खेल

कोहली के बारे में पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क के इस बयान से टूट सकता है ऑस्ट्रेलिया का मनोबल

team australia
team australia (file photo)

आजकल टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली का कौन मुरीद नहीं है… दुनिया भर में कोहली के प्रशंसको की लंबी फेहरिस्त बन चुकी है… इस लिस्ट में बड़े बड़े दिग्गजों से लेकर मौजूदा दौर के क्रिकेटर्स भी शामिल हैं जो कोहली के खेल, उनकी कप्तानी शैली और उनकी शख्सियत को खासा पसंद करते हैं। जीत के लिए कोहली के कमिटमेंट को लेकर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क भी बड़े फैन बन चुके हैं।

क्लार्क का मानना है कि टीम इंडिया के प्रदर्शन में सुधार की सबसे बड़ी वजह कोहली की कप्तानी है.. क्योंकि मौजूदा भारतीय कप्तान हार से डरता नहीं है और जीत हासिल करने के लिए कोहली आक्रामकता के साथ अपनी टीम की अगुवाई करता है…

कोहली की कप्तानी की तारीफ करते हुए कहा क्लार्क यहीं नहीं रुके… उन्होंने कहा कि – मैं हमेशा से सौरव गांगुली की कप्तानी का कायल रहा हूं… वह तारीफ के हकदार हैं… वो गांगुली ही थे जिन्होंने टीम में एक माहौल तैयार किया जिसे महेंद्र सिंह धोनी और कोहली ने अपने-अपने तरीकों से आगे बढ़ाया…

क्लार्क ने कहा, मौजूदा टीम इंडिया में निश्चित तौर पर आक्रामकता दिखाई देती है… विराट कोहली बेहद आक्रामकता के साथ टीम की अगुवाई करते हैं और जीत की कोशिश करते हुए हारने से भी नहीं डरते… यही वजह है कि टीम इंडिया के प्रदर्शन में शानदार सुधार देखने को मिला है।

मौजूदा दौर में कुछ ही ऐसे बल्लेबाज़ हैं जो विराट कोहली को टक्कर देते नज़र आते हैं.. उनमें ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ का भी नाम शामिल है। कोहली और ऑस्ट्रेलिया के मौजूदा कप्तान स्टीव स्मिथ की बल्लेबाजी और कप्तानी तुलना के बारे में पूछने पर क्लार्क ने माना कि भारतीय कप्तान कोहली स्टीवन स्मिथ से बेहतर वनडे बल्लेबाज है…

क्लार्क ने कहा, विराट कोहली वनडे क्रिकेट में बेहतर बल्लेबाज हैं, लेकिन दोनों के बीच मामूली अंतर है. दोनों काफी अच्छे खिलाड़ी हैं, लेकिन कप्तान के रूप में यह महत्वपूर्ण होता है कि टीम आपके नेतृत्व में कैसा प्रदर्शन कर रही है. मैं स्मिथ को बेहतर टेस्ट बल्लेबाज मानता हूं.

क्लार्क ने कहा, कोहली बेहतर कप्तान हैं… दोनों युवा कप्तान हैं , लेकिन हमने देखा है कि टेस्ट में स्टीव स्मिथ पूर्वानुमान लगाने में उतने प्रभावी नहीं हैं… भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज के दौरान गेंदबाजी में बदलाव करते हुए उनके फैसले काफी अच्छे नहीं थे…

आक्रामकता के मुद्दे पर क्लार्क ने कहा कि अगर आस्ट्रेलिया को जीत दर्ज करनी है, तो आक्रामक खेल दिखाना होगा. उन्होंने कहा, भारत के टॉप तीन बल्लेबाज बेहतरीन हैं. वे दुनिया के किसी भी बल्लेबाज जितने बेहतर हैं और अगर ऑस्ट्रेलिया को जीत दर्ज करनी है, तो उसके गेंदबाजों को आक्रामक रुख अपनाना होगा और पहले 10 ओवर में ही भारत के तीन विकेट चटकाने की कोशिश करनी होगी.

ऑस्ट्रेलियाई टीम को अब भारत में वनडे और टी20 सीरीज़ में अपना दमखम दिखाना है लेकिन जिस शानदार लय और फॉर्म में टीम इंडिया है उससे लगता यही है कि भारतीय टीम को टक्कर दे पाना इतना आसान नहीं होने वाला… ऑस्ट्रेलिया के पूर्व चैंपियन कप्तान माइकल क्लार्क भी अब यही सोच रहे होंगे कि भारत दौरे पर कोहली जैसे कप्तान की अगुआई में टीम इंडिया से निपटना वाकई एक बड़ा चैलेंज होगा…

WeForNews Bureau

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top