Connect with us

राष्ट्रीय

सेना ने मार गिराए दो पाकिस्तानी सैनिक

Published

on

jammu and kashmir-min
फाइल फोटो

पाकिस्तान ने कुपवाड़ा के तंगधार इलाके में सीजफायर का उल्लंघन किया। पाकिस्तान की ओर से भारत की अनिल पोस्ट, चीतक पोस्ट और ब्लैक रॉक पोस्ट पर गोलीबारी की, जिसका भारतीय सेना ने भी मुहंतोड़ जवाब दिया। भारत की जवाबी कार्रवाई में दो पाकिस्तानी जवान शहीद हो गए है।

बता दें कि पाकिस्तान ने कुपवाड़ा के तंगधार में आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में एक जवान शहीद हो गया था। आतंकी मुठभेड़ के दौरान वहां से भाग निकले थे।

WeForNews

राष्ट्रीय

वार्ता रद्द होने को पाक पीएम ने बताया हठी नकारात्मक प्रतिक्रिया

Published

on

modi-imran
नरेंद्र मोदी-इमरान खान (फाइल फोटो)

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों के बीच वार्ता रद्द होने पर शनिवार को निराशा जाहिर की और भारत की प्रतिक्रिया को हठी नकारात्मक करार दिया। इस्लामाबाद पर आतंकवाद का महिमामंडन करने का दोषारोपण करते हुए नई दिल्ली द्वारा दोनों देशों के विदेश मंत्रियों की वार्ता रद्द कर दी गई।

इमरान ने ट्वीट किया, “शांति वार्ता बहाली के लिए मेरी अपील पर भारत की हठी व नकारात्मक प्रतिक्रिया से निराशा हुई।”

उन्होंने कहा, “हालांकि मैंने अपनी पूरी जिंदगी में यह पाया है कि बड़े पदों को धारण करने वाले छोटे लोगों में व्यापक परिदृश्य को देखने की दूरदर्शिता नहीं होती है।”

संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक के मौके पर अगले सप्ताह न्यूयॉर्क में भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और उनके पाकिस्तानी समकक्ष शाह महमूद कुरैशी के बीच वार्ता होने वाली थी।

भारत सरकार ने शुक्रवार को कहा कि इसने दो अत्यंत निराशाजनक घटनाक्रमों के बाद पाकिस्तान के साथ वार्ता रद्द कर दी है। इन घटनाक्रमों से इस्लामाबाद के बुरे एजेंडे की पोल खुल गई है।

पहली घटना में जम्मू-कश्मीर में तीन पुलिसकर्मियों को अगवा कर उनकी हत्या कर दी गई, जो प्रदेश में आतंकी गतिविधियों में बढ़ावा का द्योतक है। भारत इसके पीछे पाकिस्तान का हाथ बताता है।

वहीं, भारतीय सुरक्षा बलों द्वारा जुलाई 2016 में मार गिराए गए हिजबुल मुजाहिदीन नेता बुरहान वानी की याद में इस्लामाबाद ने डाक टिकट जारी किया है।

कुरैशी ने वार्ता रद्द होने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा कि नई दिल्ली ने आंतरिक दबाव में यह फैसला किया।

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “सार्वजनिक तौर पर पुष्टि के 24 घंटे के भीतर भारत की ओर से विदेश मंत्रियों की बैठक रद्द करने के फैसले के लिए बताए गए कारण बिल्कुल अविश्वसनीय हैं।”

–आईएएनएस

Continue Reading

राष्ट्रीय

राम मंदिर आंदोलन पर वीएचपी की 5 अक्‍टूबर को बैठक

Published

on

Vishva Hindu Parishad
प्रतीकात्मक तस्‍वीर

विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) राम मंदिर आंदोलन को लेकर बहुत जल्‍द दिल्ली में संतों की उच्‍च समिति की बैठक करने जा रहा है। यह बैठक पांच अक्‍टूबर को आयोजित की जाएगी। संतों की इस समिति में देश भर के 36 प्रमुख संतों को आमंत्रित किया गया है। इस समिति के प्रमुख राम मंदिर आंदोलन के मुख्य महंत नृत्य गोपाल दास है। सूत्रों के मुताबिक, संतों की इस बैठक में राम मंदिर निर्माण के लिए आंदोलन करने का फैसला लिया जाएगा।

आंदोलन के लिए देश भर से हिंदुओ को कार सेवा कर, राम मंदिर निर्माण के लिए भाग लेने का आग्रह किया जाएगा। इस बैठक में राम मंदिर के निर्माण के लिए आंदोलन करने का फैसला लिया जाएगा। राम मंदिर आंदोलन को मुखर स्वरूप देने और हिंदुओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए अक्टूबर महीने में बैठक बुलाने का फैसला सोच-समझकर लिया गया है।

हाल ही में संघ के कार्यक्रम ‘भविष्य का भारत: संघ का दृष्टिकोण’ में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा था कि राम मंदिर निर्माण पर अगर कानून लाने का हक सरकार के हाथ में है और आंदोलन करने का अधिकार राम जन्मभूमि ट्रस्ट उच्चाधिकार समिति के पास है। ऐसे में सरकार और ट्रस्ट को तय करना है कि किस तरीके से मंदिर निर्माण होना है।

उन्होंने ये भी कहा था कि वो न सरकार में हैं और न ही ट्रस्ट का हिस्सा हैं लेकिन अगर उनसे इस मसले पर सुझाव लिए जाएंगे तो वे जरूर देंगे। उन्होंने इसके बाद इच्छा जताई थी कि अयोध्या में राम जन्मभूमि पर जल्द से जल्द भव्य राम मंदिर का निर्माण होना चाहिए। ऐसा होने से हिंदू-मुसलमानों के बीच विवाद का एक बड़ा कारण भी खत्म हो जाएगा।

WeForNews

Continue Reading

राष्ट्रीय

नन रेप केस में 24 सितंबर तक पुलिस हिरासत में बिशप

Published

on

PHOTO CREDIT (ANI)

केरल में नन के साथ रेप करने के आरोपी जालंधर के बिशप फ्रैंको मुलक्कल को 24 सितंबर तक के लिए पुलिस हिरासत में भेजा गया है। उसके वकील द्वारा दाखिल की गई जमानत अर्जी भी खारिज कर दी गई है।

इससे पहले बिशप से तीन दिनों तक पूछताछ होती रही। हालांकि, बिशप ने छाती में दर्द की शिकायत की थी, जिसके बाद उन्हें कोट्टायम से 10 किलोमीटर दूर एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सरकारी कोट्टायम मेडिकल कॉलेज अस्पताल के कार्डियोलॉजी विभाग में रात बिताने के बाद डॉक्टरों ने उन्हें शनिवार को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया।

पुलिस ने बताया कि जैसे ही वह बाहर आए लोगों ने उन्हें ठिठोली करनी शुरू कर दी। मुलक्कल को अदालत में पेश होने तक कोट्टायम पुलिस क्लब में रखा जाएगा। ऐसा देश में पहली बार हुआ है कि बिशप को दुष्कर्म मामले में गिरफ्तार किया गया है और पुलिस ने उन पर अवैध रूप से बंधक बनाकर रखने, दुष्कर्म, अप्राकृतिक यौन संबंध और आपराधिक धमकी देने का मामला दर्ज है।

बता दें कि केरल की एक नन ने मुलक्कल पर 2014 से 2016 के बीच लगातार दुष्कर्म करने का आरोप लगाया। मुलक्कल के वकील जमानत याचिका पेश करेंगे जबकि पुलिस उनकी तीन दिनों की कस्टडी की मांग करेगी।

WeForNews

Continue Reading

Most Popular