राष्ट्रीय4 weeks ago

दिल्ली से विशाखापट्टनम जा रही आंध्र प्रदेश एक्‍सप्रेस के 4 कोच में लगी आग

thug_ranjha
मनोरंजन4 weeks ago

‘ठग रांझा’ दुनियाभर में सबसे अधिक देखा गया भारतीय वीडियो

Most Popular