Connect with us

ज़रा हटके

और कितनी निर्भयाएं..? झकझोरती हकीकत..!

अगर आंकड़ों को देखें तो बेहद चौंकाते हैं। 2017 में ही 19000 हजार से ज्याद दुष्कर्म के मामले हुए। जबकि बीते 5 बरस में बच्चों से दुष्कर्म मामलों में 151 फीसदी बढ़ोतरी हुई है यानी हर दिन करीब 55 बच्चे दुष्कर्म का शिकार होते हैं।

Published

on

india_rape_victim
Picture Credit : thestar

केवल 6 बरस ही तो बीते हैं जब निर्भया कांड से पूरा देश गुस्से में था। अब गुस्से का कारण मंदसौर कांड बन गया है। मंदसौर की आग बुझती कि ठीक चार दिन बाद मप्र के ही सतना के परसमनिया गांव में दुष्कर्म की शिकार चार साल की बालिका गंभीर हालत में मिली। उसे एयरलिफ्ट कर 3 जुलाई को एम्स दिल्ली में भर्ती कराया गया।

दोनों मामलों में पीड़ित बच्चियां सूनी जगहों पर मरणासन्न हालत में मिलीं। दोनों घटनाओं के तीनों आरोपी 20 से 25 साल के आवारा तथा नशे की लत के शिकार नौजवान हैं। यकीनन ये समाज से अलग-थलग होंगे इस कारण भी भयमुक्त होंगे। सोशल थेरेपी की कमीं भी डिप्रेशन या कुंठित मानसिकता के शिकार ऐसे अपराधियों को बढ़ावा देती है, जिससे कई बार गंभीरता को समझते और जानते हुए भी तो कई बार लचर कानून और सजा का भय न होना भी ऐसी घटनाओं का कारण बनते हैं।

अगर आंकड़ों को देखें तो बेहद चौंकाते हैं। 2017 में ही 19000 हजार से ज्याद दुष्कर्म के मामले हुए। जबकि बीते 5 बरस में बच्चों से दुष्कर्म मामलों में 151 फीसदी बढ़ोतरी हुई है यानी हर दिन करीब 55 बच्चे दुष्कर्म का शिकार होते हैं। ये वो हकीकत है जो पुलिस तक पहुंचती है। परंतु ऐसे मामलों का कोई हिसाब नहीं हैए जिनमें मासूमों ने छेड़छाड़ तथा दुष्कर्म से जुड़ी मानसिक और शारीरिक प्रताड़ना को सहा और मजबूरन चुप रहना पड़ा या डराकर नहीं तो पैसों के बल पर चुप करवा दिया गया।

राष्ट्रीय क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़ों बताते हैं कि देश के नौनिहालों की सुरक्षा की हालत बेहद खस्ता है। 2010 में दर्ज 5,484 बलात्कार के मामलों की संख्या बढ़कर 2014 में 13,766 हो गई थी। संसद में पेश आंकड़े बेहद चौंकाते हैं। अक्टूबर 2014 तक पॉक्सो एक्ट के तहत दर्ज 6,816 एफआईआर में केवल 166 को ही सजा हो सकी है, जबकि 389 मामले में लोग बरी कर दिए गए, जो 2.4 प्रतिशत से भी कम है।

इसी तरह 2014 तक 5 साल से दर्ज मामलों में 83 फीसदी मामले लंबित थेए जिनमें से 95 फीसदी पॉक्सो के और 88 फीसदी बच्चियों के ‘लाज भंग’ यानी दुष्कर्म के थे। भारतीय दंड संहिता की धारा 354 के तहत महिला की लाज भंग के इरादे से किए गए हमले के 11,335 मामले दर्ज किए गए।

यदि कानून की कमी को दोष दें तो धीमी न्याय प्रक्रिया और सबूतों की मजबूती के तर्क पर कई बार बच जाने वाले जघन्य अपराधों के दोषियों की हरकतें भी नए अपराधों में छिपी होती हैं। लेकिन सवाल फिर वही कि इससे निपटा कैसे जाए? कौन इसके लिए पहल करेगा? किस तरह से तैयारी करनी होगी और तैयारी के बाद अमल में कैसे लाया जाए? लेकिन आज हकीकत ठीक उलट है।

घटना घटने के बाद गुस्सा स्वाभाविक है। लेकिन राजनीतिक रोटी का सेंका जाना जरूर सवालिया है। देखा भी गया है कि ऐसी घटनाओं में राजनीतिकरण के आवरण में असली दर्द छिप जाता है और मरहम के बजाय मातम पुरसी का दौर चल पड़ता है। हालाकि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इसी 21 अप्रैल को 12 साल से कम उम्र के बच्चों से दुष्कर्म के दोषियों को अदालतों द्वारा मौत की सजा देने संबंधी एक अध्यादेश को मंजूरी दे दी। लेकिन फिर भी घटनाएं हैं कि थम नहीं रही हैं।

निर्भया कांड के बाद 2013-14 में निर्भया फंड बनाया गया। सरकार ने 1 हजार करोड़ रुपये से शुरुआत की। 2014-15 में इसमें फिर 1 हजार करोड़ और डाले। 2015-16 में कुछ नहीं दिया, जबकि 2016-17 में रकम घटाकर 550 करोड़ कर दी गई। केवल 2016 में महज 191 करोड़ रुपये खर्चे गए, जबकि 2017-18 में इसमें साढ़े 500 करोड़ रुपये और इस साल 500 करोड़ डाले गए।

इस तरह कुल मिलाकर यह फंड 3409 करोड़ रुपये का हो गया, जिसका कोई इस्तेमाल नहीं किया गया, जबकि इससे पूरे देश में 660 उज्ज्वला वन स्टॉप सेंटर बनने थे, जिसमें पीड़ितों का इलाज भी हो। चप्पे-चप्पे पर सीसीटीवी लगें, उन्हें कानूनी और आर्थिक मदद मिले और पहचान भी छुपी रहे। लेकिन हकीकत उलट है। आम लोगों को इस बारे में पता तक नहीं कि कितने सेंटर कहां-कहां हैं!

सुप्रीम कोर्ट भी इस पर केंद्र व सभी राज्यों से पूछ चुका है कि निर्भया फंड का इस्तेमाल क्यों नहीं किया जा रहा है, नोडल अथॉरिटी के रूप में महिला एवं बाल विकास मंत्रालयए महिला उत्थान व सुरक्षा के लिए खर्च की छूट के बावजूद केवल 600 करोड़ खर्च करने और 2400 करोड़ बचे रहने का ठोस जवाब नहीं दे पाया।

चाहे दिल्ली, मंदसौर, सतना सहित न जाने कितनी अनाम निर्भया हों या मुंबई की नर्स अरुणा शानबाग हो जो सहकर्मी की यौन प्रताड़ना से बचने के खातिर उसके गुस्से का ऐसा शिकार हुई कि 23 नवंबर, 1973 को कोमा में पहुंचने के बाद 19 मई, 2015 को मौत होने तक लगातार 42 साल रोज मरकर भी जिंदा रही।

ऐसे अपराधों को रोकने के लिए फंड तो है, लेकिन बेहद कठोर कानून, फास्ट ट्रैक अदालतें उससे जरूरी हैं, ताकि यौन तथा बाल अपराधियों पर लगाम लगा सके। अपराधियों में खौफ पैदा हो, वरना यह सवाल बना ही रहेगा और कितनी निर्भयाएं?

ऋतुपर्ण दवे 

(लेखक स्वतंत्र पत्रकार एवं टिप्पणीकार हैं)

–आईएएनएस

अन्य

बांधवगढ़ ले जाए जाएंगे उत्पाती हाथी

Published

on

Elephant

भोपाल, 19 सितंबर | छत्तीसगढ़ में उत्पात मचाने वाले हाथी काफी समय से मध्य प्रदेश के सीधी जिले में घुसकर उत्पात मचा रहे हैं। इस दौरान दो लोगों की मौत होने के अलावा संपत्ति का भारी नुकसान हो चुका है। वन अमले ने इन हाथियों को कब्जे में ले लिया है और इन्हें बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान भेजने की तैयारी हो रही है। वन विभाग की ओर से बुधवार को दी गई आधिकारिक जानकारी में बताया गया कि छत्तीसगढ़ के हाथी मवई नदी को पार कर सीधी जिले में घुस गए और यहां जमकर उत्पात मचाया। इन हाथियों ने कुंदौर गांव के कच्चे घरों को तोड़कर उनमें रखा अनाज खा लिया और खेतों की फसलों को तबाह कर दिया।

हाथियों के बढ़ते आतंक को देखते हुए टाइगर रिजर्व प्रबंधन ने तत्काल सोलर लाइट गांव की सीमा पर लगा कर हाथियों को गांव में घुसने से रोका। इसके बाद हाथी अन्य गांवों में भी इसी तरह उत्पात मचाते हुए सीधी मुख्यालय की 15 किलोमीटर की परिधि में पहुंच गए। हाथियों को भगाने के लिए पश्चिम बंगाल से विशेषज्ञ भी बुलाए गए। अगस्त से सितंबर के बीच इन उत्पाती हाथियों ने दो ग्रामीणों की जान भी ले ली।

उत्पाती हाथियों पर काबू पाने के लिए बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के संचालक मृदुल पाठक के नेतृत्व में अधिकारियों और कर्मचारियों के दल ने अभियान चलाया और कुल पांच हाथियों को कब्जे में ले लिया है। इन हाथियों को बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान ले जाया जाएगा।

–आईएएनएस

Continue Reading

ज़रा हटके

राहुल गांधी ने चाय पीते आंख मारी

Published

on

Rahul Gandhi Bhopal

भोपाल, 17 सितंबर | अभी लोग फिल्म अभिनेत्री प्रिया प्रकाश की तरह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा संसद के भीतर आंख मारने का किस्सा नहीं भूले होंगे कि मध्यप्रदेश की राजधानी में सोमवार को चाय पीते हुए ऐसी ही तस्वीर एक बार फिर सामने आई है। यह तस्वीर सोशल मीडिया पर यह वीडियो वायरल हो रहा है। भोपाल में राहुल गांधी का लाल घाटी से रोड शो शुरू हुआ। राहुल का काफिला जब पुराने भोपाल से गुजर रहा था, तभी वह बस से उतरे और राजू टी स्टॉल पर खड़े होकर उन्होंने समोसा खाया, उसके बाद चाय भी पी।

राहुल गांधी इस दौरान लगभग चार मिनट तक वहां रुके। यहां जमा युवाओं ने राहुल के साथ सेल्फी ली। कांग्रेस अध्यक्ष ने दुकानदार से समोसा के बारे में कुछ पूछा भी।

राहुल चाय पी रहे थे और कार्यकर्ताओं का अभिवादन भी स्वीकार कर रहे थे। उन्होंने चाय की चुस्की ली और इसी दौरान उनकी आंख भी चल गई। चाय पीने और आंख मारने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

–आईएएनएस

Continue Reading

ज़रा हटके

जानिए, शादी में दूल्हे-दुल्हन को क्यों मिला तोहफे में 5 लीटर पेट्रोल

Published

on

marriage-min

देश मे लगातार बढ़ रही पेट्रोल-डीजल की कीमत ने आम लोगों को काफी परेशान किया है। लोग शादियों में अब तो पेट्रोल भी देने लगे हैं।

तमिलनाडु में इस सप्ताह हुई एक शादी में दूल्हे को उसके दोस्तों ने गिफ्ट में पेट्रोल से भरी हुई बोतले गिफ्ट में दी। तमिल टीवी चैनल के मुताबिक शादी में दूल्हा और दुल्हन मेहमानों की बधाई स्वीकार कर रहे थे। उसी दौरान दूल्हे के दोस्त आए और उसे पांच लीटर पेट्रोल का कैन थमाया।

तमिल टीवी चैनल ‘पुथिया तलाईमुरई’ के अनुसार कुड्डलूर में एक विवाह समारोह के दौरान जब नवदंपती प्रभु और दिव्या मेहमानों का अभिवादन कर रहे थे तभी दूल्हे के दोस्त पांच लीटर पेट्रोल की केन लेकर वहां पहुंचे। उनके गिफ्ट को देखकर चारों तरफ लोग हंसने लगे। इसके बाद दूल्हे ने दोस्तों के इस उपहार को स्वीकार किया। प्रभु एक ऑटोरिक्शा चालक है। दोस्तों ने सोचा कि दूल्हा एक ऑटो ड्राइवर है। इसलिए दूल्हे को इस तरह का गिफ्ट देना चाहिए।

जब लोगों ने दूल्हे के दोस्तों से इस अनोखे गिफ्ट के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि इतना महंगा पेट्रोल उपहार के रूप में जरूरत की वस्तु बन गया है। इस उपयोगिता को देखते हुए लोगों ने पेट्रोल दूल्हे को उपहार में देने का फैसला किया। बता दें, तमिलनाडु में पेट्रोल के दाम इस वक्त 85.15 रुपये प्रति लीटर हैं।

WeForNews 

Continue Reading
Advertisement
Ghulam Ahmed Mir
चुनाव4 mins ago

कश्मीर : निकाय और पंचायत चुनावों में हिस्सा लेगी कांग्रेस

triple talaq
राष्ट्रीय34 mins ago

तीन तलाक को ‘राजनीतिक फुटबाल’ बना रही है मोदी सरकार: सुरजेवाला

IND vs PAK
खेल1 hour ago

एशिया कप : भारत ने पाकिस्तान को 162 रनों पर समेटा

hardik pandya asia cup
खेल1 hour ago

पाकिस्‍तान से मैच के दौरान पंड्या की पीठ पर आई गम्‍भीर चोट

bad-loan
व्यापार2 hours ago

आरटीआई का खुलासा- मोदी कार्यकाल में तीन गुना बढ़ा एनपीए!

iphone
टेक2 hours ago

नए आईफोन्स हैं पैसा वसूल : टिम कुक

Elephant
अन्य2 hours ago

बांधवगढ़ ले जाए जाएंगे उत्पाती हाथी

Banda doctor
शहर2 hours ago

उप्र : चिकित्सक पिटता रहा, एसपी-डीएम ने नहीं उठाया फोन!

Election Commissioner
चुनाव2 hours ago

इवीएम मामले में चुनाव आयोग, सरकार को नोटिस

Prannoy Kumar
खेल3 hours ago

बैडमिंटन : चीन ओपन के पहले दौर में हारे प्रणॉय

Kalidas
ज़रा हटके3 weeks ago

जहां दुनिया का महामूर्ख पैदा हुआ

MODI-SHAH
ब्लॉग4 weeks ago

‘एक देश एक चुनाव’ यानी जनता को उल्लू बनाने के लिए नयी बोतल में पुरानी शराब

rakhsa
लाइफस्टाइल4 weeks ago

इस राखी बहनें दें भाई को उपहार!

pm modi
ब्लॉग3 weeks ago

सत्ता के लालची न होते तो नोटबन्दी के फ़ेल होने पर मोदी पिछले साल ही इस्तीफ़ा दे देते!

Homosexuality
ब्लॉग2 weeks ago

समलैंगिकों को अब चाहिए शादी का हक

rahul gandhi
चुनाव2 weeks ago

कर्नाटक निकाय चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बनी कांग्रेस

Maharashtra Police
ब्लॉग2 weeks ago

जब सिंहासन डोलने लगता है तब विपक्ष, ‘ख़ून का प्यासा’ ही दिखता है!

Jaiphal-
लाइफस्टाइल3 weeks ago

जायफल के ये फायदे जो कर देंगे आपको हैरान…

kerala flood
राष्ट्रीय4 weeks ago

केरल में थमी बारिश, राहत कार्यों में तेजी

Bharat Bandh MP
ब्लॉग2 weeks ago

सवर्णों का ‘भारत बन्द’ तो बहाना है, मकसद तो उन्हें उल्लू बनाना है!

Banda doctor
शहर2 hours ago

उप्र : चिकित्सक पिटता रहा, एसपी-डीएम ने नहीं उठाया फोन!

rahul gandhi
राजनीति11 hours ago

कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज को राहुल ने बताया बीजेपी की तानाशाही

babul
राष्ट्रीय11 hours ago

दिव्यांगों के कार्यक्रम में बाबुल सुप्रियो ने दी ‘टांग तोड़ डालने’ की धमकी

nheru-min
राजनीति5 days ago

दीनदयाल की मूर्ति के लिए हटाई गई नेहरू की प्रतिमा

arjun kapoor
मनोरंजन1 week ago

अर्जुन कपूर की फिल्म ‘नमस्ते इंग्लैंड’ का गाना ‘तेरे लिए’ रिलीज

mehul-choksi
राष्ट्रीय1 week ago

मेहुल चोकसी का सरेंडर से इनकार, कहा- ईडी ने गलत फंसाया

Mahesh bhatt
मनोरंजन1 week ago

महेश भट्ट की फिल्म ‘द डार्क साइड’ का ट्रेलर लॉन्च

Jalebi -
मनोरंजन1 week ago

रोमांस से भरपूर है महेश भट्ट की ‘जलेबी’, देखें ट्रेलर

Air-India-Flight
राष्ट्रीय2 weeks ago

मालदीव: एयर इंडिया के पायलट ने निर्माणाधीन रनवे पर लैंड कराया प्लेन

शहर2 weeks ago

कानपुर: पार्क में बैठे प्रेमी जोड़े को बनाया मुर्गा, वीडियो वायरल

Most Popular